चेन्नई में अपमान से आहत होकर कॉलेज के छात्र ने की आत्महत्या

चेन्नई : चेन्नई के प्रेसीडेंसी कॉलेज में एमए के प्रथम वर्ष के छात्र एम. कुमार ने अपने दोस्तों और परिवार को एक ऑडियो संदेश भेजने के बाद डबल डेकर ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। संदेश में कहा गया कि वह पचियप्पा के कॉलेज के छात्रों द्वारा भिक्षा के रूप में दिया गया जीवन नहीं जीना चाहता था, जो उसका अपमान करते थे।


पुलिस ने कहा कि ट्रेन और बस से यात्रा के दौरान कॉलेजों के छात्रों के बीच नियमित रूप से झड़पें हुईं और हाल ही में, प्रेसीडेंसी कॉलेज, चेन्नई के छात्रों ने अवादी और हिंदू कॉलेज रेलवे स्टेशनों के पास एक रेल रोको का मंचन किया, क्योंकि रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने एक छात्र को ट्रेन में केक काटकर उसका जन्मदिन मनाने के लिए एक यात्री द्वारा चेन खींचने के बाद हिरासत में ले लिया था।


पुलिस के अनुसार, 21 वर्षीय कुमार ने अपने परिवार और दोस्तों को एक ऑडियो संदेश भेजा था, जिसमें कहा गया था कि वह पचियप्पा कॉलेज, चेन्नई के छात्रों द्वारा किए गए अपमान को सहन करने में असमर्थ है और वह प्रतिद्वंद्वी छात्रों द्वारा भिक्षा के रूप में दिया गया जीवन नहीं जीना चाहता था।


उन्होंने अपनी मां और दोस्तों से माफी मांगी और ऑडियो क्लिप एक ट्रेन की गड़गड़ाहट के साथ खत्म हो गई।


मंगलवार दोपहर कक्षाओं में भाग लेकर घर लौटा कुमार ने अपनी मां से कहा कि उसे एक शादी में शामिल होना है और देर से घर वापस आएगा।


शुरूआत में कुमार के परिवार और दोस्तों ने ऑडियो क्लिप को खारिज कर दिया, लेकिन जब वह बुधवार सुबह तक घर नहीं लौटा और तलाशी ली गई, तो पुलिस को उसका शव रेलवे ट्रैक पर मिला।


मामले की जांच कर रही थिरुनिनरावुर पुलिस ने कहा कि कुमार ने थिरुनिनरावुर रेलवे स्टेशन से कुछ मीटर की दूरी पर रात करीब 8.40 बजे डबल डेकर ट्रेन के सामने छलांग लगा दी।


पुलिस ने पचियप्पा के कॉलेज के कुछ छात्रों को हिरासत में लिया है और कुमार की मौत के कारणों की जांच कर रही है। 





...

पत्नी के प्रेमी ने साथियों संग की थी श्रीराम की हत्या, टेस्‍ट ड्राइव के बहाने लखनऊ से क‍िया था अपहरण

लखनऊ : लोहिया संस्थान से अगवा कर्मचारी श्रीराम की हत्या कर दी गई। हत्या की साजिश के आरोप में पुलिस ने श्रीराम की पत्नी संगीता व उसके प्रेमी समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। एसीपी विभूतिखंड अनूप सिंह के मुताबिक संगीता ने अपने प्रेमी अवशिष्ट कुमार से पति को रास्ते से हटाने के लिए कहा था। इसके बाद अवशिष्ट ने अपने साथियों की मदद से घटना को अंजाम दिया।


पुलिस के मुताबिक संगीता का राजकीय पालीटेक्निक जहांगीराबाद में प्रोफेसर अवशिष्ट से पहले से प्रेम प्रसंग था। दोनों अक्सर छिपकर मिलते थे। इस बात की जानकारी श्रीराम को हो गई थी। श्रीराम ने संगीता को इसके लिए टोका था और आए दिन दोनों में विवाद होता था। पति के रोकटोक से परेशान संगीता ने अवशिष्ट से श्रीराम को रास्ते से हटाने के लिए कहा था। इसके बाद अवशिष्ट ने पालीटेक्निक कालेज के पास मछली पालन करने वाले दो परिचितों सुमैया नगर कोतवाली बाराबंकी निवासी सुशील और संतोष से संपर्क किया।


अवशिष्ट ने दोनों को श्रीराम की हत्या के लिए तैयार कर लिया। साजिश के तहत सुशील और संतोष श्रीराम के पास उनकी गाड़ी का खरीदार बनकर पहुंचे। दोनों ने टेस्ट ड्राइव की बात कही और साथ में निकल गए। बीबीडी के पास दोनों ने साजिश के तहत अपनी परिचित महिला कुंती को गाड़ी में बिठा लिया। आरोपितों ने उसे परिवार का सदस्य बताकर गाड़ी पसंद करने के लिए बुलाने की बात कही। श्रीराम को उनकी बातों पर यकीन हो गया। इसके बाद आरोपित उन्हें गाड़ी में घुमाते रहे। अंधेरा होने पर किसान पथ कुर्सी राेड लेकर गए।


पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि इस दौरान अवशिष्ट अपनी कार से पीछे पीछे चल रहा था। नहर के किनारे आरोपितों ने गाड़ी रोकी। तभी अवशिष्ट भी वहां आ गया। इससे पहले कि श्रीराम कुछ समझते सुशील ने तमंचे से उनके सीने में गोली मार दी। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि शव को ठिकाने लगाने के लिए उसे इंदिरा नहर में फेंक दिया था। पुलिस ने इंदिरा नहर में गोताखोरों की मदद से शव की खोजबीन की, लेकिन सफलता नहीं मिली। पुलिस का कहना है कि शव की तलाश की जा रही है। हत्या में इस्तेमाल तमंचा पुलिस ने मटियारी से बरामद कर लिया है।




...

तीन साल की मासूम की हत्या का मामला, मां ने सास और देवर पर जताया शक

नोएडा : थाना फेस-2 क्षेत्र में पुलिस ने तीन साल की बच्ची को अगवा कर हत्या करने का मामला दर्ज किया है। बच्ची की मां ने अपनी सास और देवर पर हत्या की आशंका जाहिर करते हुए पुलिस में शिकायत दी है।


थाना फेस-2 अध्यक्ष सुजीत उपाध्याय ने बताया कि याकूबपुर निवासी नीरज ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 24 दिसंबर से उनकी तीन वर्षीय पोती माही लापता है। उन्होंने बताया कि मंगलवार को बच्ची के परिजन ने पुलिस को सूचना दी कि उन्हें शक है कि बच्ची का शव इलाहाबास गांव में एक निर्माणाधीन भवन में हो सकता है।


मौके पर पहुंची पुलिस ने जब पड़ताल की तो वहां पर बच्ची का शव पड़ा मिला। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि बच्ची की मौत चोट लगने से हुई है।


उन्होंने बताया कि इस मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस की चार टीमें बनाई गई है। पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की है। उन्होंने यह भी बताया कि मंगलवार रात को बच्ची की मां सुमन ने पुलिस में शिकायत दी कि उसे शक है कि बच्ची की हत्या में उसकी सास नीरज और देवर का हाथ है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने अपहरण के मामले को हत्या की धारा में जोड़ लिया है। थाना अध्यक्ष ने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि मृतका का पिता सचिन हत्या के आरोप में जेल में बंद है। उसकी मां सुमन घर छोड़कर चली गई थी और वह जनपद बदायूं स्थित अपने मायके में रह रही है। माही अपनी दादी के पास रह रही थी। बच्ची को अपने पास रखने के लिए दादी और मां के बीच अदालत में मामला चल रहा है।


पुलिस को शक है कि बच्ची की हत्या में करीबियों का हाथ है।



...

दिल्ली पुलिस ने सागरपुर इलाके में कार में महिला को लिफ्ट देकर सामूहिक दुष्कर्म करने के दो आरोपियों को दबोचा

नई दिल्ली : सागरपुर इलाके में लिफ्ट देने के बहाने महिला का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म करने के दो आरोपियों को पुलिस ने दबोच लिया है। वारदात में शामिल कार को भी जब्त कर लिया गया है। पुलिस ने दो दिन पहले ही पीड़िता की शिकायत पर हरि नगर थाने में मामला दर्ज कर जांच आरंभ की थी। पुलिस के अनुसार, 32 वर्षीय पीड़िता सागरपुर इलाके में अपने पति के साथ रहती है। पीड़िता का रविवार देररात अपने पति से किसी बात पर विवाद हो गया। इसपर पति से नाराज होकर वह घर से निकल गई। वह उत्तम नगर अपने एक रिश्तेदार के घर जाना चाह रही थी तभी रास्ते में एक कार उसके पास आकर रुकी। चालक ने उसे लिफ्ट की पेशकश की तो पीड़िता ने लिफ्ट ले ली। बाद में कार सवार दोनों आरोपियों ने उसे जबरन शराब पिलाई और सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद तड़के करीब साढ़े चार बजे निहाल विहार इलाके में निलोठी गांव के पास उतारकर फरार हो गए। पीड़िता ने इसकी सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद एफआईआर दर्ज कर जांच आरंभ की गई थी।





...

दिल्ली बिजली चोरी मामला : गेस्ट हाउस मालिकों को तीन साल की सजा

नई दिल्ली :  तीस हजारी की एक विशेष अदालत ने बिजली चोरी के एक मामले में दरियागंज के एक गेस्ट हाउस के दो मालिकों को तीन साल कठोर कारावास की सजा सुनाते हुए उन पर 33 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। बिजली आपूर्ति कंपनी बीएसईएस के एक प्रवक्ता ने बुधवार को यह जानकारी दी।


बीएसईएस प्रवक्ता के मुताबिक, बिजली चोरी के ही एक अन्य मामले में अदालत ने दरियागंज के एक होटल मालिक पर 23.70 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। जुर्माना नहीं चुकाने पर उसे छह महीने कारावास की सजा हो सकती है।


प्रवक्ता के मुताबिक मध्य दिल्ली के दरियागंज में एक इमारत में बिना मीटर के 26 किलोवाट बिजली की सीधी चोरी हो रही थी। निरीक्षण में पता चला कि परिसर में 30 कमरों का गेस्ट हाउस चलाया जा रहा था।


इसके बाद, डीईआरसी (दिल्ली विद्युत नियामक आयोग) के दिशा-निर्देशों के अनुसार बिजली चोरी का बिल पेश किया गया। जब गेस्ट हाउस मालिकों ने तय समय सीमा के भीतर जुर्माने का भुगतान नहीं किया, तो इसको लेकर जामा मस्जिद पुलिस थाने में एक प्राथमिकी दर्ज की गयी। इस महीने की शुरुआत में ही तीस हजारी की विशेष अदालत ने गेस्ट हाउस के दो मालिकों को दोषी करार देते हुए उन्हें तीन साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई थी और उन पर 33 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था।





...

अमेठी में दलित किशोरी को पीटे जाने, उससे छेड़खानी किए जाने का वीडियो वायरल होने के बाद मामला दर्ज

अमेठी (उप्र) : उत्तर प्रदेश के अमेठी में 16 वर्षीय एक दलित किशोरी को कथित रूप से पीटे जाने और उससे छेड़खानी किए जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने आरोपियों के विरूद्ध मामला दर्ज किया है और उनकी तलाश शुरू कर दी है।


अमेठी के पुलिस उपाधीक्षक अर्पित कपूर ने मंगलवार को बताया कि सोशल मीडिया पर एक दलित नाबालिग लड़की की पिटाई और उससे छेड़खानी किए जाने का वीडियो वायरल होने के बाद थाना अमेठी पुलिस ने पीड़िता से संपर्क किया और उसके पिता की तहरीर पर यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) कानून, अनुसूचित जाति- जनजाति अधिनियम (एससी-एसटी) कानून और भारतीय दंड संहिता की अन्य गंभीर धाराओं के तहत आरोपी सूरज सोनी, शिवम और साकाल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।


कपूर ने बताया कि पीड़िता अमेठी जिले के संग्रामपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली है और यह घटना अमेठी थाना क्षेत्र के कस्बा रायपुर फुलवारी की है।



...

मुरादनगर में मौसा पर लगाया बंधक बनाकर 11 साल तक जबरन अवैध संबंध बनाने का आरोप

मुरादनगर : एक युवती ने अपने मौसा पर 11 वर्ष तक बंधक बनाकर जबरन अवैध संबंध बनाने का आरोप लगाया है। रविवार को थाने पहुंचकर युवती ने पुलिस से गुहार लगाई है। थानाक्षेत्र के एक गांव निवासी युवती का कहना है कि 11 वर्ष पूर्व वह 17 वर्ष की थी। आरोप है कि उस समय उसका मौसा उसे बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया था। इसके बाद मौसा ने उसे मकान के अंदर बंधक बनाकर रखा और उसके साथ जबरन अवैध संबंध बनाता चला आ रहा है। आरोप है कि उसका मौसा उससे जबरन कोर्ट मैरिज व मंदिर में शादी करना चाहता था। लेकिन उसने शादी का विरोध किया। वह किसी तरह मुक्त होकर दिल्ली चली गई थी। पीड़िता ने बताया कि मेरे घर वाले 11 वर्ष से मेरी तलाश कर रहे थे। इसी बीच युवती की फेसबुक पर मेरठ निवासी एक युवक से दोस्ती हो गई, वह युवक से शादी करना चाहती है। आरोप है कि शादी करने पर मौसा जान से मारने की धमकी दे रहा है। उसने बताया कि कुछ दिन पूर्व उसका भाई दिल्ली सीमापुरी क्षेत्र में मिल गया, जिसने उसे पहचान लिया। एसओ सतीश कुमार का कहना है कि युवती की तहरीर पर मामले की जांच की जा रही है।






...

