रुबीना दिलैक ने बिकिनी पहन समंदर के पानी में लगाई आग, हॉटनेस देख उड़े फैंस के होश

मुंबई : 'शक्ति - अस्तित्व के एहसास की' टीवी शो के जरिए घर-घर में अपनी अलग पहचान बनाने वाली एक्ट्रेस रुबीना दिलैक रियल लाइफ में काफी बोल्ड हैं। रुबीना 'बिग बॉस 14' के विनर की ट्रॉफी जीतने के बाद से लगातार चर्चा में बनीं हुई हैं। शो के बाद वह कई म्जूजिक वीडियोज में भी नजर आ चुकी हैं। सोशल प्लेटफॉर्म की बात करें तो रुबीना लगभग हर दिन अपनी हॉट एंड बोल्ड तस्वीरें पोस्ट कर फैंस के होश उड़ाती हैं। इसी बीच एक बार फिर से रुबीना की एक तस्वीर ने इंटरनेट पर आग लगा दी है। 


रुबीना दिलैक ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपनी कई हॉट एंड ब्यूटीफुल तस्वीरें पोस्ट की हैं। इन तस्वीरों के जरिए रुबीना ने फिर से तहलका मचा दिया है। फोटोज में आप देख सकते हैं कि रुबीना बिकिनी पहन समंदर के पानी में अटखेलियां करती दिख रही हैं। उनकी इन तस्वीरों ने एक बार फिर से फैंस का दिल जीत लिया है। फोटोज में रुबीना ब्लैक कलर की बिकिनी में काफी सीज़लिंग पोज देती दिख रही है। कुछ ही देर में इन तस्वीरों को एक लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं। वहीं इस पर कमेंट्स कर उनकी जमकर तारीफ भी कर रहे हैं।


आपको बता दें कि हाल ही में रुबीना दिलैक ने अपनी कई ग्लैमरस तस्वीरें पोस्ट की थीं। इन तस्वीरों में रुबीना दिलैक एक बार फिर से हुस्न का जलवा बिखेरती नजर आईं थीं। रुबीना की शेयर की गई फोटोज में आप देख सकते हैं कि उन्होंने व्हाइट कलर की बेहद ही खूबसूरत ब्रालेट के साथ कलरफुल शर्ट कैरी किया है जिसके बटन पूरी तरह से ओपन हैं। तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि रुबीना की शर्ट से ही उनकी पैंट भी मैच कर रही है। वहीं उनके बालों में एक मैचिंग हेयरबैंड लगा हुआ है। रुबीना का ये अवतार फैंस को काफी पसंद आया था।





...

टैरेस पूल में एंजॉय करती नजर आईं सनी लियोनी, सोशल मीडिया पर वायरल हुई बोल्ड तस्वीर

मुंबई : बॉलीवुड एक्ट्रेस सनी लियोनी अपनी हॉट एंड बोल्ड लुक के चलते सोशल मीडिया पर चर्चा में रहती हैं। सनी अक्सर अपने फोटोज वीडियो फैंस के साथ शेयर करती रहती हैं। इसी बीच उनकी एक तस्वीर इंस्टाग्राम पर तेजी से वायरल हो रही हैं, जिसमें वो अपने घर की छत पर बने टैरेल पूल में मस्ती करती दिख रहे हैं।


इस फोटो में एक्ट्रेस ब्लैक एंड व्हाइट कलर के स्विमसूट पहने दिख रही हैं। सनी टैरेल पूल के बीच में खड़े होकर पोज देते हुए मुस्कुराती हुई दिख रही हैं। इस फोटो को इंस्टाग्राम पर शेयर कर उन्होंने कैप्शन लिखा, और मुंबई में अच्छा मौमस शुरू हो जाए। अपने घर में इस स्वर्ग का एक टुकड़ा पाकर में खुद को बेहदखुश महसूस कर रही हूं। सनी की इस तस्वीर को इंस्टाग्राम पर उनके फैंस खूब पसंद कर रहे हैं। फोटो को अब तक साढ़े 6 लाख से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं और कमेंट कर उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं।


बात अगर उनके वर्कफ्रंट की करें तो उन्होंने हाल में अपनी साइकोलोजिकल थ्रिलर फिल्म शेरो की शूटिंग को खत्म किया है। इस फिल्म में सनी लियोनी के साथ साउथ के स्टार श्रीजीत वियनन लीड रोल निभा रहे हैं। इस पैन इंडिया फिल्म को मलयालम, तेलुगु, तमिल के साथ साथ हिंदी में रिलीज किया जाएगा।


इसके अलावा वो जल्द ही विक्रम भट्ट की वेब सीरीज ‘अनामिका’ में नजर आने वाली हैं। इस वेब सीरीज को विक्रम भट्ट और कृष्णा भट्ट के लोनरेंडर प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले बनाया जा रहा है। ये वेब सीरीज एम एक्स प्लेयर पर रिलीज की जाएगी। साथ ही वो पीरियड ड्राम फिल्म ‘द बैटल ऑफ भीमा कोरेगांव’ में अहम रोल प्ले करती दिखाई देगी। वहीं सनी पूर्व भारतीय क्रिकेटर श्रीसंत की फिल्म पट्टा में अहम भूमिका निभाएंगी। इस फिल्म से पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज बॉलीवुड में अपना डेब्यू करेंगे।






...

भारत को अंतरिक्ष संपत्तियों की सुरक्षा में अपनी क्षमता को बढ़ाना होगा : डोभाल

नई दिल्ली : राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल ने सोमवार को कहा कि भारत को अपने व्यावसायिक रूप से उपलब्ध स्वदेशी उपग्रह संचार समाधान, भौगोलिक क्षेत्रों में निगरानी क्षमताओं और अंतरिक्ष संपत्तियों की सुरक्षा को लेकर अपनी क्षमता बढ़ानी होगी।


उन्होंने भारतीय अंतरिक्ष संघ के शुरू होने पर आयोजित समारोह को संबोधित किया। भारतीय अंतरिक्ष संघ, एक अंतरिक्ष क्षेत्र उद्योग निकाय है, जिसमें भारती एयरटेल, लार्सन एंड टुब्रो, अग्निकुल, ध्रुव स्पेस और कावा स्पेस जैसी कंपनियां शामिल हैं।


उन्होंने कहा, ‘‘आर्थिक विकास और प्रौद्योगिकी विकास राष्ट्रीय शक्ति के सबसे महत्वपूर्ण तत्व हैं। ऐसे वातावरण में राष्ट्रीय सरकारें अब राष्ट्रीय सुरक्षा और विकास के लिए नीतियां विकसित करने में एकमात्र हितधारक नहीं हो सकती हैं।’’ डोभाल ने कहा कि निजी क्षेत्र राष्ट्र निर्माण में बराबर का हिस्सेदार है।


डोभाल ने कहा, ‘‘अब तक अंतरिक्ष जैसे विशेष क्षेत्रों में सार्वजनिक क्षेत्र का वर्चस्व था, इसलिए यह चक्र चलता रहे यह सुनिश्चित करने के लिए इसके द्वार निजी क्षेत्र के लिए खोलने की जरूरत है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अंतरिक्ष क्षेत्र में निजी निवेश से उच्च तकनीक वाली नौकरियां पैदा होंगी, प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल की सुविधा होगी और संयुक्त उद्यमों के माध्यम से विदेशी भागीदारों की भागीदारी सुनिश्चित होगी।’’


डोभाल ने कहा कि ये कदम भारत को अंतरिक्ष संपत्तियों का विनिर्माण केंद्र बना देंगे। उन्होंने कहा कि एक मजबूत निजी क्षेत्र का उद्योग भी बढ़ती सुरक्षा चुनौतियों का सामना करने में योगदान देगा।


डोभाल ने कहा, ‘‘भारत को व्यावसायिक रूप से उपलब्ध स्वदेशी उपग्रह संचार समाधान, भविष्य की प्रौद्योगिकियों में अनुसंधान और विकास, भौगोलिक क्षेत्रों में निगरानी क्षमताओं और अंतरिक्ष संपत्तियों की सुरक्षा जैसे कई क्षेत्रों में अपनी क्षमता बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।’’ उन्होंने कहा कि सुरक्षा, रक्षा और कानूनी दायित्व के मुद्दों को संबोधित करने के लिए एक उपयुक्त नियामक वातावरण बनाना इस प्रयास का केंद्र होगा।


एनएसए ने कहा कि निजी क्षेत्र ने अहम प्रौद्योगिकियों के विकास में तेजी से प्रगति की है। उन्होंने कहा, ‘‘इनमें से कई प्रौद्योगिकियां दोहरे उपयोग वाली हैं जिन्होंने दिशा सूचक प्रणाली, रिमोट सेंसिंग, मौसम निगरानी, कृषि, उपग्रह संचार और ब्रॉडबैंड इंटरनेट सहित कई क्षेत्रों में गतिविधियों में क्रांतिकारी बदलाव किया है।’’


एनएसए ने कहा कि कुछ अनुमानों के अनुसार, वैश्विक अंतरिक्ष उद्योग तेजी से आगे की दिशा में बढ़ रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘उपयुक्त नीति और विनियमों के साथ भारतीय निजी क्षेत्र भारत की अंतरिक्ष यात्रा पर सह-यात्री बन सकता है।’’


एनएसए ने कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने उच्च गुणवत्ता वाले आपूर्तिकर्ताओं का एक पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने के लिए अपने उत्कृष्ट कार्य से भारत को एक ठोस आधार प्रदान किया है, जिस पर अंतरिक्ष क्षेत्र में निजी क्षेत्र की भागीदारी को आगे बढ़ाया जा सकता है।




...

आर्यन खान एनसीबी की वैन में हंसते हुए आए नजर, अधिकारियों के बीच बैठे शाहरुख के बेटे की तस्वीर वायरल

मुंबई : शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के साथ इस वक्त ड्रग्स केस में 7 अन्य एनसीबी की कस्टडी में हैं। इन सभी को मुंबई के तट पर गोवा जानेवाली क्रूज़ में पार्टी के दौरान पकड़ा गया, जिनमें से कुछ पर ड्रग्स लेने के आरोप हैं। क्रूज़ से 8 लोगों को एनसीबी ने पकड़ा और उन्हें मेडिकल टेस्ट के लिए ले जाया गया। उनकी कस्टडी आज 7 अक्टूबर तक के लिए थी, जिसपर आज एक बार फिर कोर्ट में सुनवाई हो रही है। कोर्ट की सुनवाई के लिए जाते हुए आर्यन की एक तस्वीर वायरल हो रही है।


वायरल हो रही इस तस्वीर में आर्यन खान एनसीबी के अधिकारियों के बीच वैन में बैठे दिख रहे हैं। अक्सर मास्क में नजर आनेवाले आर्यन के चेहरे पर इस बार मास्क नहीं है। आर्यन इस तस्वीर में हंसते हुए नजर आ रहे हैं। अब यह तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होती नजर आ रही है। आर्यन की इस तस्वीर पर लोगों की तरफ से मिक्स्ड रिव्यूज़ आ रहे हैं।


जहां कुछ लोगों का कहना है कि आर्यन की यह तस्वीर दिखाती है कि वह इनोसेंट हैं, वहीं कुछ लोग हैरान हैं कि इस हालात में वह हंस कैसे रहा है।


आर्यन खान को अरेस्ट किए जाने के बाद से लगातार फिल्म स्टार्स और शाहरुख खान के फैन्स उनके सपोर्ट में खड़े नजर आ रहे हैं। फैन्स उम्मीद जता रहे हैं कि कोर्ट की आज की सुनवाई में उन्हें राहत मिल सकती है।


रिपोर्ट्स के मुताबिक, आर्यन ने गिरफ्तारी के बाद जब अपने पापा को देखा और उनसे फोन पर बात की तो वह रो पड़े थे।




...

दिव्या अग्रवाल ने पोस्ट किया क्लीनिंग वुमन लुक, फैंस लुक देखकर हुए स्तब्ध

मुंबई : बिग बॉस ओटीटी की विजेता दिव्या अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर अपने बड़े दांतों, सांवले रंग और आंखों के चारों ओर काले घेरे वाली एक फोटो पोस्ट की है। फोटो में वह अस्पताल में सफाई करने वाली महिला के रूप में दिखाई दे रही है।। वेब सीरीज कार्टेल में उनके किरदार पर आधारित यह तस्वीर तुरंत वायरल हो गई और दिव्या को उनके लुक पर कई कमेंट्स मिले।


वेब सीरीज में दिव्या ने ग्रिसी नाम का एक रहस्यमयी किरदार निभाया है, जो पेशे से मेकअप आर्टिस्ट है और इसे अपने घातक हथियार के रूप में इस्तेमाल करती है। सीरीज में वह छह अलग-अलग लुक में नजर आई हैं।


दिव्या ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, सीरियल किलर वाइब्स। कार्टेल पर मेरा यह पहला दिन था। नर्वस, एक्साइटेड के साथ पूरी तरह से कॉन्फिडेंट थी।


कुछ समय पहले दिव्या द्वारा इंस्टाग्राम पर पोस्ट की गई एक और तस्वीर भी वायरल हुई थी। इसमें वह बड़े चश्मे और सफेद शर्ट पहने एक बूढ़े आदमी के रूप में नजर आ रही हैं। उस फोटो में उन्होंने कैप्शन में कार्टेल की पूरी टीम और एकता कपूर को शो के लिए धन्यवाद देते हुए एक लंबा मैसेज लिखा था।


दिव्या ने अपने कैप्शन में लिखा, पूरा शो अद्भुत है। एकता कपूर मैम, मुझ पर विश्वास करने के लिए धन्यवाद। यह भूमिका सिनेमा के लिए मेरे जुनून और प्यार को परिभाषित करती है, आप इसे नोटिस करने वाली पहले व्यक्ति थी। धन्यवाद, भगवान, हमेशा मुझे आशीर्वाद देने के लिए।


बिग बॉस ओटीटी जीतने से पहले, दिव्या अग्रवाल स्प्लिट्सविला 10 में अपनी उपस्थिति और रागिनी एमएमएस रिटर्न्‍स में अपनी भूमिका के लिए जानी जाती थी।





...

आलिया भट्ट और रणबीर कपूर की प्राइवेट तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल, झील किनारे यूं बिताई शाम

मुंबई : रणबीर कपूर के 39वें बर्थडे पर आलिया भट्ट ने पहली बार सोशल मीडिया पर अपने प्यार का इजहार किया है और उन्हें अपनी जिंदगी कही है। दोनों इस वक्त जोधपुर में हैं और इस मौके की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर छाई हैं। रणबीर और आलिया के फैन पेज से ये तस्वीरें शेयर की गई हैं, जिनमें दोनों एक-दूसरे के साथ कुछ खास पल बिताते नजर आ रहे हैं।


इन तस्वीरों में दोनों खुले आसमान के नीचे सूर्यास्त के वक्त को इंजॉय करते नजर आ रहे हैं। तस्वीरों में रणबीर जमीन पर लेटे दिख रहे हैं और आलिया उनके पास बैठी नजर आ रही हैं।


तस्वीरें देखकर ऐसा लग रहा है कि दोनों नदी के किनारे बैठे हों। ये तस्वीरें दूर से ली गई हैं, जिनके बारे में ऐक्टर्स को संभवत: कोई जानकारी नहीं रही होगी।


आलिया ने इंस्टाग्राम पर रणबीर के साथ उनके बर्थडे पर जन्मदिन की बधाई देते हुए विश किया। इस तस्वीर में दोनों झील के किनारे बैठकर सूर्यास्त को इंजॉय करते दिख रहे हैं। आलिया ने अपना सिर रणबीर के कंधे पर रखा है और हाथों में हाथ डाले नजर आ रहे हैं दोनों। आलिया के इस पोस्ट पर फैन्स से लेकर फ्रेंड्स और उनके अपनों ने खूब प्यार बरसाया है। आलिया ने इस तस्वीर के साथ लिखा है 'हैपी बर्थडे मेरी जिंदगी।'





...

दीपिका ने पीवी सिंधु के साथ बैडमिंटन सत्र की तस्वीरें की पोस्ट

मुंबई :  बॉलीवुड स्टार दीपिका पादुकोण ने विश्व चैंपियन पी.वी.सिंधु की इंस्टाग्राम पर तस्वीरें पोस्ट की हैं।


तस्वीरों ने सोशल मीडिया यूजर्स को हैरान कर दिया है कि क्या सिंधु पर बायोपिक बन रही है।


दीपिका ने इंस्टाग्राम पर तस्वीरों का सेट पोस्ट किया। तस्वीरों में दोनों इंडोर कोर्ट पर बैडमिंटन का जोरदार खेल खेलते नजर आ रहे हैं।


अभिनेत्री, जो पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण की बेटी हैं उन्होंने लिखा, मेरे जीवन में बस एक नियमित दिन एटदारेट पी.वी.सिंधु1 के साथ कैलोरी बर्न करना!


