प्लेटफॉर्म पर सो रही पत्नी को जगाकर चलती ट्रेन के आगे धकेला, महिला की मौत

मुंबई: एक पति ने रेलवे प्लेटफॉर्म पर सो रही अपनी पत्नी को उठाकर चलती ट्रेन के आगे फेंक दिया. जिसके कारण उसकी मौत हो गई. वहीं आरोपी पति मौके से फरार हो गया. ये वारदात मुंबई के वसई रेलवे स्टेशन की है. पुलिस के अनुसार घटना सोमवार सुबह 4 बजे की है. रेलवे स्टेशन में लगे CCTV में ये पूरी घटना कैद हुई है. वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे एक शख्स एक सो रही महिला को आधी नींद से उठा कर प्लेटफॉर्म के किनारे तक ले गया. उसके बाद ट्रेन के आगे उसे धक्का दे दिया. फिर आरोपी प्लेटफॉर्म पर सोए अपने दो बच्चों को उठाकर वहां से भाग गया. 

हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि आरोपी का महिला से क्या संबंध था. लेकिन माना जा रहा है कि वो उसका पति है. घटना पर वसई पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी, महिला और बच्चों के साथ रविवार दोपहर से प्लेटफॉर्म नम्बर पांच पर मौजूद था. सुबह 4 बजे के करीब शख्स ने सो रही महिला को उठाया और उसे अवध एक्सप्रेस के आगे धकेल दिया. जिसके कारण महिला की मौके पर ही मौत हो गई और आरोपी अपने बच्चों के साथ फरार हो गया. पुलिस ने ंमामले की जांच शुरू कर दी है और आरोपी की तलाश में लग गई है. आसपास के सीसीटीवी की मदद से ये पता लगाने में लगी है कि  आरोपी कहां भागा है. 

...

पाली में पटवारी व दलाल 30 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

जयपुर। राजस्थान के पाली में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने एक पटवारी व उसके दलाल को 30 हजार रुपये की कथित रिश्वत लेते हुए मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया।

 

यहां जारी बयान के अनुसार, एसीबी की टीम ने पाली के हल्का पटवारी कमल किशोर व उसके दलाल चिकूराम सांसी (निजी व्यक्ति) को परिवादी से 30 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

 

परिवादी ने शिकायत देकर आरोप लगाया था कि एसडीएम अदालत के फैसले के तहत रिकॉर्ड दुरुस्तीकरण करने की एवज में पटवारी कमल किशोर अपने दलाल के माध्यम से 30 हजार रुपये की रिश्वत मांग रहा है।

 

एसीबी की टीम ने शिकायत का सत्यापन कर मंगलवार को जाल बिछाकर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

...

महात्मा गांधी पर अपमानजनक टिप्पणी मामला: अब ठाणे पुलिस ने कालीचरण महाराज को किया गिरफ्तार

ठाणे (महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र के ठाणे शहर की पुलिस ने महात्मा गांधी के खिलाफ कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में हिंदू धर्मगुरु कालीचरण महाराज को छत्तीसगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

 

नौपाड़ा थाने के एक अधिकारी ने बताया कि कालीचरण महाराज को बुधवार रात छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से गिरफ्तार किया गया, जहां वह ऐसे ही एक मामले में जेल में बंद था। उसे ट्रांजिट रिमांड पर ठाणे लाया जा रहा है और बृहस्पतिवार शाम तक स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा।

 

इससे पहले, पिछले साल 26 दिसंबर को छत्तीसगढ़ की राजधानी में आयोजित एक कार्यक्रम में महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां करने के आरोप में रायपुर पुलिस ने कालीचरण महाराज को गिरफ्तार किया था। वहीं, 12 जनवरी को महाराष्ट्र के वर्धा की पुलिस ने उसे इसी तरह के एक मामले में गिरफ्तार किया था।

 

नौपाड़ा थाने के अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपिता के खिलाफ कथित टिप्पणी को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता एवं महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र अव्हाड की शिकायत के आधार पर कालीचरण के खिलाफ दर्ज मामले में रायपुर से उसे गिरफ्तार किया गया।

 

इससे पहले, पुणे पुलिस ने भी 19 दिसंबर 2021 को वहां आयोजित ‘शिव प्रताप दिन’ कार्यक्रम में कथित रूप से भड़काऊ भाषण के मामले में कालीचरण महाराज को गिरफ्तार किया था। छत्रपति शिवाजी महाराज द्वारा मुगल सेनापति अफजल खान को मारे जाने की घटना की याद में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

...

साढ़े तीन साल के मासूम बच्चे से कुकर्म और हत्या के एक और मामले में सुरेंद्र कोली बरी

उत्तर प्रदेश। गाजियाबाद स्थित स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने नोएडा के निठारी कांड से जुड़े हत्या के एक और मामले में सुरेंद्र कोली को बरी कर दिया। कोली पर साढ़े तीन साल के मासूम को अगवा कर कुकर्म के बाद हत्या और शव नाले में छिपाने का आरोप था। अदालत ने पुख्ता साक्ष्य के अभाव में सुरेंद्र कोली को दोषमुक्त ठहराया।

 

सीबीआई के विशेष न्यायाधीश राकेश त्रिपाठी की अदालत में गुरुवार को निठारी कांड के 15वें मामले में अंतिम सुनवाई हुई। कोली पर नोएडा के सेक्टर 31 के जलकल कंपाउंड के बाहर से 23 फरवरी 2006 की शाम साढ़े तीन साल के बच्चे के अपहरण कर हत्या करने का आरोप था। अगले दिन बच्चे के पिता ने नोएडा के सेक्टर-20 थाने में अज्ञात के खिलाफ बेटे के अपहरण का मुकदमा कराया था। पुलिस ने छानबीन शुरू की। उस दौरान निठारी गांव से लगातार बच्चे-बच्चियों के गायब होने के मामले सामने आए थे।

 

पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर 29 दिसंबर 2006 को सेक्टर 31 के कोठी नंबर डी-पांच के नौकर सुरेंद्र कोली को गिरफ्तार कर लिया। उसके बाद में कोठी मालिक मोनिंदर सिंह पंढेर को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया था। सभी केसों को सीबीआई के हवाले कर दिया गया था। पुलिस ने सुरेंद्र कोली को गिरफ्तार कर गायब बच्चों के बारे में पूछताछ की तो उसने काफी राज उगले। इसी आधार पर कोठी के सामने के नालों में तलाशी ली तो कई के कंकाल, कपड़े, बालों के गुच्छे और जूते-चप्पल बरामद हुए।

 

पुलिस के बुलावे पर बच्चे के पिता ने बरामद एक चप्पल से बेटे की हत्या होने की बात कही। सीबीआई ने अपहरण कर कुकर्म के बाद हत्या कर शव छिपाने का मुकदमा कर विवेचना शुरू की थी। साल 2009 में दाखिल आरोप पत्र में सीबीआई ने सिर्फ सुरेंद्र कोली को सभी मामलों में आरोपी बनाकर आरोप पत्र पेश किया था। इस मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से कुल 32 गवाह पेश किए गए। विशेष अदालत ने गुरुवार के कोली के 15 वें मामले में अगवा कर हत्या, कुकर्म और साक्ष्य छिपाने के सभी आरोपों से बरी करने के आदेश दिए।

...

पति ने पत्नी को होटल में मिलने बुलाकर मौत के घाट उतारा

गाजियाबाद। गाजियाबाद के खोड़ा इलाके के एक होटल में एक विवाहित महिला की हत्या करने का मामला सामने आया है। कथित तौर पर हत्या का आरोप मृतका के पति पर लगाया जा रहा है। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

 

जानकारी के अनुसार, हापुड़ जनपद के बहादुरगढ़ थाना क्षेत्र में रहने वाला पेट्रोल पंप कर्मचारी अर्जुन ने खोड़ा में मीडिया हाउस के पास स्थित दर्शन होटल में 2 दिन पहले कमरा किराये पर लिया था। अर्जुन का अपनी पत्नी के साथ 1 साल से विवाद चल रहा था। सोमवार सुबह उसने अपनी पत्नी को बात करने के लिए होटल के कमरे में बुलाया था।

 

यहां पर किसी बात को लेकर उन दोनों के बीच फिर विवाद हो गया। इस दौरान गुस्से में आए अर्जुन ने सुबह लगभग 10 बजे चाकुओं से गोदकर पत्नी की हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। होटल स्टाफ द्वारा पुलिस को वारदात की सूचना दी गई।

 

पुलिस ने शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस और फॉरेंसिक टीम कमरे से सबूत जुटाने के साथ ही होटल में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है।पुलिस की टीमें आरोपी को पकड़ने के लिए दबिश दे रही हैं। 

 

...

घर में प्रिंटर से छाप रहे थे एकदम असली जैसे नकली नोट

गाजियाबाद। गाजियाबाद में स्वाट टीम ने नकली नोट बनाने वाले गैंग का खुलासा करते हुए मास्टरमाइंड समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, आरोपी नगर कोतवाली क्षेत्र के इस्लामनगर से नकली नोटों का धंधा चला रहे थे। इनके कब्जे से 6.59 लाख रुपये के नकली नोट बरामद किए गए हैं। इनमें 100 से लेकर 2000 के नोट शामिल हैं। गैंग के मास्टरमाइंड ने नकली नोट बनाने का तरीका यू-ट्यूब से सीखा था और करीब चार महीने में वह नकली नोट बनाने का एक्सपर्ट हो गया था। पुलिस का कहना है कि देश की अन्य एजेंसियों को भी सूचना दे दी गई है।

 

एएसपी आकाश पटेल ने बताया कि स्वाट टीम को इस्लामनगर निवासी यूनुस के मकान में नकली नोट बनाए जाने की सूचना मिली थी। छापेमारी की गई तो मकान से 6.59 लाख के नकली नोट, कंप्यूटर, स्कैनर, प्रिंटर और कागज के बंडल बरामद हुए। मौके से यूनुस के अलावा नगर कोतवाली के कालकागढ़ी निवासी अमन, मोती मस्जिद के पीछे कैलाभट्टा निवासी रहबर व सोनू उर्फ गंजा, चमन कॉलोनी निवासी आजाद, लालकुआं स्थित राज कंपाउंड निवासी आलम उर्फ आशीष तथा विजयनगर के पुराना कैलाश नगर निवासी फुरकान अब्बासी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस के अनुसार, आठवीं पास आजाद गिरोह का मास्टरमाइंड है। आजाद, सोनू और यूनुस नकली नोट बनाने का काम करते थे, जबकि बाकी आरोपी नकली नोटों को बाजार में चलाने का काम करते थे। 

 

पुलिस का कहना है कि नकली नोट चलाने के लिए आरोपी बाजारों के छोटे दुकानदारों से संपर्क करते थे। पैठ बाजार में ठेली-पटरी वाले दुकानदार इनके निशाने पर रहते थे। आरोपी रहबर का भाई घंटाघर मार्केट में चूड़ियों की दुकान करता है। इस दुकान के जरिये ग्राहकों को बड़ी तादाद में नकली नोट खपाए जाते थे। रहबर का भाई असली नोटों के बीच में नकली नोट रखकर ग्राहकों को थमा देता था।

 

पूछताछ में मास्टरमाइंड आजाद ने बताया कि कुछ समय पहले उसने पेट्रोल पंप पर एक व्यक्ति से रुपये खुले करवाए थे। उसने उसे नकली नोट थमा दिए। पता लगने पर उसने बाजार में वो नोट चलाने कोशिश की तो नकली नोट चल गए, जिसके बाद उसके दिमाग में नकली नोट बनाने का विचार आया। एएसपी सदर ने बताया कि मई 2021 में उसने यू-ट्यूब से नकली नोट बनाने का तरीका जाना। करीब चार महीने की ट्रेनिंग के बाद वह नकली नोट बनाने का एक्सपर्ट हो गया। इसके बाद उसने अन्य साथियों के साथ मिवकर नकली नोट बनाना और उन्हें बाजार में चलाना शुरू कर दिया।

 

एएसपी ने बताया कि आरोपी नकली नोट बनाने में मोल्ड कागज का इस्तेमाल करते थे। इसके अलावा नोट छपने के बाद आरोपी उस पर हरे रंग की बर्थ-डे टेप काटकर चिपका देते थे, ताकि हरी लाइन स्पष्ट दिखाई दे और लोग नोट को असली समझ लें। आरोपी नकली नोट इस तरह तैयार करते थे कि असली नोटों के बीच में कोई भी व्यक्ति आसानी से उसे पकड़ न सके। एएसपी का कहना है कि अभी तक किसी बाहरी संगठन या विदेशी ताकत से आरोपियों का कोई लिंक सामने नहीं आया है। फिर भी देश की एजेंसियों को सूचना दे दी गई है।

 

एएसपी ने बताया कि आरोपी एक हजार के बदले तीन हजार रुपये के नकली नोट देते थे। मुखबिर से सूचना मिलने पर स्वाट टीम का एक सदस्य नोटों की सौदाबाजी करने भेजा गया था। आरोपियों ने कहा था कि डेढ़ लाख रुपये के बदले साढ़े चार लाख रुपये के नकली नोट दे दिए जाएंगे। सूचना पुख्ता होने के बाद मौके पर छापेमारी की गई थी। एएसपी का कहना है कि आरोपी बाजार में करीब 12 लाख रुपये खपा चुके हैं।

...