होशंगाबाद में बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या, अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज

होशंगाबाद : मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिला मुख्यालय से लगभग 50 किलोमीटर दूर सोहागपुर थाना क्षेत्र में पांच साल की एक बच्ची की कथित तौर पर बलात्कार के बाद गला घोंटकर हत्या कर दी गई। पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।


सोहागपुर थाने के निरीक्षक विक्रम रजक ने बताया कि शनिवार को लड़की का शव उसके घर की छत पर कपड़े में लिपटा मिला। उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में पुलिस संदेह के आधार पर बालिका के पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ कर रही है। उन्होंने बताया कि 25 दिसंबर को अपराह्न करीब तीन बजे बालिका लापता हो गई थी। उन्होंने बताया कि परिजनों ने बच्ची की तलाश की और गांव में न मिलने पर इस संबंध में शिकायत दर्ज करायी। उन्होंने कहा कि बाद में बच्ची का शव छत पर कपड़े में लिपटा मिला।


उन्होंने बताया कि रविवार को प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आयी कि बच्ची के साथ बलात्कार किया गया था और फिर गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी गई। रजक ने कहा कि पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ बलात्कार एवं हत्या के लिए भारतीय दंड संहिता संबंधित धाराओं तथा यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पोस्को) अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।







...

सोता रहा परिवार, मकान से 20 लाख के गहने ले गए चोर

गाजियाबाद : सिहानी सद्दीकनगर में चोरों ने प्रापर्टी कारोबारी के मकान से 20 लाख रुपये के गहने चुरा लिए। घटना शनिवार आधी रात के बाद की है, जब परिवार के सभी छह सदस्य मकान के अंदर ही सो रहे थे। आशंका है कि चोर पास वाले मकान के बाहर बने टायलेट से पहली मंजिल पर चढ़े और जाल के खुले ताले का फायदा उठाकर चोरी की। थाना नंदग्राम पुलिस व फारेंसिक टीम रविवार सुबह घटनास्थल पर पहुंची और मौके से साक्ष्य जुटाकर छानबीन कर रही है। चार माह पहले चोरी हुई थी बाइक : नवीन त्यागी उर्फ पिटू ने बताया कि वह पत्नी और दोनों बेटी भूतल पर और दोनों बेटे प्रथम तल पर बने कमरों में सो रहे थे। पत्नी सीमा सुबह उठीं तो बेटियों के कमरे की अलमारी खुली मिली। कपड़े व अन्य सामान बिखरा था। अलमारी में रखा टिन का डिब्बा गायब था, जिसमें सोने वा चांदी के 20 लाख रुपये के गहने थे। 31 अगस्त को घर के बाहर से उनकी बाइक भी चोरी हुई थी। नवीन ने बताया कि पहली मंजिल पर सुरक्षा की ²ष्टि से उन्होंने जाल लगवाया है। मुख्य द्वार और जाल पर ताला लगाते हैं। शनिवार को बेटी ने कपड़े सुखाने के लिए डाले थे, जिसके बाद वह ताला लगाना भूल गई। आइफोन व रुपये बच गए : चोर पहली मंजिल पर जाल से घर में दाखिल हुआ तो अंदर उसे सभी दरवाजे खुले मिले। पहले ऊपर के कमरे खंगाले और फिर नीचे से गहने लेकर फरार हो गया। आइफोन-12 और वन प्लस के तीन कीमती फोन को चोर ने हाथ नहीं लगाया और एक डिब्बे में रखे पांच हजार रुपये व एक अन्य बैग में रखा नेकलेस पर उसकी नजर नहीं गई। सीसीटीवी कैमरों में करीब चार बजे एक व्यक्ति बाइक पर जाता दिखा है। पुलिस इसकी पहचान के प्रयास में है। एसएचओ अमित कुमार का कहना है कि सभी एंगल पर छानबीन कर रहे हैं। जल्द मामले का पर्दाफाश करेंगे।






...

महिला की गला रेतकर हत्या, पति सहित दो लोग गिरफ्तार

फतेहपुर (उप्र) : फतेहपुर जिले की खागा कोतवाली क्षेत्र के कूरा गांव के मजरा गुलरियनपर में एक महिला की कथित तौर पर धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गयी।


पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने रविवार को बताया कि खागा कोतवाली क्षेत्र के कूरा गांव के मजरा गुलरियनपर में शनिवार की रात धारदार हथियार से गला रेतकर योगमाया (26) की हत्या कर दी गयी।


इस सिलसिले में आज महिला के पति इंद्रमोहन और गोरखपुर जिले की रहने वाली एक महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है।


उन्होंने बताया कि महिला के पति के अवैध संबंध होने की बात सामने आ रही है और शायद हत्या के पीछे की वजह अवैध संबंध ही है।


शव को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल भेज दिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है।








...

बच्चों के झगड़ने पर खूनी संघर्ष, एक की मौत

दनकौर : ग्रेटर नोएडा के दौला रजपुरा गांव में शनिवार दोपहर बच्चों के झगड़े में दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। इस खूनी संघर्ष में एक युवक की मौत हो गई और आधा दर्जन लोग घायल हुए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। गांव में शांति बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।


दौला रजपुरा गांव में जाहिद और कासिम पड़ोसी हैं। जाहिद के घर के सामने ही उपले बने हुए थे। इसी दौरान कासिम के बच्चे ने बैल को छोड़ दिया। बैल ने जाहिद के उपले फोड़ दिए। इस बात को लेकर जाहिद पक्ष के बच्चों और कासिम के बच्चों में झगड़ा हो गया। बच्चों के झगड़े के बाद दोनों पक्षों के बड़े लोगों में काफी देर तक कहासुनी और गली गलौच होता रहा।


कहासुनी और गली गलौच के बाद दोनों पक्ष लाठी-डंडे और सरिया लेकर एक दूसरे के सामने आ गए। दोनों में जमकर लाठी-डंडे और पथराव हुआ। पथराव में एक पक्ष के कासिम, साजिद, माजिद और दूसरे पक्ष के सलीम, वाहिद कबीर और जाहिद गंभीर रूप से घायल हो गए। चीख पुकार सुनकर अन्य पड़ोसी भी मौके पर आए और घायलों को कोतवाली दनकौर ले आए। पुलिस ने घायलों को ग्रेटर नोएडा के काशीराम अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल में उपचार के दौरान जाहिद --Ü23 वर्ष-- की मौत हो गई। कुछ और घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है। इस संबंध में जाहिद के भाई मंजूर ने कोतवाली में छह लोगों के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।


गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस उपायुक्त ग्रेटर नोएडा अमित कुमार और अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त विशाल पांडे ने घटनास्थल का निरीक्षण कर अधीनस्थों को गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं। पुलिस ने इस संबंध में कई लोगों को हिरासत में लिया है।


दो पक्षों में बच्चों के विवाद के बाद खूनी संघर्ष हुआ है। इसमें एक युवक की मौत हुई है और कई लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कुछ लोगों में को हिरासत में लिया है। गांव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।


-अमित कुमार, डीसीपी, ग्रेटर नोएडा




...

नोएडा में सोशल मीडिया फ्रेंड ने शादी का झांसा लूटी युवती की आबरू, प्रेग्नेंट होने पर दो बार कराया गर्भपात

नोएडा : नोएडा में रहने वाली एक 19 वर्षीय युवती ने अपने सोशल मीडिया फ्रेंड पर उसे शादी का झांसा देकर कई बार उसका बलात्कार करने का आरोप लगाया है। युवती ने कहा कि इस बीच वह दो बार गर्भवती भी हुई तो आरोपी ने जबरन उसका गर्भपात करवा दिया। पुलिस शिकायत दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।


पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के प्रवक्ता ने बताया कि सेक्टर-19 में रहने वाली एक युवती ने शनिवार को थाना सेक्टर-20 में शिकायत दर्ज कराई कि 2020 में सोशल मीडिया के माध्यम से उसकी सफक नामक युवक से दोस्ती हुई थी।


पीड़िता का आरोप है कि सफक ने एक दिन नोएडा के सेक्टर-18 स्थित एक होटल में युवती को बुलाया तथा उसे कोल्ड ड्रिंक में कोई नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाने के बाद उसके साथ बलात्कार किया।


प्रवक्ता ने पीड़िता की शिकायत के आधार पर बताया कि जब उसने इस बात का विरोध किया तो आरोपी ने उससे शादी करने का वादा किया। पीड़िता के अनुसार, आरोपी ने शादी का झांसा देकर कई दिनों तक उसका कथित रूप से बलात्कार किया। युवती ने कहा कि इस बीच वह दो बार गर्भवती हुई और आरोपी ने उसका गर्भपात करवा दिया।


उन्होंने बताया कि पीड़िता के अनुसार, आरोपी अब उससे शादी करने से इनकार कर रहा है। पीड़िता ने कहा कि जब उसने आरोपी के परिजन से इस बात की शिकायत की, तो उन्होंने भी सफक का साथ दिया। प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस शिकायत दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।


ग्रेटर नोएडा थाना सूरजपुर क्षेत्र के एक गांव से किशोरी को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता ने शनिवार को बताया कि गांव के एक व्यक्ति ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उनकी बेटी को सचिन नामक युवक ने 20 दिन पूर्व अगवा किया था। उन्होंने बताया कि मामले की जांच कर रही थाना सूरजपुर पुलिस ने शनिवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और किशोरी को उसके कब्जे से मुक्त करा लिया। मेडिकल जांच में किशोरी के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश किया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। 


वहीं, नोएडा के सेक्टर-125 स्थित एक निजी विश्वविद्यालय के शिक्षक पर एक छात्र का मोबाइल फोन छीनकर उसका निजी डेटा जबरन ट्रांसफर करने का आरोप लगाया गया है। सेक्टर-39 के थानाध्यक्ष राजीव बालियान ने बताया कि नोएडा के एक निजी विश्वविद्यालय में बी-टेक की पढ़ाई कर रहे प्रखर नागर की मां नीरू नागर ने थाने में शिकायत दर्ज कराई कि शिक्षक योगेश सिंह राठौर ने एक दिन उसके बेटे का मोबाइल फोन छीन लिया और उसका पासवर्ड भी उससे जबरन हासिल कर लिया।


उन्होंने बताया कि महिला का आरोप है कि राठौर ने प्रखर नागर के मोबाइल फोन से उसका निजी डेटा भी जबरन ट्रांसफर कर लिया। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।







...

लोन घोटाले में पीएनबी का बर्खास्त एजीएम रामनाथ गिरफ्तार

नई दिल्ली  : लोन के नाम पर बैंकों को 4 सौ करोड़ रुपए से अधिक का चूना लगाने वाले माफिया लक्ष्य तंवर से मिलीभगत करने वाला पीएनबी का बर्खास्त एजीएम रामनाथ मिश्रा को आखिरकार पुलिस ने गिरफ्तार कर ही लिया। लोन घोटाले की जांच कर रही एसआईटी रामनाथ मिश्रा को दिल्ली से पकड़ कर लाई है। जहां वह अपने एक रिश्तेदार के घर में छिप कर रह रहा था। रामनाथ पर लोन माफिया लक्ष्य तंवर से साठगांठ कर खुद के ही पीएनबी बैंक को 50 करोड़ रुपए से अधिक का चूना लगाने का आरोप है। लोन फर्जीवाड़े में लक्ष्य तंवर का साथ देने वाले बैंकों के अन्य कर्मचारी और अधिकारी भी एसआईटी की रडार पर हैं। पुलिस का कहना है कि लक्ष्य तंवर से साठगांठ रखने वाले बैंकों के अन्य आरोपी कर्मचारियों व अधिकारियों को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।    


पुलिस का कहना है कि लोन घोटाले में मंगलवार को पीएनबी की बर्खास्त मैनेजर प्रियदर्शिनी को गिरफ्तार किया गया था। इसी क्रम में वीरवार को पीएनबी के बर्खास्त एजीएम रामनाथ मिश्रा को भी गिरफ्तार किया गया है। पकड़ में आया रामनाथ मिश्र मूलरूप से बिहार के पटना जिले के थाना श्रीकृष्णपुरी क्षेत्र का रहने वाला है। वर्तमान में वह दिल्ली में रहने वाले अपने रिश्तेदार के घर में छिपकर रह रहा था। पुलिस से बचने के लिए वह अपना ठिकाना बदल रहा था, लेकिन पुख्ता सूचना के आधार पर उसे पकड़ लिया गया। पुलिस ने रामनाथ से लोन घोटाले के बारे में विस्तृत पूछताछ की। जिसके बाद उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया। वहीं, बैंकों के अन्य अधिकारी व कर्मचारी भी पुलिस की रडार पर हैं। उन्हें भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। 