तस्वीर को वर्तमान में 1.9 मिलियन लाइक्स मिल चुके हैं। दीपिका के पति और अभिनेता रणवीर सिंह ने तस्वीर पर एक टिप्पणी की।


कई सोशल मीडिया यूजर्स ने कमेंट सेक्शन पर तस्वीर पर प्रतिक्रिया दी।


एक ने लिखा,लगता है बायोपिक बनने वाली है।


एक ने दीपिका और सिंधु की जमकर तारीफ की।


एक यूजर ने सवाल किया, क्या कोई बायोपिक चल रही है।







...

विकी कौशल और कटरीना कैफ की रोका सेरिमनी पर बोले भाई सनी- सारा सच जानते हैं रिश्तेदार

मुंबई : हाल ही में विकी कौशल और कटरीना कैफ की रोका सेरिमनी की खबरें खूब छाई रहीं। अब विकी कौशल के भाई सनी कौशल ने दोनों की सगाई को लेकर चुप्पी तोड़ी है।


सनी ने सगाई की इस खबर पर कहा है कि इस काल्पनिक एंगेजमेंट में नहीं आमंत्रित किए जाने को लेकर कोई नाराज नहीं था। उन्होंने बताया कि उनके सारे रिश्तेदार ये जानते हैं कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि किसी को यह समझ नहीं आ रहा कि आखिर यह अफवाह कहां से और कैसे उड़ी है। वे एक सुबह उठे और सब जगह यही खबर छाई थी।


एक अलग इंटरव्यू में सनी ने बताया कि उनके पैरंट्स ने रोका की इस खबर पर कैसे रिऐक्ट किया। इसे याद करते हुए उन्होंने कहा विकी उस सुबह जिम गए हुए थे और तभी यह अफवाह आने लगी। जब वह जिम से लौटे तो उनके पापा और मां ने मजाक करते हुए पूछा- अरे यार, तेरी एंगेजमेंट हो गई, मिठाई तो खिला दे। जिसपर विकी ने जवाब देते हुए कहा- जितनी असली एंगेजमेंट हुई है उतनी असली मिठाई भी खा लो।


हर्षवर्धन कपूर ने गलती से यह खुलासा कर दिया था कि विकी और कटरीना एक-दूसरे को डेट कर रहे हैं। एक इंटरव्यू में उनसे सवाल किया गया था कि वह किसी ऐसी अफवाह के बारे में बताएं जो सच हो, जिसपर उन्होंने कहा, 'विकी और कटरीना साथ हैं और यह सच है। मुझे नहीं पता कि ये बोलकर मैं उनके लिए परेशानियां तो नहीं खड़ी कर रहा, मुझे लगता है इसे लेकर वे ओपन हैं।'


विकी और कटरीना के अफेयर की चर्चा लंबे समय से है और दोनों कई बार पब्लिकली साथ भी नजर आए हैं। हालांकि दोनों में से किसी ने भी अपने इस रिलेशनशिप को लेकर कुछ खुलकर नहीं कहा है।





...

कृष्णा श्रॉफ ने फिर शेयर कीं अपनी दिलकश तस्वीरें, फैन्स के धड़क उठे दिल

मुंबई : बॉलिवुड ऐक्टर जैकी श्रॉफ की बेटी और टाइगर श्रॉफ की बहन कृष्णा श्रॉफ भले ही फिल्मों में काम नहीं करती हैं मगर वह किसी सिलेब्रिटी से कम नहीं हैं। कृष्णा श्रॉफ की सोशल मीडिया पर अच्छी खासी फैन फॉलोइंग है और उनकी तस्वीरों और वीडियोज को खूब पसंद किया जाता है। कृष्णा ने एक बार फिर अपने लेटेस्ट फोटोशूट की धमाकेदार तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की हैं। 


कृष्णा पिछले कुछ समय से लगातार अलग-अलग मैगजीन के लिए फोटोशूट करा रही हैं। हालिया शेयर की हुई तस्वीरें भी उनके लेटेस्ट फोटोशूट की नजर आ रही हैं। कृष्णा इन तस्वीरों में ब्लैक पैंट्स और स्पोर्ट्स ब्रा में बोल्ड अंदाज में पोज देती नजर आ रही हैं। कृष्णा के फैन्स इन तस्वीरों को काफी पसंद कर रहे हैं।


बता दें कि कृष्णा श्रॉफ फिटनेस फ्रीक हैं ये फोटोशूट भी उनके इसी फिटनेस सेंटर में हुआ है। वैसे भले ही कृष्णा श्रॉफ फिल्मों में काम नहीं करती हैं मगर पिछले दिनों उन्होंने एक म्यूजिक वीडियो में डेब्यू किया था। इस वीडियो में कृष्णा के साथ जॉनी लीवर की बेटी जेमी लीवर और जन्नत जुबैर भी नजर आई थीं। इस म्यूजिक वीडियो का नाम 'किन्नी किन्नी वारी' है।





...

ब्लू बिकनी में सारा ने लगाई समंदर में आग, वायरल हुईं तस्वीरें

मुंबई :  सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाली फिल्म अभिनेत्री सारा अली खान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सारा अली खान ब्लू और व्हाइट कलर की बिकनी पहने समंदर में आग लगाती नजर आ रही हैं। इसके साथ ही सारा ने एक श्रग भी कैरी किया है और उनके खुले बाल हवा में लहरा रहे हैं। सारा का यह ग्लैमरस अंदाज उनके लुक में चार चांद लगा रहा है। इस वीडियो को शेयर करने के साथ ही सारा ने रूमी की एक लाइन लिखी है। सारा ने लिखा-'तुम सागर की एक बूंद नहीं हो। तुम एक बूंद में पूरा सागर हो - रूमी।'


सारा अली खान के इस पोस्ट पर फैंस जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। सारा अली खान इन दिनों मालदीव में वेकेशंस इंजॉय कर रही हैं। सारा अली खान फिल्म अभिनेत्री अमृता सिंह और अभिनेता सैफ अली खान की बेटी हैं। लेकिन इसके बावजूद सारा ने कभी भी अपने करियर को बनाने के लिए उनके नाम का सहारा नहीं लिया। फिल्म केदारनाथ से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाली सारा ने अपने शानदार अभिनय से बहुत कम समय में दर्शकों के दिलों में खास जगह बनाई है।


वर्कफ़्रंट की बात करें तो सारा अली खान जल्द ही आनंद एल रॉय की फिल्म 'अतरंगी रे' में अक्षय कुमार और धनुष के साथ लीड रोल में नजर आयेंगी।






...

ट्विंकल खन्ना ने बेटे आरव को इस तस्वीर के साथ किया बर्थडे विश, पोस्ट हुआ वायरल

मुंबई : अक्षय कुमार और ट्विंकल खन्ना के बेटे आरव 16 सितंबर को अपना 19वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस खास मौके पर ट्विंकल ने बेटे के लिए एक प्यारा सा पोस्ट शेयर किया है। ट्विंकल ने यह पोस्ट अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से शेयर किया है। ट्विंकल ने बर्थडे पोस्ट के अलावा बेटे के साथ एक तस्वीर भी शेयर की हैं। जिसमें लिखा है,'माई ब्यूटीफुल बर्थडे बॉय।' जहां तक ट्विंकल और उनके बेटे आरव के तस्वीर की बात करें तो उसमें मां- बेटे का अंदाज देखने लायक है। दोनों एक पेड़ के नीचे बैठे नजर आ रहे हैं। 


ट्विंकल ने बेटे आरव के 18वें बर्थडे पर भी इंस्टाग्राम पर प्यारा सा नोट शेयर किया था। ट्विंकल ने लिखा था,'18 वां जन्मदिन मुबारक हो आरव। इतने सालों मैं कभी तुम्हारी तो तुम मेरे शिक्षक रहे। मैंने आपसे आशावाद, दयालुता और आश्चर्य सीखा क्योंकि मैंने आपको मैथ्स पढ़ाया था, कुछ शिष्टाचार और जब आप कमरे से बाहर निकलते हैं तो लाइट कैसे बंद करते हैं।'


गौरतलब है कि आरव उन स्टार किड्स में से एक हैं जो लाइमलाइट में कम ही रहना पसंद करते हैं। इससे पहले एक टीवी शो में अक्षय ने खुलासा किया कि उनका बेटा लाइमलाइट से दूर रहना पसंद करता है और आरव लोगों को यह बताना बिल्कुल भी पसंद नहीं करता है कि वह अक्षय कुमार का बेटा है।


वर्कफ्रंट की बात करें तो अक्षय कुमार की फिल्म 'बेल बॉटम' हाल ही में रिलीज हुई है। इसके अलावा वह रोहित शेट्टी की पुलिस ड्रामा 'सूर्यवंशी' में दिखाई देंगे। अक्षय के पास फिलहाल एक से बढ़कर एक फिल्म हैं। वह आनंद एल राय की 'अतरंगी रे', 'रक्षा बंधन' और 'राम सेतु' भी नजर आएंगे। अक्षय 'मिशन सिंड्रेला' नाम की एक साइकोलॉजिकल थ्रिलर के लिए रंजीत तिवारी के साथ काम करेंगे।





...

सलमान खान की भांजी अलिज़ेह ने किया ऐड शूट, सामने आया लाजवाब मॉडलिंग वीडियो

मुंबई : सलमान खान की भांजी अलिज़ेह अग्निहोत्री बॉलिवुड से पहले ही अपने मॉडलिंग वीडियोज़ से जमकर सुर्खियां बटोर रही हैं। दरअसल अलिज़ेह ने एक जूलरी ब्रैंड के लिए ऐड शूट किया है और इस वीडियो से वह लोगों के दिलों में अभी से जगह बनाने लगी हैं।


बता दें कि अलिज़ेह सलमान खान की बहन अलवीरा और ऐक्टर- प्रड्यूसर अतुल अग्निहोत्री की बेटी हैं। अलिज़ेह पिछले काफी समय से बॉलिवुड डेब्यू को लेकर चर्चा में हैं। हाल ही में एक पॉप्युलर जूलरी ब्रैंड के लिए अलिज़ेह ने ऐड शूट किया है और इसे लेकर उन्हें जमकर तारीफें भी मिल रही हैं।


वीडियो जूलरी ब्रैंड की तरफ से शेयर किया गया है, जिसमें अलिजेह की तरफ से कुछ बातें लिखी गई हैं। इस पोस्ट के साथ लिखा गया है, 'एक लड़की के लिए पहली जूलरी आमतया ईयर रिंग्स हुआ करती है। हालांकि मैंने कभी अपने कानों में छेद नहीं करवाए। काफी लोगों को यह अजीब लगा, क्योंकि ईयर रिंग्स पहनना अधिकतर लोगों के लिए काफी सामान्य सी बात थी, लेकिन मुझे ऐसी कोई चाहत नहीं रही। कुछ सालों में जूलरी के साथ मेरा रिश्ता बदला है। जहां मैं कोई भी जूलरी नहीं पहनती थी, वहीं आज मैं कपड़े डिसाइड करने से पहले यह फाइनल करती हूं कि मुझे कौन सी जूलरी पहननी है।'


अलिजेह इससे पहले भी मॉडलिंग कर चुकी हैं। उन्होंने अपनी मामी सीमा खान के ब्राइडल कॉट्यॉर लाइन के लिए मॉडलिंग किया था और कई शानदार पोज़ दिए थे। बता दें कि हाल ही में खबर आई थी कि अलिज़ेह एक पॉप्युलर ऐक्टर के पोते के साथ बॉलिवुड में कदम रखने जा रही हैं। कयास लगाए जा रहे थे कि अलिजेह धर्मेन्द्र के पोते राजवील देओल के साथ नजर आएंगी। कहा जा रहा था कि यह मल्टी स्टारर फिल्म होगी। अलिजेह सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव रहती हैं। उनकी तस्वीरों से पता लगता है कि उन्हें प्रकृति से काफी लगाव है और घूमना-फिरना काफी पसंद है।



...

अपारशक्ति खुराना ने बेटी को सीने से चिपकाए शेयर की प्यारी तस्वीर, दिल हार बैठे फैन्स

मुंबई : कुछ दिन पहले ही एक प्यारी सी बच्ची के पिता बने ऐक्टर अपारशक्ति खुराना ने एक क्यूट सी तस्वीर शेयर की है, जिसमें वह अपनी लाडली को सीने से चिपकाए लेटे हुए दिख रहे हैं। बाप-बेटी की यह प्यारी तस्वीर सोशल मीडिया पर छाई हुई है और फैन्स से लेकर सिलेब्रिटीज खूब प्यार बरसा रहे हैं।


अपारशक्ति खुराना की वाइफ आकृति ने 27 अगस्त को बेटी को जन्म दिया था, जिसका नाम उन्होंने अरजोई ए खुराना रखा। पिता बनने के बाद अपारशक्ति खुशी से फूले नहीं समाए और सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए फैन्स के साथ यह गुड न्यूज शेयर की थी। बेटी की यह लेटेस्ट तस्वीर शेयर कर अपारशक्ति खुराना ने लिखा है, 'मेरी अर्जियां'।


इस तस्वीर पर अपारशक्ति खुराना के अलावा भूमि पेडनेकर, रिद्धिमा पंडित, मुक्ति मोहन और वरुण शर्मा समेत कई सिलेब्रिटीज ने कॉमेंट किया है और अरजोई को ढेर सारा प्यार दिया है। बता दें कि अपारशक्ति खुराना ने 4 जून को अपनी पत्नी के प्रेग्नेंट होने की जानकारी दी थी। अपारशक्ति खुराना और आकृति आहूजा ने 7 सितंबर, 2014 को शादी की थी।


प्रफेशनल फ्रंट की बात करें तो अपारशक्ति खुराना जल्द ही 'हेल्मेट' फिल्म में नजर आएंगे। फिल्म में उनके अलावा प्रनूतन बहल, अभिषेक बनर्जी और आशीष वर्मा भी हैं।




...

सुहाना खान ने न्‍यू यॉर्क में कराया आउटडोर फोटोशूट, सोशल मीडिया पर रुक नहीं रहीं तारीफें

मुंबई :  शाहरुख खान की बेटी सुहाना खान की सोशल मीडिया पर जबरदस्‍त फैन फॉलोइंग है। वह अक्‍सर फैंस के साथ अपनी हॉट तस्‍वीरें शेयर करती हैं। अब एक बार फिर उन्‍होंने इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर कुछ तस्‍वीरें शेयर की हैं जिनकी काफी चर्चा हो रही है। इन स्‍टनिंग तस्‍वीरों के जरिए सुहाना ने बताने की कोशिश की कि न्‍यू यॉर्क में उन्‍होंने अपना संडे कैसे बिताया। वह इस आउटडोर फोटोशूट को इंजॉय करती दिखीं। इस दौरान सुहाना चिक आउटफिट में नजर आईं और कैमरे के लिए अलग-अलग पोज दिए।


सुहाना ने ब्‍लैक टैंक टॉप के साथ डेनिम शॉर्ट्स और एक ओवरसाइज शर्ट को कैरी किया। उन्‍होंने ब्‍लैक लोफर्स, लाइम ग्रीन पर्स और थोड़े मेकअप के सा अपने लुक को कम्‍प्‍लीट किया। तस्‍वीरें शेयर करते हुए उन्‍होंने कैप्‍शन दिया, 'संडे।'


जैसे ही सुहाना ने पिक्‍चर्स शेयर कीं, उनके दोस्‍तों ने उनके ट्रेंडी लुक की तारीफ की। जहां एक ने उन्‍हें 'स्‍टनर' बताया तो दूसरे ने लिखा, 'तुम और ये फिट।' इसके साथ यूजर ने हार्ट रिऐक्‍शन भी दिया। सुहाना के पोस्‍ट को रिद्धिमा कपूर साहनी, खुशी कपूर और तमाम लोगों ने लाइक किया। 


बता दें, सुहाना फिलहाल न्‍यू यॉर्क यूनिवर्सिटी से फिल्‍ममेकिंग की पढ़ाई कर रही हैं। पढ़ाई के बाद वह बॉलिवुड डेब्‍यू कर सकती हैं। इससे पहले वह शॉर्ट फिल्‍म 'द ग्रे पार्ट ऑफ ब्‍लू' में नजर आई थीं और अपनी ऐक्‍टिंग स्‍किल्‍स से हर किसी को इम्‍प्रेस किया था। 








...

