सैयद मुश्ताक अली टी20 में महाराष्ट्र की अगुवाई करेंगे रुतुराज

पुणे : भारतीय बल्लेबाजी की नयी सनसनी रुतुराज गायकवाड़ चार नवंबर से शुरू होने वाली सैयद मुश्ताक अली ट्राफी टी20 प्रतियोगिता में महाराष्ट् का नेतृत्व करेंगे।


महाराष्ट्र को एलीट ग्रुप ए में रखा गया है और वह लीग चरण के अपने मैच लखनऊ में खेलेगा। उसका पहला मुकाबला तमिलनाडु से होगा।


इंडियन प्रीमियर लीग में सर्वाधिक रन बनाने वाले गायकवाड़ के साथ नौशाद शेख को उप कप्तान बनाया गया है। कोलकाता नाइट राइडर्स के राहुल त्रिपाठी आईपीएल फाइनल में लगी चोट से अभी नहीं उबरे हैं और उन्हें टीम में नहीं लिया गया है।


सीनियर बल्लेबाज केदार जाधव को भी टीम में शामिल किया गया है।


महाराष्ट्र की टीम इस प्रकार है : रुतुराज गायकवाड़ (कप्तान), नौशाद शेख (उपकप्तान), केदार जाधव, यश नाहर, अजीम काजी, रंजीत निकम, सत्यजीत बछव, तरनजीत सिंह ढिल्लों, मुकेश चौधरी, आशा पालकर, मनोज इंगले, प्रदीप दाधे, शमशुजामा काजी, स्वप्निल फुलपागर, दिव्यांग हिंगानेकर, सुनील यादव, धनराजसिंह परदेशी, स्वप्निल गुगले, पवन शाह और जगदीश जोप।







...

आईपीएल 2021: वाटसन ने हेजलवुड और मैकग्रा के बीच तुलना की

दुबई : ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर शेन वॉटसन ने चेन्नई सुपर किंग्स के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा के बीच तुलना की है। उन्होंने बताया कि नियंत्रण और सटीकता के मामले में दोनों के बीच काफी समानताएं हैं।


वॉटसन ने स्टार स्पोर्ट्स सेलेक्ट डगआउट में कहा, हेजलवुड में मुझे जो चीज पसंद है, वह यह है कि उनकी उंगलियों से निकलने वाली गेंद पर उनका नियंत्रण है, और यही मैक्ग्रा के समान बनाता है। जो नियंत्रण मैकग्रा कि गेंदबाजी में तब हुआ करती थी जोश के पास यह छोटी उम्र से है, इसलिए मैने दोनों की तुलना की।


हेजलवुड ने आईपीएल 2021 में चेन्नई के लिए नौ मैचों में 8.51 की इकॉनमी रेट से आठ विकेट लिए हैं। ऑस्ट्रेलिया के लिए 17 टी20 में हेजलवुड ने 7.98 की इकॉनमी रेट से 21 विकेट लिए हैं। आईपीएल 2021 के फाइनल के बाद हेजलवुड टी 20 विश्व कप के लिए अपनी राष्ट्रीय टीम के साथ जुड़ेंगे।






...

धोनी को मैच का सफल अंत करते हुए देखना भावुक पल : फ्लेमिंग

दुबई : चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि इस महान विकेटकीपर बल्लेबाज को मैच का सफल अंत करते हुए देखना भावुक कर देने वाला क्षण था।


धोनी ने रविवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ पहले क्वालीफायर के अंतिम क्षणों में मैच का सफल अंत करने की अपनी काबिलियत का फिर से बेजोड़ नमूना पेश करके चेन्नई को चार विकेट से जीत दिलाकर नौवीं बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के फाइनल में पहुंचाया।


चेन्नई को आखिरी ओवर में 13 रन की जरूरत थी और धोनी ने टॉम कुरेन पर तीन चौके जड़कर अपनी टीम को जीत दिलायी। इससे पहले उन्होंने अवेश खान पर मिडविकेट क्षेत्र में छक्का लगाया था।


