राम जन्मभूमि की सुरक्षा में तैनात एसएसएफ जवान को संद‍िग्‍ध पर‍िस्‍थि‍त‍ियों में लगी गोली, मौत

अयोध्‍या में राम जन्मभूमि परिसर में सुरक्षा में तैनात एसएसएफ जवान की संद‍िग्‍ध पर‍िस्‍थि‍ति‍यों में मौत हो गई। जवान को राम जन्‍मभूम‍ि की सुरक्षा में तैनात था। बताया जा रहा है क‍ि देर रात गोली लगने से घायल हुआ था।  

एसएसएफ जवान को सुरक्षाकर्मियों ने अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे ट्रामा सेंटर रेफर क‍िया गया। ट्रॉमा सेंटर में डॉक्टर ने एसएसएफ जवान को मृत घोषित कर द‍िया। घटना से राम जन्म भूमि परिसर में हड़कंप मच गया।एसएसएफ जवान अंबेडकरनगर का रहने वाला था। 




...

'21 जून तक दिल्लीवालों को पानी नहीं मिला तो सत्याग्रह शुरू करूंगी...', आतिशी ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र

दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे दिल्ली के लोगों को पानी दिलवाने का आग्रह किया गया है। यदि 21 जून तक दिल्लीवालों को उनके हक का पानी नहीं मिलता है तो वह सत्याग्रह करने को मजबूर हो जाएंगी। 21 जून से वह अनिश्चितकालीन अनशन करेंगी।

प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा, "दिल्ली की क्षमता 1050 एमजीडी पानी की क्षमता है। इसमें से 613 एमजीडी हरियाणा से यमुना नदी में आता है। 18 जून को हरियाणा से 513 एमजीडी पानी कम आया। इस तरह से 100 एमजीडी पानी की कमी है। एक एमजीडी से 28500लोगों को पानी मिलता।"

28 लाख लोगों के लिए नहीं मिल रहा पानी- आतिशी

जल मंत्री ने कहा, "इस तरह से हरियाणा से 28 लाख लोगों के लिए पानी नहीं मिल रहा है। इस कारण दिल्ली के लोग बहुत परेशान हैं। इनकी परेशानी दूर करने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा हरसंभव प्रयास किया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा गया। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री से बात की गई। वह पानी देने को तैयार हैं। हिमाचल का पानी हरियाणा होते हुए दिल्ली पहुंचेगा। हरियाणा वह पानी देने को भी तैयार नहीं है।"

उन्होंने कहा, "दिल्ली सरकार सुप्रीम कोर्ट जाकर 100 एमजीडी पानी के लिए गुहार लगाई। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में जल संकट को स्वीकार किया है। इसके बावजूद हरियाणा पानी नहीं दे रहा है। आम आदमी पार्टी के विधायक केंद्रीय जल शक्ति मंत्री से मिलने गए परंतु वह नहीं मिले। मंगलवार को दिल्ली सरकार के उच्च अधिकारी हरियाणा सरकार से मिलकर दिल्ली के लोगों के लिए पानी मांगने गए, लेकिन हरियाणा तैयार नहीं हुआ।"

उन्होंने कहा, "दिल्ली में तीन करोड़ लोग रहते हैं। इसके लिए दिल्ली को 1050 एमजीडी पानी आवंटित किया गया है। हरियाणा में भी तीन करोड़ लोग रहते हैं और उसे 6050 एमजीडी पानी आवंटित है। यदि वह एक सौ एमजीडी पानी दिल्ली को देता है तो वह उसके कुल आवंटन का लगभग डेढ़ प्रतिशत है।"


...