'नो लैंड्स मैन' से नवाजुद्दीन सिद्दीकी का फर्स्ट लुक रिलीज

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी की आने वाली फिल्म 'नो लैंड्स मैन' से उनका फर्स्ट लुक रिलीज हो गया है। नवाजुद्दीन सिद्दीकी जल्द ही फिल्म 'नो लैंड्स मैन' में नजर आएंगे। इस फिल्म के जरिए वह अंग्रेजी फिल्मों की ओर रुख कर रहे हैं। इस फिल्म से नवाजुद्दीन का फर्स्ट लुक सामने आया है। नवाजुद्दीन ने सोशल मीडिया पर फिल्म से अपना फर्स्ट लुक शेयर करते हुए लिखा, “क्या कोई इस लड़के के बारे में जानता है? मैं उसे ढूंढ रहा हूं। मैं उसके बारे में ज्यादा नहीं जानता, सिवाय इसके कि वह फिल्म 'नो लैंड्स मैन' से नवीन है, जिसे प्रतिष्ठित बुसान फिल्म फेस्टिवल में किम जिसियोक पुरस्कार के लिए नॉमिनेट किया गया है और यह फर्स्ट लुक है।” 'नो लैंड्स मैन' में नवाजुद्दीन के अलावा ऑस्ट्रेलिया के रंगमंच के कलाकार मेगन मिशेल और बांग्लादेशी संगीतकार और अभिनेता तहसन रहमान खान भी मुख्य भूमिका में दिखेंगे। संगीतकार ए आर रहमान निर्माता श्रीहरि साठे के साथ मिलकर इस फिल्म का निर्माण कर रहे हैं।





...

अमिताभ बच्चन शेयर किया अनदेखा फोटो, एक साथ दिखा बॉलिवुड का 'जमघट'

मुंबई : बॉलिवुड मेगास्टार अमिताभ बच्चन फिल्मों के अलावा सोशल मीडिया पर खूब ऐक्टिव रहते हैं। अमिताभ अक्सर सोशल मीडिया पर पुरानी तस्वीरें, वीडियो और अपने विचार फैन्स के साथ शेयर करते रहते हैं। अब अमिताभ बच्चन ने एक पुरानी ब्लैक ऐंड वाइट ऐसी ही अनदेखी तस्वीर शेयर की है जिसे फैन्स खूब पसंद कर रहे हैं। अमिताभ की शेयर की इस तस्वीर में कई बॉलिवुड स्टार्स एक साथ नजर आ रहे हैं। 


अमिताभ ने शनिवार को यह तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है जिसमें उनके साथ शत्रुघ्न सिन्हा, धर्मेंद्र, प्रेम चोपड़ा और जितेंद्र एक साथ नजर आ रहे हैं। इस तस्वीर को शेयर करते हुए बिग बी ने लिखा, 'जितेंद्र, धर्मेंद्र, प्रेम चोपड़ा, शत्रुघ्न सिन्हा और मैं आजकल ऐसे जमघट बहुत कम देखने को मिलते हैं।' इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर लोग खूब पसंद कर रहे हैं।


इस बीच वर्क फ्रंट की बात करें तो अमिताभ बच्चन अभी अपने क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति की शूटिंग में बिजी हैं। फिल्मों की बात करें तो अमिताभ हाल में फिल्म 'चेहरे' में इमरान हाशमी के साथ नजर आए थे। अब उनकी फिल्म झुंड रिलीज के लिए तैयार है। इसके अलावा अमिताभ ब्रह्मास्त्र, मेडे, द इंटर्न और गुडबाय में भी नजर आएंगे।









...

आ गया सलमान खान-आयुष शर्मा की 'अंतिम' का पोस्टर, दोनों के बीच जमकर होगा घमासान

मुंबई : बॉलिवुड ऐक्टर सलमान खान और आयुष शर्मा की फिल्म 'अंतिम: द फाइनल ट्रुथ' का पोस्टर रिलीज कर दिया गया है। फिल्म के पोस्टर पर सलमान और आयुष जमकर घमासान करते नजर आ रहे हैं। सिर्फ इतना ही नहीं फिल्म के पोस्टर पर दोनों एक दूसरे की आंख में आंख डालकर गुस्से से देखते हुए नजर आ रहे हैं। फिल्म अंतिम के पोस्टर देखने के बाद फिल्म को लेकर फैन्स की एक्साइटमेंट बढ़ गई है। 


इससे पहले, आयुष शर्मा फिल्म 'लवयात्री' में गुजराती लड़के के किरदार में नजर आए थे। 'अंतिम' में आयुष एक खतरनाक, मजबूत गैंगस्टर के रूप में नज़र आ रहे हैं। फिल्म में सलमान खान और आयुष का लुक देखकर फैन्स खूब रिएक्शन भी दे रहे हैं। सलमान खान ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर फिल्म 'अंतिम' का पोस्टर रिलीज किया है। साथ ही शानदार कैप्शन लिखा है। सलमान खान ने कैप्शन में लिखा- बुराई के अंत की शुरुआत. गणपति बप्पा मोरया।


गौरतलब है कि आयुष शर्मा की 'अंतिम' दूसरी फिल्म है। इसमें वह सलमान खान के सामने दमदार लुक में नजर आ रहे हैं। फैन्स दोनों की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। सलमान खान फिल्म्स ने 'अंतिम: द फाइनल ट्रुथ' को प्रोड्यूस किया है। यह फिल्म सलमा खान द्वारा निर्मित और महेश मांजरेकर द्वारा निर्देशित है।





...

शहनाज ने बोल्ड अंदाज में कराया फोटोशूट

मुंबई : बिग बॉस 13 फेम शहनाज गिल ने अपने फैंस को अपने नए बोल्ड अंदाज से एक बार फिर दीवाना बना दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी नई तस्वीरें पोस्ट की है। शहनाज ने इंस्टाग्राम पर तस्वीरों का एक सेट पोस्ट किया, जिसमें वह काले रंग की शॉर्ट ड्रैस पहने नजर आ रही हैं। शहनाज ने अपने लुक को रीडिंग ग्लास, लेपर्ड प्रिंट के स्टाल और बॉब हेयर के साथ पूरा किया है। उन्होंने कैप्शन दिया, कुछ कहानियों और चीजों के साथ जल्दबाजी नहीं कर सकते हैं। अक्सर करीब रहना और यात्रा का आनंद लेना सबसे अच्छा होता है शहनाज और उनके बिग बॉस 13 के करीबी दोस्त और अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला हाल ही में बिग बॉस ओटीटी में मेहमान बनकर पहुंचे थे।



...

चिदंबरम ने आजादी के जश्न वाले पोस्टर में नेहरू की तस्वीर न होने पर आईसीएचआर की निंदा की

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में जारी पहले डिजिटल पोस्टर में जवाहरलाल नेहरू की तस्वीर न लगाने पर भारतीय ऐतिहासिक अनुसंधान परिषद (आईसीएचआर) की रविवार को निंदा की और कहा कि इस पर दी गई सफाई हास्यास्पद है।


उन्होंने आईसीएचआर के सदस्य सचिव पर घृणा एवं पूर्वाग्रह के आगे झुकने का आरोप लगाया और उनसे पूछा कि क्या वह मोटर कार के जन्म का जश्न मनाते हुए हेनरी फोर्ड को छोड़ देंगे या विमानन के जन्म का जश्न मनाते हुए राइट बंधुओं को भूल जाएंगे।


मोटर कार का आविष्कार सबसे पहले फोर्ड ने किया था और राइट बंधुओं को दुनिया के पहले विमान के निर्माण और उड़ान का श्रेय दिया गया था। उन्होंने ट्वीट किया, “75वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए पहले डिजिटल पोस्टर में जवाहरलाल नेहरू की तस्वीर न लगाने का आईसीएचआर सदस्य सचिव का स्पष्टीकरण हास्यास्पद है।” उन्होंने यह भी कहा, “घृणा एवं पूर्वाग्रह के आगे झुकने के बाद, बेहतर यह रहेगा कि सदस्य सचिव अपना मुंह बंद ही रखें।”


चिदंबरम ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा, “अगर वह मोटर कार के आविष्कार का जश्न मना रहे होते, तो क्या वह हेनरी फोर्ड को हटा देते? अगर वह विमानन के जन्म का जश्न मना रहे होते, तो क्या वह राइट बंधुओं को छोड़ देते? अगर वह भारतीय विज्ञान का उत्सव मना रहे होते तो क्या वह सीवी रमन को हटा देते?” आईसीएचआर द्वारा 'आजादी का अमृत महोत्सव' समारोह के पोस्टर में नेहरू की तस्वीर न लगाने पर विवाद शुरू हो गया है, जिसके लिए विपक्षी दलों ने सरकार की आलोचना की है और इसे "तुच्छ एवं भद्दा" करार दिया है।





...

झालाना लेपर्ड रिजर्व में 'फ्लोरा' 2 शावकों के साथ आई नजर, पर्यटक रोमांचित

जयपुर : राजधानी जयपुर के झालाना लेपर्ड रिजर्व से एक बार फिर खुशखबरी मिली है। मादा लेपर्ड फ्लोरा 2 शावकों के साथ नजर आई है। झालाना लेपर्ड रिजर्व में रविवार सुबह सफारी के दौरान फ्लोरा अपने शावकों के साथ ट्रैक पर वॉक करती दिखी है।


सैलानियों ने मादा लेपर्ड को अपने बच्चों को सहेजते देखा। वो पहले एक शावक को मुंह में पकड़कर जंगल में छिपाकर आई, फिर लौटी और दूसरे शावक को भी उसी ट्रैक से लेकर जंगल में चली गई। यह दृश्य काफी रोमांचक रहा। इस दौरान पर्यटकों ने फोटो और वीडियो शूट किए। मादा लेपर्ड के साथ नन्हे शावकों की अठखेलियां पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी रही। काफी देर तक झालाना लेपर्ड सफारी कर रहे पर्यटक ट्रैक पर रुके रहे और मादा लेपर्ड के साथ शावकों की अठखेलियां अपने कैमरों में कैद करते रहे।


शावक नजर आने के बाद वन विभाग के अधिकारियों ने लेपर्ड रिजर्व क्षेत्र में निगरानी बढ़ा दी है। झालाना के क्षेत्रीय वन अधिकारी जनेश्वर चौधरी ने बताया कि यहां दूर-दराज से पर्यटक लेपर्ड सफारी का लुत्फ उठाने पहुंचते हैं। झालाना में लगातार लेपर्ड्स का कुनबा बढ़ रहा है।इससे पहले भी झालाना में दूसरी मादा लेपर्ड गजल ने शावकों को जन्म दिया था। वो भी दो शावकों के साथ नजर आई थी। सैलानियों ने उन खूबसूरत पलों को संजोकर रखा और जंगल में स्थापित किए गए कैमरा ट्रैप ने भी उसे कैप्चर किया था। समय-समय पर कैमरा ट्रैप के जरिए लेपर्ड्स की मॉनिटरिंग की जा रही है।





...

सिद्धार्थ मल्होत्रा बने 'मैन वर्ल्ड इंडिया' मैगज़ीन के डिजिटल इशू के कवर स्टार

मुंबई : हर एक्टर को अपने करियर में एक ऐसा रोल प्ले करने का मौका जरूर मिलता है जो उसका करियर डिफाइनिंग रोल कहलाता है। साल 2012 में फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर' के साथ डेब्यू करने के बाद, फाइनली सिद्धार्थ मल्होत्रा ने भी अपना करियर डिफाइनिंग रोल अदा किया है उनकी हाल ही में रिलीज़ हुई फिल्म 'शेरशाह' में। फिलहाल सिद्धार्थ फिल्म की सफलता को एन्जॉय कर रहे है और अब वह 'मैन वर्ल्ड इंडिया' मैगज़ीन के डिजिटल इशू के कवर पेज पर आये नजर। सिद्धार्थ ने कवर पेज अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया और लिखा, "ब्रेकिंग ब्लूज',इस कवर पर वह बेहद हैंडसम नजर आ रहे है। सिद्धार्थ का फिल्म शेरशाह में निभाए गए रोल को इस साल बेहतरीन परफॉरमेंस का दर्जा दिया जा रहा है। उन्होंने फिल्म में कैप्टन विक्रम बत्रा का रोल अदा किया है और इस रोल की वजह से न सिर्फ उनके फैंस और इंडस्ट्री फ्रेंड्स से उन्हें सराहना मिल रही है बल्कि रियल लाइफ आर्मी हीरोज भी उनकी तारीफ कर रहे है की सिद्धार्थ ने बहुत ही उम्दा तरीके से एक आर्मी मैन की ज़िन्दगी परदे पर दिखाई है। फिल्म शेरशाह जिसे विष्णुवर्धन ने डायरेक्ट किया है, वह अमेजन प्राइम पर स्ट्रीम कर रही है और इस फिल्म को अभी कुछ सालो में बनायीं गयी वॉर ड्रामा में सबसे ऊंची रैंकिंग दी गई है। वर्कफ्रंट पर, वह अब फिल्म 'थैंक गॉड' में नजर आएंगे जिसे इंद्र कुमार डायरेक्ट कर रहे है। यह एक एंटरटेनिंग स्लाइस ऑफ़ कॉमेडी फिल्म है जिसमे मुख्य भूमिका में अजय देवगन, रकुल प्रीत सिंह और सिद्धार्थ नजर आने वाले है। इसके साथ साथ वह 'मिशन मजनू' फिल्म में नजर आएंगे जो रॉ एजेंट की ज़िन्दगी को सेलिब्रेट करती नजर आएगी। यह फिल्म सच्ची घटनाओं पर आधारित है और इसको शांतनु बागची ने डायरेक्ट किया है और इसको प्रोडूस आरएसवीपी फिल्म्स और गिलटी बाय एसोसिएशन ने किया है।

...

मोदी ने ओलंपिक खिलाड़ियों के साथ के फोटो और वीडियो साझा किये

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टोक्यो ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेने के लिए खिलाड़ियों के साथ नाश्ते के दौरान के फोटो तथा वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किये हैं। प्रधानमंत्री ने बुधवार को ट्वीट कर फोटो तथा वीडियो साझा करते हुए लिखा, “हमारे ओलंपिक नायकों के साथ यादगार बातचीत।” खिलाड़ियों के साथ बातचीत का वीडियो साझा करते हुए एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है, “आइसक्रीम और चूरमा से लेकर अच्छे स्वास्थ्य तथा फिटनेस के साथ साथ प्रेरणादायी कहानियों और खुशी के क्षणों पर बातचीत। सात लोक कल्याण मार्ग पर नाश्ते के दौरान मेरी टोक्यो ओलंपिक दल के खिलाड़ियों के साथ बातचीत देखिये।” उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस समारोह के अगले दिन इन खिलाड़ियों को अपने निवास पर नाश्ते के लिए बुलाया था। इससे पहले उन्होंने इन खिलाडियों को स्वतंत्रता दिवस समाराेह में शामिल होने के लिए लाल किले पर भी विशेष रूप से आमंत्रित किया था। 





...

दीया मिर्जा ने फैंस के साथ साझा की बेटे की तस्वीर

नई दिल्ली : इन दिनों अपनी मदरहुड लाइफ इंजॉय कर रहीं फिल्म अभिनेत्री दीया मिर्ज़ा ने अपने बेटे की तस्वीर अपनी इंस्टा स्टोरी पर साझा की है। हालांकि इस तस्वीर में उनके बेटे का पूरा चेहरा तो नजर नहीं आ रहा, लेकिन फैंस दीया के बेटे की झलक देखकर काफी खुश हैं।


उल्लेखनीय है कि अभिनेत्री दीया मिर्ज़ा ने इस साल 15 फरवरी को अपने ब्वॉयफ्रेंड वैभव राखी से शादी की थी। इसके कुछ दिन बाद ही एक्ट्रेस ने बेबी बंप के साथ अपनी एक फोटो शेयर की और बताया कि जल्द ही वह मां बनने वाली हैं। उनकी इस खबर से फैंस चौक गए थे, क्योंकि दीया शादी से पहले ही प्रेग्नेंट हो गई थीं। 14 मई, 2021 को दीया ने सी सेक्शन से एक प्यारे से बेटे को जन्म दिया, जिसका नाम उन्होंने अव्यान रखा है। दीया इन दिनों अपना सारा समय अपने बेटे के साथ बीता रही हैं।



...