पुलिस का कहना है कि लोन के नाम पर 4 सौ करोड़ रुपए से अधिक का फर्जीवाड़ा करने वाले लोन माफिया लक्ष्य तंवर के खिलाफ 39 मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। जिनमें से 12 मामलों में रामनाथ मिश्रा भी आरोपी है। अन्य मामलों में भी उसकी भूमिका की जांच की जा रही है। पुलिस की मानें तो रामनाथ मिश्रा 3 जून 2015 से 8 जून 2017 तक पीएनबी की चंद्रनगर शाखा में बतौर चीफ मैनेजर तैनात था। अपनी तैनाती के दौरान रामनाथ मिश्र ने लक्ष्य तंवर के साथ मिलकर लोन देने में 30 करोड़ रुपए से अधिक का फर्जीवाड़ा किया। इसके बाद रामनाथ मिश्र प्रमोशन पाकर एजीएम बन गया और बैंक ने उसे आगरा में नई तैनाती दे दी। आरोप है कि रामनाथ ने आगरा में भी लक्ष्य के फर्जीवाड़े में उसका साथ देकर बैंक को करोड़ों रुपए का चूना लगाया। लेकिन लोन घोटाला उजागर होने पर विभागीय जांच के बाद बैंक ने जुलाई 2021 में उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया। जिसके बाद से रामनाथ मिश्र पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था। 


पुलिस का कहना है कि लोन के फर्जीवाड़े में बर्खास्त मैनेजर प्रियदर्शिनी और बर्खास्त एजीएम की गिरफ्तारी के बाद बैंकों के अन्य अधिकारी और कर्मचारी भी एसआईटी की रडार पर हैं। इनमें उत्कर्ष कुमार, बर्खास्त मैनेजर संजय तितरवे, मैनेजर दुर्गा प्रसाद व लोन मैनेजर तारिक हुसैन मुख्यरूप से शामिल हैं। साथ ही इनके सह आरोपियों में वरुण  त्यागी, नरेश बग्गा, उसका बेटा दक्ष बग्गा, अनिल भारद्वाज, एसपी कपूर और यासू कौशिक के नाम भी शामिल हैं। इसके अलावा लक्ष्य तंवर की पत्नी प्रियंका तंवर, मां रेनू, शीलू, शीलू की पत्नी अलका, बेटी गौरी बहल, दामाद विशेष बहल,  राजरानी कालरा, उसका बेटा सूरज कालरा और पुत्रवध सिंपी भी विभिन्न मुकदमों में आरोपी हैं। इन सभी आरोपियों को भी गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।  


एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि लोन घोटाले में पीएनबी के बर्खास्त एजीएम रामनाथ मिश्रा को गिरफ्तार किया गया है। उसके खिलाफ लोन घोटाले के 12 मामले दर्ज हैं। रामनाथ पर लक्ष्य तंवर के साथ मिलकर लोन घोटाला करने का आरोप है। रामनाथ की गिरफ्तारी के बाद बैंक के अन्य आरोपी अधिकारियों को भी जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। 





...

नौकरी के नाम पर युवती से की अश्लील हरकत

मोदीनगर : नगर की एक कॉलोनी निवासी युवती नोएडा स्थित एक निजी कंपनी में काम करती है। युवती के अनुसार काफी संमय से एक वह कंपनी बदलने का मन बना रही थी। इस विषय में उसकी अपने परिचित व्यक्ति से बात हुई जो कि पूर्व में उसके साथ काम कर चुका है। उक्त व्यक्ति ने दो दिन पूर्व युवती को हाईवे स्थित अपने घर बुलाया। पीड़िता का आरोप है कि उक्त व्यक्ति ने अकेली पाकर उसके साथ अश्लील हरकत की। पीड़िता ने आरोपी की हरकत का विरोध किया तो आरोपी ने उसे धमकी देते हुए मुंह बंद रखने के लिए कहा। पीड़िता ने घर आकर अपने परिजनों को इस बारे में बताया। पीड़िता व उनके परिजनों ने आरोपी के खिलाफ शिकायत करके कार्रवाई की मांग की। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

...

नोएडा : नाबालिग साली को अगवा कर दुष्कर्म

नोएडा :  सेक्टर-39 थाना क्षेत्र की कॉलोनी में एक व्यक्ति ने अपनी नाबालिग साली को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म किया है। पुलिस ने मामले में केस दर्ज आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। थाना प्रभारी ने बताया कि दिल्ली के ओखला निवासी व्यक्ति ने 30 नवंबर को पुलिस को शिकायत दी थी। उन्होंने बताया कि उनकी 12 साल की बेटी है। उनकी बड़ी बेटी की शादी सुमित नाम के युवक से हुई है। आरोप है कि सुमित उनकी नाबालिग बेटी को बहला फुसलाकर अगवा कर ले गया था। इसके बाद आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी। इसके तहत पुलिस ने मोरना बस स्टैंड से गुरुवार को सुमित को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से किशोरी को भी बरामद किया गया है। पुलिस ने पीड़िता की मेडिकल जांच भी कराई है। आरोपी मूलरूप से इटावा के नंगला वलसिंह का रहने वाला है। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।





...

जिला अस्पताल में मृत विवाहिता का शव- पति के इन्तजार में पति लापता पुलिस तलाश में जुटी

फ़िरोज़ाबाद :  फिरोजाबाद जिला अस्पताल में भर्ती एक विवाहिता ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था इसके बाद उसका कथित पति फरार हो गया जो मंगलवार की देर शाम तक जिला अस्पताल नहीं पहुंचा तब पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेकर जांच पड़ताल की तो पुलिस ओपीडी रजिस्टर में दर्ज कराए पते पर गांव पिपरौल पहुंची पता चला इस नाम की कोई महिला और पुरुष वहाँ नहीं है इससे मामला संदिग्ध और रहस्यमय बन गया है इस मामले का रहस्य सरकारी ट्रामा सेंटर में लगे सीसीटीवी कैमरे खोल पाएंगे यह चर्चा का विषय बना हुआ है थाना नारखी के गांव पिपरौली निवासी 35 वर्षीय शिवानी पत्नी मनोज कुमार कि रविवार की रात तबीयत खराब हो गई पति उसे इलाज के लिए सरकारी ट्रामा सेंटर लेकर आया चिकित्सक ने उसका उपचार शुरू कर दिया इसी मध्य पति कहीं चला गया फिर नहीं लौटा सोमवार की प्रातः उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया पति के वापस ना आने के कारण शव को विच्छेदन गृह में रखवा दिया और सूचना पुलिस को भेजी थी जब मृतका का पति भर्ती कराने के बाद वापस नहीं लौटा तो पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया और गांव पिपरौली पहुंची पता चला गांव में इस नाम कोई दंपत्ति नहीं रहते हैं जिससे मामला संदिग्ध और रहस्यमय बन गया है क्या इस रहस्य से सरकारी ट्रामा सेंटर में लगे सीसीटीवी कैमरे पर्दाफाश कर सकेंगे मृतका कहां की रहने वाली थी और उसका पति कौन है गौरतलब है मृतका का कथित पति जब उसको भर्ती कराने के लिए ट्रामा सेंटर में आया था तब होमगार्ड की ड्यूटी थी और वहां सीसीटीवी कैमरे भी लगे हुए हैं इसके बाद वह वार्ड में पहुंचा तो वहां भी सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं फिर वह ओपीडी में नाम दर्ज कराने के लिए पहुंचा था तब वहां भी सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं क्या पुलिस और जिला अस्पताल प्रशासन सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालेगा और भर्ती कराने वाले कथित पति तक पुलिस पहुंच सकेगी यह चर्चा का विषय बना हुआ है गौरतलब है कि पूर्व में भी ऑक्सीजन सिलेंडर चोरी हो गया था और एक सड़क दुर्घटना में घायल जिसकी मां की मौत हो गई थी उसकी जेब से 72 सो रुपए निकाल लिए गए थे जिनका आज तक पुलिस और जिला अस्पताल प्रशासन पता नहीं लगा सका जबकि सरकारी ट्रामा सेंटर में कई जगह सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं |




...

जनकपुरी में नामी कंपनी के शोरूम का ताला तोड़कर 56 लाख रुपये ले उड़े बदमाश

नई दिल्ली : राजधानी के जनकपुरी इलाके में बाटा शोरूम में चोरी का मामला सामने आया है। बदमाशों ने शोरूम का शटर तोड़कर अंदर मेन लॉकर में रखे करीब 56 लाख रुपये पर हाथ साफ कर दिया। शातिर बदमाशों ने पुलिस से बचने के लिए अंदर लगे सीसीटीवी कैमरे और डीवीआर भी तोड़ दिया। पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।


जानकारी के मुताबिक जनकपुरी मेन मार्केट में बाटा के जूतों का शोरूम है। यहां सागरपुर निवासी प्रकाश सिंह मैनेजर हैं। प्रकाश ने पुलिस में दी शिकायत में बताया 18 दिसंबर को उन्होंने रात करीब साढ़े 9 बजे शोरूम बंद करवाया था। अगले दिन बिल्डिंग मालिक ने कॉल कर शोरूम का शटर और अंदर मेन गेट का शीशा टूटा होने की सूचना दी। सूचना मिलते ही प्रकाश शेरूम के अन्य कर्मियों के साथ वहां पहुंचे और मामले की जानकारी पुलिस को दी। शोरूम के अंदर जाकर स्टोर की जांच की गई तो मेन लॉकर टूटा मिला। उसकी जांच में लॉकर में रखी करीब 55.68 लाख से अधिक की नकदी गायब मिली। जनकपुरी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मौके से क्राइम टीम ने साक्ष्य एकत्र कर उसे जांच के लिए भेज दिया है। पुलिस शोरूम के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से आरोपियों की पहचान करने का प्रयास कर रही है। आशंका जताई जा रही है कि वारदात में शोरूम के ही किसी कर्मचारी का हाथ हो सकता है। पुलिस कर्मचारियों से भी पूछताछ कर रही है।





...

125 किलो गांजे के साथ ड्रग तस्कर गिरफ्तार, अवैध शराब की भी करता था सप्लाई

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली की दक्षिण-पूर्वी जिले की एंटी नारकोटिक्स सेल टीम ने एक ड्रग तस्कर को 125 किलो गांजे के साथ गिरफ्तार किया है। यह शातिर बदमाश महज एक लाख रुपये लेकर देश के किसी भी कोने में ड्रग्स हो या फिर अवैध शराब, उसकी डिलीवरी कर देता था।


आरोपी आरिफ खान को पुलिस ने गांजे से लदी ट्रक के साथ दबोचा तो पाया कि उसने पुलिस को चकमा देने के लिए प्लाटिक की स्क्रैप रखी थी। ट्रक में एक सीक्रेट कैविटी (छिपा हुआ स्थान) बनाया था। इस स्थान में ही आरोपी ड्रग्स छिपाकर लाता और ले जाता था। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि वह किस को ड्रग्स देने के लिए दिल्ली आया था। डीसीपी ईशा पांडे के मुताबिक, बीते सोमवार को एंटी-नारकोटिक्स सेल स्टाफ को सूचना मिली कि एक ड्रग तस्कर गोविंदपुरी में किसी अज्ञात शख्स को गांजे की डिलीवरी देने के लिए आने वाला है।


सूचना के आधार पर एक टीम का गठन कर गोविंदपुरी के श्मशान घाट के पास जाल बिछाया गया। करीब ड़ेढ़ बजे यूपी नंबर की एक ट्रक आती दिखी जिसको रुकने का इशारा करने पर ट्रक चालक ने रफ्तार तेज कर भागने का प्रयास किया। पुलिस ने टीम ने उसे रोक जांच की तो उसमें प्लास्टिक स्क्रैप के नीचे एक गुप्त स्थान में 125 किलो गांजा रखा मिला। इसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ गोविंदपुरी थाने में केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। गांजा और ट्रक भी जब्त कर लिया गया है।


पुलिस की पूछताछ में खुलासा हुआ कि आरोपी उड़ीसा से 25 लाख रुपये में गांजा खरीदकर दिल्ली आया था। लेकिन, गांजे की डिलीवरी करने के पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में यह पता चला कि वह पेशे से ड्राइवर है। वह छह महीने से अधिक समय से नजफगढ़ में एक व्यक्ति के लिए काम कर रहा है। दिसंबर 2021 के पहले हफ्ते में वह अवैध शराब के 250 बक्से लेकर बिहार गया था। वहां से वह उड़ीसा चला गया। उड़ीसा से उसने 125 किलो गांजा एक व्यक्ति से 25 लाख रुपये में खरीदा और उसे लेकर दिल्ली लौट रहा था। एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा यह तय किया गया था कि वो तुगलकाबाद दिल्ली के पास मिलेंगे और माल उन्हें सौंपना था।




...

पारिवारिक विवाद को लेकर बाइक सवार तीन युवकों ने महिला को गोली मारी

मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश) : मुजफ्फरनगर के भोपा इलाके के एक गांव में कथित तौर पर ससुराल वालों से पारिवारिक विवाद को लेकर बाइक सवार तीन लोगों ने एक महिला को गोली मार दी। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। घटना बरुकी गांव में मंगलवार को हुई। घटना के वक्त पीड़िता सोनम खेत में काम कर रही थी। पुलिस ने बताया कि पीड़िता का अस्पताल में इलाज चल रहा है।


पीड़िता के पिता की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक, ससुराल में पारिवारिक विवाद के बाद सोनम अपने माता-पिता के पास चली आई। सोनम के पिता ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी पर हमला उसके ससुराल के लोगों की करतूत है। उन्होंने बताया कि सोनम की शादी अनुज से करीब सात साल पहले हुई थी।







...