मिर्जापुर की गद्दी के लिए भौकाल की जगह 'छल-कपट' की बारी, ट्रेलर रिलीज डेट हुई कन्फर्म

वेब सीरीज मिर्जापुर इंडियन सिनेमा की वो पेशकश है, जिसको देखने के लिए फैंस काफी बेताब रहते हैं। पहले दो सीजन में इस सीरीज ने दर्शका का भरपूर मनोरंजन किया है और अब इसका तीसरा सीजन आने के लिए पूरी तरह से तैयार है। हाल ही में मिर्जापुर सीजन 3 (Mirzapur Season 3) की रिलीज डेट को लॉक किया गया है। और अब इसके ट्रेलर को लेकर लेटेस्ट अपडेट सामने आ गया है। 

जिसे जानकर सिने प्रेमियों के चेहरे खिलने वाले हैं। क्योंकि मेकर्स की तरफ से मिर्जापुर 3 के ट्रेलर की (Mirzapur Trailer) रिलीज डेट की अनाउंसमेंट कर दी गई है।

जानिए कब रिलीज होगा मिर्जापुर 3 का ट्रेलर

जैसे ही निर्माताओं की तरफ से मिर्जापुर 3 की रिलीज डेट की घोषणा की गई, उसके बाद से हर कोई इसके ट्रेलर का इंतजार करने लगा। अब उनका ये इंतजार जल्द ही खत्म होना वाला है। मंगलवार को मिर्जापुर सीजन 3 के ट्रेलर की रिलीज डेट का एलान कर दिया गया है। 

 प्राइम वीडियो ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम हैंडल पर इसकी जानकारी दी है। पोस्ट में वेब सीरीज का लेटेस्ट पोस्टर शामिल करते हुए कैप्शन में लिखा गया है- 

इस पोस्ट से ये साफ होता है कि एक दिन बाद गुरुवार को मिर्जापुर वेब सीरीज के तीसरे सीजन का ट्रेलर लॉन्च किया जाएगा। इस जानकारी के सामने के आने के बाद फैंस की एक्साइटमेंट काफी बढ़ गई है। 

मिर्जापुर 3 में नजर आएंगे ये सितारे

पिछले सीजन की तरह इस बार भी मिर्जापुर वेब सीरीज में फिल्मी सितारों की कमी होने नहीं होने वाली है। रशिका दुग्गल, पंकज त्रिपाठी, अली फजल, विजय वर्मा, श्वेता त्रिपाठी, ईशा तलवार और अभिमन्यु शर्मा जैसे कलाकार तीसरे सीजन में दिखेंगे। बता दें कि 5 जुलाई को मिर्जापुर 3 को रिलीज किया जाएगा। 


.







...

तीसरी बार पीएम बनने के बाद पहली बार काशी आ रहे मोदी, किसानों को जारी करेंगे सम्मान निधि की 17वीं किस्त

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi Varanasi Visit) वाराणसी संसदीय सीट से तीसरी बार सांसद बनने व प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद मंगलवार को पहली बार काशी आ रहे हैं। उनके स्वागत में नगर भगवा झंडों से सज गया है। जगह-जगह ढोल नगाड़े, डमरू दल व शंखनाद से भव्य स्वागत की तैयारी है।

प्रधानमंत्री दो दिवसीय दौरे पर 18 जून को दोपहर साढ़े तीन काशी पहुंचेंगे।

बाबतपुर एयरपोर्ट पर विमान से उतरने के बाद हेलीकॉप्टर से मेहंदीगंज हेलीपैड जाएंगे। वहीं कुछ दूरी पर बने मंच से किसान सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

इस दौरान पीएम किसान सम्मान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के 9.26 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसानों के खाते में 20 हजार करोड़ रुपए से अधिक की राशि 17वीं किस्त के रूप में जारी करेंगे।

इसमें वाराणसी (Varanasi) के दो लाख 74 हजार 615 किसान भी लाभान्वित होंगे।

इसके साथ पीएम कृषि सखी के रूप में मान्यता प्राप्त 30,000 से अधिक राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़े स्वयं सहायता समूहों को भी प्रमाण पत्र जारी करेंगे। इसमें वाराणसी की 212 कृषि सखी शामिल रहेंगी।

पीएम मंच से सांकेतिक के रूप में पांच कृषि सखियों को प्रमाण पत्र देंगे। इसमें वाराणसी की एक, मीरजापुर की एक व तीन अन्य प्रदेशों की कृषि सखी शामिल की गई हैं।