अब निया शर्मा ने जींस का बटन खोल कराया बोल्ड फोटोशूट, पार की सारी हदें

नई दिल्ली: छोटे पर्दे की मशहूर एक्ट्रेस निया शर्मा (Nia Sharma) अपने प्रोजेक्ट्स से ज्यादा अपनी बोल्डनेस के कारण चर्चा में रहती हैं. निया अपने चाहने वालों के साथ जुड़ी रहने के लिए सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं. ऐसे में उनके चाहने वालों की लिस्ट भी हर दिन लंबी होती जा रही है. एक्ट्रेस अक्सर फैंस के साथ अपनी बोल्ड पोस्ट शेयर करती रहती हैं. 

निया हर दिन बोल्डनेस की हदें तोड़ रही हैं. अब एक बार फिर से निया ने अपनी एक बोल्ड वीडियो के कारण चर्चा में आ गई हैं. इसमें उन्हें बेबी पिंक कलर का ट्यूब टॉप पहने हुए देखा जा रहा है. इसके साथ उन्होंने लो वेस्ट रिप्ड जींस कैरी की है. इस वीडियो में निया को पिंक कलर की ही नेलपेंट लगाते हुए देखा जा रहा है.

निया ने यहां पिंक शेड में ही हैवी मेकअप किया हुआ है. अपने इस लुक को पूरा करने के लिए उन्होंने अपने वेवी बालों खुला छोड़ा है.

नेलपेंट लगाने के बाद वह अपना फोटोशूट करवाने के लिए पहुंच जाती हैं. इस दौरान निया ने अपनी जींस का बटन खोल कई बोल्ड पोज दिए हैं. यहां भी उनकी अदाओं से नजरें हटा पाना मुश्किल है. 

निया को किया गया ट्रोल

निया अपने इस लुक की वजह से जहां एक ओर फैंस के बीच खूब तारीफें बटोर रही हैं. वहीं, इस लुक के कारण वह फिर से ट्रोलर्स के निशाने पर आ गई हैं. एक यूजर ने निया के टॉप पर सवाल उठाते हुए लिखा, 'क्या इतना ही कपड़ा बचा था? आपने तो भारतीय संस्कृति की बेज्जती ही कर दी.' एक अन्य यूजर ने उनकी लो वेस्ट जींस पर कहा, 'कमर बहुत खराब लग रही है थोड़ा सा ऊपर करके पहन लो.'

2010 में शुरू हुआ था निया का करियर

वैसे निया को कभी भी इन ट्रोलर्स से कोई फर्क नहीं पड़ा. वह बिना लोगों की बातों पर ध्यान दिए सिर्फ वही करती हैं जो वह करना चाहती हैं. निया ने कभी लोगों की आलोचनाओं का असर अपने काम पर नहीं पड़ने दिया. बता दें कि निया ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत 2010 में आए टीवी शो 'काली- एक अग्निपरीक्षा' से की थी.



...

संजय दत्त की बेटी त्रिशाला ने शेयर की बिकीनी वाली नई तस्वीर, जंगल में बैठकर कैमरे की तरफ की पीठ

मुंबई : संजय दत्त की बेटी त्रिशाला इस वक्त काफी सुर्खियों में हैं। वह लगातार अपने हवाई वकेशन की बोल्ड तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर रही हैं। त्रिशाला ने एक बार फिर बिकीनी में अपनी खूबसूरत तस्वीर शेयर की है, जिसमें वह जंगलों के बीच कैमरे की तरफ पीठ किए बैठी दिख रही हैं।


त्रिशाला की बिकीनी का रंग जंगलों की हरियाली से मैच होता नजर आ रहा है। तस्वीर में त्रिशाला जंगलों के बीच बहते झरने के पास बैठी दिख रही हैं। उन्होंने कैप्शन में लिखा है कि वह यहां बैठकर क्या कर रही हैं। त्रिशाला ने कहा है, 'आपको 66 मिलियन साल पीछे लेकर चलती हूं। फिलहाल इस वक्त मैं डायनोसॉर्स ढूंढ रही हूं।'


इससे पहले भी त्रिशाला इस वकेशन से दो और तस्वीरें शेयर कर चुकी हैं। इनमें से एक में यलो बिकीनी में पूल में नजर आ रही हैं त्रिशाला और दूसरे में बीच पर ब्लैक बिकीनी में दिख रही हैं।


त्रिशाला सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव हैं। हाल ही में त्रिशाला ने अपने बॉयफ्रेंड की पुण्यतिथि पर एक दर्द भरा पोस्ट किया था। बता दें कि 2 जुलाई, 2019 को त्रिशाला के इटैलियन बॉयफ्रेंड का निधन हो गया था, जिसके बाद से त्रिशाला काफई सदमे में रही हैं। इसी पोस्ट में त्रिशाला ने मां के लिए भी अपना दर्द जाहिर किया था और लिखा था कि 8 साल की छोटी उम्र में उन्होंने अपनी मां को भी खो दिया था।


बता दें कि त्रिशाला संजय दत्त की पहली वाइफ ऋचा शर्मा की बेटी हैं। संजय दत्त और ऋचा की शादी 1987 में हुई थी। शादी के बाद जहां ऋचा शर्मा कैंसर की चपेट में आ गईं, वहीं कहते हैं कि वह अपनी शादीशुदा लाइफ में खुश नहीं थीं। लाइफ के साथ-साथ रिलेशनशिप में भी दरारें आनी शुरू हो गई थी और 1996 में ऋचा शर्मा ने इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। 






...

किसान आंदोलन : यूपी गेट पर सामने आई एक ऐसी तस्वीर, जिसे आप देखना चाहेंगे बार-बार

नई दिल्ली/गाजियाबाद :  तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन का केंद्र बृहस्पतिवार से दिल्ली जंतर मंतर बन गया है। दिल्ली में एक तरफ जहां संसद का मानसून सत्र चल रहा है तो वहीं दूसरी तरफ आंदोलनकारी क‍िसानों ने भी अपनी 'किसान संसद' लगाई है। जंतर मंतर पर 'किसान संसद' में राकेश टिकैत और योगेंद्र यादव समेत कुल 200 लोग शामिल हुए हैं। यह किसान संसद रोजाना सुबह 11 बजे शुरू होगी और शाम 5 बजे तक चलेगी।

इस बीच यूपी गेट से एक बेहद खूबसूरत तस्वीर सामने आई है, जिसमें एक बुजुर्ग किसान उत्तर प्रदेश पुलिस में तैनात इंस्पेक्टर के सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दे रहा है, जबकि पुलिसकर्मी हाथ जोड़कर खड़ा है। पिछले तकरीबन 8 महीने से चल रहे किसानों के प्रदर्शन के दौरान इस तरह की यह अच्छी तस्वीर सामने आई है, जिसकी सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। लोग इंटरनेट पर 'जय जवान-जय किसान' लिखकर इस तस्वीर को शेयर कर रहे हैं। 

किसान और जवान को एक साथ मुस्कुराए राकेश टिकैत

बताया जा रहा है कि यूपी पुलिस के इंस्पेक्टर और बुजुर्ग किसान की यह तस्वीर बृहस्पतिवार सुबह की है, जब राकेश टिकैत अपने साथियों के साथ सिंघु बॉर्डर जा रहे थे। यहां से उन्हें बस में सवार होकर जंतर मंतर जाना था। जब बुजुर्ग किसान यूपी पुलिस के सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दे रहे थे, तो वहां पर खड़े किसान नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर मुस्कान थी।

गौरतलब है कि दिल्‍ली-यूपी और हरिय़ाणा बॉर्डर पर डटे आंदोलनकारी किसान बृहस्पतिवार को जंतर मंतर पहुंचे हैं। संयुक्‍त किसान मोर्चा (SKM) के नेतृत्‍व में 200 किसानों का एक जत्‍था यहां 'किसान संसद' आया है। दिल्‍ली पुलिस ने यहां पर उन्‍हें प्रदर्शन की इजाजत दी है।

प्रदर्शन की कड़ी में सिंघु बॉर्डर से 200 किसानों का जत्‍था बसों के जरिए जंतर मंतर पहुंचा है, जिसमें राकेश टिकैत और योगेंद्र यादव समेत कई किसान नेता शामिल हैं। 

सुबह 11 से शाम 5 बजे तक चलेगा प्रदर्शन

दिल्ली पुलिस और दिल्ली सरकार द्वारा दी गई अनुमति के मुताबिक, रोजाना सुबह 11 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक प्रदर्शन चलेगा। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि अगर सांसद किसानों के हक में संसद के भीतर आवाज नहीं उठाते तो चाहे वह किसी भी दल के हों, उनके क्षेत्र में उनका पुरजोर विरोध होगा। 'किसान संसद' को देखते हुए दिल्‍ली पुलिस ने जंतर मंतर पर सुरक्षा बढ़ा दी है। इसके अलावा सिंघु बॉर्डर, टीकरी बॉर्डर पर भी भारी फोर्स तैनात है।

ऑफ ड्यूटी वाले पुलिस कर्मी भी जंतर मंतर पर होंगे तैनात

कृषि सुधार कानूनों के विरोध में जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने की अनुमति प्रदर्शनकारियों को मिलने के बाद दिल्ली पुलिस चौकन्नी हो गई है। बुधवार देर शाम को पुलिस मुख्यालय से आदेश जारी कर कहा गया है कि जो पुलिस कर्मी आफ ड्यूटी पर हैं उन्हें भी जंतर मंतर पर बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे वर्दी में तैनात होना होगा ।

...

ऑफ व्हाइट साड़ी में बेहद खूबसूरत लग रही हैं चित्रांगदा सिंह

मुंबई :  अभिनेत्री चित्रांगदा सिंह ने गुरुवार को एक वर्चुअल इवेंट के लिए ऑफ-व्हाइट साड़ी पहने हुए शानदार तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट कीं।


अभिनेत्री ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर लिखा, सुंदर और सुरुचिपूर्ण वाइब्स। एक वर्चुअल इवेंट (आभासी सम्मेलन) के लिए।


पोस्ट की गई तस्वीरों में, अभिनेत्री एक लेस ब्लाउज, फिरोजा झुमके और बंधे हुए बालों के साथ एक झालरदार साड़ी पहने खूबसूरत लग रहीं हैं।


चित्रांगदा को आखिरी बार 2018 में रिलीज हुई बाजार में 2018 में देखा गया था। उन्होंने पिछले साल घूमकेतु में एक कैमियो रोल किया था।


अभिषेक बच्चन के साथ उनकी आने वाली फिल्म बॉब बिस्वास है। यह फिल्म 2012 की थ्रिलर कहानी की स्पिन-ऑफ है और दीया अन्नपूर्णा घोष द्वारा निर्देशित है। यह रेड चिलीज एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित है।



...

दिशा पटानी की नई बिकनी फोटो सोशल मीडिया पर चर्चा में

मुंबई :  बॉलीवुड अभिनेत्री और फिटनेस फ्रीक दिशा पटानी ने सोशल मीडिया पर लेपर्ड प्रिंट बिकनी में फोटो शेयर की। दिशा ने रविवार को इंस्टाग्राम पर एक नई तस्वीर पोस्ट की। फोटो में, अभिनेत्री समुद्र तट पर लेपर्ड प्रिंट बिकनी पहने पोज देती हुई नजर आईं। वहीं बैकग्राउंड में खूबसूरत समुद्र को देखा जा सकता है। दिशा ने फोटो सन इमोजी के साथ शेयर की। अभिनेत्री की तस्वीर पोस्ट करीबी दोस्त कृष्णा श्रॉफ ने कमेंट में हॉट इमोजी शेयर किए। वर्कफ्रंट की बात करें तो दिशा जॉन अब्राहम के साथ एक विलेन रिटर्न्स और एकता कपूर द्वारा निर्मित नायिका-केंद्रित नाटक केटीना में दिखाई देंगी। 






...

दवा के बिना इलाज की विधि फिजियोथैरेपी

प्राचीनकाल से दवाओं के बिना ही शरीर के रोगों की चिकित्सा का प्रचलन है। राजा-महाराजाओं के यहां युध्द के बाद आयी शिथिलता, चोटों व शरीर के अन्य रोगों को ठीक करने हेतु वैद्य व अन्य चिकित्सक रहते थे जो हड्डी बैठाने व अंगों को पुनः कार्य करने योग्य बनाते थे।


रामायण व महाभारत काल में

इस थैरेपी का प्रचलन गांवों व कस्बे में पहले से ही था। जहां जोड़ों में दर्द, घुटनों, कमर, पीठ, कंधे, जांघों, छाती इत्यादि अंगों में दर्द का, मालिश एवं व्यायाम के जरिये उपचार किया जाता था। महाभारत व रामायण काल में भी बड़े-बड़े ऋषि व मुनि भी इस चिकित्सा में पारंगत थे। अंजनी पुत्र हनुमान व विश्वमित्र भी इस विद्या में पारंगत थे, जो युध्द में हुए घायलों को अपने स्पर्श मात्र से ठीक करते थे। श्री हनुमान ने शनि को युध्द में हराने के बाद उसकी फिजियोथैरेपी की थी तथा इसी प्रकार विश्वमित्र ने भी अपने यज्ञ की रक्षा के बाद श्रीराम की फिजियोथैरेपी के बाद उन्हें दिव्य शस्त्रों का ज्ञान दिया था। लंका के सुषेण वैद्य व अन्य राक्षस भी फिजियोथैरेपी के ज्ञान में पारंगत थे। जैसे-जैसे समय बीतता गया, इस विद्या का ह्रास होता चला गया। आधुनिक काल में इस विद्या ने वैज्ञानिक रूप ले लिया है, जिससे युवाओं व युवतियों का रूझान इस ओर बढ़ता जा रहा है। 


खेलकूद से जुड़ी समस्याएं खेलकूद से जुड़ी समस्याओं की फिजियोथैरेपी करने वाले विशेषज्ञ इस क्षेत्र में पूरी तरह से सफल होते जा रहे हैं। शरीर को अनेक जटिल बीमारियों जैसे स्पांडिलाइटिस, अर्थराइटिस, साइटिक पेन, स्लिप डिस्क इत्यादि की फिजियोथैरेपिस्ट बड़ी आसानी से सफल चिकित्सा कर रहे हैं। आज इस पध्दति की बढ़ती उपयोगिता के कारण ही हृदय रोग से जुड़ी समस्याओं की चिकित्सा व्यायाम, खान-पान नियंत्रण आदि से की जाने लगी है। बच्चों की बीमारियों में भी फिजियोथैरेपी का पूरी सफलता के साथ प्रयोग किया जा रहा है। फिजियोथैरेपी की उपयोगिता सबसे अधिक आर्थोपैडिक व न्यूरोलॉजी में पड़ती है। इस संबंध में स. भगवान सिंह इंस्टीच्यूट के फिजियोथैरेपिस्ट विभाग के अध्यक्ष डा. मनीष अरोड़ा ने बताया कि आर्थोपैडिक के अन्तर्गत हड्डी की सभी बमारियों, अर्थराइटिस, गठिया, स्पांडलाइटिस, लो बैकपेन, स्लिपडिस्क, टेनिस एल्बो, पोस्ट सर्जिकल व प्री-सर्जिकल में भी फिजियोथैरेपी की महत्वपूर्ण भूमिका है। वर्तमान में स्पांडिलाइटिस व स्लिप डिस्क, लो बैकपेन की शिकायत अधिक बढ़ रही हैं। इनमें दर्द अधिक होता है, लेकिन जनता में भी जागरूकता बढ़ रही है इसलिए लोग पेन किलर खाने के बजाय फिजियोथैरेपी करना अधिक उचित समझने लगे हैं। वहीं न्यूरोलॉजी में भी इसकी एहमियत कुछ कम नहीं है।