अदालत ने यातायात पुलिसकर्मी को कार से घसीटने वाले व्यक्ति को दोषी करार दिया

नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने एक व्यक्ति को गलत तरीके से कार चलाने के दौरान मोबाइल फोन पर बात करने और जांच के लिए रोके जाने का इशारा करने पर यातायात पुलिसकर्मी को कार के बोनट पर घसीटने का दोषी करार दिया है।


प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने आरोपी पुष्प अग्रवाल को गलत तरीके से वाहन चलाने और लोकसेवक को चोट पहुंचाने तथा कर्तव्य निभाने में बाधा पहुंचाने का दोषी करार दिया।


हालांकि, न्यायाधीश ने कहा कि वाहन को खतरनाक और अंधाधुंध तरीके से चलाने का अपराध किया गया लेकिन ऐसा नहीं कहा जा सकता कि अग्रवाल का इरादा कांस्टेबल रूपेश कुमार को जानलेवा चोट पहुंचाने का था। इसके साथ ही अदालत ने अग्रवाल को हत्या का प्रयास के आरोप से बरी कर दिया।


सुनवाई के दौरान अग्रवाल ने दावा किया था कि उसने इसलिए कार नहीं रोकी क्योंकि उसे डर था कि पुलिसकर्मी उसकी पिटाई कर सकते हैं। साथ ही बाद में कहा था कि उसके पास पैसे थे और उसे रकम लूटे जाने को लेकर चिंता थी।


जांच के दौरान रॉबिन नाम का एक गवाह भी सामने आया था, जिसने दावा किया था कि उसने पूरी घटना को देखा और उसे फोन में कैद भी किया।




...

धनशोधन मामला : ईडी ने अनिल देशमुख के खिलाफ पूरक आरोपपत्र दाखिल किया

मुंबई :  प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को धनशोधन के एक मामले में महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ पूरक आरोपपत्र दाखिल किया।


जांच एजेंसी ने यहां धनशोधन निषेध अधिनियम (पीएमएलए) से संबंधित मामलों की सुनवाई से जुड़ी एक विशेष अदालत के समक्ष 7,000 पन्नों का आरोपपत्र दायर किया, जिसमें देशमुख के बेटों को भी आरोपी बनाया गया है।


ईडी ने इससे पहले देशमुख के निजी सचिव (अतिरिक्त जिलाधिकारी स्तर के अधिकारी) संजीव पलांदे और निजी सहायक कुंदन शिंदे समेत 14 आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया था। ईडी ने देशमुख को इस साल एक नवंबर को संबंधित मामले में गिरफ्तार किया था और फिलहाल वह न्यायिक हिरासत में हैं।


केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा इस साल 21 अप्रैल को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता के खिलाफ भ्रष्टाचार और आधिकारिक पद के दुरुपयोग के आरोप में प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद ईडी ने देशमुख और उनके सहयोगियों के खिलाफ जांच शुरू की थी।


ईडी का मामला यह है कि राज्य के गृह मंत्री के रूप में देशमुख ने कथित तौर पर अपने पद का दुरुपयोग किया और पुलिस अधिकारी सचिन वाजे के माध्यम से मुंबई के कई बार से 4.70 करोड़ रुपये की वसूली की थी। वाजे को 'एंटीलिया' बम और मनसुख हिरन की हत्या के मामलों में गिरफ्तारी के बाद सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था।


धनशोधन का यह मामला देशमुख परिवार के नियंत्रण वाले शैक्षणिक ट्रस्ट नागपुर स्थित श्री साईं शिक्षण संस्थान से संबंधित है। धनशोधन रोधी एजेंसी के अनुसार, पलांदे और शिंदे दोनों ने बेहिसाबी धन के प्रसार और शोधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।


इस साल की शुरुआत में राज्य के गृह मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले देशमुख ने अपने खिलाफ लगे आरोपों से बार-बार इनकार किया है।






...

दूसरे धर्म में शादी के बाद परेशान युवक ने दी जान, सोशल मीडिया में पोस्ट किया सुसाइड नोट

नोएडा : आईटी कंपनी में काम करने वाले सेक्टर-54 निवासी युवक ने कथित तौर पर शनिवार रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक ने मरने से पहले अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक सुसाइड नोट भी पोस्ट किया था। इस सुसाइड नोट में उसने अपने दूसरे धर्म के ससुरालियों के अलावा एक थाने में तैनात दारोगा पर भी उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। घटना के बाद उसके पिता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


अलीगढ़ निवासी सत्येंद्र सिंह नोएडा में एक सरकारी विभाग में तैनात हैं और और वह अपने परिवार के साथ नोएडा में रहते हैं। उन्होंने सेक्टर-24 थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया कि उनके 24 वर्षीय बेटे मोहित सेक्टर-24 थाना क्षेत्र में रहने वाली दूसरे धर्म की युवती से शादी की थी। युवती बालिग थी और एक आईटी कंपनी में काम करती थी। वहीं पर दोनों की मुलाकात हुई थी। शादी के बाद दोनों जयपुर चले गए थे। आरोपी है कि शादी के बाद युवती के परिजन जबरन उसे अपने साथ नोएडा ले आए।


मोहित पत्नी को घर वापस लाने के लिए कई बार पुलिस के पास गया और ससुरालियों से भी उसे भेजने की गुहार लगाता रहा। आरोप है कि ससुरालियों ने उसे नहीं भेजा और धमकी भी दी।


दारोगा पर अपने धर्म वाले की मदद करने का आरोप


पीड़ित पिता का कहना है कि उनके बेटे ने थाने की एक चौकी में तैनात दारोगा से पत्नी को वापस लाने में मदद की गुहार लगाई थी, मगर उसने भी अपने धर्म का पक्ष लिया और मोहित की कोई मदद नहीं की। इस कारण उसने मानसिक रूप से परेशान होकर आत्महत्या जैसा कदम उठाया।


एडीसीपी ने बताया कि पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने ससुरालियों के खिलाफ आत्महत्या का केस दर्ज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। दारोगा के मामले में जांच की जा रही है। 





...

दुर्लभ प्रजाति के कछुओं की 80 किलोग्राम झिल्ली बरामद, दो तस्कर गिरफ्तार

लखनऊ : उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) ने सोमवार को अंतरराज्यीय स्तर पर कछुओं की तस्करी करने वाले गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से दुर्लभ प्रजाति के कछुओं की लगभग 80 किलोग्राम झिल्ली बरामद की।


एसटीएफ के सूत्रों ने बताया कि सूचना मिलने पर सुल्तानपुर के रोडवेज बस अड्डे के पास सुबह विनोद तथा जैन कुमार नामक व्यक्तियों को पकड़कर उनकी तलाशी ली गई तो उनके कब्जे से सात थैलों के अंदर भरी कछुए की लगभग 80 किलोग्राम झिल्ली बरामद की गई। उन्होंने बताया कि इसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।


उन्होंने बताया कि एसटीएफ को सूचना मिली थी कि इटावा, एटा, मैनपुरी, औरैया और फर्रुखाबाद जिलों में बड़े पैमाने पर नरम खोल वाले कछुओं की झिल्ली काटकर बड़े पैमाने पर उसका अवैध व्यापार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह भी जानकारी मिली थी कि ऐसे व्यापारी अपना माल बेचने के लिए पश्चिम बंगाल के व्यापारियों के संपर्क में रहते हैं जहां से उस माल को बांग्लादेश और म्यांमा के रास्ते चीन, हांगकांग और मलेशिया भी भेजा जाता है।


सूत्रों के अनुसार गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि प्रदेश के विभिन्न जिलों से कछुए की झिल्ली खरीद कर पश्चिम बंगाल में ऊंचे दामों पर बेचते थे, जहां से इसे बांग्लादेश आदि देशों में भेजा जाता है।






...

सोता रहा परिवार, मकान से 20 लाख के गहने ले गए चोर

गाजियाबाद : सिहानी सद्दीकनगर में चोरों ने प्रापर्टी कारोबारी के मकान से 20 लाख रुपये के गहने चुरा लिए। घटना शनिवार आधी रात के बाद की है, जब परिवार के सभी छह सदस्य मकान के अंदर ही सो रहे थे। आशंका है कि चोर पास वाले मकान के बाहर बने टायलेट से पहली मंजिल पर चढ़े और जाल के खुले ताले का फायदा उठाकर चोरी की। थाना नंदग्राम पुलिस व फारेंसिक टीम रविवार सुबह घटनास्थल पर पहुंची और मौके से साक्ष्य जुटाकर छानबीन कर रही है। चार माह पहले चोरी हुई थी बाइक : नवीन त्यागी उर्फ पिटू ने बताया कि वह पत्नी और दोनों बेटी भूतल पर और दोनों बेटे प्रथम तल पर बने कमरों में सो रहे थे। पत्नी सीमा सुबह उठीं तो बेटियों के कमरे की अलमारी खुली मिली। कपड़े व अन्य सामान बिखरा था। अलमारी में रखा टिन का डिब्बा गायब था, जिसमें सोने वा चांदी के 20 लाख रुपये के गहने थे। 31 अगस्त को घर के बाहर से उनकी बाइक भी चोरी हुई थी। नवीन ने बताया कि पहली मंजिल पर सुरक्षा की ²ष्टि से उन्होंने जाल लगवाया है। मुख्य द्वार और जाल पर ताला लगाते हैं। शनिवार को बेटी ने कपड़े सुखाने के लिए डाले थे, जिसके बाद वह ताला लगाना भूल गई। आइफोन व रुपये बच गए : चोर पहली मंजिल पर जाल से घर में दाखिल हुआ तो अंदर उसे सभी दरवाजे खुले मिले। पहले ऊपर के कमरे खंगाले और फिर नीचे से गहने लेकर फरार हो गया। आइफोन-12 और वन प्लस के तीन कीमती फोन को चोर ने हाथ नहीं लगाया और एक डिब्बे में रखे पांच हजार रुपये व एक अन्य बैग में रखा नेकलेस पर उसकी नजर नहीं गई। सीसीटीवी कैमरों में करीब चार बजे एक व्यक्ति बाइक पर जाता दिखा है। पुलिस इसकी पहचान के प्रयास में है। एसएचओ अमित कुमार का कहना है कि सभी एंगल पर छानबीन कर रहे हैं। जल्द मामले का पर्दाफाश करेंगे।






...

कार सवारों ने गनमैन से मोबाइल और बंदूक लूटी

ग्रेटर नोएडा : नोएडा जल बोर्ड की सेक्टर 153 स्थित साइट पर तैनात गनमैन से शुक्रवार रात कार सवार बदमाशों ने लूटपाट की। लुटेरों ने गनमैन को गन प्वाइंट पर लेकर उनकी लाइसेंसी बंदूक और मोबाइल लूट लिया। वारदात को अंजाम देने के बाद लुटेरे कार में सवार होकर फरार हो गए। पीड़ित ने घटना की सूचना थाना नॉलेज पार्क पुलिस को दी है।


हरदोई का रहने वाला शिव पूजन नोएडा जल बोर्ड की सेक्टर 153 स्थित साइट पर गनमैन तैनात है। उसने बताया शुक्रवार रात कार सवार चार बदमाश साइट के गेट पर पहुंचे। इनमें से दो बदमाश गाड़ी से नीचे उतर कर आए और उन्हें गेट की तरफ बुलाया। जैसे ही वह उनके पास पहुंचा एक बदमाश ने उनकी कनपटी पर पिस्टल तान दी और उनकी डबल बैरल लाइसेंसी बंदूक और मोबाइल लूट लिया। विरोध करने पर लुटेरों ने जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद बदमाश कार में बैठकर फरार हो गए।


पीड़ित ने तुरंत घटना की सूचना पुलिस और अपने सिक्योरिटी इंचार्ज को दी। सूचना पर नॉलेज पार्क थाना पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल की। पीड़ित की तहरीर पर नॉलेज पार्क थाना पुलिस ने लुटेरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि लुटेरों को तलाश किया जा रहा है। लुटेरों को जल्द गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया जाएगा।






...