हत्या के मामले मे आरोपी की जमानत खारिज

गाजियाबाद : अदालत ने युवक की हत्या के मामले आरोपी की जमानत अर्जी खारिज करने के आदेश दिए। आरोपी पर साथियों के साथ हत्याकांड की साजिश में शामिल होने का आरोप है।

मोदीनगर थाना क्षेत्र में चार सितंबर 2021 की घटना है। जिला शासकीय अधिवक्ता राजेश चंद शर्मा ने बताया कि मोदीनगर में चार सितंबर को मनोज और जितेंद्र दोनों बैठे थे। तभी बाइक सवार तीन युवक वहां आए। तीनों ने पिस्टल और तमंचे से फायरिंग कर मनोज की हत्या कर दी थ्री। हत्या के बाद जितेंद्र ने घर पर आकर भाभी पूनम को पूरे मामले की जानकारी दी थी। मनोज की मौके पर मौत हो गई थी। जितेंद्र ने बाइक सवार हत्यारोपियों के नाम भी बताए थे। मृतक मनोज की पत्नी पूनम ने पति की हत्या की रिपोर्ट मोदीनगर थाने में लिखाई थी। रिपोर्ट में राजवीर उर्फ पप्पू, निशांत और सुनील को नामजद कराया। घटना के पीछे पुरानी रंजिश बताई जाती है। जिला शासकीय अधिवक्ता ने बताया कि पुलिस की विवेचना में हत्याकांड की साजिश में कपिल उर्फ गांधी का नाम भी सामने आया था। कपिल बेगमाबाद का रहने वाला है। कपिल की ओर से उनके अधिवक्ता ने जमानत अर्जी डाली थी। जिला सत्र न्यायाधीश की अदालत ने दोनों पक्ष को सुनने के बाद हत्या की साजिश के आरोपी कपिल उर्फ गांधी की जमानत अर्जी खारिज करने के आदेश दिए।




...

नोएडा में डॉक्टर दंपति ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली

नोएडा : थाना सूरजपुर क्षेत्र में स्थित एक सोसाइटी में रहने वाले डॉक्टर दंपति ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। दोनों ने मिलकर एक सुसाइड नोट भी लिखा है जिसमें दंपति ने कुछ लोगों पर आत्महत्या के लिए विवश करने का आरोप लगाया है।


पुलिस घटना की जांच कर रही है।


पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) हरीश चंदर ने बताया कि थाना सूरजपुर क्षेत्र के जीटा सेक्टर में स्थित पैरामाउंट सोसाइटी में रहने वाले डॉक्टर सत्येंद्र सिंह निझावन (58 वर्ष) और उनकी पत्नी जसवंत कौर (56 वर्ष) ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली है।


उन्होंने बताया कि इनके बेटे डॉ तरनप्रीत सिंह निझावन उर्फ तनु द्वारा पुलिस को मामले की सूचना दी गई। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।


डीसीपी ने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि दंपति मूल रूप से दिल्ली के कीर्ती नगर के रहने वाले हैं। कुछ समय पूर्व ही ये लोग ग्रेटर नोएडा में रहने आए थे। उन्होंने बताया कि इनका दिल्ली के कीर्ती नगर में कुछ लोगों से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा है।


उन्होंने बताया कि मृतकों ने एक सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें उन्होंने कुछ लोगों पर उन्हें आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पुलिस सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि जिन लोगों पर मृतकों ने आरोप लगाया है, उनसे पूछताछ की जा रही है।





...

बीसीआई केरल में वकील की हत्या की सीबीआई जांच के लिए केंद्र को पत्र लिखेगा

नई दिल्ली : बार काउंसलि ऑफ इंडिया (बीसीआई) ने मंगलवार को कहा कि वह केरल के अलाप्पुझा जिले में रविवार को एक वकील की कथित हत्या की केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) या राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) से जांच कराने की मांग करते हुए केंद्र सरकार को एक पत्र लिखेगा।


अधिवक्ता रजनीत श्रीनिवास की रविवार को उनकी मां, पत्नी और बेटी के सामने घर के अंदर हत्या कर दी गई थी।


बीसीआई अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा ने कहा कि काउंसिल ने मामले की जांच सीबीआई या एनएआई जैसी केंद्रीय एजेंसी कराने के लिए भारत सरकार को पत्र लिखने का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा, ‘‘सिर्फ कोई केंद्रीय एजेंसी ही सच्चाई का पता लगा सकती है और दोषी को सजा दिला सकती है।’’




...

चोरी-छिपे पत्नी से मिलता था गैर मर्द, कालोनी में होने लगी तरह-तरह की बातें, फिर पति ने उठाया खौफनाक कदम

गाजियाबाद : लोनी कोतवाली क्षेत्र की एसएलएफ वेद विहार कालोनी में सोमवार सुबह विकास की हत्या अवैध संबंधों के चलते की थी। हत्या को मंडोली दिल्ली जेल में बंद एक बदमाश ने अपने साथियों से कराई थी। पुलिस ने मामले में दो भाईयों समेत तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। फिलहाल दो बदमाश पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं। पुलिस ने जल्द फरार बदमाशों को गिरफ्तार करने का दावा किया है।


एसपी देहात ईरज राजा ने बताया कि हत्या के मामले में हंसराज उर्फ बाेबी, सुरेंद्र उर्फ मिंटू और रोहित उर्फ नन्नू निवासी रणजीत नगर लोनी को मंगलवार सुबह साढ़े छह बजेडीएलएफ अंकुर विहार कालोनी कट से गिरफ्तार किया गया है। उनके कब्जे से एक पिस्टल, तीन कारतूस और एक मोटरसाइकिल बरामद हुई है। उन्होंने पुलिस को बताया कि मृतक विकास का मिंटू उर्फ सुरेंद्र की पत्नी से अवैध संबंध थे। छह माह पूर्व इसकी जानकारी मिली थी। दोनों को समझाने का प्रयास किया गया था लेकिन दोनों लगातार मिलते रहते थे। जिससे कालोनी में विभिन्न बातें होने लगी थीं।


हंसराज ने बताया कि उसका भतीजा सोनू हत्या की मामले में दिल्ली की मंडोली जेल में बंद चल रहा है। उससे कोर्ट में पेशी पर मिलने गए। जहां सोनू से विकास की हत्या कराने को कहा। बाद में वाट्सएप काल पर बात भी की। सोनू ने उन्हें बिसनौली गौतमबुद्ध नगर के चुन्नू मिलवाया। सोमवार को सोनू ने दोनों को घर भेजा। जिसके बाद चुन्नू, अपने भतीजे कुलदीप निवासी खोड़ा और रोहित हत्या की योजना बनाई।


एक मोटरसाइकिल पर हंसराज उर्फ बोबी व चुन्न और दूसरी मोटरसाइिल पर कुलदीप व रोहित रास्ते में विकास के घर के निकलने का इंतजार करने लगा। जब विकास घर से निकला तो कुलदीप और रोहित उसका पीछा करते हुए आए। कुलदीप के करने पर सभी ने फायरिंग कर उसकी हत्या कर दी।

...

नाबालिग बेटी से बलात्कार के जुर्म में पिता को उम्रकैद

मंगलुरु : कर्नाटक के उडुपी जिला स्थित एक पोक्सो फास्ट ट्रैक अदालत ने एक व्यक्ति को नाबालिग बेटी से बलात्कार के जुर्म में उम्रकैद की सज़ा सुनाई है।


विशेष न्यायाधीश येरमाल कल्पना ने दोषी पर 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाने का भी निर्देश दिया है और साथ में लड़की को जान से मारने की धमकी देने पर पांच हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है।


अदालत ने सरकार को निर्देश दिया है कि वह पीड़िता को पांच लाख रुपये का मुआवज़ा दे।


यह मामला उडुपी महिला थाने में पिछले साल मई में दर्ज कराया गया था। 41 वर्षीय पिता ने अपनी 14 वर्षीय बेटी के साथ तब बलात्कार किया था जब उसकी पत्नी और बेटा बाहर गए हुए थे। उसने अपनी बेटी को घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी।


लड़की ने एक पड़ोसी की मदद से अपनी मां को घटना के बारे में बताया। मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया।


पीड़िता, उसकी मां और पड़ोसी के बयान ने आरोपों को साबित करने में मदद की। विशेष लोक अभियोजक वाई टी राघवेंद्र अभियोजन की ओर से पेश हुए।






...

प्रेम प्रसंग के चलते नाबालिग चचेरी बहन के साथ ग्रेटर नोएडा आए युवक की हत्या, लड़की के भाई गिरफ्तार

नोएडा (उप्र) : नाबालिग चचेरी बहन से प्रेम प्रसंग के चलते उसके साथ उत्तरप्रदेश के फतेहपुर जिले से गौतमबुद्ध नगर के ग्रेटर नोएडा आए युवक का शव एक्सप्रेस के पास मिला है जबकि लड़की भी गंभीर रूप से घायल है।


यह जानकारी सोमवार को पुलिस ने दी। इस मामले में लड़की के दो सगे भाइयों को गिरफ्तार किया गया है।


पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) अमित कुमार सिंह ने सोमवार को बताया कि बताया कि रविवार की देर शाम परी चौक के पास एक किशोरी लहूलुहान अवस्था में बेहोश पड़ी थी। गश्त कर रही पुलिस टीम जब वहां गई तो एक युवक को भी लहूलुहान अवस्था में पाया।


सिंह ने बताया कि दोनों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया, जबकि युवती का उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि होश में आने पर युवती ने पुलिस को बताया कि मृतक का नाम राजू (23 वर्ष) है जो फतेहपुर का निवासी है।


पुलिस के मुताबिक किशोरी ने बताया कि वह तथा राजू एक दूसरे से प्रेम करते हैं, तथा आपस में चचेरे भाई-बहन हैं। उनके घर वाले उनकी शादी के लिए तैयार नहीं थे। इसलिए दोनों फतेहपुर से भागकर ग्रेटर नोएडा आ गए थे।


पुलिस को पूछताछ के दौरान पता चला कि किशोरी के भाई सुनील तथा गोरे व अन्य लोग फतेहपुर से पीछा करते हुए, ग्रेटर नोएडा तक आए, तथा यहां पर रविवार रात को दोनों की उन्होंने जमकर पिटाई की और मरा हुआ समझकर झाड़ियों में फेंक कर भाग गए।


सिंह ने बताया कि इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने फतेहपुर से मामले में आरोपी सुनील व गोरे को गिरफ्तार कर लिया। दोनों किशोरी के सगे भाई हैं। अन्य लोगों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।


उन्होंने बताया कि आरोपियों को यहां लाया जा रहा है और मामले की जांच जारी है।






...

कई शादियां करके बैठा था दूल्हा, लड़की वालों ने मंडप में ही लात-घूंसों से कर दी धुनाई, जानें पूरा मामला

गाजियाबाद : यूपी के गाजियाबाद जिले में एक दूल्हे की शामत आ गई। दूल्हे ने कभी सोचा भी नहीं था कि उसकी इतनी आसानी से पोल खुल जाएगी और उसकी भरे मंडप में धुनाई होगी। दरअसल एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति से महिला लिपटी हुई दिख रही है हालांकि महिला कौन थी अभी इसकी जानकारी नहीं हो पाई, लेकिन वीडियो देखने से इतना जरूर साफ हो रहा है कि महिला उस व्यक्ति को बचा रही है। वीडियो में जिस शख्स को महिला बचा रही है वह दूल्हे की ड्रेस में है। वीडियो में यह भी देखा जा सकता है कि दूल्हे को महिला को धकियाते हुए उसे एक स्थान से दूसरे स्थान पर बचाती हुई ले जा रही है। 


मामला गाजियाबाद जिले के साहिबाबाद थाना क्षेत्र का है। जानकारी के अनुसार साहिबाबाद के किसी एक बैंक्वेट हॉल में शादी समारोह का आयोजन था। यहां खाने-पीने की व्यवस्था भी की गई थी। शादी की रस्मे निभाई जा रही थीं। इसी बीच अचानक कुछ ऐसा हुआ कि बैंक्वेट हॉल में भगदड़ मच गई। लड़की वालों ने दूल्हे की धुनाई करने शुरू कर दी, जब तक लोग कुछ समझ पाते दूल्हे पर लात-घूंसो से बारिश होने लगी थी। दूल्हे को पिटाई देख बैंक्वेट हॉल में मौजूद एक महिला उसे बचाते हुए उससे लिपट गई। महिला दूल्हे को लोगों से बचाते हुए एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाती दिखी। यह सब वाक्या बैंक्वेट हॉल में मौजूद किसी शख्स ने अपने कैमरे में कैद कर लिया और फिर वायरल कर दिया। लड़की वालों का कहना था कि जिस शख्स से शादी हो रही थी वह पहले भी कई शादियां कर चुका है, उसने इस बात को छुपाया था। लड़की वालों ने यह भी आरोप है कि शादी वाले दिन ही दूल्हे ने दहेज की डिमांड कर दी थी।

...