नशे पर कंट्रोल

अब फिजियोथैरेपी के जरिये नशे पर कंट्रोल पाना भी आसान हो जायेगा। वैज्ञानिकों ने खासकर सिगरेट के नशेड़ी व्यक्ति को मामूली ट्रीटमेंट से नशे की आदतों को छुड़ाने के लिये टेक्नोलॉजी विकसित की है। लेजर थैरफ्यूटिक प्रणाली के जरिये अमेरिका ने एक स्टाप स्मोकिंग जस्ट 30 मिनट मशीन का आविष्कार किया है। एक्यूपंचर वेस्ट मशीन से मनुष्य के शरीर पर स्पर्श होते ही महज छह मिनट में असर होना शुरू हो जाता है। मशीन की नोव 10 से.मी. त्वचा के अंदर जाकर व्यक्ति के अंदर इंडोरफीन, केमिकल को अप कर देता है, जिससे मनुष्य को लगने वाली सिगरेट की तलब जीरो हो जाती है। चिकित्सा शिक्षा का क्षेत्र रोजगारपरक होने के साथ-साथ एक संतोष भी प्रदान करता है। जिन युवाओं को चिकित्सा क्षेत्र में कार्य करने की अभिलाषा है, उनके लिये फिजियोथैरेपिस्ट एक अच्छा कैरियर हो सकता है। क्योंकि आजकल मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लेना ही काफी दुष्कर होता जा रहा है। प्रवेश परीक्षाओं में बढ़ती प्रतियोगिता के कारण कई उत्साहित युवाध्युवतियां चिकित्सा क्षेत्र में जाने से वंचित रह जाते हैं। ऐसी स्थिति में फिजियोथैरेपिस्ट एक अच्छा कैरियर हो सकता है। वैसे भी आजकल लोगों का फिजियोथैरेपी के प्रति आकर्षण बढ़ता जा रहा है। 


भविष्य में ऐसी आशा की जा रही है कि फिजियोथैरेपी का क्षेत्र और अधिक व्यापक हो जायेगा। अन्य चिकित्सा पाठ्यक्रमों की अपेक्षा अभी भी फिजियोथेरेपिस्ट पाठ्यक्रम में प्रवेश लेना काफी सुविधाजनक और कम खर्चीला है। बी.पी.टी. फिजियोथैरेपिस्ट की उपाधि प्राप्त करने के लिये अभ्यर्थी कोचार वर्ष तक परिश्रम लगन के साथ प्रशिक्षण प्राप्त करना होता है। इसके बाद दो वर्ष की पढ़ाई के बाद एम.पी.टी. की डिग्री प्राप्त होती है। यह दोनों पढ़ाई उत्तराखण्ड प्रदेश के जिला देहरादून में स. भगवान सिंह मेडिकल इंस्टीच्यूट बालावाला से भी की जा सकती है। इस प्रशिक्षण के उपरांत सफल अभ्यर्थियों को किसी सरकारी या मान्यता प्राप्त चिकित्सालय में छह माह की इंटर्नशिप भी करनी होती है। देहरादून में गत वर्ष आयोजित आई.ए.पी. के राष्ट्रीय सम्मेलन में फिजियोथैरेपी पर नवीन तकनीकियों को फोकस किया गया। देश-विदेश से आये विशेषज्ञों ने इन क्षेत्र की आधुनिक चिकित्सा पध्दति से 35 मेडिकल कॉलेजों के छात्र व छात्राओं को अवगत कराया।






...

टीनएजर मां-बाप से छिपाते हैं कुछ ऐसी बातें

इस मॉडर्न जमाने में ज्यादातर मां-बाप वर्किंग हैं। व्यस्त रहने के कारण वह बच्चों की तरफ ज्यादा ध्यान नहीं दे पाते। अगर आप पैरेंटस की बजाए दोस्त की तरह अपने बच्चे से अटैच हैं तो वह अपने मन की सारी बातें आपको बताता है लेकिन कई बार कुछ बच्चे अपने मां-बाप से कुछ चीजें छिपाते हैं, खासकर टीनएजर।


स्मार्ट पैरेंट्स तो इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं कि ऐसी स्थिति में बच्चों की आदत को कैसे बदला जाए लेकिन अगर आप उनसे अटैच नहीं हैं तो आपको उनके मन की बात जानने में समय लगेगा क्योंकि उन्हें इस बात का डर होता हैं कि कहीं उनकी पिटाई न हो जाए। टीनएजर बच्चों की उम्र नाजुक होती है। इस उम्र में उनके मन में बहुत से विचार आते हैं। कई दोस्त बनते हैं, अच्छा यहीं हैं कि अगर वह कुछ गलत करते हैं तो उन्हें प्यार से बैठकर समझाया जाए।


अफेयर: टीनएज में बच्चों के अफेयर आम बात है लेकिन वह इस बात को अपने पैरेंट्स या समाज के डर से छिपाते हैं। इससे निपटने का सबसे अच्छा तरीका है कि बच्चे को आजादी दें ताकि वह आपसे सब कुछ शेयर कर सकें और बचपन से ही इसकी आदत डालें।


सीक्रेट पार्टीज: मां-बाप के जाते ही बच्चे दोस्तों के साथ सीक्रेट पार्टीज करते हैं। सीक्रेट पार्टीज का मतलब ही यहीं है कि वह आजादी चाहते हैं। जब उन्हें मां-बाप से यह आजादी नहीं मिलती तो वह इसे बाहर ही ढूंढने की कोशिश करते हैं। 


स्कूल बंक: बच्चे कई कारणों से स्कूल से भागते हैं। स्कूल बंक करने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं और वह पैरेंट्स को इसका कारण तभी बताएंगे, जब उनका व्यवहार दोस्ताना होगा।


चैटिंग: आज के इस तकनीकी युग में मोबाइल तो हर किसी के पास है। बच्चे अपने मोबाइल में दोस्तों की फ्रेंड लिस्ट भी छिपाते हैं और सीक्रेट चैटिंग करते हैं। बच्चों की इस तरह की गतिविधियों पर मां-बाप को ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है क्योंकि यह आदतें खतरनाक हैं जो उन्हें आगे चलकर मुसीबत में डाल सकते हैं। 


खास दोस्त: कुछ पैरेंटस बच्चों को कहते हैं कि आपका वो दोस्त अच्छा नहीं है उसके साथ मत रहा करो लेकिन बच्चों के लिए उन दोस्तों से दोस्ती तोड़ना मुश्किल होता है। ऐसी स्थिति में वह मां-बाप से उन दोस्तों के कोंटेक्ट छिपाते हैं ताकि उन्हें पता न चले कि अभी भी वे उन फ्रेंड्स के साथ हैं इसलिए अच्छा होगा कि पैरेंट्स बच्चों को सीधे दोस्तों के बारे में मना करने से पहले उनकी दोस्ती को गौर से समझें, फिर कोई निर्णय लें।


गलत आदतें: टीनएजर हर नई चीज को आजमाना चाहते हैं। इस उम्र में वह स्मोकिंग, शराब, ड्रग्स आदि गलत आदतों के शिकार भी हो जाते हैं और ऐसी बातें वह मां-बाप को कभी भी नहीं बताते। इसका उपाय यही है कि अपने बच्चों को समय दें और उन्हें समझें।





...

बिजली के विकल्प तलाशें

इस समस्या का उत्तम विकल्प यह है कि हम स्वतंत्र पंप स्टोरेज परियोजना बनाएं जैसा ऊपर बताया गया है। इन परियोजनाओं को नदी के पाट से अलग बनाया जा सकता है। किसी भी पहाड़ के ऊपर और नीचे उपयुक्त स्थान देख कर दो तालाब बनाए जा सकते हैं। ऐसा करने से नदी के बहाव में व्यवधान पैदा नहीं होगा। ऐसी स्वतंत्र पंप स्टोरेज परियोजना से दिन की बिजली को रात की बिजली में परिवर्तित करने में मेरे अनुमान से तीन रुपए प्रति यूनिट का खर्चा आएगा। अतः यदि हम सौर ऊर्जा के साथ स्वतंत्र पंप स्टोरेज परियोजनाएं लगाएं तो हम छह रुपए में रात की बिजली उपलब्ध करा सकते हैं…


आज संपूर्ण विश्व बाढ़, तूफान, सूखा और कोविड जैसी समस्याओं से ग्रसित है। ये समस्याएं कहीं न कहीं मनुष्य द्वारा पर्यावरण में अत्यधिक दखल करने के कारण उत्पन्न हुई दिखती हैं। इस दखल का एक प्रमुख कारण बिजली का उत्पादन है। थर्मल पावर को बनाने के लिए बड़े क्षेत्रों में जंगलों को काट कर कोयले का खनन किया जा रहा है। इससे वनस्पति और पशु प्रभावित हो रहे हैं। जल विद्युत के उत्पादन के लिए नदियों को अवरोधित किया जा रहा है और मछलियों की जीविका दूभर हो रही है। लेकिन मनुष्य को बिजली की आवश्यकता भी है। अक्सर किसी देश के नागरिकों के जीवन स्तर को प्रति व्यक्ति बिजली की खपत से आंका जाता है। अतएव ऐसा रास्ता निकालना है कि हम बिजली का उत्पादन कर सकें और पर्यावरण के दुष्प्रभावों को भी सीमित कर सकें। अपने देश में बिजली उत्पादन के तीन प्रमुख स्रोत हैं। पहला है थर्मल यानी कोयले से निर्मित बिजली। इसमें प्रमुख समस्या यह है कि अपने देश में कोयला सीमित मात्रा में ही उपलब्ध है। हमें दूसरे देशों से कोयला भारी मात्रा में आयात करना पड़ रहा है। यदि कोयला आयात करके हम अपने जंगलों को बचा भी लें तो आस्ट्रेलिया जैसे निर्यातक देशों में जंगलों के कटने और कोयले के खनन से जो पर्यावरणीय दुष्प्रभाव होंगे वे हमें भी प्रभावित करेंगे ही।


कोयले को जलाने में कार्बन का उत्सर्जन भारी मात्रा में होता है जिसके कारण धरती का तापमान बढ़ रहा है और तूफान, सूखा एवं बाढ़ जैसी आपदाएं उत्तरोत्तर बढ़ती ही जा रही हैं। बिजली उत्पादन का दूसरा स्रोत जल विद्युत अथवा हाइड्रो पावर है। इस विधि को एक साफ सुथरी तकनीक कहा जाता है चूंकि इससे कार्बन उत्सर्जन कम होता है। थर्मल पावर में एक यूनिट बिजली बनाने में लगभग 900 ग्राम कार्बन का उत्सर्जन होता है जबकि जल विद्युत परियोजनाओं को स्थापित करने में जो सीमेंट और लोहा आदि का उपयोग होता है उसको बनाने में लगभग 300 ग्राम कार्बन प्रति यूनिट का उत्सर्जन होता है। जल विद्युत् में कार्बन उत्सर्जन में शुद्ध कमी 600 ग्राम प्रति यूनिट आती है जो कि महत्त्वपूर्ण है। लेकिन जल विद्युत बनाने में दूसरे तमाम पर्यावरणीय दुष्प्रभाव पड़ते हैं। जैसे सुरंग को बनाने में विस्फोट किए जाते हैं जिससे जलस्रोत सूखते हैं और भूस्खलन होता है। बैराज बनाने से मछलियों का आवागमन बाधित होता है और जलीय जैव विविधता नष्ट होती है। बड़े बांधों में सेडीमेंट जमा हो जाता है और सेडीमेंट के न पहुंचने के कारण गंगासागर जैसे हमारे तटीय क्षेत्र समुद्र की गोद में समाने की दिशा में हैं। पानी को टर्बाइन में मथे जाने से उसकी गुणवत्ता में कमी आती है। इस प्रकार थर्मल और हाइड्रो दोनों ही स्रोतों की पर्यावरणीय समस्या है। सौर ऊर्जा को आगे बढ़ाने से इन दोनों के बीच रास्ता निकल सकता है। भारत सरकार ने इस दिशा में सराहनीय कदम उठाए हैं। अपने देश में सौर ऊर्जा का उत्पादन तेजी से बढ़ रहा है।


विशेष यह कि सौर ऊर्जा से उत्पादित बिजली का दाम लगभग तीन रुपए प्रति यूनिट आता है जबकि थर्मल बिजली का छह रुपए और जल विद्युत का आठ रुपए प्रति यूनिट। इसलिए सौर ऊर्जा हमारे लिए हर तरह से उपयुक्त है। यह सस्ती भी है और इसके पर्यावरणीय दुष्प्रभाव भी तुलना में कम हैं। लेकिन सौर ऊर्जा में समस्या यह है कि यह केवल दिन के समय में बनती है। रात में और बरसात के समय बादलों के आने-जाने के कारण इसका उत्पादन अनिश्चित रहता है। ऐसे में हम सौर ऊर्जा से अपनी सुबह, शाम और रात की बिजली की जरूरतों को पूरा नहीं कर पाते हैं। इसका उत्तम उपाय है कि ‘स्टैंड अलोन’ यानी कि ‘स्वतंत्र’ पंप स्टोरेज विद्युत परियोजनाएं बनाई जाएं। इन परियोजनाओं में दो बड़े तालाब बनाए जाते हैं। एक तालाब ऊंचाई पर और दूसरा नीचे बनाया जाता है। दिन के समय जब सौर ऊर्जा उपलब्ध होती है तब नीचे के तालाब से पानी को ऊपर के तालाब में पंप करके रख लिया जाता है। इसके बाद सायंकाल और रात में जब बिजली की जरूरत होती है तब ऊपर से पानी को छोड़ कर बिजली बनाते हुए नीचे के तालाब में लाया जाता है। अगले दिन उस पानी को पुनः ऊपर पंप कर दिया जाता है। वही पानी बार-बार ऊपर-नीचे होता रहता है। इस प्रकार दिन की सौर ऊर्जा को सुबह, शाम और रात की बिजली में परिवर्तित किया जा सकता है। विद्यमान जल विद्युत परियोजनाओं को ही पंप स्टोरेज में तब्दील कर दिया जा सकता है। जैसे टिहरी बांध के नीचे कोटेश्वर जल विद्युत परियोजनाओं को पंप स्टोरेज में परिवर्तित कर दिया गया है। दिन के समय इस परियोजना से पानी को नीचे से ऊपर टिहरी झील में वापस डाला जाता है और रात के समय उसी टिहरी झील से पानी को निकाल कर पुनः बिजली बनाई जाती है। विद्यमान जल विद्युत परियोजनाओं को पंप स्टोरेज में परिवर्तित करके दिन की बिजली को रात की बिजली में बदलने का खर्च मात्र 40 पैसे प्रति यूनिट आता है।


इसलिए तीन रुपए की सौर ऊर्जा को हम 40 पैसे के अतिरिक्त खर्च से सुबह-शाम की बिजली में परिवर्तित कर सकते हैं। लेकिन इसमें समस्या यह है कि टिहरी और कोटेश्वर जल विद्युत परियोजनाओं से जो पर्यावरणीय दुष्प्रभाव होते हैं, वे तो होते ही रहते हैं। कुएं से निकले और खाई में गिरे। सौर ऊर्जा को बनाया, लेकिन उसे रात की बिजले बनाने में पुनः नदियों को नष्ट किया। इस समस्या का उत्तम विकल्प यह है कि हम स्वतंत्र पंप स्टोरेज परियोजना बनाएं जैसा ऊपर बताया गया है। इन परियोजनाओं को नदी के पाट से अलग बनाया जा सकता है। किसी भी पहाड़ के ऊपर और नीचे उपयुक्त स्थान देख कर दो तालाब बनाए जा सकते हैं। ऐसा करने से नदी के बहाव में व्यवधान पैदा नहीं होगा। ऐसी स्वतंत्र पंप स्टोरेज परियोजना से दिन की बिजली को रात की बिजली में परिवर्तित करने में मेरे अनुमान से तीन रुपए प्रति यूनिट का खर्चा आएगा। अतः यदि हम सौर ऊर्जा के साथ स्वतंत्र पंप स्टोरेज परियोजनाएं लगाएं तो हम छह रुपए में रात की बिजली उपलब्ध करा सकते हैं जो कि थर्मल बिजली के मूल्य के बराबर होगा। इसके अतिरिक्त जब कभी-कभी अकस्मात ग्रिड पर लोड कम-जादा होता है, उस समय भी पंप स्टोरेज परियोजनाओं से बिजली को बनाकर या बंद करके ग्रिड की स्थिरता को संभाला जा सकता है। इसलिए हमें थर्मल और जल विद्युत के मोह को त्यागकर सौर एवं स्वतंत्र पंप स्टोरेज के युगल को अपनाना चाहिए। जंगल और नदियां देश की धरोहर और प्रकृति एवं पर्यावरण की संवाहक हैं। इन्हें बचाते हुए बिजली के अन्य विकल्पों को अपनाना चाहिए।




-भरत झुनझुनवाला-

(लेखक आर्थिक विश्लेषक है)



...