बलिया के जिला सामुदायिक प्रक्रिया प्रबंधक अनुशासनहीनता व भ्रष्टाचार के आरोप में बर्खास्त

बलिया (उप्र) : बलिया के जिला सामुदायिक प्रक्रिया प्रबंधक (डीसीपीएम) पुष्पेन्द्र सिंह शाक्य को अनुशासनहीनता और भ्रष्टाचार के आरोप में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निदेशक ने बर्खास्त कर दिया है।


स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के आधिकारिक सूत्र ने शनिवार को यह जानकारी दी। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निदेशक अपर्णा उपाध्याय ने शाक्य को बर्खास्त कर दिया है।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ तन्मय कक्कड़ ने शनिवार को इसकी औपचारिक रूप से पुष्टि की है।


अधिकारियों ने बताया कि डीसीपीएम के खिलाफ अनुशासनहीनता ,कार्य के प्रति लापरवाही, नकारात्मक कार्य व्यवहार व आचरण, उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना व अवांछित व्यवहार समेत कई गंभीर शिकायतें विभाग के उच्‍चाधिकारियों को मिली थीं।


उन्होंने बताया कि शिकायतों की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित की गई और समिति ने प्रस्तावित मानदेय से अधिक धनराशि लेने, धन उगाही करने तथा अनुशासनहीनता की शिकायतें सही पाईं,जिसके बाद शाक्य को बर्खास्त कर दिया गया।




...

रिश्वत नहीं दिया तो विधवाओं को नहीं मिला प्रधानमंत्री आवास

बांदा :  सरकार द्वारा उन गरीब व्यक्तियों को प्रधानमंत्री आवास उपलब्ध कराए जा रहे हैं जिनके पास रहने के लिए पक्के मकान नहीं है। लेकिन नौकरशाहों के चलते गरीबों को यह सुविधा नहीं मिल पा रही है।


ताजा मामला बिसंडा ब्लाक के अंतर्गत ग्राम साथी का है। जहां से आई दर्जनों विधवा महिलाओं ने आरोप लगाया कि उन्होंने रिश्वत की रकम नहीं दी तो उन्हें प्रधानमंत्री आवास नहीं मिला है।


क्षेत्र के समाजसेवी पीसी पटेल जनसेवक में बताया कि ग्राम पंचायत साथी में जो विधवा महिलाएं पात्र थी, जिनके पास रिश्वत देने के लिए पैसा नहीं था। उन्हें सचिव ने प्रधानमंत्री आवास आवंटित नहीं किए। इन महिलाओं के पास कच्चे मकान हैं। इनके पास न तो कोई वाहन है और न पैसा है जिससे यह अपात्र की श्रेणी में आते हो।


इस संबंध में जब लाभार्थियों ने दबाव डाला तो सचिव ने अभद्रता करते हुए कहा कि मैं बिना पैसे के कॉलोनी आवंटित नहीं करूंगा। पीसी पटेल जनसेवक ने कहा कि इस ग्राम पंचायत में केवल प्रधानमंत्री आवास योजना में धांधली नहीं हुई बल्कि मनरेगा के अंतर्गत चमराहा तालाब की मिट्टी निकालने का काम हो या मेड़बंदी अथवा समतलीकरण का कार्य हो सभी में भ्रष्टाचार किया गया है।


इस मामले की जांच होनी चाहिए। इस दौरान गांव की पीड़ित महिला माया देवी ने बताया कि गांव के सचिव अंकित अवस्थी ने हमें इसलिए प्रधानमंत्री आवास आवंटित नहीं किया क्योंकि हम उसकी मुंह मांगी रिश्वत देखने देने में नाकाम रहे। आज हम जिला अधिकारी के यहां अपनी शिकायत दर्ज कराने आए हैं।







...

डीएपी के बाद यूरिया की कालाबाजारी से किसान परेशान

इटावा : जनपद में डीएपी के बाद यूरिया की कालाबाजारी को लेकर किसान परेशान है और प्रशासन आंकड़े बाजी कर कह रहा है कि जनपद में खाद की कोई कमी नही है।


डीएपी के बाद यूरिया की किल्लत तथा कालाबाजारी को लेकर एक बार फिर से प्रशासन को जगाते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष उदय भान सिंह यादव ने बताया कि जनपद का आज किसान डीएपी के बाद यूरिया खाद के लिये जितना परेशान है, उतना शायद ही कभी नहीं रहा होगा।


एक ओर सरकार किसानों के लिये डीएपी, यूरिया, एनपी के खाद की उपलब्धता बताते नहीं थकती, दूसरी ओर किसान एक-एक बोरी के लिये घंटों लाइन में खड़े होकर भीषण सर्दी में अपनी बारी का इंतजार करता है। उससे कहा जाता है कि अब खाद समाप्त हो चुकी है।


उदय भान सिंह ने कहा कि किसानों द्वारा शिकायतें मिल रहीं है सोसाइटी के अध्यक्ष और सचिव स्वयं मिलकर और केंद्रों पर बैठ कर अपनों अपनों को खाद दिलवाने में ज्यादा रूचि दिखा रहे है। इन्ही सब स्मस्याओं को लेकर आगे कहा कि भाजपा सरकार में खाद का कृतिम अभाव पैदा किया जा रहा है जिससे किसान परेशान हो रहा है। प्रशासन इस प्रकार के खेल बंद करें और किसानों के धैर्य की परीक्षा न लेकर खाद की किल्लत को दूर कर किसानों को राहत प्रदान करें।




...

नेता ने स्टेडियम में गोल्फ खेल रहे लोगों पर पिस्तौल तानी

नोएडा :  समाजवादी पार्टी के नेता ने बुधवार रात को नोएडा स्टेडियम के अंदर गोल्फ का अभ्यास कर रहे लोगों पर पिस्तौल तान दी। इससे गोल्फ खेल रहे लोगों में हड़कंप मच गया। लोगों ने आरोपी से पिस्तौल छीन ली और उसे पुलिस को सौंप दिया। वहीं, आरोपी मौके से फरार हो गया। इस संबंध में सेक्टर-24 थाने में केस दर्ज किया गया है।


सेक्टर-21ए स्थित नोएडा स्टेडियम में गोल्फ का अभ्यास होता है। इसका संचालन दीपक यादव करते हैं। उन्होंने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि रात करीब आठ बजे लोग गोल्फ का अभ्यास कर रहे थे। इसी बीच रवि शर्मा नाम का व्यक्ति पिस्तौल लहराता हुआ आया। उसने वहां गोल्फ खेल रहे लोगों से गाली-गलौज शुरू कर दी। जब लोगों ने विरोध किया तो आरोपी ने उन पर पिस्तौल तान दी। इससे गोल्फ खेल रहे लोगों में हड़कंप मच गया। आरोपी के गोली चलाने से पहले ही लोगों ने रवि शर्मा के हाथ से उसकी पिस्तौल छीन ली और पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले ही रवि मौके से फरार हो गया। लोगों ने पिस्तौल को पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने आरोपी की पिस्तौल का लाइसेंस निरस्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि रवि शर्मा ने हाल में समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है।





...

लुधियाना जिला न्यायालय परिसर में हुए विस्फोट की खबर सुनकर स्तब्ध हूं : सीजेआई

हैदराबाद : भारत के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एन. वी. रमना ने गुरुवार को यहां कहा कि वह पंजाब के लुधियाना जिला न्यायालय परिसर में हुए विस्फोट की खबर सुनकर स्तब्ध हैं।


लुधियाना जिला न्यायालय परिसर में गुरुवार को हुए विस्फोट में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि कम से कम चार लोगों के घायल होने की खबर है।


न्यायमूर्ति रमना ने अदालत परिसरों में पर्याप्त सुरक्षा की कमी पर गंभीर चिंता व्यक्त की। इसके साथ ही उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि कानून लागू करने वाली एजेंसियां अदालत परिसरों और सभी हितधारकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक ध्यान देंगी। उन्होंने कहा कि देश भर में इस तरह की घटनाएं तेजी से हो रही हैं जो चिंताजनक है।


न्यायमूर्ति रमना, जो हैदराबाद में हैं, ने पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश, न्यायमूर्ति रविशंकर झा को फोन किया और घटनाक्रम के बारे में जानकारी ली।


न्यायमूर्ति रमना ने शोक संतप्त परिवारों के सदस्यों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।





...

दिल्ली से बिहार जा रही वॉल्वो बस से 90 पेटी शराब बरामद

नोएडा : गौतमबुद्ध नगर जिले के दनकौर में दिल्ली से बिहार जा रही एक वॉल्वो बस से उत्तर प्रदेश पुलिस ने मंगलवार को हरियाणा उत्पादित 90 पेटी अवैध शराब बरामद की है। इन पेटियों में 1080 बोतलें शराब थी जिसकी कीमत करीब 5.40 लाख रुपये है। इस मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। 


सहायक पुलिस आयुक्त (ग्रेटर नोएडा) बृज नंदन राय ने बताया कि आज तड़के दनकौर थाना पुलिस को सूचना मिली कि शराब तस्कर दिल्ली से बिहार जाने वाली वॉल्वो बस में हरियाणा उत्पादित शराब लेकर बिहार जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि सूचना के आधार पर नौरंगपुर गांव के पास बस की तलाशी ली गई जिसमें 90 पेटी हरियाणा मार्का अंग्रेजी शराब मिली जो बस के नीचे बने केबिन में छिपाकर रखी गई थी। 


बृज नंदन राय ने बताया कि मामले विनोद कुमार नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है जबकि उसका एक साथी फरार होने में सफल रहा जिसकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि पूछताछ में आरोपी ने बिहार ले जाकर शराब बेचने की बात स्वीकार की है, जहां पर शराबंदी लागू है।





...

ऑटो चालक पर लाखों की चोरी का आरोप

नोएडा : यात्री ने ऑटो चालक पर उसके लाखों रुपये के गहने और सामान चोरी करने का आरोप लगाया है। इस संबंध में पीड़ित ने सेक्टर-39 थाने में शिकायत दी है।

पुलिस को दी शिकायत में रितेश कुमार ने बताया कि वह मूलरूप से बिहार के सिवान के रहने वाले हैं और वर्तमान में नगला चरणदास गांव में रहते हैं। वह मंगलवार सुबह बस से सेक्टर-44 छालेरा स्टाप पर उतरे थे। यहां से वह नगला चरणदास जाने के लिए एक ऑटो में सवार हो गए। ऑटो में उनके अलावा चालक और अन्य यात्री बैठा था। सेक्टर-41 में जाने के बाद चालक ने कहा कि उसके ऑटो के बैरिंग खराब हो गए हैं। इसे ठीक कराने के लिए जाना होगा। इस पर उसने रितेश को वहीं उतार दिया और ऑटो लेकर चला गया। रितेश का आरोप है कि जब उसने अपने दोनों बैग चेक किए तो उनमें से लाखों रुपये के गहने और सामान गायब था। आरोप है कि चालक व उसके साथी ने गहने और सामान चोरी किए हैं।




...