किसान सम्मेलन के बाद पीएम हेलीकॉप्टर से पुलिस लाइन आएंगे। सड़क मार्ग से दशाश्वमेध घाट जाएंगे। वहां गंगा आरती में शामिल होंगे। रात आठ बजे पीएम श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में जाएंगे और विधिवत पूजन-अर्चन करेंगे।

इसके बाद सड़क मार्ग से बरेका गेस्ट हाउस पहुंचेंगे और रात्रि विश्राम करेंगे। अगले दिन सुबह आठ बजे बरेका हेलीपैड से बाबतपुर एयरपोर्ट के लिए रवाना होंगे और 9.45 बजे नालंदा (बिहार) के लिए प्रस्थान करेंगे।

प्रधानमंत्री 19 जून को राजगीर में नालंदा विश्वविद्यालय परिसर का उद्घाटन करेंगे व सभा को संबोधित करेंगे।

पीएम के स्‍वागत की भव्‍य तैयारी

दूसरी तरफ भाजपा काशी में पीएम के स्वागत की भव्य तैयारी में जुटी है। तैयारियों को लेकर एमएलसी अश्वनी त्यागी, जिलाध्यक्ष एमएलसी हंसराज विश्वकर्मा, पूर्व विधायक जगदीश पटेल समेत अन्य नेताओं ने बैठक कर कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया। किसान सम्मेलन में अन्नदाता बसों, ट्रैक्टरों व चार पहिया वाहनों से किसान सम्मेलन में भाग लेने पहुंचेंगे। निकटवर्ती क्षेत्रों के किसान ढोल-नगाड़े के साथ पैदल मार्च करते किसान सम्मेलन में पहुंचेंगे।



...

दिल्ली में वेल्हम ओल्ड बॉयज सोसाइटी का आर्ट ऐग्जीबिशन

यह तस्वीरें वेल्हम ओल्ड बॉयज सोसाइटी के CONFLUENCE 2023 में प्रदर्शित किए गए आर्ट वर्क्स के हैं।

दिल्ली के द स्टेनलेस गैलरी में वेल्हम ओल्ड बॉयज सोसाइटी (WOBS) अपने आर्ट ऐग्जीबिशन का दूसरा एडिशन CONFLUENCE 2024 आयोजित करने जा रहा है। यह ऐग्जीबिशन 15 जून से 22 जून तक चलेगा।

ऐग्जीबिशन का उद्घाटन 15 जून की शाम 6:30 बजे होगा, जो रात 9:30 बजे तक चलेगा। ऐग्जीबिशन के पहले दिन सिर्फ खास मेहमान ही शामिल होंगे। 16 जून से सुबह 11 बजे से शाम 7 बजे तक एग्जीबिशन में आम लोगों की एंट्री होगी।

आठ दिनों तक चलने वाले ग्रुप आर्ट ऐग्जीबिशन में अलग-अलग बैकग्राउंड के कई चर्चित और उभरते कलाकार, आर्किटेक्ट, डिजाइनर और फोटोग्राफर शामिल होंगे। CONFLUENCE 24 के दौरान कई कार्यक्रम होंगे, जिनमें फिल्म स्क्रीनिंग, कन्वर्सेशन, टॉक्स और ‘मेरी फीट’ ग्रुप का लाइन डांस वर्कशॉप भी शामिल है।

ऐग्जीबिशन में WOBS लीला मुखर्जी आर्टिस्ट एजुकेटर ग्रांट प्रोग्राम 2024 पाने वाले की भी घोषणा करेगा। इस कार्यक्रम का डिटेल मृणालिनी मुखर्जी फाउंडेशन की आधिकारिक वेबसाइट पर देखा जा सकता है।

किताबों को प्रमोट करने के ऐग्जीबिशन में दिल्ली स्थित पब्लिशिंग हाउस तूलिका बुक्स भी एक प्रदर्शनी भी लगाएगा। इसमें आर्ट, डिजाइन, फोटोग्राफी, म्यूजिक, डांस और नॉन-कॉमर्शियल सिनेमा पर आधारित किताबें बिक्री के लिए रखी जाएंगी।