ग्रेनो आरडब्ल्यूए अध्यक्ष पर हमला

ग्रेटर नोएडा : सेक्टर अल्फा दो आरडब्ल्यूए अध्यक्ष पर गुरुवार की रात हमला किया गया। उन्होंने किसी तरह भागकर जान बचाई। पीड़ित ने चुनावी रंजिश में हमला करने का आरोप लगाया है। पीड़ित की तहरीर पर बीटा दो कोतवाली पुलिस ने 12 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।


पुलिस के मुताबिक आरडब्ल्यूए अध्यक्ष जितेंद्र मावी के मोबाइल पर गुरुवार रात सेक्टर में ही रहने वाले अमित नागर ने कॉल कर गाली गलौज की और जान से मारने की धमकी दी। इसका विरोध करने पर अमित नागर ने 10-12 अज्ञात लोगों के साथ उन पर हमला कर दिया। पीड़ित ने भागकर अपनी जान बचाई। पीड़ित का आरोप है कि चुनावी रंजिश में उन पर हमला किया गया है।


आरोप है कि कुछ दिनों पहले उन्होंने सेक्टर में अवैध रूप से लगी ठेली को हटवा दिया था। इस बात को लेकर भी आरोपी अमित नागर और उसके साथी उससे नाराज थे। पीड़ित ने जान का खतरा बताते हुए पुलिस से सुरक्षा की मांग की है। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर आरोपी अमित नागर समेत 10-12 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार राजपूत ने बताया कि नामजद आरोपी अमित नागर निवासी इमलिया व उनके साथी सोनू निवासी ग्राम रायपुर बांगर व विनय वर्मा निवासी पैरामाउंट गोल्फ फॉरेस्ट सेक्टर जीटा को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है।







...

साहिबाबाद : दुष्कर्म के आरोपी जेई को किया गिरफ्तार

साहिबाबाद :  साहिबाबाद थाना क्षेत्र में बिजली विभाग के अवर अभियंता (जेई) द्वारा शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। अब पुलिस ने दुष्कर्म के आरोपी जेई को गिरफ्तार कर लिया। जबकि जेई के खिलाफ दो महीने पहले सितंबर में रिपोर्ट दर्ज हो चुकी थी।


गोरखपुर निवासी निर्भय सिंह बिजली विभाग के अवर अभियंता (जेई) हैं। उनकी तैनाती राजेंद्र नगर बिजली घर में थी। साहिबाबाद थाना क्षेत्र की एक युवती ने जेई निर्भय सिंह के खिलाफ दर्ज कराए मुकदमे में बताया कि वर्ष 2017-18 से ही निर्भय सिंह उसको फोन कर परेशान करता रहता था। कई बार बिना बताए ही घर आ जाता था। आरोप है कि इसी दौरान आरोपी ने पीड़िता को अपने फ्लैट पर बुलाया और शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया और उसके फोटो भी खींचे थे। इस बीच निर्भय सिंह ने दूसरी युवती से शादी तय कर ली। उन्होंने शादी का विरोध किया तो आरोपी ने अभद्रता की। आरोप है कि आरोपी निर्भय और उसके भाई चंदन ने जान से मारने की धमकी भी दी। उन्होंने मामले की शिकायत पुलिस से की। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर निर्भय और चंदन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। साहिबाबाद थाना प्रभारी नागेंद्र चौबे ने बताया कि पीड़िता की तहरीर के आधार पर पहले ही शिकायत दर्ज कर ली गई थी। अब आरोपी निर्भय सिंह को गिरफ्तार कर जेल भिजवाने की कार्रवाई की गई है।





...

बिरयानी के पैसे मांगे तो मारपीट कर ठेला पलटा

लोनी : दबंगों ने बिरयानी के पैसे मांगने पर दुकानदार के साथ जमकर मारपीट की तथा उसका बिरयानी का ठेला भी पलट दिया। पीड़ित ने रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए लोनी थाने में तहरीर दे दी है। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन दिया है। लोनी थाने के टौली मौहल्ला निवासी नदीम पुत्र फहीमुददीन पास ही इकराम नगर कॉलोनी के 50 फुटा रोड पर ठेला लगाकर बिरयानी बेचता है। आरोप है कि गुरुवार शाम 7.30 बजे कॉलोनी के ही कुछ दबंग युवक नशे की हालत में बिरयानी खाने उसके ठेले पर पहुंचे और बिरयानी खाने के बाद पैसे नहीं दिए। ठेले वाले ने पैसे मांगे तो उसके साथ मारपीट की तथा बिरयानी का ठेला पलट दिया। जिससे उसकी सारी बिरयानी सड़क पर बिखर गई। पीड़ित ने दबंगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए थाने में तहरीर दे दी है। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन दिया है।





...

पानी टंकी भरने को लेकर सरिया मारकर किया घायल

मुरादनगर : नगर की पाल कॉलोनी में पानी की टंकी भरने को लेकर हुए विवाद में दो पक्षों में मारपीट हो गई। सरिया मारकर एक युवक का सिर भी फोड़ दिया। नगर की पाल कॉलोनी निवासी रमन व राजकुमार एक ही मकान में रहते हैं। शुक्रवार सुबह दोनों का पहले पानी की टंकी भरने को लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ा कि राजकुमार ने सरिया मारकर रमन का सिर फोड़ दिया। दोनों ने थाने में तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।







...

महिलाओं के खिलाफ कम नहीं हुए घरेलू हिंसा के मामले - एनसीआरबी की रिपोर्ट

नई दिल्ली : देश में महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा के मामलों में पिछले 6 साल से अपराध कम नहीं हुए हैं। निर्भया फंड से बने वन स्टॉप सेंटर, फास्ट ट्रैक स्पेशल कोर्ट (एफटीएससी) के बावजूद, देश के 8 शहरों में कोविड काल में अधिक मामले सामने आ रहे हैं।


गौरतलब है कि 9 साल पहले 16 दिसंबर को देश की राजधानी दिल्ली में चलती बस में 23 साल की एक युवती से हैवानियत के साथ बलात्कार किया गया। जिसको लोगों ने निर्भया कांड का नाम दिया। इस कांड ने देश को झकझोर दिया था। लोग गुस्से में सड़कों पर उतर आए, संसद में इस पर चर्चा हुई। सरकार हरकत में आई और बलात्कार जैसी घटनाओं को लेकर देश में सख्त कानून बनाया गया। वन स्टॉप सेंटर, फास्ट ट्रेक स्पेशल कोर्ट का गठन किया गया। साथ ही साथ ही समाज में भी बदलाव देखने को मिला।


इस घटना के 9 साल बाद देश में महिलाओं को लेकर कुछ खास बदलाव नहीं आये हैं। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) अपने प्रकाशन क्राइम इन इंडिया में अपराधों पर जो सूचना जारी की। उस रिपोर्ट के अनुसार घरेलू हिंसा सहित महिलाओं के खिलाफ अपराधों के आंकड़े साल 2016 में 437 मामले रहे, 2017 में 616, 2018 में 579, साल 2019 में 553 और 2020 में 446। जिसके मुताबिक यह साफ है कि पिछले 6 साल में महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा के मामले कम नहीं हुए हैं।


वहीं केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने इस संबंध में कहा कि भारत के संविधान की सातवीं अनुसूची के तहत पुलिस और लोक व्यवस्था राज्य के विषय हैं। महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराध की जांच और अभियोजन सहित कानून और व्यवस्था बनाए रखने, नागरिकों के जीवन और संपत्ति की सुरक्षा की जिम्मेदारी मुख्य रूप से संबंधित राज्य सरकारों की होती है। राज्य सरकारें कानून के मौजूदा प्रावधानों के तहत ऐसे अपराधों से निपटने के लिए सक्षम हैं।


मंत्रालय के अनुसार केंद्र सरकार महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने को सर्वोच्च प्राथमिकता देती है और इस संबंध में विभिन्न विधायी और योजनाबद्ध हस्तक्षेप किए गए हैं। इनमें आपराधिक कानून (संशोधन) अधिनियम, 2018, आपराधिक कानून (संशोधन) अधिनियम, 2013, कार्यस्थल पर महिलाओं का यौन उत्पीड़न (रोकथाम, निषेध और निवारण) अधिनियम, 2013, जैसे कानून शामिल हैं।


घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम, 2006, दहेज निषेध अधिनियम, 1961, आदि। योजनाओं/परियोजनाओं में वन स्टॉप सेंटर (ओएससी) शामिल हैं। महिला हेल्पलाइन (डब्ल्यूएचएल), आपातकालीन प्रतिक्रिया सहायता प्रणाली (ईआरएसएस) का सार्वभौमिकरण जो आपात स्थिति के लिए एक अखिल भारतीय एकल नंबर (112) मोबाइल ऐप आधारित प्रणाली है।


इसके साथ ही देश के 8 शहरों (अहमदाबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, दिल्ली, हैदराबाद, कोलकाता, लखनऊ और मुंबई) में बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने के लिए, अश्लील सामग्री की रिपोर्ट करने के लिए साइबर अपराध रिपोटिर्ंग पोर्टल बनाने गए।


सुरक्षित शहर परियोजना के तहत जांच अधिकारियों, अभियोजन अधिकारियों और चिकित्सा के लिए जागरूकता कार्यक्रमों, प्रशिक्षण और कौशल विकास कार्यक्रमों के माध्यम से समुदाय में बुनियादी ढांचे, प्रौद्योगिकी अपनाने और क्षमता निर्माण शामिल हैं।


केंद्र सरकार के अनुसार सीएफएसएल, चंडीगढ़ में अत्याधुनिक डीएनए प्रयोगशाला की स्थापना; फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशालाओं को मजबूत करने के लिए 24 राज्यों व संघ राज्य क्षेत्रों को सहायता; पोक्सो अधिनियम के तहत बलात्कार के मामलों और मामलों के त्वरित निपटान के लिए 1023 फास्ट ट्रैक स्पेशल कोर्ट (एफटीएससी) की स्थापना की गई है। देश के सभी जिलों में मानव तस्करी रोधी इकाइयों (एएचटीयू) की स्थापना व सु²ढ़ीकरण के लिए पुलिस थानों आदि में महिला सहायता डेस्क (डब्ल्यूएचडी) की स्थापना की गई है।


महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अनुसार केंद्र सरकार ने 1 अप्रैल, 2015 को वन स्टॉप सेंटर (ओएससी) योजना को लागू किया था। ताकि हिंसा से प्रभावित महिलाओं और निजी और सार्वजनिक दोनों जगहों पर पुलिस सुविधा सहित कई सेवाओं के माध्यम से महिलाओं को एकीकृत सहायता और सहायता प्रदान की जा सके। एक छत के नीचे एकीकृत तरीके से चिकित्सा सहायता, कानूनी सहायता और परामर्श, मनोवैज्ञानिक सहायता और अस्थायी आश्रय। जिसकी स्थापना निर्भया कांड के बाद की गई थी। अब तक, 733 ओएससी को मंजूरी दी गई है, जिनमें से 704 35 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों (पश्चिम बंगाल राज्य को छोड़कर) में संचालित हो चुके हैं, जिन्होंने सितंबर, 2021 तक देश में 4.50 लाख से अधिक महिलाओं की सहायता की है।


वन स्टॉप सेंटर योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा निर्भया फंड से सीधे जिला अधिकारियों को 100 फीसदी फंडिंग मुहैया कराई जाती है।



...

दिल्ली में 20 वर्षीय ट्यूशन टीचर की चाकू मारकर हत्या, दोस्त गंभीर रूप से घायल

नई दिल्ली : उत्तर-पश्चिमी दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में मंगलवार शाम कुछ लोगों के साथ हुई मारपीट के दौरान एक 20 वर्षीय निजी ट्यूटर (शिक्षक) की चाकू मारकर हत्या कर दी गई और उसका दोस्त घायल हो गया। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है।


पुलिस के अनुसार, उसे रात करीब 8.20 बजे लड़ाई होने की सूचना मिली थी। उन दोनों घायलों को पास के संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया था।


पुलिस उपायुक्त (बाहरी) परविंदर सिंह ने बताया कि अस्पताल पहुंची पुलिस टीम को सूचना मिली कि मंगोलपुरी निवासी अमरदीप को वहां पहुंचने पर मृत घोषित कर दिया गया, जबकि उसके दोस्त सागर का इलाज चल रहा है। अमरदीप और सागर दोनों पर चाकू से वार किया गया था। सागर भी एक निजी ट्यूटर है। 


पुलिस ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि दोनों अपने दोस्त से मिलने जा रहे थे, तभी किसी बात को लेकर उनका तीन अज्ञात लोगों से झगड़ा हो गया। डीसीपी सिंह ने कहा कि आरोपियों की पहचान करने और उनका पता लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं। 


पुलिस घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालने के साथ ही स्थानीय लोगों से भी पूछताछ कर रही है। पुलिस हर एंगल से इस घटना की जांच कर रही है।  




...