रोहिणी अदालत विस्फोट मामला : डीआरडीओ वैज्ञानिक गिरफ्तार, पड़ोसी को मारने की थी योजना

नई दिल्ली :  दिल्ली पुलिस ने इस महीने की शुरुआत में यहां रोहिणी जिला अदालत के भीतर कम तीव्रता के विस्फोट के मामले में डीआरडीओ के एक वैज्ञानिक को गिरफ्तार किया है, जिसने अपने पड़ोसी को मारने के लिए यह धमाका किया था। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।


गौरतलब है कि नौ दिसंबर को अदालत कक्ष संख्या 102 के भीतर हुए विस्फोट में एक व्यक्ति घायल हो गया था।


सूत्रों ने बताया कि आरोपी की पहचान रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के वरिष्ठ वैज्ञानिक भारत भूषण कटारिया (47) के रूप में की गयी है। उन्हें शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया।


पुलिस ने बताया कि कटारिया ने अदालत कक्ष में एक टिफिन के भीतर विस्फोटक रखा था क्योंकि वह अपने पड़ोसी को मारना चाहता था, जो एक वकील है।


दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने बताया कि घटना वाले दिन आरोपी दो बैग के साथ सुबह नौ बजकर 33 मिनट पर अदालत में घुसा और एक बैग उसने अदालत कक्ष में ही छोड़ दिया। इसके बाद वह 10 बजकर 35 मिनट पर अदालत परिसर से बाहर निकल गया।


एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के खिलाफ कई मामले दर्ज करा रखे हैं। वे पड़ोसी हैं और एक ही इमारत में रहते हैं। प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि कटारिया को वकील से रंजिश थी।’’





...

प्रेमिका को घूमाने के लिए बाइक चोरी करने वाला धरा

मोदीनगर : दिल्ली मेरठ मार्ग पर पुलिस ने चैकिंग के दौरान एक युवक को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से चोरी की बाइक बरामद की है। पकड़ा गए युवक ने अपनी प्रेमिका को घूमाने के लिए बाइक चोरी की थी। पुलिस युवक के अन्य साथियों को तलाश कर रही है। थानाप्रभारी मुनेन्द्र सिंह ने बताया कि शनिवार रात को पुलिस दिल्ली मेरठ मार्ग पर वाहन चैकिंग कर रही थी। इसी बीच एक बाइक सवार युवक आया। जिसे पुलिस ने रुकने का इशारा किया लेकिन वह भागने लगा। पुलिस ने पीछा कर युवक को पकड़ लिया। पुलिस ने युवक के पास से चोरी की बाइक बरामद भी की। पूछताछ में युवक ने अपना नाम जतिन निवासी इंदिरापुरी कॉलोनी बताया। पूछताछ में युवक ने पुलिस को बताया कि वह अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर वाहन चोरी की घटना को अंजाम देता है। वह बाइक चोरी करके अपने प्रेमिका को घूमाता है।






...

डीजल चोरी और अधिकारी से अभद्रता के संबंध में निगम पार्षद के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

फिरोजाबाद : फिरोजाबाद नगर निगम में कुछ पार्षदों द्वारा जबरदस्ती वर्कशॉप से डीजल प्राइवेट गाड़ी में भरवाने का मामला गरमाया हुआ था। नगर निगम द्वारा उप सभापति सहित चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है वही अपर नगरआयुक्त द्वारा उनके साथ पार्षद द्वारा अभद्रता की जाने की शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से की गई है। मामला विगत दिनों नगर निगम फिरोजाबाद वर्कशोप से संबंधित है। नगर निगम के उप सभापति योगेश शंखवार अपने कुछ साथियों के साथ प्राइवेट गाड़ी से पहुंचे थे उन्होंने निगम कर्मचारी प्रदीप कुमार से दबाव बनाकर अपनी गाड़ी में डीजल भरवा लिया था। जिसकी शिकायत कर्मचारी द्वारा नगर आयुक्त को की गई थी जानकारी मिलने पर कुछ सभासद जल कल विभाग वर्कशॉप पहुंच गए थे उनके द्वारा भी गलत तरीके से प्राइवेट गाड़ी में डीजल भरवाने का विरोध किया गया बताया गया कि पहले भी जबरदस्ती निगम का डीजल भरवाया जाता रहा है कुछ पार्षदों नै निगम अधिकारियों और पुलिस के सामने भी अपना आक्रोश व्यक्त किया और आरोपी लोगों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की गई थी। नगर निगम कर्मचारी प्रदीप कुमार द्वारा थाना उत्तर में उप सभापति योगेश शंख बार पार्षद मुनेंद्र यादव गेंदा लाल राठौर और गाड़ी चालक के खिलाफ डीजल चोरी के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जिसकी पुष्टि थाना प्रभारी संजीव कुमार दुबे द्वारा की गई है। इसके अलावा नगर निगम के अपर नगर आयुक्त द्वारा भी पार्षद मुनेन्द्र यादव और सुभाष यादव के द्वारा अभद़ता पूर्ण व्यवहार किये जाने की शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से लिखित की गई है। बताया गया है कि अपन नगर आयुक्त अनिल राय द्वारा एक सड़क निर्माण के निरीक्षण के दौरान जांच रिपोर्ट को लेकर उप सभापति के साथ उक्त पार्षदों द्वारा नगर निगम पहुंचकर उनके कार्यालय में अभद्रता पूर्ण व्यवहार किया गया था इस दौरान निगम के अधिकारी भी वहां मौजूद थे। निगम अधिकारी के साथ अभद्र व्यवहार किए जाने पर निगम के अन्य कर्मचारियों में भी आक्रोश व्याप्त है।






...

स्टेशन के बाहर से कार चोरी

गाजियाबाद : रेलवे स्टेशन पर सवारी छोड़ने आए एक व्यक्ति की कार चोरी हो गई। पीड़ित ने कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। राकेश कुमार निवासी भागीरथी विहार दिल्ली ने रिपोर्ट में बताया कि वह गुरुवार रात रेलवे स्टेशन गाजियाबाद पर सवारी छोड़ने के लिए आया था। वहीं शुलभ शौचालय के पास कार खड़ी की थी। स्टेशन से बाहर आने पर कार नहीं थी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी।







...

रेलवे रिश्वत मामला: सीबीआई ने छापेमारी के दौरान 2.19 करोड़ रुपए किए बरामद

नई दिल्ली : केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने रिश्वत के एक मामले में 2.19 करोड़ रुपए बरामद करने के बाद पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के मुख्य विद्युत अभियंता वी के उपाध्याय को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।


इससे पहले, सीबीआई ने एक उप मुख्य विद्युत अभियंता रंजीत कुमार बोरा को मंगलवार को गुवाहाटी से कथित तौर पर उस समय गिरफ्तार किया था, जब वह एक निजी कंपनी से 15 लाख रुपये की रिश्वत ले रहा था।


एजेंसी ने गुवाहाटी, पटना और नोएडा समेत नौ स्थानों पर आरोपियों के परिसरों पर छापेमारी की थी, जिसके बाद 2.19 करोड़ रुपए नकद और कई आपत्तिजनक दस्तावेज मिले थे।


सीबीआई के प्रवक्ता आर सी जोशी ने कहा, ‘‘इनमें से (करीब) 2.13 करोड़ रुपए नकद और नोएडा में तीन फ्लैट की जानकारी मुख्य अभियंता (उपाध्याय) के परिसरों पर पाई गई।’’


उन्होंने कहा कि बोरा के परिसरों पर छापेमारी के दौरान एजेंसी को करीब छह लाख रुपए नकद राशि मिली और उनके एवं उनके परिवार के नाम पर गुवाहाटी समेत कई स्थानों पर छह फ्लैट की जानकारी मिली।


जोशी ने बताया कि आरोप है कि बोरा उत्तर पूर्व सीमांत रेलवे की परियोजनाओं में पटना स्थित सन शाइन डिवाइस प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक कंपनी की हिमायत कर रहे थे।


उन्होंने कहा कि प्राथमिकी दर्ज करने के बाद सीबीआई ने छापा मारा और इस दौरान कंपनी के निदेशक चिंतन जैन के एक कर्मचारी नीरज कुमार को पकड़ा जो जैन की तरफ से बोरा को घूस की रकम पहुंचा रहा था।


उन्होंने कहा कि बोरा, जैन और कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है। जांच के दौरान उपाध्याय की भूमिका भी सामने आई और उन्हें भी हिरासत में ले लिया गया है।


उन्होंने कहा कि आरोप है कि कंपनी ने बोरा को उनके द्वारा किए गए एहसान के बदले में दो बेनामी संपत्तियां दी थीं।


जोशी ने कहा, “यह आरोप लगाया गया था कि पूर्व में एनएफआर में उप मुख्य विद्युत अभियंता (निर्माण) के रूप में तैनात रहने के दौरान लोक सेवक ने कथित निजी कंपनी के निदेशक से दो अचल संपत्तियां (बेनामी फ्लैट) प्राप्त की थीं।”


अधिकारियों ने बताया कि आगे आरोप लगाया गया कि आरोपी ने जैन को पूर्व में अनुचित लाभ देने के एवज में फ्लैट के बदले 2.10 करोड़ रुपये की रिश्वत की मांग की और भविष्य में भी अनुचित लाभ देने का आश्वासन दिया।


उन्होंने कहा कि कंपनी कथित तौर पर 2.10 करोड़ की रिश्वत की रकम की कई किस्तों का पूर्व में भुगतान कर चुकी है।


उन्होंने बताया कि सीबीआई को सूचना मिली थी कि कथित रिश्वत में से 15 लाख रुपये मंगलवार को गुवाहाटी के मालीगांव में दिए जाएंगे, जिसके बाद छापेमारी की गई और बोरा को धन लेते पकड़ा गया।






...

कुशीनगर में एक युवक ने मां के रुपये न देने पर घर में लगाई आग : युवक की भाभी की जलने से हुई मौत

कुशीनगर :  उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में रामकोला थाना क्षेत्र के पगार गांव के छपरा टोला में रविवार की देर रात एक युवक ने मां के रुपये न देने पर पहले तो अपनी झोपड़ी में आग लगाई, फिर बड़े भाई की झोपड़ी में भी आग लगा दी। घर में काम कर रही उसकी भाभी ने अचानक लपटें उठते देखकर किसी तरह बच्चों को सकुशल बाहर निकाला। फिर खुद कुछ सामान निकालने अंदर गई तो आग में घिर गई। कई बार निकलने की कोशिश की, लेकिन धुएं से दम घुटने और आग से जलने की वजह से उसकी मौत हो गई। वह गर्भवती बताई जा रही है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से आग बुझाई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। 


आरोपी युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बाहर कमाने जाने के लिए मां से मांग रहा था रुपये पगार गांव के छपरा टोला निवासी राजू बाहर कमाने जाने के लिए मां से रुपये मांग रहा था। लेकिन रुपये न होने की बात कहते हुए मां ने मना किया तो राजू ने गुस्से में पहले अपनी और फिर भाई की झोपड़ी जला दी। ग्रामीणों के मुताबिक राजू अक्सर घर में झगड़ा करता रहता था। दोनों झोपड़ियों के राख हो जाने से परिवार के पास ठंड में न तो सिर छुपाने की जगह बची और न पहनने-ओढ़ने को कपड़े व बिस्तर। राजू पहले मुंबई में खाना बनाने का काम करता था। लेकिन करीब आठ महीने पहले वह घर लौट आया। यहां वह कोई काम नहीं करता था। पिछले कुछ दिनों से वह मां पर बाहर जाने के लिए रुपये देने का दबाव बना रहा था। राजू सिंह (22) तीन भाई हैं। 


आरोप है राजू ने पहले अपनी झोपड़ी में आग लगाई और उसके बाद बड़े भाई जितेंद्र सिंह की झोपड़ी में भी आग लगा दी। उस समय जितेंद्र की पत्नी रंजना (36) घर में ही काम कर रही थी। अचानक आग की लपटें उठते देख वह बच्चों को उठाकर किसी तरह झोपड़ी से बाहर निकाली और खुद सामान निकालने के लिए अंदर चली गई। तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। हर तरफ से घिर जाने के कारण आग में झुलस जाने से रंजना की मौत हो गई।ग्रामीणों के मुताबिक जितेंद्र की रंजना से करीब 15 वर्ष पूर्व शादी हुई थी। उनकी छह संतानें हैं। पांच बेटियां और एक बेटा है। जितेंद्र बाहर काम करते हैं, जिससे परिवार का भरण-पोषण होता है। जितेंद्र इन दिनों घर आए थे, लेकिन घटना के समय घर पर मौजूद नहीं थे।

 

पुलिस अधीक्षक सचिंद्र पटेल ने बताया कि राजू ने अपनी मां से रुपये के लिए झगड़ा किया। रुपये नहीं मिले तो पहले अपनी झोपड़ी में आग लगाई, उसके बाद जितेंद्र की झोपड़ी में भी आग लगा दी। इस आग में खुद को और बच्चों को घिरा देखकर उसकी भाभी ने सबसे पहले बच्चों को सकुशल बाहर निकाला। उसके बाद घर में सामान निकालने, जिससे आग में घिर जाने से जलकर मर गई। वह गर्भवती थी। आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। तहरीर मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।




...