CONFLUENCE 24 में प्रसिद्ध भारतीय कलाकार अनुपम सूद और आनंद मोय बनर्जी के आर्टवर्क को प्रदर्शित किया जाएगा। ये दोनों कलाकार कला शिक्षा में अपने महत्वपूर्ण योगदान के लिए जाने जाते हैं।

इनके अलावा अक्षय राज सिंह राठौड़, विवेक शर्मा, पार्थो सेन गुप्ता (टाइम्स ऑफ इंडिया के नेशनल क्रिएटिव हेड) और फोटोग्राफर-वॉटरकलर कुणाल बत्रा के आर्टवर्क भी प्रदर्शनी के लिए लगाए जाएंगे।

नई पीढ़ी के कलाकारों में सिंगापुर बेस्ड आर्यन अरोड़ा शामिल, अपनी सोशल डॉक्यूमेंट्रीज को लेकर चर्चित न्यूयॉर्क बेस्ड फोटोग्राफर ननकी सिंह, एक प्रमुख विज्ञापन कंपनी में आर्ट डायरेक्टर दिव्यम रघुनाथ, लॉस एंजेलिस बेस्ड फिल्म निर्माता शोएब शॉल, उपम लहकर, जिनकी कलाकृति पिछले साल की प्रदर्शनी का मुख्य आकर्षण थी, NID के पूर्व छात्र सक्षम सिंह और कलाकार अलीजा मिर्जा शामिल हैं।

CONFLUENCE 24 में हिस्सा लेने वाले फोटोग्राफर्स में एजुकेटर निरुपमा सेखरी, डॉ. अभिषेक गौरव, कोलकाता के बिजनेसमैन हर्ष बंसल, वाइल्डलाइफ कंजर्वेशनिस्ट मोहित डांग और मुंबई में विज्ञापन और ब्रांडिंग की पढ़ाई कर रहे खटवांग गुप्ता और उज्जवल गुप्ता शामिल हैं।

ऐग्जीबिशन में शाश्वती तालुकदार की मजाकिया डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘वॉल स्टोरीज’ भी प्रदर्शित की जाएगी। यह डॉक्यूमेंट्री देहरादून के आसपास पश्चिमी गढ़वाल हिमालय क्षेत्र में भित्ति चित्रों पर केंद्रित है। इस डॉक्यूमेंट्री  के लिए शाश्वती तालुकदार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसा मिली है।

CONFLUENCE 24 में उषा चेंगप्पा, दिव्यामन सिंह, अर्चिता भारद्वाज, हर्षी अग्रवाल, गुंचा शर्मा, तुषार शर्मा, दिल्ली स्थित मूर्तिकार प्रतिमा नारंग और कलाकार अमराई दुआ की कलाकृतियां भी प्रदर्शनी के लिए लगाई जाएंगी।


...

दिल्ली एयरपोर्ट की बिजली गुल, छाया अंधेरा- मच गई अफरा तफरी, फ्लाइट्स पर पड़ा बुरा असर

देश की राजधानी दिल्ली से बड़ी खबर है. दिल्ली एयरपोर्ट पर उस वक्त हड़कंप मच गया, जब अचानक बिजली गुल हो गई. बिजली गुल होने का भयंकर असर पड़ा और सारा काम ठप हो गया. बताया गया कि बिजली जाने से सभी सिस्टम फेल हो गए. इसका असर डोमेस्टिक और इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर पड़ रहा है. दिल्ली एयरपोर्ट पर मौजूद सभी यात्री इससे परेशान हो रहे हैं.

सूत्रों का कहना है कि डोमेस्टिक और इंटरनेशनल फ्लाइट पर असर पड़ रहा है. दिल्ली की इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पिछले 10 मिनटों से बिजली गायब है. इसकी वजह से एयरपोर्ट का सारा काम ठप्प पड़ा हुआ है. न केवल यात्री, बल्कि एयरलाइन्स के कर्मचारी भी परेशान हैं. यात्री न चेकइन कर पा रहे हैं और सुरक्षा चेकिंग करवा पा रहे हैं.