सोशल मीडिया पर पुलिसकर्मी भी नहीं डाल सकेंगे हथियारों की फोटो

झुंझुनूं : राजस्थान में पुलिसकर्मियों सहित लोग अब हथियारों के साथ सोशल मीडिया पर अपना फोटो अपलोड नहीं कर पाएंगे। इसके लिए पुलिस महकमे ने आदेश जारी किए हैं। जिला पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी ने आदेश जारी कर सोशल मीडिया फेसबुक, व्हाट्सअप या अन्य सोशल मीडिया मंच पर हथियार समेत फोटो अपलोड करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है। श्री त्रिपाठी ने बताया कि कोई भी पुलिस अधिकारी कर्मचारी सोशल मीडिया पर वर्दी या सादा वस्त्रों में हथियार समेत फोटो अपलोड कर रखी है वे अविलंब हटाने को कहा गया है। यदि फिर भी कोई पुलिस अधिकारी कर्मचारी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर हथियार समेत फोटो मिलने पर उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने सोशल मीडिया पर निगरानी शुरू कर दी है। इसको लेकर साइबर सैल का गठन किया गया है। जनता में भय न हो इसको लेकर पुलिस महकमे ने ऐसे लोगों पर कार्रवाई की तैयारी शुरु कर दी है। अब कोई भी युवा या व्यक्ति सोशल मीडिया पर आपराधिक गैंग के सदस्यता लेने या शेयर करने पोस्ट डालते है तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी।



...

जन्मदिन पार्टी में कोविड-19 नियमों का उल्लंघन करने पर गुजरात के पांच पुलिसकर्मियों पर मामला दर्ज

भुज : गुजरात के कच्छ जिले में जन्मदिन की एक पार्टी के दौरान कोविड-19 संबंधी दिशा निर्देशों का उल्लंघन करने के आरोप में एक पुलिस उप निरीक्षक और चार पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि यह मामला शुक्रवार रात को अंजर पुलिस थाने में दर्ज किया गया। दो हफ्ते पहले घटी इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मामला दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि चार कांस्टेबल स्थानीय अपराध शाखा के हैं जबकि उप निरीक्षक सूरत में तैनात है। कांस्टेबलों को निलंबित कर दिया गया है। वीडियो में उन्हें कोविड-19 नियमों का उल्लंघन करते हुए एक फार्महाउस में जन्मदिन पार्टी मनाते हुए, केक काटते, पटाखे जलाते हुए दिखाया गया। अंजर पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘आईपीसी की धारा 269 (जान के लिए हानिकारक किसी भी बीमारी को फैलाने की आशंका वाला गैरकानूनी कृत्य करने) और 188 (लोकसेवक द्वारा विधिवत लागू आदेश की अवहेलना) तथा महामारी रोग कानून और आपदा प्रबंधन कानून की धाराओं के तहत पांच पुलिसकर्मियों समेत कुल छह लोगों पर मामला दर्ज किया गया है।’’ उन्होंने बताया कि प्राथमिकी शुक्रवार रात को दर्ज की गई और कार्रवाई की जा रही है। कच्छ (पूर्व) के पुलिस अधीक्षक मयूर पाटिल ने कहा कि वीडियो के सामने आने के बाद चार कांस्टेबलों को तुरंत निलंबित कर दिया गया है और मामले की जांच पुलिस उपाधीक्षक को सौंपी है। मामले की जानकारी के अनुसार, आरोपियों में से एक दीप हरीभा ने 14 मई की रात को अंजर के समीप एक फार्महाउस में अपने कांस्टेबल मित्र बाबुभाई गरेजा के लिए जन्मदिन पार्टी रखी। चार अन्य पुलिसकर्मियों समेत करीब आठ लोगों को पार्टी में आमंत्रित किया गया जहां उन्होंने आधीरात को पटाखे भी जलाए। अधिकारी ने कहा, ‘‘उन्होंने सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन किया और उनमें से किसी ने मास्क नहीं पहना।’’






...

किम कार्दश‍ियन ने पहने 'ओम' लिखे झुमके, भड़के यूजर्स बोले- बेहूदा है ये, धर्म का अपमान बंद करो

मुंबई : अमेरिकी टीवी पर्सनैलिटी किम कार्दश‍ियन एक बार फिर विवादों में घ‍िर गई हैं। किम पर हिंदू धर्म की भावनाओं को आहत करने का आरोप लग रहा है। सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना हो रही है और इन सब के पीछे उनका नया फोटोशूट है। किम ने लाल रंग की ड्रेस में फोटोशूट करवाया है, लेकिन लोगों की नजर या यह कहें कि आपत्त‍ि उनके झुमकों को लेकर है। दरअसल, किम ने इन तस्‍वीरों में 'ओम' लिखे हुए डिजाइन के झुमके पहने हैं। किम कार्दश‍ियन को इस कारण सोशल मीडिया पर बुरी तरह ट्रोल किया जा रहा है।


'कीपिंग अप विद द कार्दश‍ियंस' स्‍टार किम कार्दश‍ियन सबसे मशहूर ग्‍लोबल सिलेब्रिटीज में से शुमार है। वह एक फैशन आइकन भी हैं। लोगों का गुस्‍सा इस वजह से भी ज्‍यादा है कि किम को लाखों-करोड़ों लोग फॉलो करते हैं। सोशल मीडिया यूजर्स ने किम पर हिंदू धर्म की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है। 


किम कार्दशियन ने ट्विटर पर अपने इस नए फोटोशूट की तस्‍वीरें शेयर की हैं। इनमें उन्‍होंने रेड ड्रेस के साथ फ्लोरल जैकेट कैरी किया है। किम लाल रंग के बिस्‍तर पर लेटी हुई हैं और सिल्‍वर कलर के काफी बड़े ईयरिंग्स पहने हुए नजर आ रही हैं। इन ईयररिंग्‍स पर 'ओम' शब्द का डिजाइन बना हुआ है। 'ऊं' शब्‍द की हिंदू धर्म में गहरी मान्‍यता है। धार्मिक ग्रंथों में इसे उत्‍पत्त‍ि का शब्‍द माना गया है। लोग किम को ट्विटर पर इसकी महत्ता भी बता रहे हैं।


ट्विटर पर किम को ट्रोल करते हुए एक यूजर ने लिखा है, 'यह सिर्फ एसेसरी नहीं है।' एक अन्‍य यूजर ने नाराजगी और गुस्‍सा जाहिर करते हुए लिखा है, 'हमारी संस्‍कृति और हमारे धर्म को अकेला छोड़ दो।' रिया सेन नाम की एक ट्विटर यूजर ने लिखा है, 'क्‍या आपको यह बताना पड़ेगा कि ओम हिंदुओं के लिए एक पवित्र शब्‍द और चिन्‍ह है, यह कोई एसेसरी नहीं है?'


इससे पहले बीते साल भी अप्रैल महीने में किम कार्दश‍ियन अपने मांग टीका के कारण ट्रोल हुई थीं। तब उन्‍होंने क्रॉप टॉप और बॉडीकॉन स्‍कर्ट के साथ सोने का मांग टीका कैरी किया था। उस वक्‍त भी यूजर्स ने किम पर गुस्‍सा जाहिर किया था। सोशल मीडिया यूजर्स ने अप्रैल 2020 में किम को ट्रोल करते हुए लिखा था कि जिस तरह वह बिना किसी शर्म के अन्य संस्कृतियों को अपनाकर उसका अपमान करती हैं वह बहुत बेहूदा है।

...

सावरकर की जयंती पर प्रधानमंत्री ने दी उन्हें श्रद्धांजलि


नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता संग्राम में अहम योगदान देने वाले विनायक दामोदर सावरकर की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘आजादी की लड़ाई के महान सेनानी और प्रखर राष्ट्रभक्त वीर सावरकर को उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन।’’ सावरकर का जन्म 28 मई 1883 को नासिक के भगूर गांव में हुआ। 1937 में वह हिन्दू महासभा के अध्यक्ष भी चुने गए थे। उन्हें वीर सावरकर के नाम से भी जाना जाता ह

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता संग्राम में अहम योगदान देने वाले विनायक दामोदर सावरकर की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘आजादी की लड़ाई के महान सेनानी और प्रखर राष्ट्रभक्त वीर सावरकर को उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन।’’ सावरकर का जन्म 28 मई 1883 को नासिक के भगूर गांव में हुआ। 1937 में वह हिन्दू महासभा के अध्यक्ष भी चुने गए थे। उन्हें वीर सावरकर के नाम से भी जाना जाता है।

...

कोरोना से अनाथ बच्चों को मुफ्त शिक्षा देगा आरएसएस

नोएडा : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने कोरोना महामारी में अनाथ हुए बच्चों को निश्शुल्क शिक्षा देने का निर्णय लिया है। सेक्टर-12 स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में आयोजित प्रेसवार्ता में संगठन के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय सेवा प्रमुख धनीराम ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना से प्रभावित लोगों की चिकित्सीय सहायता, निर्धन परिवारों को राशन व अन्य मदद पहुंचाने के क्रम में अब संगठन ऐसे बच्चों का जीवन संवारने के लिए आगे आया है, जिनके माता-पिता का कोरोना संक्रमण से देहांत हो गया है। संघ ऐसे बच्चों को भी पढ़ाएगा, जिनके अभिभावकों के रोजगार पर संकट है।


जो बच्चे कोरोना महामारी में अनाथ हो गए हैं, उनको सरस्वती शिशु मंदिर व सरस्वती विद्या मंदिर में प्रवेश दिलाया जाएगा। शिक्षा व आवासीय सुविधा का प्रबंध विद्या भारती करेगी। जो बच्चों अपने अभिभावकों के साथ घर पर रहकर किसी निजी स्कूल में शिक्षा लेना चाहते हैं, उनकी फीस की भरपाई, स्टेशनरी, स्कूल ड्रेस की व्यवस्था की जाएगी। सेवा भारती के क्षेत्रीय संगठन मंत्री अनिल कुमार ने बताया कि ऐसे बच्चों का डाटा जुटाने के लिए जिला प्रशासन से मदद ली जाएगी। संगठन के सभी बस्ती प्रमुख पदाधिकारियों को निर्देश हैं कि वह ऐसे बच्चों को मदद पहुंचाएं। संगठन कोरोना महामारी के दौरान जरूरतमंदों को राशन, दवाएं व अन्य जरूरी सामग्री भी दे रहा है। जिन परिवार में कोई अंतिम संस्कार करने वाला नहीं उनकी भी मदद कर रहा है।


पश्चिमी उत्तर प्रदेश विद्या भारती के क्षेत्रीय अध्यक्ष मनवीर सिंह ने बताया कि प्रदेश कोरोना महामारी से जंग लड़ रहा है। इस महामारी से कई बच्चों से सिर से मां-बाप का साया उठ गया है। उनके सामने शिक्षा जारी रखने की कठिन चुनौती है। आर्थिक परेशानी से इन बच्चों की पढ़ाई प्रभावित नहीं होनी चाहिए। इसलिए मेरठ प्रांत के करीब 400 बच्चों को पहली से 12वीं कक्षा तक निश्शुल्क शिक्षा दी जाएगी। इस मौके पर आरएसएस मेरठ के सह प्रांत प्रचार प्रमुख डॉ.अनिल त्यागी, सतेंद्र नारायण, बलवंत, संदीप और अजय मौजूद थे।





...

आंवले का एक गिलास जूस पीने से होते हैं अनगिनत फायदे

हम इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं कि अगर सेहत अच्छी होगी तभी हम अपने काम पर और परिवार की सेहत पर ध्यान दे सकते हैं। दिन की अच्छी शुरूवात एक गिलास आंवले के जूस के साथ की जाए तो सारा दिन स्फूर्ति भरा हो सकता है। सुबह खाली पेट आंवले का जूस पीने से शरीर से जुड़ी बहुत सी परेशानियों से राहत पाई जा सकती है। 

 

1.गैस की समस्या 

आजकल लोग ज्यादातर बाहर का खाने खाते हैं जैसे जंक फूड, मसाले वाला खाना जिससे पेट में गैस की समस्या हो जाती है। आंवले के जूस से इस परेशानी से छुटकारा पाया जा सकता है। आंवले में कई तरह के शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, साथ ही यह पेट के टॉक्सिक लेवल को कम करने में भी मदद करता है, जिससे पेट में होने वाले दर्द व अन्य समस्याओं से छुटकारा मिलता है। 


2.सर्दी-जुकाम से राहत 

आंवले में बहुत से औषधिय गुण पाय जाते हैं। जिससे सर्दी जुकाम जैसी बिमारियां पास नही आती।

 

3.बालों के लिए फायदेमंद

आंवले के जूस का रोजाना सेवन आपके बालों के लिए वरदान है। ये बालों को तेजी से बढ़ाने के अलावा उन्हें मजबूत और काला बनाए रखता है।

 

3.डायबिटीज को कंट्रोल करना

आंवले में गैलिक एसिड, गैलोटेनिन, एलैजिक एसिड और कोरिलैगिन पाए जाते हैं जो ब्लड ग्लूकोज लेवल को कम करते हैं और डायबिटीज को नियंत्रण में रखते हैं। इसलिए सुबह आंवले के जूस पीना न भूलें।

 

4.आपसी सबंध बेहतर 

इसमें विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।जिस कारण सेक्स के दौरान क्षमता को भी बढ़ाने में मदद करते हैं। जिससे सेक्स लाइफ और बेहतर हो जाती है।

 

5.मुंह के छालों से बचाव

आंवले का जूस आपको मुंह में होने वाले अल्सर से बचाने में मदद करता है।

 

6.त्वचा चमकाए

आंवले में एंटी-आक्सीडेटिव क्षमताएं होने के कारण यह आपकी त्वचा को बढती उम्र के प्रभावों को दूर रखने मेें मददगार हैं।

 

7.कैंसर से रोकथाम

आंवले में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, विटामिन सी और इम्यूनोमॉड्यूलेटरी, (पउउनदवउवकनसंजवतल ) के गुण पाए जाते है। इसके जूस का नियमित सेवन हमारे शरीर को कैंसर से बचाने में मदद करता है।

 

8.कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल

हाई कोलेस्ट्रॉल परेशान हैं तो सिर्फ एक गिलास आंवले का जूस आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके नियमित सेवन से खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है और शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है।




...