मनाली में होटल के लीजनामे के नाम पर 26.12 लाख की ठगी

गाजियाबाद :  नंदग्राम थाना क्षेत्र के रहने वाले एक होटल कारोबारी के साथ मनाली के एक होटल मालिक ने होटल के लीजनामे के नाम पर 26.12 लाख रुपये की ठगी कर ली। विरोध करने पर होटल मालिक ने अपने साथियों के साथ मिलकर पीड़ित व होटल के स्टाफ के साथ मारपीट और लूटपाट की। आरोपितों ने लीज अवधि समाप्त हुए बगैर मारपीट कर सभी को होटल से बेदखल कर दिया। पीड़ित ने मामले की शिकायत हिमाचल व गाजियाबाद पुलिस से की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। अब पीड़ित ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया तो कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने चार आरोपितों को नामजद करते हुए 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


नंदग्राम के राजनगर एक्सटेंशन स्थित बांके बिहारी शरणम सोसायटी निवासी रामबाबू शर्मा का कहना है कि उन्होंने मार्च 2021 में हिमाचल के मनाली निवासी पंकज नंदा से उनका होटल पांच साल के लिए 96 लाख रुपये प्रति वर्ष के हिसाब से लीज पर लिया था। लीज की एवज में 26.12 लाख का कई बार में भुगतान भी कर दिया गया। दोनों पक्षों में तय हुआ था कि तीन साल से पहले न तो होटल खाली कराया जाएगा और न खाली किया जाएगा साथ ही लाकडाउन की अवधि का किराया भी नहीं लिया जाएगा। आरोप है कि लाकडाउन के कारण दो माह होटल बंद रहा और जब पीड़ित ने जून 2021 में होटल दोबारा शुरू किया तो पंकज ने किराये की मांग शुरू कर दी। आरोप है कि जुलाई 2021 को पंकज, उसकी पत्नी सारिका, गगन नंदा व विक्रम सिंह अपने 20 साथियों के साथ होटल पहुंचे और जबरन होटल में घुसकर होटल के सीइओ निर्मल मेहता, जीएम सेल्स एवं कैशियर पंकज शर्मा व अन्य स्टाफ के साथ मारपीट की। आरोपितों ने होटल में तोड़फोड़ की और वहां से काउंटर से 2.68 लाख रुपये, दो लैपटाप, चेकबुक, फाइलें, बिल बुक, सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर समेत अन्य सामान लूटकर ले गए। पीड़ित ने पुलिस को सूचना देने का प्रयास किया तो आरोपितों ने उनके मोबाइल फोन भी लूट लिए। तब से पीड़ित पुलिस के चक्कर काट रहे थे, लेकिन हिमाचल और गाजियाबाद पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही थी। बाद में पीड़ित ने कोर्ट में गुहार लगाई तो कार्रवाई हुई।





...

मुजफ्फरनगर में दुष्कर्म की कोशिश का मामला : फरार स्कूल प्रबंधक गिरफ्तार

मुजफ्फरनगर (उप्र) :  जिले में व्यावहारिक परीक्षा की आड़ में दो लड़कियों को दूसरे स्कूल ले जाकर उनसे बलात्कार करने की कोशिश के आरोपी स्कूल प्रबंधक को मंगलवार देर रात को पुरकाजी इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया।


पुलिस ने बताया कि स्कूल प्रबंधक फरार था।


अर्जुन सिंह को पकड़ लिया गया जबकि अन्य आरोपी प्रबंधक योगेश चौहान को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया और 21 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया।


इस बीच, पुलिस ने मंगलवार शाम को दोनों लड़कियों को एक महिला मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया और आपराधिक दंड संहिता की धारा 364 के तहत उनके बयान दर्ज कराए।


मुजफ्फरनगर के पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने बताया था कि स्कूल के दोनों प्रबंधक 17 लड़कियों को पुरकाजी इलाके के कम्हेडा गांव में व्यावहारिक परीक्षा के लिए एक अन्य स्कूल ले गए थे जहां उन्हें रात भर रहना था।


एक अन्य स्कूल में रात को रुकने के दौरान प्रबंधकों ने दो लड़कियों को पानी में कोई नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाने के बाद उनसे दुष्कर्म की कोशिश की।


यह घटना तब सामने आयी जब लड़कियां घर लौटी और उन्होंने अपने माता-पिता को इसकी जानकारी दी और उन्होंने पुरकाजी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करायी। पुलिस ने मामले पर त्वरित कार्रवाई नहीं की।


बहरहाल, भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय विधायक प्रमोद उत्वाल के हस्तक्षेप के बाद दोनों स्कूल प्रबंधकों पर मामला दर्ज किया गया।


पुरकाजी पुलिस थाने के एसएचओ वी के सिंह का मामले में अपनी ड्यूटी में कथित तौर पर लापरवाही बरतने के लिए पुलिस लाइंस तबादला कर दिया गया।


दोनों स्कूल प्रबंधकों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 328 और 354 तथा बाल यौन अपराध संरक्षण कानून की धारा सात और आठ के तहत मामला दर्ज किया गया।








...

शादी के बहाने महिला से बलात्कार करने के आरोपी को उच्चतम न्यायालय ने गिरफ्तारी से छूट दी

नई दिल्ली : शादी के बहाने महिला से बलात्कार करने के आरोपी व्यक्ति को उच्चतम न्यायालय ने गिरफ्तारी से अंतरिम छूट दे दी है।


न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और न्यायमूर्ति बेला एम. त्रिवेदी की पीठ ने उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ दायर व्यक्ति की अपील पर राजस्थान सरकार और अन्य को नोटिस जारी किये।


पीठ ने छह दिसंबर को पारित आदेश में कहा, ‘‘नोटिस जारी कीजिए जिसका जवाब तीन हफ्ते के अंदर दाखिल किया जाए। शर्त यह है कि याचिकाकर्ता जांच में शामिल हो और अधिकारियों के साथ सहयोग करे। सुनवाई की अगली तारीख तक याचिकाकर्ता को गिरफ्तार नहीं किया जाए।’’


बहरहाल, उच्चतम न्यायालय ने पुलिस को छूट दी कि इस अंतरिम आदेश पर रोक के लिए वह अपील दायर कर सकती है।


याचिकाकर्ता की तरफ से पेश हुई वकील नमिता सक्सेना ने कहा कि उनके मुवक्किल के खिलाफ बलात्कार के आरोप निराधार हैं।


सक्सेना ने कहा कि उनके मुवक्किल के खिलाफ फर्जी आरोप लगाए गए हैं क्योंकि उन्होंने महिला से शादी करने से इंकार कर दिया।


उच्चतम न्यायालय ने जयपुर में टेक्निशियन ग्रेड एक के पद पर कार्यरत मुकेश कुमार सिंह की याचिका पर यह आदेश दिया। उन्होंने राजस्थान उच्च न्यायालय द्वारा अग्रिम जमानत की उनकी याचिका खारिज करने को चुनौती दी थी।


याचिका के अनुसार सिंह की दस वर्ष पहले काम के सिलसिले में शिकायतकर्ता से मुलाकात हुई और फिर दोनों फोन एवं संदेश के माध्यम से एक-दूसरे के संपर्क में रहे और नियमित तौर पर मिलते भी थे।


सिंह की शादी छह अगस्त 2021 को उनके माता-पिता ने तय की। शिकायतकर्ता को जब इस बारे में पता चला तो उसने उन्हें ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया और शादी करने के लिए दबाव डाला। साथ ही चेतावनी दी कि वह उनके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज करा देगी।


याचिका में बताया गया है कि बाद में शिकायतकर्ता ने जयपुर में अक्टूबर में सिंह के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया। याचिक के अनुसार शिकायतकर्ता ने याचिकाकर्ता के साथ 10 साल पुराने रिश्तों के बाद निराधार आरोपों पर यह प्राथमिकी दायर की है। 



...

बीएमडब्ल्यू का शीशा तोड़कर चोरी

नोएडा : सेक्टर-29 स्थित ब्रह्मपुत्र मार्केट के पास पार्किंग में खड़ी बीएमडब्ल्यू कार का शीशा तोड़कर चोरों ने लैपटॉप, नगदी और सामान चोरी कर लिया। इस संबंध में पीड़ित ने सेक्टर-20 थाने में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

पुलिस को दी शिकायत में सेक्टर-14 के बी ब्लॉक निवासी सत्यपाल सिंह ने बताया कि वह किसी काम से 4 दिसंबर को सेक्टर-29 स्थित ब्रह्मपुत्र मार्केट गए थे। उन्होंने अपनी बीएमडब्ल्यू कार पार्किंग में खड़ी की थी। कार खड़ी करने के बाद वह मार्केट में चले गए। इसी बीच चोरों ने उनकी कार का शीशा तोड़कर उसके अंदर से लैपटॉप, 25 हजार रुपये, डेबिट कार्ड सहित अन्य सामान चोरी कर लिया। कुछ देर बाद वह वापस आए तो वारदात का पता चला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगा। इसी तरह चोरों ने सेक्टर-131 निवासी अंकित मिश्रा की कार का शीशा तोड़कर चोरी कर ली। पीड़ित ने बताया कि वह तीन दिसंबर को सेक्टर-31 स्थित बैंक गए थे। वह अपनी कार बैंक के पास खड़ी करके अंदर चले गए। इसी बीच चोरों ने उनकी कार का शीशा तोड़कर लैपटॉप सहित जरूरी दस्तावेज चोरी कर लिए। जब वह वापस आए तो वारदात का पता चला। फिर सेक्टर-20 थाना पुलिस को मामले की शिकायत दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।






...

गांजा, शराब बेच रहे पांच लोग गिरफ्तार

नोएडा : थाना दादरी पुलिस ने अवैध रूप से मादक पदार्थ और शराब बेचने वाले पांच लोगों को शनिवार को गिरफ्तार किया।

थाना दादरी के प्रभारी निरीक्षक प्रदीप त्रिपाठी ने बताया कि अवैध रूप से मादक पदार्थ बेचने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आज सुनील पुत्र चंद्रपाल को गढ़ी मोहल्ला, जारचा रोड से गिरफ्तार किया है। इसके पास से पुलिस ने 1 किलो 60 ग्राम गांजा तथा 1,500 रुपए नगद बरामद किए। थाना प्रभारी ने बताया कि मोनू, नादिर, नईम तथा अहमद हसन नामक चार शराब तस्करों को थाना दादरी पुलिस ने विभिन्न जगहों से गिरफ्तार किया है और उनके पास से कुल 80 पव्वा शराब बरामद की है।




...

दुष्कर्म का मामला दर्ज नहीं करने पर थानाधिकारी निलंबित

जयपुर : राजस्थान के भरतपुर जिले में सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज नहीं करने पर एक थानाधिकारी को निलंबित कर दिया गया है।


एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि 19 वर्षीय कॉलेज छात्रा के सामूहिक दुष्कर्म की यह कथित घटना 29 नवंबर को हुई जब दो लोगों ने उसका अपहरण कर लिया और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।


पहले तो वह चुप रही लेकिन बाद में इस घटना के बारे में उसने अपने परिवार वालों को बताया जिसके बाद वे मामला दर्ज करवाने उच्चेन थाना पहुंचे।


भरतपुर के पुलिस अधीक्षक देवेंद्र बिश्नोई ने कहा, ''थानाधिकारी, उपनिरीक्षक श्रवण पाठक ने मामला दर्ज करने से इनकार कर दिया। पीड़िता के परिवार वाले कल मुझसे मिले व शिकायत दी। सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया गया है और थानाधिकारी को कल निलंबित कर दिया गया।''


उन्होंने बताया कि सामूहिक दुष्कर्म के मामले में जांच की जा रही है और अभी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।




...