एयरपोर्ट पर मची अफरा तफरी

अचानक बिजली जाने की वजह से एयरलाइंस चेक इन सिस्‍टम, सुरक्षा जांच के लिए इस्‍तेमाल होने वाले डोर फ्रेम मेटल डिटेक्‍टर (डीएफएमडी), इमीग्रेशन ब्‍यूरो के सिस्‍टम सहित एयरोब्रिज का ऑपरेशन ठप्‍प हो गया. नतीजतन, कुछ एयरपोर्ट के लिए दिल्‍ली एयरपोर्ट का ऑपरेशन पूरी तरह ठप्‍प हो गया.

बिजली हो गई बहाल

हालांकि, कुछ मिनटों के बाद बिजली की आपूर्ति तो बहाल कर दी गई, लेकिन इन सिस्‍टम को दोबारा रिस्‍टार्ट होने में खासा समय लग गया. इसकी वजह से फ्लाइट ऑपरेशन को दोबारा शुरू होने में खासा समय लगा. बिजली जाने की घटना दिल्ली एयरपोर्ट पर दुर्लभ घटना है.


...

एयर इंडिया की बड़ी लापरवाही से यात्री के खाने में मिला मेटल ब्लेड एयरलाइन ने खुद मानी अपनी गलती

एयर इंडिया की बेंगलुरू से सैन फ्रैंसिस्को जाने वाली फ्लाइट में बड़ी लापरवाही सामने आई है। फ्लाइट में एक यात्री के खाने में मेटल ब्लेड मिला है। इस बात की पुष्टि खुद एयरलाइन ने की है। 

एयरलाइन के मुख्य ग्राहक अनुभव अधिकारी राजेश डोगरा ने कहा कि एयर इंडिया इस बात की पुष्टि करता है कि हमारी एक फ्लाइट में एक यात्री के खाने में कोई मेटल वस्तु पाई गई थी। जांच के बाद, यह पता चला है कि यह हमारे खानपान भागीदार की सुविधाओं में इस्तेमाल की जाने वाली सब्जी प्रसंस्करण मशीन से आई थी। हमने अपने खानपान भागीदार के साथ मिलकर ऐसी किसी भी घटना को रोकने के लिए उपाय मजबूत किए हैं।


...

BAN vs NEP मैच में रिकॉर्ड्स का लगा अंबार, तंजीम ने रचा इतिहास तो नेपाल के नाम जुड़ा ये शर्मनाक रिकॉर्ड

बांग्लादेश क्रिकेट टीम ने नेपाल को हराकर टी20 विश्व कप 2024 सुपर 8 में एंट्री कर ली है। बांग्लादेश की टीम सुपर 8 में पहुंचने वाली मौजूदा वर्ल्ड कप में सबसे आखिरी टीम रही। इसके साथ ही बांग्लादेश ने टीम ने टी20 विश्व कप इतिहास में सबसे कम टोटल डिफेंड करने का रिकॉर्ड भी अपने नाम दर्ज कराया।

इस मैच में नेपाल टीम ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया। पहले बैटिंग करते हुए बांग्लादेश की टीम 106 रन बना सकी। इसके जवाब में नेपाल की टीम 4 गेंद शेष रहते हुए 85 रन पर ही ढेर हो गई। इस तरह बांग्लादेश ने 21 रन से मैच अपने नाम किया। इस मैच में कई रिकॉर्ड्स बने। आइए जानते हैं इन रिकॉर्ड्स पर एक नजर।