खामोश होती कुश्ती के अखाड़ों की रौनक

प्रतिवर्ष 23 मई का दिन विश्व कुश्ती दिवस के तौर पर मनाया जाता है। 23 मई 1904 को वियना (ऑस्ट्रिया) में विश्व की पहली ‘ग्रीको रोमन’ शैली की कुश्ती का आयोजन हुआ था। वहीं से विश्व कुश्ती दिवस मनाने की शुरुआत हुई। यूं तो कुश्ती कई स्वरूपों में लड़ी जाती है, मगर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कुश्ती ‘ग्रीको रोमन’ तथा ‘फ्री स्टाइल’ दो शैलियों में लड़ी जाती है। भारत में फ्री स्टाइल कुश्ती का प्रचलन ज्यादा रहा है। भारतीय पहलवानों ने 1920 में ‘एंटवर्प’ (बैल्जियम) में आयोजित ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में कुश्ती में पहली बार देश का प्रतिनिधित्व किया था, मगर फ्री स्टाइल कुश्ती में देश के लिए पहला ओलंपिक पदक (कांस्य) 1952 के हेलसिंकी ओलंपिक में खशाबा जाधव ने जीता था। फ्री स्टाइल कुश्ती की पहली विश्व चैंपियनशिप का आगाज 1951 में टर्की में हुआ था। मगर भारतीय सेना के पहलवान कैप्टन उदय चंद ने 1961 में ‘याकोहामा’ (जापान) में आयोजित फ्री स्टाइल कुश्ती चैंपियनशिप में देश के लिए पहला (कांस्य) पदक जीता था। ग्रीको रोमन कुश्ती की विश्व चैंपियनशिप में भारतीय पहलवान संदीप तुलसी यादव ने 2013 में ‘हंगरी’ में देश के लिए पहला (कांस्य) पदक जीता था।


 भारतीय महिला पहलवान ‘अलका तोमर’ ने 2006 में चीन के ग्वांग्जु शहर में आयोजित विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था, जो कि देश के लिए महिला कुश्ती का पहला मेडल था। देश में 1948 में कुश्ती संघ की स्थापना भी हुई तथा वर्तमान में कुश्ती विश्व चैंपियनशिप, राष्ट्र मंडल खेल व एशियन गेम्स तथा ओलंपिक जैसे बड़े खेल आयोजनों का हिस्सा बन चुकी है। भारत में कुश्ती का इतिहास हजारों वर्ष पुराना है। रामायण व महाभारत जैसे ग्रंथों में मल्लयुद्धों का पर्याप्त जिक्र हुआ है। सदियों से हमारे गांव, देहात की खेल संस्कृति का सबसे लोकप्रिय खेल व मनोरजंन का साधन परंपरागत कुश्ती ही रहा है। आज भी हजारों कुश्ती प्रेमियों को मिट्टी में आयोजित होने वाले कुश्ती मुकाबलों का उत्साह से इंतजार रहता है। हिमाचल में कई त्यौहारों व मेलों के अवसर पर कुश्ती दंगलों का आयोजन होता है। बिलासपुर के नलवाड़ी मेले में कुश्ती दंगल की परंपरा रियासत काल से चली आ रही है। घुमारवीं ग्रीष्मोत्सव का दंगल व उसी के समीप चैहड़ का अखाड़ा तथा मंडी जिला में आयोजित होने वाले दंगल देश की सबसे बड़ी पारंपरिक कुश्ती प्रतियोगिताओं में शुमार करते हैं, मगर 2020-21 के कुश्ती मुकाबलों को कोविड-19 महामारी ने अपनी जद में ले लिया है, जिसके चलते मिट्टी के अखाड़ों की महक व उनमें पहलवानों के दाव-पेंच, दंड बैठक तथा आकर्षण का मुख्य केंद्र ढोल संस्कृति की जोशीली आवाज भी खामोश हो रही है।


 ढोल संस्कृति से जुड़े कलाकारों व पारंपरिक कुश्ती लड़ने वाले पहलवानों के आर्थिक मोर्चों पर गर्दिश के बादल छा चुके हैं। पारंपरिक कुश्ती के पहलवानों की भारी भरकम खुराक व आजीविका काफी हद तक कुश्ती के शौकीन दर्शकों द्वारा दी जाने वाली ईनामी राशि पर निर्भर होती है। इस वर्ष टोक्यो में आयोजित होने वाले ओलंपिक खेलों में पदकों की ज्यादा उम्मीद फ्री स्टाइल कुश्ती से ही है, जिसमें भारत के 4 पुरुष व 4 महिला पहलवान देश की नुमाइंदगी करेंगे। इनमें भारतीय सेना के सूबेदार दीपक पुनिया 86 किलोग्राम भार वर्ग में चुनौती पेश करेंगे। यदि बात अमरीकी कुश्ती ‘वर्ल्ड रैसलिंग ऐंटरटेनमेंट’ के पहलवानों की करें तो बॉबी लेशली, ब्रॉक लेसनर व रॉब वैन डैम जैसे दिग्गज पहलवानों ने अपने खेल जीवन की शुरुआत फ्री स्टाइल कुश्ती से ही की थी। इसी कुश्ती के मशहूर अमरीकी पहलवान ‘कर्ट एंगल’ ने 1996 के अटलांटा ओलंपिक में फ्री स्टाइल कुश्ती के हैवीवेट वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था। मगर हमारे देश में कुश्ती की मजबूत बुनियाद के खलीफा फौजी गुरु कैप्टन चांद रूप, गुरु हनुमान व चांदगी राम जैसे दिग्गजों ने मिट्टी के अखाड़ों में ही तालीम देकर असंख्य अंतरराष्ट्रीय पहलवान तैयार करके विश्व के खेल मानचित्र पर भारत का परचम लहराने में अपना अविस्मरणीय योगदान दिया था। यदि आज भारतीय कुश्ती विश्व स्तर पर अपना रुतबा कायम कर रही है, देश के पहलवान कुश्ती की बुलंदियों का मुकाम हासिल कर रहे हैं, तो इस कामयाबी के पीछे मिट्टी के अखाड़ों का अक्स छिपा है।


 देश में कई राज्यों की सरकारों ने पारंपरिक कुश्ती में अच्छा प्रदर्शन करने वाले अपने पहलवानों को नौकरियां भी प्रदान की हैं। बॉलीवुड के अदाकार, निर्माता निर्देशक पहलवानों के कुश्ती जीवन पर कई फिल्में बनाकर करोड़ों रुपए कमा लेते हैं, मगर वास्तविक पहलवान बेरोजगारी के कारण गुरबत में ही जीवनयापन करके अपना भविष्य तराशते हैं। दूसरी तरफ बेलगाम महंगाई, कोरोना त्रासदी का कहर तथा क्रिकेट के प्रति बढ़ती खुमारी ने पारंपरिक कुश्ती को हाशिए पर धकेल दिया है। देश में बडे़ उद्योगपतियों की आईपीएल जैसी क्रिकेट टीमों में विदेशी खिलाड़ी भारतीय मैदानों पर खेलना भी सीख गए तथा क्रिकेट के साथ अन्य विज्ञापनों के जरिए करोड़ों रुपए कमा कर भी ले जाते हैं। यदि क्रिकेट आईपीएल तथा कबड्डी लीग की तर्ज पर परंपरागत कुश्ती की लीग का ढोल संस्कृति के साथ आयोजन हो तो पहलवानों की आर्थिक स्थिति में सुधार व संस्कृति का संरक्षण भी होगा तथा पारंपरिक कुश्ती का स्वरूप अंतरराष्ट्रीय स्तर की कुश्ती में भी दिखेगा। चूंकि गांव के युवा कुश्ती की शुरुआत मिट्टी के अखाड़ों से ही करते हैं, मगर माटी के यही रुस्तम मैट की कुश्ती पर अपनी दक्षता साबित करने में सक्षम हैं। बशर्ते कुश्ती संघ, खेल मंत्रालय व भारतीय खेल प्राधिकरण इस विषय पर गंभीरता दिखाए। परंपरागत कुश्ती के वजूद को बचाने की जद्दोजहद में लगे पहलवानों के भविष्य पर सरकारों को ध्यान देना होगा। बहरहाल खेल मंत्रालय ने पारंपरिक कुश्ती को राष्ट्रीय खेल महासंघ के रूप में मान्यता देकर मिट्टी की कुश्ती में नई जान फूंक दी है। क्यों न पुरातन धरोहर कुश्ती को राष्ट्रीय खेल घोषित करके इसका वैभव लौटाया जाए। उम्मीद है टोक्यो ओलंपिक में भारतीय कुश्ती इतिहास रचेगी।



-प्रताप सिंह पटियाल-









...

बगीचे के जाल में फंसे सांप को बचाया

नई दिल्ली :  बगीचे के जाले में उलझ गए सांप को वाइल्ड लाइफ एसओएस की टीम ने बचाया। सांप इंडियन रैट स्नेक प्रजाति का है, जो जहरीले नहीं होते हैं। छतरपुर स्थित एक फार्म हाउस के कर्मचारियों ने देखा कि एक सांप बगीचे में लगाए गए जाल में फंस गया है। जाल से बाहर निकलने के लिए संघर्ष के दौरान सांप और फंसता जा रहा है, उसकी हालत खराब हो रही है। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची टीम ने कुछ घंटों की मशक्कत के बाद सांप को बाहर निकाल लिया। एक अन्य घटना में लोधी रोड स्थित सूचना भवन से भी रैट स्नेक को निकाला गया।





...

पाकिस्तान में बस हादसे में 13 की मौत

कराची : पाकिस्तान के सिंध प्रांत में गुरुवार को एक यात्री बस के पलट जाने से कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई और 30 से अधिक घायल हो गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने सुक्कुर में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इरफान सामो के हवाले से मीडिया को बताया कि बस पंजाब के मुल्तान शहर से प्रांतीय राजधानी कराची जा रही थी। दुर्घटना के कारणों की जांच चल रही है। कुछ स्थानीय मीडिया रिपोटरें में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि मोड़ पर चालक ने तेज रफ्तार वाहन पर अपना नियंत्रण खो दिया था। घायलों को जिले के रोहरी इलाके के एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है। अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक परवेज अख्तर ने मीडिया को बताया कि छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अन्य ने अस्पताल या अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया। अख्तर ने कहा कि घायलों में से छह की हालत गंभीर है और अस्पताल उन्हें हर संभव इलाज मुहैया करा रहा है। इनमें से कुछ को जिले के अन्य अस्पतालों में शिफ्ट किया जाएगा। स्थानीय रिपोटरें में कहा गया है कि सभी मारे गए और घायल मुल्तान से आए थे और घर पर ईद-उल-फितर की छुट्टी बिताने के बाद कराची में काम करने के लिए वापस जा रहे थे। महामारी के बीच ईद की छुट्टियों के दौरान प्रांतों के बीच यात्रा पर एक सप्ताह के प्रतिबंध को हटाते हुए सरकार ने रविवार से अंतर-प्रांतीय सार्वजनिक परिवहन की अनुमति दी थी।




...

बादल फटने से चकराता क्षेत्र में 4 लापता, तीन लोग जिंदा दबे

देहरादून : उत्तराखंड में पिछले 48 घंटे से जारी बारिश के कारण कई क्षेत्रों में जनजीवन पर बुरा असर पड़ा है। देहरादून के नजदीक चकराता तहसील के बिजनाड़ छानी में गुरुवार को बादल फटने से काफी नुकसान हुआ है। चार लोगों के लापता होने और गांव के 3 लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि एसडीआरएफ ने अभी तक एक व्यक्ति को निकाले जाने की पुष्टि की है और अन्य लोगों के लापता होने की जानकारी दी है। स्थानीय प्रशासन एवं एसडीआरएफ की टीमें बचाव एवं राहत कार्यों में जुटी हैं। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने इसकी पुष्टि करते हुए गुरुवार को ट्वीट किया, "राज्य में 48 घंटे से जारी बारिश के बीच चकराता तहसील के बिजनाड़ छानी में बादल फटने से काफी नुकसान होने और चार लोगों के लापता होने का समाचार मिला। साथ ही गांव के 3 लोगों के दबे होने की आशंका भी जताई जा रही है।" फिलहाल, इस आपदा में फंसे लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए स्थानीय प्रशासन और एसडीआरएफ की टीमें जुटी हुई हैं। एसडीआरएफ के सेनानायक नवनीत भुल्लर के अनुसार तहसील चकराता के अंतर्गत ग्राम पंचायत जोगियों के ग्राम क्वांसी के बिजनाड छानी में बादल फटने के कारण दबे हुए एक व्यक्ति मुन्ना (32) को निकाल लिया गया है। दो लड़कियां काजल (13) और साक्षी (13) अभी लापता हैं। एसडीआरएफ ने ग्राम प्रधान के हवाले से बताया है कि इस घटना में तीन ही लोग दबे थे। उधर, नैनीताल जिले के भवाली इलाके में एक मकान के गिरने से 2 लोग घायल हुए हैं और उधम सिंह नगर के बाजपुर इलाके में एक मकान के गिरने से दो लोगों की मौत हो गई है। गुरुवार तड़के से ही राजधानी देहरादून सहित मसूरी, हरिद्वार, ऋषिकेश, रुड़की में भी बारिश का दौर जारी है। केदारनाथ धाम सहित ऊंचाई वाले पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी की सूचना है। भवाली में भीमताल रोड स्थित नगारी गांव में एक निर्माणाधीन मकान की सुरक्षा दीवार टूटकर गिरने से नगारी गांव निवासी प्रीति भल्ला और उनके पति जर्नल अमरजीत सिंह भल्ला घायल हो गए। सुबह रेस्क्यू कर दोनों को सीएचसी भेजा गया। बाजपुर में केलाखेड़ा के निकट गांव रम्पुरा काजी स्थित कच्चे मकान की दीवार धराशायी हो गई। कच्चे मकान के अंदर सो रहे शंकर (28) निवासी ट्रांजिट कैंप रुद्रपुर और मुकेश (40) निवासी खेड़ा रुद्रपुर की दबकर मौत हो गई। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के दौरान राज्य में भारी बारिश की संभावना को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया है। 



...

वड़ोदरा रेलवे यार्ड में खड़ी मेमू ट्रेन में लगी आग, 3 डिब्बे जले

वडोदरा/अहमदाबाद  : वडोदरा यार्ड में खड़ी एक मेमू ट्रेन में आज रहस्यमय ढंग से आग लग गयी। घटना की सूचना मिलने पर वड़ोदरा फायर ब्रिगेड के जवान मौके पर पहुंचे। एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। इसके पहले ट्रेन के तीन डिब्बे जल कर राख हो गए। संतोषजनक रहा कि कोई हताहत नहीं हुआ क्योंकि ट्रेन में कोई यात्री नहीं था और यार्ड बंद था। हालांकि मेमू ट्रेन में लगी आग का रेल परिचालन पर सामान्य रूप से असर पड़ा। बांद्रा से हरिद्वार जाने वाली देहरादून एक्सप्रेस को वड़ोदरा स्टेशन पर हा रोकना पड़ा। दमकल और रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार वड़ोदरा रेलवे यार्ड नंबर 6-7 पर सुबह 5:45 बजे खड़ी मेमू ट्रेन में आग लग गयी। लोगों ने घटना की सूचना पायलट बृजेश चंद्र को दी और तुरंत रेलवे कंट्रोल रूम को सूचना दी गई | मेमू ट्रेन में आग लगने की सूचना मिलते ही रेलवे लाइन पर बिजली आपूर्ति (ओएचई) काट दी गई। वडवाड़ी फायर ब्रिगेड की टुकड़ी कुछ ही मिनटों के भीतर मौके पर पहुंच गई। मुख्य अग्निशमन अधिकारी पार्थ ब्रह्मभट्ट भी मौके पर पहुंचे और आवश्यकतानुसार आग बुझाने के लिए टेंकर मंगवाए। मेमू ट्रेन में आग लगने से रेल लाइन प्रभावित हुई क्योंकि रेलवे लाइन की बिजली आपूर्ति (ओएचई) बंद कर दी गई। बांद्रा से हरिद्वार जाने वाली देहरादून एक्सप्रेस (ट्रेन संख्या 09019) अधिक प्रभावित रही। एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका और ट्रेन सेवा बहाल कर दी गई। रेलवे के डीआरएम, एडीआरएम और एचआर सहित वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। डीआरएमए ने मेमू ट्रेन में आग लगने के कारणों की जांच के आदेश दिए हैं। एफएसएल की टीम ने जरूरी सैंपल लेकर जांच शुरू की है।




...

भाजपा विधायक गौतमलाल का निधन, कोरोना संक्रमित थे


जयपुर : राजस्थान में भाजपा के विधायक गौतम लाल मीणा का बुधवार की सुबह निधन हो गया। वह कोरोना वायरस से संक्रमित थे।


मीणा (56) का उदयपुर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था जहां बुधवार की सुबह उनका निधन हो गया।


वे धरियावद विधानसभा सीट (प्रतापगढ़ जिला) से भाजपा के विधायक थे।


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां व अन्य नेताओं ने विधायक मीणा के निधन पर शोक जताया है।




...

चीन ने ताइवान स्ट्रेट से होकर अमेरिकी नौसेना के जहाज के गुजरने का विरोध किया

 बीजिंग : चीन ने बुधवार को हाल ही में ताइवान स्ट्रेट से होकर अमेरिकी नौसेना के एक जहाज के गुजरने का विरोध किया और इसे उकसावे वाला कदम करार दिया जिसने क्षेत्र में शांति और स्थिरता को प्रभावित किया है।


अमेरिकी नौसेना के 7वें बेड़े ने कहा कि निर्देशित मिसाइल विध्वंसक यूएसएस कर्टिस विल्बर ने अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार मंगलवार को एक नियमित दौरे पर ताइवान स्ट्रेट से गुजरा। यह मार्ग 'एक स्वतंत्र और खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लिए अमेरिकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।


नौसेना ने एक बयान में कहा, 'अमेरिकी सेना अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार कहीं भी उड़ान, समुद्र में जहाज का संचालन करना जारी रखेगी।'


यह जलडमरूमध्य क्षेत्र अंतरराष्ट्रीय जल क्षेत्र में आता है, जबकि चीन स्व-शासित ताइवान को उसका क्षेत्र होने का दावा करता है और इस क्षेत्र में अमेरिकी नौसेना की उपस्थिति को द्वीप की लोकतांत्रिक सरकार के प्रति समर्थन का प्रदर्शन मानता है।


रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर एक बयान में, पूर्वी थिएटर कमांड के प्रवक्ता कर्नल झांग चुनहुई ने कहा कि अमेरिकी कार्रवाई ताइवान के स्वतंत्र बलों को गलत संकेत भेज रही है, जानबूझकर क्षेत्रीय स्थिति को प्रभावित कर रही है और पूरे ताइवान स्ट्रेट में शांति और स्थिरता को खतरे में डाल रही है।


उन्होंने कहा कि चीनी बलों ने जहाज पर नजर रखी और उसकी निगरानी की और सभी खतरों तथा उकसावे के खिलाफ सख्ती से पहरा दिया।





...