गलत दवा देने पर पशु की मौत

दनकौर : इसेपुर गांव निवासी किसान ने मेडिकल स्टोर संचालक पर गलत दवाई देने का आरोप लगाया है। पीड़ित देशराज सिंह का कहना है कि ¨चार पशु बीमार थे। आरोप है कि जो दवाई डॉक्टर ने लिखी थी बिलासपुर कस्बा स्थित मेडिकल स्टोर संचालक ने उसके बदले दूसरी दवाई दे दी। इसके बाद एक भैंस की मौत हो गई, जबकि अन्य पशुओं की हालत गंभीर बनी हुई है। पीड़ित ने शुक्रवार को मामले की शिकायत पुलिस से की है।



...

तमंचा लेकर घूम रहा गैंगस्टर गिरफ्तार


नोएडा : सेक्टर-24 पुलिस ने गुरुवार को गैंगस्टर एक्ट में वांछित आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी से अवैध हथियार बरामद किए हैं।

पुलिस को सूचना मिली थी कि गैंगस्टर एक्ट का एक वांछित आरोपी थाना क्षेत्र में किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहा है। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में उसकी पहचान मुरादाबाद निवासी आमिर के रूप में हुई है। पुलिस जांच में पता चला कि आमिर वाहन चोर है। कुछ समय पहले आरोपी को सेक्टर-58 पुलिस ने गिरोह के साथ गिरफ्तार किया था। तब आरोपी के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की गई थी। अब इस मामले की जांच सेक्टर-24 थाना पुलिस कर रही थी। पुलिस ने आरोपी से एक तमंचा और दो कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।



...

पीजी में चोरी करने वाले सीसीटीवी कैमरे में कैद

नोएडा : चोरों ने सेक्टर 62 स्थित एक पीजी से एक युवक का लैपटॉप चुरा लिया। इस संबंध में पीड़ित ने अज्ञात के खिलाफ सेक्टर 58 थाने में केस दर्ज कराया है।


पुलिस को दी शिकायत में नदीम अहमद ने बताया कि वह सेक्टर 62 स्थित एक पीजी में रहते हैं। नदीम नोएडा में ही एक निजी कंपनी में काम करते हैं। उनका कहना है कि 25 नवंबर की सुबह जब वह सोकर उठे तो कमरे से उनका लैपटॉप बैग गायब था। बैग में लैपटॉप, डेढ़ हजार रुपये, आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, तीन डेबिट कार्ड सहित अन्य जरूरी दस्तावेज थे। पीड़ित ने वारदात के बारे में पीजी मालिक को जानकारी दी। इसके बाद पीजी में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला गया। फुटेज में तीन अज्ञात युवक सुबह करीब छह बजे पीजी में घुसते नजर आ रहे हैं। फिर आरोपी आधा घंटे बाद पीड़ित का बैग ले जाते नजर आ रहे हैं। युवक ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस केस दर्ज कर सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश कर रही है।



...

अभिनेत्री को परेशान करने के आरोप में व्यक्ति गिरफ्तार

कोलकाता : बंगाली अभिनेत्री अरुणिमा घोष को कथित रूप से परेशान करने और धमकी देने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।


एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अभिनेत्री घोष ने आरोपी के खिलाफ प्रताड़ना और धमकी देने के संबंध में शिकायत दर्ज कराई है।


पुलिस अधिकारी ने बताया, ''यह शख्स पिछले दो साल से अभिनेत्री को परेशान कर रहा था और उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहा था। रविवार की रात आरोपी अभिनेत्री के घर गया था जिसके बाद उन्होंने शिकायत दर्ज कराई।'' उन्होंने कहा कि यह तीसरी बार है जब व्यक्ति को उसी अपराध के लिए गिरफ्तार किया गया है।








...

प्रेमी के सामने खुद को और बेटी को निर्वस्त्र करती थी मां, वीडियो कॉल पर होता था गंदा काम

गाजियाबाद : गाजियाबाद में रिश्तों को शर्मसार करने वाली एक महिला की करतूत का खुलासा सीसीटीवी फुटेज से हुआ है। महिला अपने प्रेमी के सामने वीडियो कॉल पर निर्वस्त्र हो जाती थी। शक होने पर पति ने घर में सीसीटीवी कैमरे लगाए तो पता चला कि पत्नी ने अपने प्रेमी को घर बुलाकर 13 साल की बेटी को भी उसके सामने निर्वस्त्र किया था। सीसीटीवी फुटेज में आपत्तिजनक तस्वीरें देखने के बाद पति ने थाने में पत्नी और प्रेमी के खिलाफ मुकदमा कराया है।


मामला कविनगर थाना क्षेत्र की एक कॉलोनी का है। यहां पर रहने वाले एक युवक के परिवार में पत्नी, बेटा और दो बेटियां हैं। युवक को अपनी पत्नी के चरित्र पर शक था। बेटे और आसपास के कुछ लोगों से भी उसे जानकारी मिल रही थी कि उसकी अनुपस्थिति में कोई घर पर आता है। पत्नी की हरकतों की सच्चाई जानने के लिए युवक ने अक्टूबर महीने में अपने घर में चुपचाप सीसीटीवी कैमरे लगा दिए और अपने मोबाइल के जरिए लाइव फुटेज देखकर पत्नी की निगरानी करने लगा।


घर में लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से जब युवक को पत्नी की हरकतों की जानकारी हुई तो उसने बेटी से इस बारे में बात की। पिता के पूछने पर बेटी ने रोते हुए सब सच उसे बता दिया। बच्ची ने पिता को बताया कि उसने मां की मारने की धमकी के डर से किसी को कुछ नहीं बताया था। आरोप है कि इस बारे में पति ने जब पत्नी और उसके प्रेमी से बात की तो दोनों अपनी गलती मानने के बजाय उसे ही धमकाने लगे।


महिला की करतूत जानकर पुलिस भी हैरान गई : दो दिन पहले पति ने कविनगर थाने की पुलिस को पत्नी की करतूत और वीडियो फुटेज के बारे में बताया तो पुलिस भी हैरान रह गई। सीसीटीवी फुटेज में पत्नी अर्द्धनग्न होकर अपने प्रेमी से वीडियो कॉल पर बात करती दिख रही है। वहीं, एक अन्य वीडियो में प्रेमी के घर में आने पर उसके सामने अपनी 13 साल की बेटी को निर्वस्त्र करने और उसे गलत तरीके से छूने की तस्वीर है। प्रेमी की इस हरकत का महिला ने कोई विरोध नहीं किया।


पति ने पुलिस को बताया है कि उसकी पत्नी अपने प्रेमी के साथ ज्यादातर मैसेंजर पर वीडियो कॉल करती थी। कैमरे की फुटेज से 40 दिन पहले युवक को पत्नी की करतूत का पता चला। पति का कहना है कि उसे पत्नी और उसके प्रेमी से जान का खतरा है। दोनों ने उसे हत्या की धमकी दी है। उसने पुलिस सुरक्षा की मांग की है।


पति ने महिला और उसके प्रेमी अनुज के खिलाफ छेड़छाड़, पॉक्सो एक्ट और जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस की कार्रवाई के डर से पत्नी घर से कहीं चली गई है। कविनगर थाने के प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि पति ने वीडियो फुटेज पुलिस को दी है। उसके आधार पर पूरे मामले की जांच की जा रही है। 



...

क्रशर जोन में मुंशियों को बंधक बनाकर लूट करने वाले बदमाश धरे गए

फरीदाबाद : पाली क्रशर जोन में चार महीने पहले दो मुंशियों को बंधक बनाकर हुई लूट की वारदात क्राइम ब्रांच सेंट्रल ने सुलझा ली है। क्राइम ब्रांच ने लूट करने वाले चार बदमाशों को कट्टा, कारतूस व सरिया के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपितों में दिल्ली निवासी दीपक उर्फ मोटा, सुनील और गांव पाली निवासी रोहित व अमित शामिल हैं। क्राइम ब्रांच ने आरोपितों को लूट की एक अन्य योजना बनाते हुए डबुआ क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। 


यह था पूरा मामला :


11 अगस्त की रात पाली क्रशर जोन के क्रशर नंबर 56ए के कार्यालय में मुंशी सुमन और पवन बैठे थे। रात करीब दो बजे चार युवक पिस्टल व चाकू लेकर कार्यालय में घुस आए। उनमें से तीन मास्क लगाए हुए थे, एक ने हेलमेट पहना था। उन्होंने पिस्टल व चाकू के बल पर पवन और सुमन को बंधक बना लिया। शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद अलमारी में रखे 1.27 लाख रुपये निकाल लिए। कार्यालय में रखे चार मोबाइल ले लिए। आरोपित पवन और सुमन को धमकी देकर फरार हो गए। बदमाश मोटरसाइकिल और स्कूटी पर सवार होकर आए थे। 


पहले भी लूट व झपटमारी कर चुके हैं आरोपित:


क्राइम ब्रांच के मुताबिक आरोपितों ने 5 अगस्त को सराय ख्वाजा में झपटमारी की थी। वहीं 6 अप्रैल को उन्होंने डबुआ क्षेत्र में लूट की वारदात की थी। आरोपित नशा करने के आदी हैं। उसकी पूर्ति के लिए लूट व झपटमारी करते हैं। मुख्य आरोपित दीपक पेशेवर अपराधी है। वह कई बार तिहाड़ जेल में सजा काट चुका है। दीपक अभी जमानत पर जेल से बाहर आया हुआ था। आरोपित योजनाबद्ध तरीके से वारदात करते थे और लूट की रकम आप में बांट लेते थे। क्राइम ब्रांच आरोपितों को रिमांड पर लेकर अन्य वारदात के संबंध में पूछताछ करेगी। 







...

शादी के 10 महीने बाद महिला ने की आत्महत्या,ससुरालवालों पर महिला को मोटा कहकर परेशान करने का आरोप

पलक्कड़ (केरल) : पलक्कड़ में एक महिला ने शादी के 10 महीने बाद अपने ससुराल में कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।


महिला की मां और भाई ने रविवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि उसका (महिला) पति और ससुराल के लोग महिला को मोटा होने की वजह से परेशान करते थे और गर्भवती नहीं होने का ताना मारते थे।


महिला की मां ने कहा कि उनकी बेटी को यह ताना दिया जा रहा था कि वह मोटी है इसलिए गर्भवती नहीं हो सकती इसलिए वह हमेशा वजन कम करने के तरीके आजमाती रहती थी। महिला के भाई ने दावा किया कि उनकी बहन के शरीर के बारे में टिप्पणी (बॉडी शेमिंग) कर उन्हें बुरा महसूस कराया जा रहा था, जिससे तंग आकर उन्होंने आत्महत्या कर ली।


पीड़िता की मां का आरोप है कि शव को एम्बुलेंस में रखकर ससुराल से उनके पास भेज दिया गया और यहां तक कि उनकी बेटी का पति तक साथ में नहीं आया। इसी बीच पुलिस ने बताया कि उन्होंने मामला दर्ज कर लिया है और आत्महत्या के कारणों की जांच कर रहे हैं। यह घटना 25 नवंबर को रात में हुई।


मनकारा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि जांच शुरू की गई है और पोस्टमॉर्टम किया गया है और ऐसा पाया गया कि यह आत्महत्या का मामला है। अधिकारी ने बताया कि एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें महिला ने यह भयानक कदम उठाने के पीछे किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया है। अधिकारी ने बताया कि ससुरालवालों ने आरोपों से इनकार किया है।




...

दो स्थानों पर जनता ने खुद पकड़े पांच चोर, पुलिस को सौंपे

गाजियाबाद : पुलिस भले ही चोरी की घटनाओं का खुलासा करने में फिसड्डी है, लेकिन जनता ने खुद आगे बढ़कर दो स्थानों पर टीएचए में बदमाशों को दबोचा है। सूर्यनगर में घर में टोंटी चुरा रहे तीन बदमाशों को लोगों ने पकड़ा वहीं शहीद नगर में सिलाई मशीन चोरी कर रहे दो बदमाश भीड़ ने दबोच लिए। दोनों मामलों में पीड़ितों ने बदमाश पुलिस को सौंपने के साथ ही शिकायत दी है।


नोएडा सेक्टर-26 निवासी डॉ. अमिताभ यदुवंशी का सूर्य नगर के बी-ब्लॉक में भी मकान है। वह कुछ दिनों के लिए नोएडा गए हुए थे। इस बीच तीन चोर उनके घर में घुस गए और टोंटी व अन्य सामान चोरी करने लगे। पड़ोसियों को इसी भनक लगी तो वह एकत्रित हो गए। उन्हें फोन से सूचना देने के बाद लिंक रोड पुलिस को भी कॉल की। डॉ. ने लोगों की मदद से तीन चोर पकड़ लिए। तीनों ने टोटियां, गीजर, सेनेटरी का सामान तोड़कर प्लास्टिक एक बोरी में भर ली थी। उन्होंने डायल-112 पर फोन कर पुलिस को सूचना दी। वहीं,शहीद नगर के चूना भट्टी रोड पर आसिफ रहते हैं। 26 नवंबर को चोर घर में घुसकर सिलाई मशीन चोरी करने लगे। तभी पत्नी अफरोज ने शोर मचा दिया। आरोप है कि एक चोर ने खुद को ब्लेड मारने का प्रयास किया, मगर लोगों ने उसे सख्ती के साथ पकड़ लिया। आसिफ ने दो लोगों को साहिबाबाद पुलिस के हवाले कर दिया। इनकी पहचान रिजवान निवासी काशीराम योजना पिलखुवा और फराज निवासी शहीद नगर के रूप में हुई। सीओ साहिबाबाद आलोक दूबे का कहना है कि दोनों मामलों में पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। जांच के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी।








...