बांग्लादेश की टीम ने टी20 विश्व कप इतिहास का सबसे छोटा टोटल डिफेंड किया

बांग्लादेश की टीम ने पहले बैटिंग करते हुए 106 रन का स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में नेपाल की टीम 85 रन ही बना सकी और बांग्लादेश ने ये टोटल डिफेंड कर लिया। टी20 विश्व कप इतिहास में ये सबसे छोटा टोटल (106) रहा, जो सफलतापूर्वक टीम ने डिफेंड कर लिया। इससे पहले पिछले हफ्ते ही न्यूयॉर्क में बांग्लादेश के खिलाफ साउथ अफ्रीका ने 113 रन का टोटल डिफेंड कर लिया था।

बांग्लादेश के अलावा वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे ने किया है ये कमाल

20 ओवर के पुरुष टी20ई में बांग्लादेश के 106 से कम टोटल का सफलतापूर्वक बचाव किया गया। वेस्टइंडीज ने साल 2014 में आयरलैंड के खिलाफ अपने 9 विकेट पर 96 रन का बचाव किया और 2010 में जिम्बाब्वे ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 105 रन पर ऑलआउट हो गई।

तंजीम हसन ने रचा इतिहास

तंजीम हसन (Tanzim Hasan) ने टी-20 वर्ल्ड कप में इतिहास रच दिया। उन्होंने नेपाल के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की और 4 ओवर में 7 रन देकर 4 विकेट चटकाए। वह टी20 विश्व कप में सबसे ज्यादा डॉट गेंद डालने वाले पहले गेंदबाज बने।

दोनों टीमें टी20 विश्व कप में 3 बार ऑलआउट हुई

मेंस टी20 विश्व कप के इतिहास में ऐसा 3 मैचों में देखने को मिला, जहां दोनों टीमें ऑलआउट हो गईं, जिसमें किंग्सटाउन में बांग्लादेश और नेपाल की टीमों का नाम शामिल हैं। इससे पहले साल 2010 में ग्रोस आइलेट में ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान और साल 2014 में चैटोग्राम में श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए मैच में देखने को मिला था।

तंजीम और मुस्तफिजुर रहमान की किफायती गेंदबाजी

तंजीम और मुस्तफिजुर रहमान ने नेपाल के खिलाफ खेले गए मैच में केवल 7 रन दिए, जो पुरुष टी20ई में चार ओवर फेंकते हुए बांग्लादेश के लिए संयुक्त रूप से सबसे कम है। उन्होंने रिशाद हुसैन की बराबरी कर ली, जिन्होंने इस साल की शुरुआत में ह्यूस्टन में यूएसए के खिलाफ ऐसा कारनामा किया था।

अर्धशतकीय साझेदारी के बावजूद सबसे कम टोटल

बांग्लादेश के खिलाफ नेपाल की टीम 85 रन पर ढेर हो गई। मेंस टी20ई में अर्धशतकीय साझेदारी वाला ये तीसरा सबसे कम ऑल-आउट स्कोर रहा। इससे पहले साल 2021 में जर्मनी के खिलाफ नॉर्वे का सबसे कम 76 रन है।

नेपाल के खिलाफ बांग्लादेश का 106 स्कोर सबसे कम

नेपाल के खिलाफ बांग्लादेश की टीम 106 रन पर सिमट गई, जो पुरुषों के टी20 विश्व कप में एसोसिएट के खिलाफ पूर्ण सदस्य द्वारा दूसरा सबसे कम स्कोर है। इससे पहले साल 2014 में इंग्लैंड ने नीदरलैंड के खिलाफ सबसे कम 88 रन बनाए थे।


...

NIA को सौंपा गया आतंकी हमलों की जांच का जिम्मा, गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला

जम्मू-कश्मीर के रियासी में हुए आतंकी हमले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को सौंप दिया गया है। एनआईए ने हमले के पीछे की साजिश का पता लगाने के लिए गहन जांच शुरू कर दी है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने 15 जून को जम्मू-कश्मीर पुलिस से मामले को अपने हाथ में लिया और गृह मंत्रालय द्वारा घटना की गंभीरता को देखते हुए जारी किए गए आदेशों के बाद इस मामले में एक प्राथमिकी दर्ज की। रविवार को गृह मंत्री अमित शाह की हाईलेवल बैठक के बाद यह फैसला लिया गया।