रोहिणी कोर्ट ब्लास्ट केस : संदिग्धों ने वकील व पुलिस के वेशभूषा में फाइल के साथ अंदर घुसने का शक

नई दिल्ली : दिल्ली की रोहिणी अदालत में हुए ब्लास्ट मामले की तफ्तीश में जुटी एजेंसियों को शक है कि संदिग्धों ने वकील व पुलिस के वेशभूषा में फाइल लेकर अंदर घुसे होंगे। दरअसल पिछले करीब छह दिनों से लगातार सीसीटीवी फुटेज खंगालने व डंप डाटा के आधार पर संदिग्ध मोबाइल नंबरों की जांच के दौरान पुलिस को अबतक ऐसा कोई संदिग्ध हाथ नहीं लगा, जिस पर शक के आधार पर पूछताछ में कुछ पुख्ता हाथ लगा हो। इसलिए पुलिस को शक है कि परिसर में बम रखने वाला शक सुरक्षा एजेंसियों व लोगों को चकमा देने के लिए वकील व पुलिस की हाथ में फाइल व दस्तावेज लिए अंदर घुसा होगा, ताकि कोई उसपर शक न कर सके। बहरहाल ऐसे तमाम पहलुओं को ध्यान में रखते हुए पुलिस मामले की तफ्तीश आगे बढ़ा रही है। 


फाइल व दस्तावेज वाले पहलू को लेकर जांच कारण यह है कि जिस लैपटॉप बैग में बम धमाका हुआ था, उस बैग में टिफिन बम के अलावा कुछ फाइल व उसमें रखे दस्तावेज की तरह कुछ कागज रखे थे। वह भी एकदम खाली। उसमें कुछ भी नहीं लिखा था और न ही कोई जरूरी फाइल ही थी। इस कारण यह माना जा रहा है कि आरोपी ने कोर्ट में घुसने के लिए खुद को या तो वकील या फिर पुलिस तरह दिखाने के लिए फाइल व दस्तावेजों की तरह दिखने वाले कागजों को साथ रखा हो। ताकि उसकी मंशा पर कोई भी शक न कर सके और वह आसानी से कोर्ट में बम रखकर निकल सके। बहरहाल पुलिस की शुरुआती जांच में ये बात सामने आई है कि संदिग्धों ने ब्लास्ट करने के लिए रिमोट का इस्तेमाल किया था। दरअसल जांच में इस बात के संकेत मिले हैं कि ब्लास्ट के लिए रिमोट का इस्तेमाल किया गया था।


मामले की जांच में जुटी पुलिस सीसीटीवी फुटेज की मॉनिटरिंग के अधार पर एंट्री व एग्जिट प्वाइंट पर दिखाई देने वाले हर संदिग्ध शख्स के बारे में जानकारी जुटा रही है और इनके बारे में पुलिस पूछताछ कर रही है। घटना के बाद से चल रही इस जांच में स्पेशल सेल समेत तफ्तीश से जुड़ीं अन्य दूसरी यूनिट ने अबतक करीब 45 से ज्यादा लोगों के बारे में जांच कर चुकी है। स्पेशल सेल की अलग अलग टीमें इस ब्लास्ट की जांच में अलग-अलग पहलू पर अपनी तफ्तीश को आगे बढ़ा रही हैं। जांच टीम ब्लास्ट के पैटर्न को देखते हुए कुछ आतंकी संगठनों के स्लीपर सेल भी राडार पर हैं। इसके मद्देनजर भी स्पेशल सेल की एक टीम अपनी तफ्तीश को आगे बढ़ा रही है।


ब्लास्ट मामले की जांच में जुटी पुलिस फिलहाल हर एंगल को ध्यान में रखते हुए तफ्तीश कर रही है। पुलिस को इस मामले में कुछ नई जानकारी भी मिली हैं, जिसके आधार पर पुलिस आगे की तफ्तीश कर रही है। स्पेशल सेल के सूत्रों के मुताबिक रोहिणी कोर्ट में हुए माइनर ब्लास्ट मामले में लोकल कनेक्शन बेहद अहम हो सकता है। किसी नौसिखिया अपराधी का किसी बड़े माइंडसेट के साजिशकर्ता के साथ कनेक्शन हो सकता है। इस कारण अब स्पेशल सेल की टीम इस इनपुट को ध्यान में रखते हुए लोकल कनेक्शन की तरफ भी अपनी जांच आगे बढ़ा रही है।


उधर सूत्रों की मानें तो यह बात भी सामने आई है कि जिस दिन रोहिणी के कोर्ट नम्बर 102 में ब्लास्ट हुआ था, उस दिन उस कोर्ट में कोई बड़ा आतंकी या गैंगस्टर से जुड़े किसी बड़े मामले की सुनवाई नहीं होनी थी। और ना ही उस कोर्ट के द्वारा पिछले तीन सालों के दौरान किसी बड़े गैंगस्टर या आतंकी को कोई बड़ी सजा सुनाई गई है। वहीं दूसरी तरफ इस मामले को लेकर अबतक शक के आधार पर करीब 60 से ज्यादा संदिग्धों से पुलिस पूछताछ भी कर चुकी है। लेकिन स्पष्ट तौर पर अभी भी पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है।





...

बहन को जान से मारने की कोशिश, पुलिस ने किया शांतिभंग में चालान

आगरा :  बहन को जान से मारने की कोशिश करने वाले भाई को पुलिस ने मात्र शांति भंग में चालन करते हुए छोड़ दिया। भाई ने बहन का अगोछे से गला घोट दिया था। मामला जोहरा बाग एक एत्माद्दौला का है। यहां की रहने वाली एक महिला किसी काम से बाहर गई हुई थी घर पर उसकी बेटी और बेटा था था। बहन चारपाई पर सो रही थी तभी उसके भाई ने अगोछे गला दबा दिया। जिससे वह अचेत हो गई । इस बीच भाई वहां से भाग निकला। जब महिला घर लौटी तो बेटी को चारपाई पर सोते पाया उसने बेटी को जगाया नहीं। दो घंटे के बाद वह जाग गई और उसने मां को पूरी कहानी बताई। मां उसे लेकर थाना एत्माद्दौला पहुंची और पुलिस को जानकारी दी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर शांति भंग की धारा में चालान करते हुए छोड़ दिया। थाना एत्माद्दौला के प्रभारी निरीक्षक देवेश शंकर पांडे ने बताया महिला ने आरोपी के खिलाफ तहरीर नहीं दी थी इसलिए शांतिभंग में चरण करना पड़ा।




...

शिक्षक ने गाली देने का विरोध करने पर छात्र का तोड़ा हाथ शिकायत लेकर पहुंचे माता पिता को भी नहीं बख्शा उनके साथ भी की मारपीट

फिरोजाबाद : फिरोजाबाद थाना दक्षिण के अंतर्गत एमआईयू पर स्थित इंटर कॉलेज मैं पढ़ रहे नाबालिग छात्र का शिक्षक ने गाली देने का विरोध करने पर हाथ छोड़ दिया शिकायत लेकर पहुंचे माता पिता के साथ भी की मारपीट रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचे पीड़ित परिवार को थाना प्रभारी ने 151 में बंद करने की धमकी दी और उनका डॉक्टरी परीक्षण भी नहीं कराया वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और जिला अधिकारी को प्रार्थना पत्र देने के बाद छात्र और उसकी मां का राजा की परीक्षा रिपोर्ट फिर भी दर्ज नहीं थाना दक्षिण के हिमायू पुर नाले की पुलिया निवासी अनिल का पुत्र 14 वर्षीय रोहित इसी मोहल्ले में स्थित श्रीमती श्यामा देवी इंटर कॉलेज में कक्षा आठ का छात्र है 8 दिसंबर को वह पढ़ने गया था तभी किसी बात पर शिक्षक प्रदुमन शर्मा ने उसके साथ गाली गलौज की छात्र ने विरोध किया तो उसके साथ जबरदस्त मारपीट की और हाथ तोड़ दिया छात्र रोहित रोता हुआ घर पहुंचा तो उसकी मां बीना देवी अपने पति अनिल को साथ लेकर छात्र के साथ कालेज पहुंची जिसकी शिकायत प्रधानाचार्य विनय कुमार से की बीना देवी का आरोप है इसी बात पर शिक्षक प्रदुमन शर्मा ने बीना उनके पति के साथ मारपीट की और बीना देवी के कपड़े फाड़ दिए पीड़िता अपने पति और छात्रों को लेकर सुहाग नगर पुलिस चौकी पहुंची तो पुलिस चौकी पर उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई तब वह थाना दक्षिण पहुंची और थाना प्रभारी को घटना से अवगत कराया परंतु इसके बाद भी रिपोर्ट नहीं लिखी गई और ना ही उनका डॉक्टरी परीक्षण कराया गया पीड़िता ने बताया इसके बाद वह वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पास पहुंची और उन्हें प्रार्थना पत्र दिया सब वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेश पर थाना प्रभारी ने छात्र रोहित का डॉक्टर परीक्षा करा दिया परंतु बीना देवी का डॉक्टरी परीक्षण नहीं कराया पीड़िता न्याय के लिए अधिकारियों के दरवाजे खटखटा आत रही वह जिलाधिकारी से मिली तब जिला अधिकारी के निर्देश पर बिना का डॉक्टरी परीक्षण बुधवार की दोपहर सरकारी ट्रामा सेंटर में कराया गया है पीड़िता द्वारा जिला अधिकरी को दिए गए प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया गया है कॉलेज का शिक्षक और प्रधानाचार्य उसे तरह-तरह की धमकियां दे रहे हैं और रिपोर्ट वापस लेने के लिए दबाव बना रहे हैं और कहते हैं हम राजनैतिक व्यक्ति हैं तुम हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकती इधर थाना प्रभारी भी घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रहे हैं वह धमकी दे रहे हैं ज्यादा प्रार्थना पत्र दिए तो हम दोनों पक्षों को धारा 151 में बंद कर देंगे समाचार लिखे जाने तक प्रार्थना की रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी अधिकारियों के आदेश बेकार साबित हो रहे हैं गौरतलब है थाना दक्षिण क्षेत्र में अनेकों गंभीर घटना घटित हुई है पीड़ित जब शिकायत लेकर थाना दक्षिण पहुंचता है तो थाना प्रभारी 101 कामना बंद करने की धमकी देकर कागजों को रद्दी की टोकरी में डाल देते हैं



...

उत्तर प्रदेश : नौ साल की बेटी से दुष्कर्म करने के आरोप में पिता गिरफ्तार

फतेहपुर (उप्र) : फतेहपुर जिले के एक गांव में नशे में धुत एक व्यक्ति ने अपनी नौ साल की बेटी से कथित रूप से दुष्कर्म किया। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।


खागा थाना के पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) गया दत्त मिश्रा ने मंगलवार को बताया कि क्षेत्र के एक गांव में रविवार की रात नशे में धुत एक व्यक्ति ने अपनी नौ साल की बच्ची से कथित तौर पर दुष्कर्म किया।


बच्ची की चीख सुन कर आरोपी का बड़ा भाई मौके पर पहुंचा। सीओ ने बताया कि आरोपी के बड़े भाई की शिकायत पर सोमवार को मामला दर्ज किया गया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्‍होंने बताया कि पीड़िता का चिकित्सकीय परीक्षण कराया जाएगा। बच्ची की मां की दो-तीन साल पहले मौत हो चुकी है।




...

टंशनबाजी को लेकर कार सवार युवकों ने दो किलोमीटर पीछा कर बाइक सवार युवक को मारी गोली ,रिपोर्ट दर्ज

मोदीनगर : मोहिउद्दीनपुर खरखौदा मार्ग पर सोमवार रात को कार सवारों ने ड्यूटी से लौट रहे बुलेट सवार तीन युवकों को रोककर जमकर मारपीट की। वहीं, एक युवक को गोली भी मार दी। गोली लगने से युवक की हालात गंभीर बनी हुई है। मामले में पुलिस ने दो नामजद व अन्य अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।


गांव डीलना निवासी राहुल कुमार ने पुलिस को तहरीर में बताया कि वह और उसका भाई कपिल गाजियाबाद की एक कंपनी में नौकरी करते हैं। सोमवार रात साढ़े आठ बजे वह ट्रेन से मोहिउद्दीनपुर रेलवे स्टेशन पर उतरे। स्टेशन की पार्किंग में पहले से लगी बुलेट लेकर राहुल, कपिल और ट्रेन से ही साथ आए गांव के ही नितिन शर्मा गांव डीलना के लिए चले। वे मोहिउद्दीनपुर रेलवे फाटक के पास पहुंचे तो वहां पर कार सवार कुछ युवकों की किसी से लड़ाई हो रही थी। बुलेट सवार तीनों आगे बढ़ गए। कार सवारों को लगा कि बुलेट सवार युवक भी उनके साथ झगड़ा कर रहे थे। उन्होंने बुलेट के पीछे कार लगा दी। गांव सैदपुर के पास कार सवार युवकों ने ओवरटेक कर बुलेट सवार युवकों को रोक लिया। 


तीनों युवकों के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। राहुल, कपिल व नितिन शर्मा को पहले बेहरमी से पीटा गया। इसके बाद युवक ने तमंचा निकालकर कपिल के कंधे में गोली मार दी। गोली मारने के बाद आरोपी कार लेकर फरार हो गए। साथ के युवकों ने कपिल को मोदीनगर के निजी अस्तपाल में भर्ती कराया, लेकिन हालात गंभीर होने पर मेरठ के लिए रेफर कर दिया। थानाप्रभारी मुनेश सिंह ने बताया कि राहुल की तहरीर पर नवीन उर्फ डैनी व भानू निवासी गांव प्रथमगढ़ व अज्ञात के खिलाफ संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है। थानाप्रभारी ने बताया कि आरोपियों की तलाश की जा रही है।





...