होटल की बालकनी से गिरकर सिंगर एमसी केविन की मौत, दो हफ्ते पहले ही हुई थी शादी

मुंबई : ब्राजील के पॉप्‍युलर सिंगर एमसी केविन की रहस्‍यमयी परिस्‍थ‍ितियों में मौत हो गई है। 23 साल के केविन ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में एक होटल की पांचवीं मंजिल से नीचे गिर गए, जिसके बाद उन्‍हें मृत घोष‍ित कर दिया गया। घटना 16 मई की है। एमसी केविन ने दो हफ्ते पहले ही अपनी गर्लफ्रेंड डिओलेने बेजेरा से शादी की थी। जानकारी के मुताबिक, केविल होटल की 11वीं मंजिल पर ठहरे हुए थे। जबकि 5वीं मंजिल पर वह अपने कुछ दोस्‍तों से मिलने उनके कमरे में पहुंचे थे। केविन होटल की बालकनी में थे, जहां से वह रहस्‍मयी तरीके से नीचे गिर गए। स्‍थानीय पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और जांच में जुट गई है। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने सिंगर को दुर्घटना के फौरन बाद अस्‍पताल पहुंचाया, जहां डॉक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोष‍ित कर दिया। केविन ने दो हफ्ते पहले ही गर्लफ्रेंड डिओलेने बेजेरा से शादी की थी। डिओलेने एक क्रिमिनल लॉयर है।


केविन के निधन के बाद डिओलेने ने अपनी शादी की एक ब्‍लैक एंड फोटो शेयर करते हुए फैन्‍स के साथ एक दुखद खबर शेयर की है। डिओलेने ने तस्‍वीर के साथ एक लंबा नोट भी लिखा है। यह नोट भावुक करने वाला है। डिओलेने लिखती हैं, 'तुम मेरी जिंदगी का प्‍यार हो और हमेशा रहोगे। वह आदमी जिसने मुझे सबसे ज्‍यादा प्‍यार और सम्‍मान दिया। ईश्‍वर के पास जाओ, मैं हमेशा तुमसे प्‍यार करूंगी।' केविन की मां ने भी सोशल मीडिया पर अपने बेटे को श्रद्धांजलि देते हुए एक पोस्‍ट किया है। मां ने लिखा कि आख‍िरी बार जब केविन से उनकी बात हुई थी, तब सिंगर ने कहा था- आई लव यू मम।






...

आरएसएस ने सवा पांच लाख हनुमान चालीसा का सस्वर पाठ कर बनाया रिकार्ड

वाराणसी/प्रयागराज : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के अनुषांगिक संगठन 'कुटुम्ब प्रबोधन' ने कोरोना महामारी पर विजय पाने के लिए मंगलवार को सवा पांच लाख हनुमान चालीसा का सस्वर पाठ कर एक नया रिकार्ड बनाया है। यह आराधना एक समय पर यानी सुबह 8:30 से 9:30 बजे के बीच 11-11 बार हनुमान चालीसा का पाठ कर सम्पन्न हुआ। आरएसएस कार्यकर्ता व अन्य सज्जन शक्तियां आज सुबह अपने-अपने परिवार के साथ बैठक कर संकटहरण हनुमान चालीसा का पाठ कर कोरोना महामारी की सम्पूर्ण नाश के लिए कामना की। यह आह्वान काशी प्रान्त के कुटुम्ब प्रबोधन की ओर से किया गया था, लेकिन इसका असर हर गली-हर घर, मठ-मंदिर, गुरूकुल, अयोध्या, चित्रकूट, मथुरा-वृंदावन, राजधानी लखनऊ के साथ ही सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश में देखने और सुनने को मिला। आयोजकों ने बताया कि इस संकल्प को बिहार में भी हजारों परिवारों ने हनुमान चालीसा का सस्वर पाठ कर पूरा किया। बता दें कि यह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अनुषांगिक संगठन कुटुम्ब प्रबोधन द्वारा कोरोना महामारी से मुक्ति के लिए सवा पांच लाख श्री हनुमान चालीसा पाठ के अनुष्ठान का संकल्प लिया गया था। जिसे संघ के कार्यकर्ताओं ने बड़े उत्साह पूर्वक पूरा किया। कुटुम्ब प्रबोधन के काशी प्रान्त के प्रान्त संयोजक डॉ.सुखदेव त्रिपाठी ने बताया कि एक साथ, एक समय पर 11-11 बार हनुमान चालीसा का पाठ होना, भाव विह्वल करने जैसा था। यह विजय मंत्र 'श्रीराम जय राम जय-जय-जय राम' के संकल्प के साथ शुरू और इसी मंत्र के साथ समापन हुआ। इससे सबका उत्साह बढ़ा है, एक सकारात्मक अर्थात एक नई प्रकार की ऊर्जा का संचार हुआ है। आध्यात्मिक शक्ति की ध्वनि से पूरा वातावरण में गूंजयमान हुआ है। कहा कि संकटमोचन हनुमान के आराधना से यह कोरोना महामारी शीघ्र ही नष्ट होगी। राष्ट्र की गति पूर्ववत लौटेगी। प्रत्येक जन अपने पूर्ववत कार्य संस्कृति की ओर लौटेंगे। बताया कि इस दृश्य के बाद मेरे परिवार के कई सदस्यों के गला रुंध गए। पत्नी ने कहा कि एक साथ लाखों लोगों का पवनपुत्र हनुमान कोरोना संकट से कैसे मुक्त करेंगे। इस संकट की घड़ी में जन-जन उन्हें पुकार रहा है, उनके ऊपर क्या बीत रहा होगा। कहाकि यह भाव-भावना का प्रश्न है। सम्पूर्ण भारतीय समाज को प्रभु हनुमान पर विश्वास है। प्रयागराज के जिला कार्यवाह शिव प्रकाश के अनुसार इस कोरोना महामारी के भीषण आपदा काल में उक्त अनुष्ठान की सिद्धि के लिए हम सबने नगर के प्रमुख केन्द्रों पर पूरी तन्मयता के साथ सहभागिता की। इसके साथ ही कुछ कार्यकर्ताओं ने अपने परिवार संग घर पर ही पाठ किया। वहीं, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कौशाम्बी सम्पर्क प्रमुख डॉ अनूप कुमार का कहना है कि मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे हम सभी अपने परिवार के सदस्यों के साथ पवन पुत्र का स्मरण करते हुए परिवार के प्रत्येक सदस्य द्वारा 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। 




...

बाइक सवार तीन लोगों को कार ने मारी टक्कर, तीनों की मौत

नोएडा :  नोएडा में थाना ईकोटेक-3 क्षेत्र में हुए एक सड़क हादसे में दो महिलाओं समेत तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिये हैं। थाना फेस-3 के प्रभारी निरीक्षक भुवनेश कुमार ने बताया कि ग्राम जलपुरा के रहने वाले राजू, उनकी पत्नी मीनू तथा भाभी रूबी 16 मई को मोटरसाइकिल पर सवार होकर थाना ईकोटेक-3 क्षेत्र की कच्ची सड़क के पास से गुजर रहे थे तभी अज्ञात कार चालक ने मोटरसाइकिल में टक्कर मार दी। उन्होंने बताया टक्कर इतनी तेज थी कि मोटरसाइकिल और कार में आग लग गई। इसमें मोटरसाइकिल सवार राजू, मीनू गंभीर रूप से घायल हो गए जबकि रूबी की मौके पर ही मौत हो गयी। घायलों को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां आज दोनों की मौत हो गई। मामले की जांच की जा रही है।







...

लॉस एंजिलिस में जंगल में लगी आग और फैली, दो लोगों से की गई पूछताछ

लॉस एंजिलिस : लॉस एंजिलिस में जंगल में लगी आग के रविवार को उग्र रूप ले लेने के बाद हजारों स्थानीय निवासियों को वहां से निकालने का आदेश दिया गया और अन्य को वहां से कभी भी निकलने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। लॉस एंजिलिस के अग्निशमन विभाग ने बताया कि टोपांग स्टेट पार्क के पास लगी आग के कारण ‘‘संदेहास्पद’’ हैं और उनकी जांच जारी है। अग्निशमन विभाग की प्रवक्ता मार्गरेट स्टेवार्ट ने एक बयान में बताया कि जांचकर्ताओं ने अग्निशमन विभाग तथा लॉस एंजिलिस पुलिस विभाग के साथ मिलकर एक व्यक्ति को मामले में हिरासत में लिया था, लेकिन बाद में उसे छोड़ दिया गया। जांचकर्ताओं ने रविवार शाम एक अन्य व्यक्ति को हिरासत में लेकर उससे भी पूछताछ की। अग्निशमन विभाग ने बताया कि दिन की शुरुआत में ठंडे, नम मौसम से दमकलकर्मियों को राहत मिली थी, लेकिन दोपहर में आग फिर तेजी से फैलने लगी। उसके अनुसार, सांटा मोनिका माउंटेन्स में शुक्रवार देर रात लगी आग में जानमान का कोई नुकसान नहीं हुआ है। शनिवार को आग फैलने से पहले काफी समय तक सुलगती रही थी। आग के फैलने के बाद टोपंगा घाटी क्षेत्र के हजारों लोगों को घर खाली करने का आदेश दिया गया। रविवार शाम तक, आग ने 5.4 वर्ग किलोमीटर से अधिक क्षेत्र में फैली झाड़ियों और पेड़ों को अपनी चपेट में ले लिया था।








...

सहारनपुर में दो बाइकों की आमने-सामने से टक्कर, चार की मौत

सहारनपुर :  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में दो बाइकों की आमने-सामने की टक्कर होने से चार युवकों की मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक (देहात) अतुल शर्मा ने बताया कि शनिवार शाम को थाना देहात कोतवाली के अन्तर्गत चिलकाना रोड पर खताखेडी निवासी नदीम और अफजाल अपनी बाइक से चिलकाना की ओर जा रहे थे तभी सामने से तेज गति से आ रही एक अन्य बाइक से उनकी टक्कर हो गई। दूसरी बाइक पर अजीत और अमन सवार थे। उन्होंने बताया कि टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों बाइको के परखचे उड़ गये और दोनों बाइको पर सवार चारों युवक इस हादसे में गम्भीर रूप से घायल हो गये। शर्मा ने बताया कि सूचना मिलते ही थाना देहात कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और चारों को तुरन्त ही जिला चिकित्सालय ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने चारों को मृत घोषित कर दिया। शर्मा ने बताया कि मृतकों के परिजनों ने बिना किसी कार्यवाही के शवों को अपनी सुपुदर्गी में ले लिया। 




...

ज्ञानदेव प्रभाकर वारे : नौकरी नहीं आत्मसंतुष्टि के लिए करते हैं लावारिस शवों का अंतिम संस्कार

नई दिल्ली : कब्रिस्तान या श्मशान घाट का नाम सुनते ही या उसके आसपास से गुजरने पर मन सिहर सा जाता है, कभी इन जगहों पर जाना पड़े तो मन शोक और वितृष्णा से भर जाता है, ऐसे में मुंबई पुलिस के हेड कांस्टेबल ज्ञानदेव प्रभाकर वारे के बारे में आप क्या कहेंगे जो हर दिन ऐसे लोगों को उनके आखरी सफर पर पूरे सम्मान के साथ रवाना करने का बीड़ा उठाए हैं, जो पुलिस और अस्पताल के रिकार्ड में ‘लावारिस’ के तौर पर दर्ज हैं। पिछले दो दशक में वह 50 हजार से ज्यादा लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करवा चुके हैं, जिनमें 50 कोरोना संक्रमित शामिल हैं।


बुजुर्गों से सुनते हैं कि किन्हीं अच्छे लोगों की नेकियों के कारण यह दुनिया आज तक टिकी है। ज्ञानदेव वारे को भी ऐसे ही लोगों में शुमार किया जाना चाहिए, जो पिछले 20 बरस से भी अधिक समय से लावारिस शवों को श्मशान घाट या कब्रिस्तान तो पहुंचाते ही हैं, पूरे विधि विधान से उनके दाह संस्कार अथवा कफन दफन का बंदोबस्त भी करते हैं।


वर्ष 1995 में मुंबई पुलिस बल में शामिल हुए ज्ञानदेव ने पांच बरस तक पुलिस की नियमित ड्यूटी की। वर्ष 2000 में उन्हें विभाग का शव वाहन चलाने का काम सौंपा गया। उसके बाद से वह हर दिन मुंबई पुलिस का यह लाल और नारंगी धारी वाला काले रंग का वाहन लेकर सायन, जेजे, नायर, जीटी, सेंट जार्ज या सेवरी के टीबी अस्पताल जाते हैं और वहां से लावारिस शवों को लेकर उन्हें पूरे सम्मान के साथ उनके अंतिम सफर पर भेजने का इंतजाम करते हैं।


अपने इस उल्लेखनीय योगदान के लिए पिछले दिनों पुलिस विभाग द्वारा सम्मानित किए गए ज्ञानदेव बताते हैं कि शुरू में यह उनके लिए आसान नहीं था। उन्हें कभी क्षत विक्षत शवों को तो कभी खून से लथपथ या अंगभंग वाले शवों को अस्पताल पहुंचाना पड़ता था। शवों को उनके गंतव्य तक पहुंचाकर जब वह घर पहुंचते तो हलक से निवाला नहीं निगला जाता था, रात रात भर सो नहीं पाते थे। फिर धीरे धीरे उन्हें लगा कि ईश्वर ने उन्हें पुण्य के इस कार्य के लिए चुना है और अपने लोगों के बगैर अपने अंतिम सफर पर निकले लोगों का अपना बनकर उन्हें विधि विधान से रवाना करके वह अपना मानव धर्म निभा सकते हैं। तब से वह इसे नौकरी नहीं मानते और हर दिन कुछ अच्छा करने की तसल्ली के साथ घर जाते हैं।


सामान्य प्रक्रिया के अनुसार किसी दुर्घटना, बीमारी अथवा किसी अन्य कारण से मरने वाले व्यक्ति का यदि कोई सगा संबंधी न हो तो उसके शव को 15 दिन तक अस्पताल के मुर्दाघर में रखकर उसकी शिनाख्त की कोशिश की जाती है। यदि इस दौरान उसकी पहचान नहीं हो पाती तो उसे लावारिस मानकर पुलिस उसके अंतिम संस्कार की व्यवस्था करती है। यह पुलिस के सामान्य कार्य का हिस्सा है, लेकिन ज्ञानदेव इसमें भी एक कदम आगे रहते हैं वह मरने वाले का धर्म मालूम होने पर किसी अपने की तरह पूरे विधि विधान से उसका अंतिम संस्कार करते हैं।


ज्ञानदेव बताते हैं कि अपने 52 वर्ष के जीवन और 26 बरस के पुलिस कार्यकाल के दौरान उन्होंने कई त्रासदियां देखीं और सुनी हैं, लेकिन पूरी मानव जाति के अस्तित्व पर प्रश्नचिन्ह लगाने वाली इस कोरोना महामारी ने दुनियाभर की पिछली एक सदी की तमाम घटनाओं, दुर्घटनाओं को बौना कर दिया है। उन्होंने इस कोरोना काल में ऐसे 50 लोगों का अंतिम संस्कार कराया, जो कोरोना से संक्रमित थे। कुछ मामलों में तो उनके सगे संबंधी होते हुए भी कोई उनके अंतिम संस्कार के लिए आगे नहीं आया।


वारे बताते हैं कि आम तौर पर शव वाहन चलाने वालों का पांच वर्ष में तबादला कर दिया जाता है, लेकिन वह पिछले 20 बरस से अधिक समय से यह काम कर रहे हैं और सेवानिवृत्त होने तक यही करना चाहते हैं। उनका कहना है कि उन्हें यह काम करके तसल्ली मिलती है। हालांकि उनकी पत्नी, पुत्र और पुत्री को उनकी खैरियत की चिंता रहती है, लेकिन इस बात का गर्व भी है कि ज्ञानदेव ने लावारिस शवों के अंतिम संस्कार का जिम्मा उठाकर इंसानियत को जिंदा रखा है।




...