रियासी में आतंकियों ने किया था हमला

9 जून की शाम को जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में आतंकियों ने बस पर हमला किया था। बस श्रद्धालुओं को लेकर शिवखोड़ी से कटड़ा जा रही थी। आतंकियों की गोलीबारी से बस खाई में गिर गई थी। इस आतंकी हमले में 10 लोगों की मौत जबकि 33 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

हमले के एक दिन बाद एनआईए की एक टीम ने स्थानीय पुलिस की सहायता करने और जमीनी स्थिति का आकलन करने के लिए घटनास्थल का दौरा भी किया। यह घटना उस दिन हुआ जिस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित पूरा केंद्रीय मंत्रिमंडल नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में शपथ ले रहा था।

कठुआ और डोडा में भी हुआ था हमला

रियासी के बाद कठुआ और डोडा में भी आतंकी हमला हुआ था। कठुआ के एक गांव में आतंकियों ने गोलीबारी की थी जिसमें एक स्थानीय नागरिक को गोली लगी थी। डोडा में सेना के शिविर और वाहनों पर आतंकियों ने गोलीबारी की थी जिसमें सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया था।


...

आतंकी हमलों के बाद सुरक्षाबलों की बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में एक आतंकवादी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा के अरागम इलाके के गुरिहाजन में रविवार देर रात मुठभेड़ हो गई। आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच जमकर गोलीबारी हुई। सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया। घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान मुठभेड़ हुई थी।

एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा कि अरागाम में सुरक्षा बलों ने एक आतंकवादी को मार गिराया है। जिसकी पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। जैसे ही सुरक्षा बलों की संयुक्त टीम ने संदिग्ध स्थान की ओर तलाशी तेज की, छिपे हुए आतंकवादियों ने बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच भीषण मुठभेड़ शुरू हो गई।

सर्च ऑपरेशन जारी

मुठभेड़ में दो आतंकवादी फंसे हुए थे। अभी भी एक आतंकवादी की तलाश जारी है। बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान जारी है। जम्मू-कश्मीर में हाल ही में चार आतंकी हमलों के बाद अलग-अलग जगहों पर संदिग्ध देखे गए थे। इसके बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान चलाया था।

गश्ती दल ने देखी थीं संदिग्ध गतिविधियां

बता दें कि सुरक्षाबलों को बांदीपोरा जिले के अरागाम इलाके में संदिग्ध गतिविधि दिखाई दिए थे। इसके बाद उन्होंने इलाके में व्यापक तलाशी अभियान चलाया। कश्मीर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक वीके बिरदी ने बताया कि 13 आरआर के एक गश्ती दल को अरागाम में संदिग्ध गतिविधियां देखी गई थीं।

इसके बाद जवानों ने गोलीबारी की। उन्होंने कहा कि इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और गोलीबारी बंद कर दी गई है। उन्होंने कहा कि यह वन क्षेत्र है। हम इलाके में तलाशी लेंगे। उन्होंने बताया कि पूरे क्षेत्र में कड़ी घेराबंदी की गई है ताकि संदिग्ध भाग न निकलें।

आवाज आने पर लोगों ने बुलाई पुलिस

कंडी क्षेत्र के सैडा क्षेत्र में रविवार सुबह भी फायरिंग की आवाज सुनाई देने पर लोगों ने पुलिस को सूचित किया। इसके बाद पुलिस अधिकारी नफरी लेकर सैडा पहुंच गए और उन्होंने जब जांच शुरू की तो पता चला कि कहीं बच्चों ने पटाखे चलाए थे, जिसकी आवाज सुनकर लोगों ने पुलिस को सूचित किया था।

एसएचओ हीरानगर अरूण कौल कहना है कि सैडा में फायरिंग की सूचना मिलने पर नफरी लेकर वहां गए थे। जांच करने पर पता चला कि बच्चों ने खेलते समय पटाखे चलाए। पुलिस ने लोगों से अफवाह से बचने की सलाह दी है।


...