कुशीनगर में एक युवक ने मां के रुपये न देने पर घर में लगाई आग : युवक की भाभी की जलने से हुई मौत

कुशीनगर :  उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में रामकोला थाना क्षेत्र के पगार गांव के छपरा टोला में रविवार की देर रात एक युवक ने मां के रुपये न देने पर पहले तो अपनी झोपड़ी में आग लगाई, फिर बड़े भाई की झोपड़ी में भी आग लगा दी। घर में काम कर रही उसकी भाभी ने अचानक लपटें उठते देखकर किसी तरह बच्चों को सकुशल बाहर निकाला। फिर खुद कुछ सामान निकालने अंदर गई तो आग में घिर गई। कई बार निकलने की कोशिश की, लेकिन धुएं से दम घुटने और आग से जलने की वजह से उसकी मौत हो गई। वह गर्भवती बताई जा रही है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से आग बुझाई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। 


आरोपी युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बाहर कमाने जाने के लिए मां से मांग रहा था रुपये पगार गांव के छपरा टोला निवासी राजू बाहर कमाने जाने के लिए मां से रुपये मांग रहा था। लेकिन रुपये न होने की बात कहते हुए मां ने मना किया तो राजू ने गुस्से में पहले अपनी और फिर भाई की झोपड़ी जला दी। ग्रामीणों के मुताबिक राजू अक्सर घर में झगड़ा करता रहता था। दोनों झोपड़ियों के राख हो जाने से परिवार के पास ठंड में न तो सिर छुपाने की जगह बची और न पहनने-ओढ़ने को कपड़े व बिस्तर। राजू पहले मुंबई में खाना बनाने का काम करता था। लेकिन करीब आठ महीने पहले वह घर लौट आया। यहां वह कोई काम नहीं करता था। पिछले कुछ दिनों से वह मां पर बाहर जाने के लिए रुपये देने का दबाव बना रहा था। राजू सिंह (22) तीन भाई हैं। 


आरोप है राजू ने पहले अपनी झोपड़ी में आग लगाई और उसके बाद बड़े भाई जितेंद्र सिंह की झोपड़ी में भी आग लगा दी। उस समय जितेंद्र की पत्नी रंजना (36) घर में ही काम कर रही थी। अचानक आग की लपटें उठते देख वह बच्चों को उठाकर किसी तरह झोपड़ी से बाहर निकाली और खुद सामान निकालने के लिए अंदर चली गई। तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। हर तरफ से घिर जाने के कारण आग में झुलस जाने से रंजना की मौत हो गई।ग्रामीणों के मुताबिक जितेंद्र की रंजना से करीब 15 वर्ष पूर्व शादी हुई थी। उनकी छह संतानें हैं। पांच बेटियां और एक बेटा है। जितेंद्र बाहर काम करते हैं, जिससे परिवार का भरण-पोषण होता है। जितेंद्र इन दिनों घर आए थे, लेकिन घटना के समय घर पर मौजूद नहीं थे।

 

पुलिस अधीक्षक सचिंद्र पटेल ने बताया कि राजू ने अपनी मां से रुपये के लिए झगड़ा किया। रुपये नहीं मिले तो पहले अपनी झोपड़ी में आग लगाई, उसके बाद जितेंद्र की झोपड़ी में भी आग लगा दी। इस आग में खुद को और बच्चों को घिरा देखकर उसकी भाभी ने सबसे पहले बच्चों को सकुशल बाहर निकाला। उसके बाद घर में सामान निकालने, जिससे आग में घिर जाने से जलकर मर गई। वह गर्भवती थी। आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। तहरीर मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।




...

नाबालिग भांजी का यौन शोषण करने के जुर्म में एक शख्स को पांच साल की जेल

ठाणे (महाराष्ट्र) : महाराष्ट्र के ठाणे में विशेष पोक्सो अदालत ने 25 वर्षीय शख्स को 2018 में अपनी नाबालिग भांजी का यौन शोषण करने के जुर्म में पांच साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है।


मामले की सुनवाई के दौरान पीड़िता अपने बयान से मुकर गयी थी लेकिन इसके बावजूद सजा सुनाई गयी।


विशेष न्यायाधीश (बाल यौन अपराध संरक्षण) वी वी वीरकर ने 10 दिसंबर को यह आदेश दिया था और आदेश की प्रति सोमवार को उपलब्ध हुई। उन्होंने आरोपी को पोक्सो कानून की धाराओं और भारतीय दंड संहिता की धारा 506 (आपराधिक धमकी) के तहत दोषी ठहराया तथा उस पर 6,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया।


अतिरिक्त लोक अभियोजक रेखा हिवराले ने अदालत को बताया कि अपराध के वक्त पीड़िता की उम्र 11 वर्ष थी और आरोपी उसका मामा है जो नवी मुंबई में रबाले में उसी इलाके में रहता था।


उन्होंने बताया कि 30 जनवरी 2018 तथा उससे पहले कई बार आरोपी ने पीड़िता का यौन शोषण किया। उसने नाबालिग को धमकी दी कि अगर उसने किसी को इसके बारे में बताया तो वह उसकी मां को मार डालेगा।


मामले में शिकायतकर्ता एवं आरोपी की बहन और पीड़िता सुनवाई के दौरान मुकर गई। बहरहाल, न्यायाधीश ने अपने आदेश में कहा कि अभियोजन ने आरोपी के खिलाफ सफलतापूर्वक आरोपों को साबित किया और उसे सजा दिए जाने की जरूरत है।





...

मोबाइल खरीदने को कहने पर पत्नी को पीटा

मोदीनगर : निवाड़ी थानाक्षेत्र के गांव अमीरपुर गढ़ी में शनिवार को मोबाइल की मांग करना एक महिला को काफी महंगा पड़ा। पति ने महिला की बेहरमी से पिटाई कर दी। पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर शांतिभंग की धाराओं में उसका चालान कर दिया। गांव अमीरपुर गढ़ी निवासी एक युवक अपनी पत्नी के साथ रहता है। बताया जा रहा है कि महिला का मोबाइल टूट गया था। महिला पति से कई दिनों से नया मोबाइल दिलाने के लिए कर रही थी। शनिवार को भी महिला ने मोबाइल दिलाने की बात कही। इस बात को लेकर पति पत्नी के बीच विवाद हो गया। युवक ने महिला की बेहरमी से पिटाई कर दी। महिला को इतना पीटा कि वह बेहोश हो गई। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर शांतिभंग की धाराओं में चालान कर दिया है।




...

तलाक होने से आहत महिला ने खुदकुशी की

गुरुग्राम : दंपति के बीच तलाक के अंतिम हस्ताक्षर होने से एक दिन पहले शुक्रवार को महिला ने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतका के परिजनों के अनुसार वह तलाक होने की बात से आहत थी। मृतक के पिता ने महिला के पति और ससुराल पक्ष के लोगों पर दहेज के लिए उसे परेशान करने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है।


पुलिस से मिली जानकारी अनुसार हंस एंक्लेव निवासी सुभाष चंद्र ने दी शिकायत में बताया कि उनकी बेटी की शादी 2015 में दिल्ली के विपिन गार्डन निवासी युवक के साथ हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले उनकी बेटी को दहेज के लिए परेशान करने लगे थे। इसको लेकर कई बार उनकी पंचायत भी हुई, लेकिन कोई हल नहीं निकला। आपसी मनमुटाव रहने की वजह से उनकी बेटी और उसके पति ने दिल्ली के द्वारका कोर्ट में तलाक केस दायर कर दिया। नौ दिसंबर को उनके तलाक की अंतिम सुनवाई थी, जिसमें पेश होकर दोनों पक्षों को अंतिम हस्ताक्षर करने थे। किसी कारणवश सुनवाई टल गई और 11 दिसंबर की तारीख निश्चित हुई। इससे एक दिन पहले ही महिला ने मायके में ही फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। मृतका के पिता ने उसके ससुराल पक्ष के लोगों पर दहेज के लिए तंग करने और आत्महत्या के लिए मजबूर करने की शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।



...

पुलिसकर्मियों ने बच्चा लिये हुये युवक की पिटाई की, वीडियो सामने आने के बाद थाना प्रभारी निलंबित

कानपुर (उप्र) : कानपुर के एक इलाके में बच्चे को गोद में लिए व्यक्ति को पीटते पुलिसकर्मी का वीडियो सामने आने के बाद मामले में अकबरपुर के थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया।


युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने ट्वीट कर मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस के रवैये पर सवाल उठाया।


अपर पुलिस महानिदेशक (कानपुर जोन) भानु भास्कर के हस्तक्षेप के बाद थाना प्रभारी (एसएचओ) विनोद कुमार मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई की गई। भास्कर ने जिले के पुलिस अधिकारियों को मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं। कानपुर देहात के पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने अपर पुलिस अधीक्षक (कानपुर ग्रामीण), घनश्याम को मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है।


पुलिस अधीक्षक (एसपी) ने बताया कि घटना अकबरपुर के जिला अस्पताल परिसर में हुई। अस्पताल में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों ने बृहस्पतिवार को बाह्य रोगी विभाग (ओपीडी) में ताला लगाकर धरना दिया और आरोप लगाया कि निर्माण और खनन सामग्री ले जा रहे वाहनों की भारी आवाजाही के कारण सड़कें और नाले टूट गए हैं। रजनीश शुक्ला के नेतृत्व में प्रदर्शनकारियों ने डॉक्टरों और मरीजों को ओपीडी से बाहर कर दिया।


एसपी ने बताया कि अस्पताल में हंगामे की सूचना मिलने के बाद अकबरपुर पुलिस ने उपजिलाधिकारी वागीश कुमार, क्षेत्राधिकारी अरुण कुमार व एसएचओ विनोद कुमार मिश्रा के नेतृत्व में प्रदर्शनकारियों को धरना समाप्त करने व सरकारी कार्यों में बाधा डालने से रोकने के लिए हर संभव प्रयास किया।


आरोप है कि बाद में, एक युवक ने एसएचओ मिश्रा के अंगूठे पर काट लिया और उनसे मारपीट भी की, जिस पर एसएचओ ने बच्चे को लिये हुये युवक की पिटाई कर दी। युवक की पिटाई का यह वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। युवक की पहचान रजनीश के भाई के रूप में हुई है।


पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अधिकारियों के कर्तव्यों के निर्वहन में बाधा डालने और मारपीट करने के आरोप में रजनीश शुक्ला और दर्जनों अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इससे पहले भी रजनीश के खिलाफ लूट और मारपीट के आरोप में आपराधिक मामला दर्ज किया गया था।


बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने घटना का वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा, ''क्या इन पुलिसवालों को एक बाप की चीख नहीं सुनाई दे रही, जो बार-बार कह रहा है कि बच्चे को चोट लग जाएगी। इस सरकार में अधिकारियों पर भी सत्ता का नशा चढ़ गया है, जो बेलगाम हो चुके हैं। जिस पर मन कर रहा है, मुकदमे लाद रहे हैं। जहां मन कर रहा है, लाठियां भांज रहे हैं। इस तरह की तानाशाही बर्दाश्त से बाहर है।



...

उत्तर प्रदेश : प्रतागढ़ में जहरीला पदार्थ खाने से दंपति की मौत

प्रतापगढ़ (उप्र) : जिले के थाना कोहडौर क्षेत्र के सराय शंकर चिगुड़ा गांव के रहने वाले दंपति ने कथित रूप से जहरीला पदार्थ खा लिया और एसआरएन अस्पताल, प्रयागराज में उपचार के दौरान उनकी मौत हो गयी। पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। पुलिस उपाधीक्षक (क्षेत्राधिकारी), नगर अभय पाण्डेय ने बताया कि थाना कोहडौर क्षेत्र के सराय शंकर चिगुड़ा गांव के रहने वाले नीलेश वर्मा (22) का अपनी भाभी की रिश्तेदार रौशनी (19) से प्रेम संबंध था, दोनों ने छह माह पहले एक मंदिर में शादी की थी। उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार शाम दोनों ने संदिग्ध परिस्थितियों में जहर खा लिया। परिजनों ने उन्हें मेडिकल कालेज में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्हें एसआरएन अस्पताल, प्रयागराज रेफर कर दिया। उपचार के दौरान देर रात दोनों की मौत हो गयी। पुलिस मामले में जांच कर रही है।







...