खोड़ा में व्यापारी के साथ मारपीट का आरोप

गाजियाबाद : खोड़ा में एक व्यापारी ने दबंगों पर मारपीट का आरोप लगाते हुए पुलिस को शिकायत दी है। पीड़ित का आरोप है कि दबंगों ने उसे सिगरेट के रुपये मांगने पर बुरी तरह पीटा। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।


खोड़ा के भारत नगर इलाके में हंस किराना की दुकान संचालित करते हैं। बीती 21 नवंबर की शाम दो युवक उनकी दुकान पर सिगरेट लेने आए। जब दुकानदार ने पैसे मांगे तो उससे गाली-गलौच करने लगे। विरोध करने पर मारपीट करने लगे। पड़ोसियों ने बीच-बचाव किया तो उनके लिए भी अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। इसके बाद दुकानदार को घायल कर फरार हो गए। आरोपियों ने परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी है। पीड़ित ने अब खोड़ा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पीड़ित का नोएडा के एक अस्पताल में इलाज किया गया। थाना प्रभारी बृजेश कुमार कुशवाहा का कहना है कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपी पकड़े जाएंगे।




...

जेल में बंद कैदी ने पंखे से फंदा लगाकर की आत्महत्या

ग्रेटर नोएडा : जिले की लुक्सर जेल में बंद सजायाफ्ता कैदी ने पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। कैदी को डकैती और हत्या के मुकदमे में अलीगढ़ की अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। बताया जा रहा है कि प्रेमिका की शादी तय होने पर वह अवसाद में था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।


ईकोटेक वन कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बुलंदशहर के रहने वाले कुलदीप उर्फ दीपू ने गुरुवार की रात जेल के रसोईघर में पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। उसे जनपद अलीगढ़ के थाना बन्नादेवी क्षेत्र से 10 वर्ष पूर्व डकैती एवं हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था। इस केस में कुलदीप उर्फ दीपू को अलीगढ़ की अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। तीन साल पहले उसे अलीगढ़ जेल से गौतमबुद्ध नगर की लुक्सर जेल में भेजा गया था। जेल के अधिकारियों के अनुसार उसकी प्रेमिका की शादी तय हो गई थी और इस बात से वह अवसाद में था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रही है।



...

आदिवासियों से बदसलूकी, मारपीट के आरोप में व्यक्ति गिरफ्तार

पालघर (महाराष्ट्र) : महाराष्ट्र के पालघर जिले के विरार से एक व्यक्ति को आदिवासी समुदाय के कुछ लोगों को अपशब्द कहने और उनके साथ मारपीट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया।


पुलिस के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।


उन्होंने बताया कि मीरा भयंदर-वसई विरार पुलिस ने बुधवार रात आरोपी विकास नाइक को गिरफ्तार कर लिया। विरार पूर्व में टोकरे कातकरी पाड़ा के कातकरी समुदाय के कुछ लोगों द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर कार्रवाई की गई।


शिकायत में कहा गया है कि नाइक ने स्थानीय ग्राम पंचायत द्वारा बनाई गई सड़क को जेसीबी मशीन से खोद दिया। विरार थाने के प्रभारी ने बताया कि स्थानीय निवासियों ने नाइक से इस बारे में पूछताछ की तो आरोपी और उसके साथियों ने गाली-गलौच की और मारपीट की।


नाइक और पांच अन्य आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 143 (गैरकानूनी जमावड़ा), 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान करना) और 506 (आपराधिक धमकी) और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) कानून 1989 के तहत मामला दर्ज किया है।






...

घरेलू हिंसा की पीड़ित विदेशी नागरिक भारत में शिकायत दर्ज करा सकती है : राजस्थान उच्च न्यायालय

जोधपुर : राजस्थान उच्च न्यायालय ने अपने एक फैसले में कहा है कि घरेलू हिंसा की पीड़ित विदेशी नागरिक अपने पति के खिलाफ शिकायत दर्ज करा सकती है, अगर उसके साथ हिंसा भारत में रहने के दौरान हुई है तो।


न्यायमूर्ति विनीत कुमार माथुर ने कैथरीन निएडु के पति रॉबर्टो निएडु की याचिका खारिज कर दी। रॉबर्टो ने उनके विदेशी नागरिक होने के आधार पर याचिका के सुनवाई योग्य होने पर सवाल खड़े करते हुए उसके खिलाफ कैथरीन की शिकायत को खारिज किए जाने का अनुरोध किया था।


कैथरीन ने 2019 में जोधपुर में रहने के दौरान रॉबर्टो के खिलाफ घरेलू हिंसा की शिकायत दर्ज करायी थी। रॉबर्टो ने सबसे पहले मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत में शिकायत को चुनौती दी और उसके बाद अतिरिक्त जिला एवं सत्र अदालत (महिला अत्याचार मामले) में चुनौती दी।


दोनों अदालतों ने याचिका खारिज कर दी, जिसके बाद रॉबर्टो ने कैथरीन के भारतीय नागरिक न होने का हवाला देते हुए शिकायत के सुनवाई योग्य न होने के आधार पर दोनों फैसलों को चुनौती दी। मामले पर बहस करते हुए याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि याचिकाकर्ता और प्रतिवादी भारतीय नागरिक नहीं हैं।


इस दलील का विरोध करते हुए प्रतिवादी के वकील ने कहा कि घरेलू हिंसा कानून 2005 की धारा दो (ए) के अनुसार 'पीड़ित व्यक्ति' की परिभाषा दी गयी और खुद परिभाषा के अनुसार, विदेशी नागरिक समेत कोई भी महिला जो घरेलू हिंसा का शिकार हुई है, वह निचली अदालत में अर्जी दायर कर सकती है।


दलीलों को सुनने के बाद न्यायमूर्ति माथुर ने कहा कि प्रतिवादी पिछले करीब 25 वर्षों से जोधपुर में रह रही है और याचिकाकर्ता से शादी करने के बाद शिकायत में दर्ज घटना जोधपुर की है और घरेलू हिंसा कानून 2005 की धारा दो (ए) और 12 के तहत निकली परिभाषाओं के मद्देनजर प्रतिवादी कैथरीन की शिकायत सुनवाई योग्य है और रॉबर्टो की याचिका खारिज की जाती है।


अदालत ने यह भी कहा कि ''यहां तक कि भारत के संविधान का अनुच्छेद 21 न केवल इस देश के प्रत्येक नागरिक को बल्कि उस व्यक्ति को भी सुरक्षा देता है जो देश का नागरिक न हो।







...

कौशांबी थाने के पास परोसा जा रहा नशा

साहिबाबाद : कौशांबी थाना से चंद कदम दूर स्थित एंजल माल नशा का अड्डा बना है। पुलिस यहां चलने वाले हुक्काबारों पर शिकंजा नहीं कस रही है। स्थानीय लोग पुलिस को कठघरे में खड़ा कर रहे हैं। बदनाम है माल : एंजल माल नशेबाजी के लिए बदनाम है। यहां रेस्टोरेंट की आड़ में हुक्काबार चलते हैं। वैसे तो यहां दिनभर युवक-युवतियां, किशोर और किशोरी आकर नशा करते हैं मगर शाम होते ही संख्या में काफी भीड़ एकत्र हो जाती है। देर रात तक नशे की हालत में झूमते युवक-युवतियां बाहर निकलते हैं। स्थानीय निवासी इससे परेशान हैं। इसकी तमाम बार अधिकारियों से शिकायत कर चुके हैं लेकिन कार्रवाई के नाम खानापूरी पूरी ही होती है। पुलिस कठघरे में : एंजल माल कौशांबी थाना के पास स्थित है। बावजूद इसके यह नशे का अड्डा बना हुआ है। 18 नवंबर को यहां लीकर हाउस कैफे में हुक्काबार चलता पाया गया। इसके पहले यहां 31 दिसंबर 2020 की रात और सितंबर में नो रूल्स कैफे में हुक्काबार चलता मिला था। थाने से चंद कदम की दूरी पर हुक्काबारों पर अंकुश नहीं लग पाने से पुलिस की कार्यशैली की पूरी तरह से पोल खुल रही है। संचालकों पर मेहरबानी : हुक्काबारों पर हुईं कार्रवाईयों पर गौर करें तो पता चलता है कि ज्यादातर में संचालक नहीं पकड़े गए हैं। स्थानीय निवासियों का कहना है कि पुलिस कर्मचारियों और ग्राहकों को पकड़ कर कार्रवाई की खानापूरी कर देती है। संचालकों पर पुलिस पूरी तरह से मेहरबान रहती है। स्थानीय निवासियों का आरोप है कि बिना पुलिस की मिलीभगत से यह अवैध काम नहीं हो सकता है। इसकी उच्चाधिकारियों को जांच करके कड़ी कार्रवाई करनी होगी, तभी यहां हुक्काबारों पर अंकुश लगेगा। वहीं, पुलिस क्षेत्राधिकारी इंदिरापुरम अभय कुमार मिश्र ने बताया कि हुक्काबार में नशा परोसने वालों पर कार्रवाई की गई है। 






...

कलीम सिद्दीकी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाले को धमकी

फरीदाबाद :  दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में कई लोगों को लालच देकर मतांतरण के आरोपित मौलाना कलीम सिद्दीकी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाले युवक को धमकी मिली है। धमकी देने वालों ने उससे मुकदमे में बयान बदलने के लिए कहा है। सेक्टर-17 थाना पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। मौलाना कलीम सिद्दीकी को उत्तर प्रदेश के आतंकवाद रोधी दस्ता (एटीएस) ने गिरफ्तार किया था। यहां सेक्टर-17 प्रेम नगर झुग्गी निवासी विनोद नाम के युवक ने मौलाना कलीम सहित अन्य पर लालच देकर उसका मतांतरण कराने का आरोप लगाया था। इस मामले की जांच प्रदेश की स्पेशल टास्क फोर्स कर रही है। अब विनोद ने शिकायत दी है कि रात करीब 11 बजे वह एतमादपुर अपने चचेरे भाई सूरजपाल से मिलकर घर लौट रहा था। घर से कुछ दूरी पर शकील नाम का युवक अपने दो-तीन साथियों संग खड़ा था। विनोद को देखते ही उन्होंने रास्ते में रोक लिया। साथ ही धमकी दी कि मौलाना कलीम सिद्दीकी के खिलाफ दर्ज मुकदमे में बयान नहीं बदले तो जान से हाथ धोना पड़ेगा। उसे झूठे केस में फंसाने की धमकी भी दी। विरोध करने पर उन्होंने विनोद को थप्पड़ मुक्के से पीटना शुरू कर दिया। वह भागकर अपने घर में घुस गया। आरोपितों ने पीछा किया और उसके घर का दरवाजा भी पीटा। जब विनोद ने दरवाजा नहीं खोला तो वे देख लेने की धमकी देकर चले गए। पुलिस का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है। 







...