जेठ ने छोटे भाई की पत्नी के साथ किया दुष्कर्म

पलवल : दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर एक महिला को प्रताडि़त करने, जेठ द्वारा दुष्कर्म करने व पति द्वारा नशीला पदार्थ पिलाने का मामला प्रकाश में आया है। महिला थाना पुलिस ने गुरुवार को पीडि़ता की शिकायत पर ससुराल पक्ष के आठ नामजद आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


जांच अधिकारी जगबती ने वीरवार को बताया कि पलवल निवासी एक महिला ने शिकायत दर्ज कराई है कि उसकी शादी कुछ वर्ष पहले जिला नूंह निवासी एक युवक के साथ हुई थी। शादी में मायके पक्ष ने यथा-संभव दान-दहेज दिया था। लेकिन ससुराल पक्ष के लोग उस दहेज से संतुष्ट नहीं हुए और दहेज में कार व ढ़ाई लाख रुपये नकदी की मांग कर प्रताडि़त करने लगे। दहेज लाने में असमर्थता जताने पर पीडि़ता के साथ पति, सास, ससुर, जेठ, जेठानी, चचिया ससुर, चचिया सास व नन्दोई द्वारा मारपीट की जाती थी। पीडि़ता का आरोप है कि एक दिन वह कमरे के अंदर दूध लेने गई थी तो उसी दौरान जेठ ने जबरन पकड़ लिया और दुष्कर्म किया। जिसका विरोध किसी ने भी नहीं किया और उल्टा पीडि़ता को बुरा-भला कहा। उसके बाद पीडि़ता अपने मायके आ गई। एक दिन मायके पर घर कोई नहीं था। उसी दौरान पति एक अन्य व्यक्ति के साथ आया और पेप्सी में नशीला पदार्थ पिला दिया। जिसके बाद पीडि़ता बेहोश हो गई और जब होश में आई तो उसने आपको ससुराल में पाया। पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।



...

नीलगाय की गोली मारकर हत्या करने वाला आरोपी गिरफ्तार

पलवल : चांदहट थाना क्षेत्र अंतर्गत नीलगाय की गोली मारकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से वारदात में प्रयोग की गई लाइसेंसी रिवाल्वर को भी बरामद कर लिया है।


जांच अधिकारी महेश कुमार ने गुरुवार को बताया कि मोहन नगर निवासी हिमांशु ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी कि वह गऊ सेवा प्रमुख दल का सदस्य है। गत 4 दिसंबर को पीडि़त व उसके साथियों ने देखा कि किठवाड़ी के पास कुछ लोगों ने नील गाय को गोली से मारा हुआ था और उसे ट्रैक्टर-ट्राली में रखकर काट रहे थे। पीडि़त के साथियों ने जब उनका पिछा किया तो वह ट्रॉली से नील गाय को फेंककर फरार हो गए। आरोपियों में हारुण खान, सूखा उर्फ मोहर खान व उनके कुछ अन्य साथी थे। पुलिस ने मामले में पीडि़त की शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी और इस मामले में मुखबिर खास की सूचना पर इश्लामाबाद निवासी सुक्खा उर्फ मोहर खान को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि उसके 2 - 3 अन्य साथी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहे है। जिन्हें भी जल्द गिरफ्तार कर लिया है।


पुलिस का कहना है कि आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने गांव किठवाड़ी में पट्टे पर खेत लिए हुए है और उसके खेतों में नीलगाय नुकसान पहुँचा रही थी। जिसके चलते उसने लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस ने आरोपी से वारदात में प्रयोग की गई लाइसेंसी रिवाल्वर को भी बरामद कर लिया है।




...

तिहाड़ में अंकित गुर्जर की मौत: जेल में रंगदारी के पहलू की जांच जारी : सीबीआई

नई दिल्ली : केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दिल्ली उच्च न्यायालय को बृहस्पतिवार को बताया कि वह इस साल की शुरुआत में तिहाड़ जेल में कैदी अंकित गुर्जर की मौत से भी ‘आगे बढ़कर’ जांच कर रही है और इसमें अधिकारियों द्वारा जबरन वसूली के पहलू भी शामिल हैं।


सीबीआई ने न्यायमूर्ति मुक्ता गुप्ता की एकल पीठ को सूचित किया कि मामले की जांच एक महत्वपूर्ण चरण में है और एक महीने के भीतर इसके पूरी हो जाने की संभावना है। न्यायमूर्ति गुप्ता ने ही मामले की जांच दिल्ली पुलिस से सीबीआई को हस्तांतरित की थी।


न्यायाधीश ने सीबीआई को एक सीलबंद लिफाफे में स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने के लिए समय दिया और जांच अधिकारी से कहा कि किसी भी गवाह को मिलने वाली धमकी के मामले में ‘उपाय’ करें।


गुज्जर (29) इस साल चार अगस्त को तिहाड़ जेल में अपनी कोठरी में मृत पाया गया था।


अदालत मृतक के परिवार की उस याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिसमें आरोप लगाया गया है कि उसकी मौत जेल अधिकारियों द्वारा पैसे की मांग को पूरा नहीं करने के कारण प्रताड़ित करने से हुई है।


सीबीआई के वकील ने कहा कि 60 गवाहों के बयान दर्ज किए गए हैं और एक सीलबंद लिफाफे में स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने के लिए अदालत की अनुमति मांगी गई है।


याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश वकील महमूद प्राचा ने कहा कि ऐसे चश्मदीद गवाह हैं, जिन्हें जेल के अंदर प्रताड़ना के खिलाफ पर्याप्त सुरक्षा की जरूरत थी और दलील दी कि घटना के समय सीसीटीवी कैमरों को जानबूझकर बंद कर दिया गया था।




...

नमस्ते गैंग ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर बुजुर्ग से उतरवाए सोने के कड़े

साहिबाबाद :  शालीमार गार्डन एक्सटेंशन-1 में मंगलवार सुबह नमस्ते गैंग ने एक बुजुर्ग महिला से खुद को पुलिसकर्मी बताकर सोने के कड़े उतरवा लिए। महिला कॉलोनी में घर के पास दुकान से दूध लेकर लौट रहीं थीं। महिला के बेटे ने साहिबाबाद पुलिस को शिकायत दी है। 70 वर्षीय त्रिवेणी झा शालीमार गार्डन एक्सटेंशन-1 में अकेली रहती हैं। मंगलवार सुबह करीब दस बजे वह घर से कुछ दूरी पर दुकान से दूध लेकर घर लौट रही थीं। इस बीच एक बाइक सवार युवक उन्हें बार-बार नमस्ते करने लगा। इस पर उन्हें अंदेशा हुआ तो वह तेजी से चलनी लगीं। कुछ दूरी पर बाइक सवार ने उन्हें रोका और पुलिसकर्मियों के पास चलने को कहा। आरोप है कि सोसायटी के गेट के पास बाइक पर सवार दो टप्पेबाजों ने उन्हें पुलिसकर्मी बताया और कहा कि कॉलोनी में किसी की हत्या हो गई है आप यहां सोना पहनकर घूम रही हो। तीनों टप्पेेबाजों ने घेरकर उनके साथ भी वारदात होने का डर दिखाया। पीड़िता ने बताया कि इस बीच एक आरोपी ने जबरदस्ती हाथ से सोने के कड़े निकालकर उन्हें एक कागज में नकली कड़े थमा दिए। वह घर पहुंची और कागज खोलकर देखा तो उसमें नकली कड़े निकले।


बुजुर्ग महिला का आरोप है कि वह एक पड़ोसी की मदद से शालीमार गार्डन पुलिस चौकी पहुंची। वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को घटना के बारे में बताया। जिस पर पुलिस ने कहा कि आपके कान में तो सोना है नहीं, फिर सोने के कड़े कैसे ले गए बदमाश। इसके बाद पुलिसकर्मी बाइक से घटनास्थल पर पहुंचे। वहां लोगों से बात करने के बाद उन्हें भरोसा दिया कि जब भी बदमाश पकड़े जाएंगे तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आरोप है कि पुलिसकर्मियों की इन बातों से परेशान होकर त्रिवेणी झा घर लौट गईं। इसके बाद उनके बेटे संतोष कुमार झा ने ऑनलाइन शिकायत की है।


क्षेत्राधिकारी साहिबाबाद आलोक दूबे का कहना है कि बुजुर्ग महिला के साथ घटना होने की जानकारी मिली है। मौके पर टीम को भेजकर सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। जल्द ही बदमाशों को दबोच लिया जाएगा। 




...

फरार हत्यारोपी की तलाश में छापेमारी

ग्रेटर नोएडा : घरबरा गांव में महज 300 के लिए कार से कुचलकर दुकानदार की हत्या करने वाले फरार आरोपी की तलाश में पुलिस की दो टीमें दबिश दे रही हैं लेकिन घटना के दो दिन बाद भी उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस का दावा है कि जल्द फरार आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा। उधर, घटना को लेकर परिजनों में रोष व्याप्त है। परिजनों ने पुलिस से आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।


घरबरा निवासी नितिन शर्मा गांव में मोबाइल की दुकान चलाता था। कुछ दिन पहले गांव के रहने वाले दो सगे भाई अरुण और नकुल ने वैष्णो देवी जाने के लिए दुकानदार नितिन शर्मा से ट्रेन के टिकट बुक करवाए थे। आरोप है कि टिकट बुकिंग के दौरान 300 रुपये अधिक लेने पर दुकानदार से आरोपियों का विवाद हुआ था। इसी विवाद के चलते आरोपी दोनों सगे भाइयों ने सोमवार को दुकान के बाहर खड़े नितिन को कार से कुचल कर मार डाला था। इस मामले में नितिन के परिजनों ने आरोपी सगे भाइयों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था। ईकोटेक-1 पुलिस ने कार्रवाई कर मंगलवार को आरोपी नकुल को गिरफ्तार कर लिया था जबकि दूसरा आरोपी अरुण अभी फरार है। कोतवाली प्रभारी ने शरद कांत शर्मा ने बताया कि पुलिस की दो टीमें फरार आरोपी की तलाश में दबिश दे रही हैं। आरोपी को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।




...

दोस्त ने ही कर दी हत्या और सिर को धड़ से अलग कर जंगल में फेंका

गाजियाबाद : कविनगर थाना क्षेत्र में एक घर से सिर कटी लाश मिलने के बाद इलाके में दहशत फैल गई. मौके पर पुलिस पहुंची और सिर कटी लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मृतक का सिर काटकर उसके दोस्त ने किसी अन्य जगह पर फेंक दिया था. आखिर एक दोस्त ने दोस्त सिर धड़ से अलग क्यों कर दिया. इस गुत्थी को सुलझाने में पुलिस जुटी हुई है.


गाजियाबाद के कविनगर थाना क्षेत्र के लाल कुआं इलाके में प्रमोद कुमार नाम के 37 साल के व्यक्ति की लाश उसके ही कमरे से बरामद हुई है. प्रमोद कुमार मूल रूप से यूपी के कासगंज का रहने वाला था और गाजियाबाद के कविनगर इलाके की एक फैक्ट्री में मशीन ऑपरेटर का काम करता था.


प्रमोद की पत्नी कासगंज में रहती है. दो दिन से पत्नी लगातार प्रमोद को फोन मिला रही थी, लेकिन प्रमोद का फोन रिसीव नहीं हो रहा था, जिसके चलते घबराई हुई पत्नी अपने पति प्रमोद कुमार के कमरे पर पहुंची. संदिग्ध हालात दिखाई देने पर पुलिस को इन्फॉर्म किया. मौके पर पहुंची पुलिस ने जब दरवाजा खोला तो अंदर प्रमोद की सिर कटी लाश थी. जैसे ही सिर कटी लाश की खबर लोगों को पता चली वैसे ही हड़कंप मच गया. 


थोड़ी देर में पुलिस ने जांच पड़ताल की और पुलिस ने प्रमोद के दोस्त संदीप मिश्रा को पकड़ लिया, जिससे वह चाकू भी बरामद हो गया जिससे प्रमोद का गला काटा गया था. आरोपी संदीप ने एक सुनसान जगह से प्रमोद का सिर भी बरामद करवा दिया है. पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले में आगे की जांच पड़ताल में जुट गई है. प्रमोद की पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है.


आरोपी संदीप मिश्रा से पुलिस आगे की पूछताछ कर रही है. बताया जा रहा है कि किसी मामूली बात को लेकर संदीप और प्रमोद में दो दिन पहले झगड़ा हो गया था, जिसके बाद संदीप ने अपने दोस्त प्रमोद का गला काटकर उसका धड कमरे में ही छोड़ दिया और सिर को कहीं और फेंक दिया था. मामूली बात पर दोस्त इस तरह से अपने दोस्त का गला काट देगा यह किसी ने नहीं सोचा था. प्रमोद के कमरे के बाहर एकत्रित हुए इलाके के लोग भी इसी सवाल के जवाब को जानने की जिज्ञासा में जुटे हुए हैं.





...

300 रुपये के विवाद में कार से कुचलकर युवक की हत्या, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा के इकोटेक-1 थाना क्षेत्र में एक युवक की सिर्फ 300 रुपये को लेकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इकोटेक-1 थाना पुलिस ने बताया कि क्षेत्र के घरबरा निवासी एक युवक नितिन शर्मा की मोबाइल रीचार्ज की दुकान थी। उसका गांव के ही नकुल और अरुण से विवाद टिकट के रिजर्वेशन में 300 रुपये के लेन-देन को लेकर विवाद हो गया था। मंगलवार को आरोपियों ने नितिन शर्मा पर कार चढ़ा दी। इसमें नितिन बुरी तरह घायल हो गया और बाद में उसकी मौत हो गई। इसके बाद पुलिस ने शिकायत मिलने पर मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।



...