पालघर जिले में प्रतिबंधित दवा रखने के आरोप में नाइजीरियाई गिरफ्तार

पालघर : महाराष्ट्र के पालघर जिले में नालासोपारा से एक नाइजीरियाई व्यक्ति को प्रतिबंधित दवा ‘‘एमडी’’ रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी।


एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनकी टीम ने शनिवार को नालासोपारा के प्रगति नगर इलाके में गश्त करते समय एक व्यक्ति को संदेह के आधार पर रोका और उसके पास 3 ग्राम एमडी पाया गया।


वह पुलिस को एक नाइजीरियाई के पास ले गया, जिसकी पहचान पुइक ओके के रूप में की गई है। वह वर्तमान में नालासोपारा में रह रहा था।


पुलिस ने बताया कि ओके के पास से 39 ग्राम एमडी बरामद किया। दोनों व्यक्तियों के पास से जब्त की गई कुल 42 ग्राम एमडी की कीमत 3.34 लाख रुपये है।


तुलिंज पुलिस थाना में स्वापक औषधि एवं मनः प्रभावी पदार्थ (एनडीपीएस) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।



...

महिला सहकर्मी को अश्लील मैसेज भेजने वाले टिम पेन ने आस्ट्रेलिया की टेस्ट कप्तानी छोड़ी

होबार्ट :  एक महिला सहकर्मी को अपनी अश्लील तस्वीर और भद्दे मैसेज भेजने के मामले की क्रिकेट आस्ट्रेलिया द्वारा जांच के बीच आस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन ने शुक्रवार को कप्तानी छोड़ दी।


यह मामला 2017 का है जिसके कुछ महीने बाद ही पेन को सात साल बाद टेस्ट टीम में वापसी का मौका मिला था। उस समय क्रिकेट आस्ट्रेलिया और क्रिकेट तस्मानिया की जांच में पेन को क्लीन चिट मिली थी।


आस्ट्रेलिया को कुछ दिन बाद ही चिर प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड से एशेज श्रृंखला खेलनी है। पहला टेस्ट आठ दिसंबर से ब्रिसबेन में खेला जायेगा।


पेन ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ मैं आज आस्ट्रेलियाई पुरूष क्रिकेट टीम की कप्तानी छोड़ रहा हूं। यह बहुत कठिन फैसला है लेकिन मेरे , मेरे परिवार और क्रिकेट के लिये सही है।’’


उन्होंने कहा ,‘‘ करीब चार साल पहले मैने उस समय सहकर्मी रही एक महिला को टैक्स्ट मैसेज भेजे थे।’’


उन्होंने कहा ,‘‘ मैने उस घटना के लिये माफी मांगी थी और आज भी मांगता हूं। मैने अपनी पत्नी और परिवार से भी बात की थी और उनकी माफी तथा सहयोग के लिये शुक्रगुजार हूं।’’


पेन आस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा बने रहेंगे।


रिपोर्ट के अनुसार क्रिकेट तस्मानिया की एक महिला कर्मचारी ने दावा किया है कि पेन ने उन्हें अपने जननांगो की तस्वीर के साथ अश्लील मैसेज भेजे। उस महिला ने 2017 में ही नौकरी छोड़ दी थी।


पेन को 2018 में दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़खानी मामले के बाद आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम का कप्तान बनाया गया था। बोर्ड ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है और अगले टेस्ट कप्तान की तलाश जारी है।


पेन ने कहा ,‘‘ हमने सोचा कि यह मामला अब खत्म हो गया है और मैं पूरा फोकस टीम पर रख सकता हूं। लेकिन मुझे हाल ही में पता चला कि निजी मैसेज सार्वजनिक हो गए हैं। 2017 में मेरी वह हरकत आस्ट्रेलियाई क्रिकेट कप्तान बने रहने के लिये जरूरी मानदंडों के अनुकूल नहीं है।’’


उन्होंने कहा ,‘‘ अपनी पत्नी , परिवार और अन्य पक्षों को दर्द देने के लिये मैं क्षमाप्रार्थी हूं। इससे खेल की साख तो ठेस पहुंचाने के लिये भी मैं माफी मांगता हूं।’’


उन्होंने कहा ,‘‘ मेरे लिये यही सही है कि कप्तानी से तुरंत प्रभाव से इस्तीफा दे दूं। मैं नहीं चाहता कि एशेज श्रृंखला से पहले तैयारी में किसी तरह का व्यवधान पैदा हो। मैं आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम का समर्पित सदस्य बना रहूंगा।’’


क्रिकेट आस्ट्रेलिया के प्रमुख रिचर्ड फ्रेडेन्स्टेन ने कहा कि यह पेन का अपना फैसला है।


उन्होंने कहा ,‘‘ टिम को लगा कि उसके परिवार और आस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिये यही सही है।’’


क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने एक बयान में कहा ,‘‘ बोर्ड मानता है कि कुछ साल पहले इस मामले में पेन को क्लीन चिट मिल चुकी है लेकिन हम उसके फैसले का सम्मान करते हैं। इस तरह की भाषा या बर्ताव स्वीकार्य नहीं है। इस गलती के बावजूद पेन बेहतरीन कप्तान रहा है और उसकी सेवाओं के लिये हम उसे धन्यवाद देते हैं।’’



...

अमेरिकी लोगों को डराकर ठगने वाले फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश

नोएडा : अमेरिकी लोगों को ड्रग माफिया से संबंध होने की बात कहकर ऑनलाइन ठगी करने वाले फर्जी अंतरराष्ट्रीय कॉल सेंटर का सेक्टर-62 में पर्दाफाश हुआ है। पुलिस ने इस मामले में आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। कॉल सेंटर का संचालक फरार है। पुलिस उसकी तलाश में है। आरोपी डरा धमकाकर अब तक विदेशी लोगों से सात करोड़ से अधिक की ठगी कर चुके हैं। पुलिस ने आरोपियों से इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइस, 99 लेटर पैड, 41 दस्तावेज और छह मोबाइल फोन बरामद किए हैं।


नोएडा जोन के एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि सेक्टर-58 पुलिस ने बुधवार तड़के टेलीफोन विभाग की टीम के साथ मिलकर सेक्टर-62 स्थित आईथम टावर में एपी टैक्नोमार्ट के नाम से चल रहे अंतरराष्ट्रीय फर्जी कॉल सेंटर पर छापा मारा। पुलिस ने वहां से कैली खरखौदा मेरठ निवासी सुमित त्यागी, अलीपुर हापुड़ निवासी अरुण चौहान, निधौली कलां एटा निवासी विशाल तोमर, सैंथल बरेली निवासी राहत अली, बाडम रोहटा मेरठ निवासी केशव त्यागी, पन्ना मध्य प्रदेश निवासी सुनील वर्मा, प्रशांत लखेरा और सतेंद्र लखेरा को गिरफ्तार किया है। सेंटर का मुख्य संचालक पन्ना मध्य प्रदेश निवासी विनोद लखेरा अभी पुलिस के हाथ नहीं लगा है। पुलिस उसकी तलाश में दबिश दे रही है। पुलिस ने कॉल सेंटर से 10 कंप्यूटर और 10 हैडफोन आदि सामान बरामद किया है।


नोएडा जोन के एसीपी-1 रजनीश वर्मा ने बताया कि पकड़े गए आरोपी फर्जी कॉल सेंटर से अमेरिकी के नागरिकों को इंटरनेट कॉलिंग करके अमेरिकी सोशल सिक्योरिटी के नाम पर धमकाते थे। ये लोग उनसे कहते थे कि हमे अमेरिकी कानूनी एजेंसियों से आपके बैंक खात की जानकारी मिली है। आपने मेक्सिको और कोलंबिया में ड्रग माफिया से लेनदेन किया है। इसके बाद उनसे मामला रफा-दफा करने की कहते थे और गुगल गिफ्ट कार्ड के रूप में डॉलर लेते थे।




...

सिंगापुर की अदालत ने मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले एक और भारतवंशी को सुनाया मृत्युदंड

सिंगापुर : सिंगापुर की एक अदालत ने मादक पदार्थ की तस्करी करने के जुर्म में मलेशिया के 39 वर्षीय भारतवंशी शख्स को मौत की सजा सुनाई है। इससे कुछ दिन पहले मलेशिया का एक अन्य 33 वर्षीय भारतवंश नागेंद्रन के. धर्मलिंगम मादक पदार्थ की तस्करी के मामले में मृत्युदंड के खिलाफ अपील हार गया था। कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के कारण उसकी सजा पर अमल को कुछ दिन के लिए रोक दिया गया।


उच्च न्यायालय ने पिछले बुधवार को सफाई पर्यवेक्षक मुनुसामी रामरमूरत को दोषी करार दिया था। खबरों के मुताबिक, उसे हार्बरफ्रंट एवेन्यू के किनारे खड़ी मोटरसाइकिल में मादक पदार्थ के बैग के साथ पकड़ा गया था। उसके पास से 6.3 किलोग्राम दानेदार पदार्थ मिला था। जांच के बाद उसमें 57.54 ग्राम हेरोइन की जानकारी मिली।


न्यायमूर्ति ओड्रे लिम का आदेश सोमवार को जारी किया गया जिसमें सजा को लेकर कारणों का उल्लेख किया गया है। न्यायाधीश ने आरोपी की इस दलील पर विश्वास नहीं किया कि उसे लगा कि बैग में चोरी के मोबाइल फोन हैं। न्यायाधीश ने उसके इस दावे को भी खारिज कर दिया कि उसने एक अन्य व्यक्ति को अपनी मोटरसाइकिल के पिछले बॉक्स में बैग रखने की अनुमति दी थी ताकि बाद में कोई दूसरा व्यक्ति इसे ले सके।


सिंगापुर के कानून के तहत 15 ग्राम से ज्यादा हेरोइन मिलने पर मौत की सजा का प्रावधान है। न्यायाधीश ने जांच अधिकारी की भूमिका पर भी प्रतिकूल टिप्पणी की और कहा कि उन्होंने लोक अभियोजक को सेंट्रल नारकोटिक्स ब्यूरो (सीएलबी) के समक्ष मामला उठाने के लिए कहा है।


न्यायाधीश ने कहा कि मुनुसामी के मामले में जांच अधिकारी ने कोई भेदभाव नहीं किया लेकिन दूसरे मामलों में ऐसा ना हुआ हो यह नहीं कहा जा सकता। सिंगापुर में 14 साल तक काम कर चुके मुनुसामी को 26 जनवरी 2018 को गिरफ्तार किया गया था।





...

गाजियाबाद में थूक लगाकर रोटी बनाने का वीडियो वायरल, आरोपित गिरफ्तार

गाजियाबाद : लोनी कोतवाली क्षेत्र के बंथला फ्लाइओवर के पास बंद फाटक मार्ग स्थित एक होटल संचालक द्वारा रोटी पर थूक लगाकर तंदूर में बनाने का वीडियो वायरल हुआ। वीडियो वायरल होने और हिंदू संगठन के पदाधिकारियों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई में जुटी है। इंटरनेट मीडिया पर सोमवार शाम को थूक कर रोटी बनाने का वीडियो वायरल हुआ। वीडियो वायरल होने पर मामले की जानकारी कर हिंदू रक्षा दल और बजरंग दल के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि होटल पर वृद्ध संचालक तंदूर पर रोटी बनाता हुआ मिला।


इंटरनेट मीडिया पर वायरल वीडियो में होटल संचालक ही थूक कर रोटी बनाता हुआ दिखाई दे रहा है। वीडियो किसी व्यक्ति द्वारा होटल में बैठकर बनाई गई प्रतीत होती है। इस पर हिंदू संगठन के पदाधिकारियों ने पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस होटल संचालक को हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए कोतवाली ले आई। बजरंग दल के जिला संयोजक हरदीप सिंह और हिंदू रक्षा दल के क्षेत्रीय प्रमुख संजीव जंगाला ने लोनी कोतवाली में आरोपित के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की।


पुलिस क्षेत्राधिकारी रजनीश कुमार उपाध्याय ने बताया कि इंटरनेट मीडिया पर वायरल वीडियो बंथला फ्लाइओवर के निकट स्थित एक मुस्लिम होटल का है। आरोपित की पहचान होटल संचालक नवाब के रूप में हुई है। वीडियो में वृद्ध रोटी पर थूक कर तंदूर में डालता हुआ दिखाई दे रहा है। लोगों की जनभावना आहत करने वाले आरोपित के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। पूर्व के मामले गत 17 अक्टूबर को गाजियाबाद के राकेश मार्ग स्थित होटल पर व्यक्ति द्वारा थूक लगा कर रोटी बनाने का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ था। हिंदू रक्षा दल के पदाधिकारियों ने आरोपित होटल कर्मचारी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी।



...