फ्लेमिंग ने मैच के बार वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह शानदार पारी थी। यह हमारे लिये भावनात्मक रूप से बहुत अच्छा था। जब भी वह (धोनी) क्रीज पर उतरते हैं तो हम उनके लिये प्रार्थना करते हैं क्योंकि हम जानते हैं कि उन पर दबाव है, उनसे उम्मीदें की गयी हैं और फिर से उन्होंने हमारे लिये मैच विजेता की भूमिका निभायी। इसलिए यह ड्रेसिंग रूम में भावुक करने वाला पल था। ’’


फ्लेमिंग से पूछा गया कि उनकी धोनी से क्या बात होती है, उन्होंने कहा, ‘‘ढेर सारी बातें होती है। हमने इन 20 ओवरों में सबसे अधिक बातें की हैं। तकनीकी को लेकर चर्चा होती है, रणनीति को लेकर बात होती है कि कैसे उस पर अमल करना है और कौन अधिक प्रभाव डाल सकता है।’’


धोनी की पारी से पहले रुतुराज गायकवाड़ ने 70 और रोबिन उथप्पा ने 63 रन की पारियां खेलकर चेन्नई की जीत की नींव रखी।


फ्लेमिंग ने उथप्पा की पारी के बारे में कहा, ‘‘हमें अपने प्रत्येक खिलाड़ी के प्रदर्शन पर गर्व है। इसलिए यह विशेष पारी थी। पहली गेंद से ही उसने अपने इरादे जतला दिये थे।’’






...

खराब दौर से गुजर रही मुंबई इंडियंस को हराकर वापसी करना चाहेगी दिल्ली कैपिटल्स

शारजाह :  पिछले मैच में मिली हार के बाद दिल्ली कैपिटल्स की नजरें आईपीएल में शनिवार को होने वाले मैच के जरिये जीत की राह पर लौटने पर लगी होंगी जबकि खराब फॉर्म से जूझ रही गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस एक जीत के बाद लय बनाये रखने की फिराक में होगी। आठ जीत के बाद प्लेआफ में जगह लगभग पक्की कर चुकी दिल्ली को कोलकाता नाइट राइडर्स ने कम स्कोर वाले मैच में तीन विकेट से हराया था। दिल्ली अब 11 मैचों में 16 अंक लेकर दूसरे स्थान पर है और पिछली उपविजेता टीम की कोशिश शीर्ष दो में रहने की होगी ताकि फाइनल में पहुंचने के दो मौके मिल सके। आईपीएल के यूएई चरण में पिछले मैच में दिल्ली को पहली पराजय झेलनी पड़ी। केकेआर के गेंदबाजों ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी के कप्तान के फैसले को सही साबित करते हुए धीमी विकेट का पूरा फायदा उठाया। सितारों से सजी दिल्ली के बल्लेबाजों में से कोई भी 20 ओवरों में एक भी छक्का नहीं लगा सका।


सुनील नारायण की फिरकी के सामने दिल्ली नौ विकेट पर 127 रन ही बना सकी। चोटिल पृथ्वी साव की जगह खेल रहे स्टीव स्मिथ ने 34 गेंद में 39 रन बनाये जबकि ऋषभ पंत ने 36 गेंद में 39 रन जोड़े। निचले मध्यक्रम के बल्ले से सिर्फ 13 रन निकले। अनुकूल पिच पर दिल्ली की स्पिन तिकड़ी रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल और ललित यादव छाप छोडने की कोशिश करेंगे। दूसरी ओर मुंबई ने आईपीएल के यूएई चरण में लगातार तीन हार के बाद पिछले मैच में पहली जीत दर्ज की। रिकॉर्ड पांच बार की चैम्पियन मुंबई के बल्लेबाजों ने निराश किया। सूर्यकुमार यादव चार मैचों में 0, 8, 5 और 3 रन ही बना सके। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और क्विंटोन डिकॉक अच्छी शुरूआत को बड़ी पारियों में नहीं बदल पाये जिससे मध्यक्रम पर दबाव बना। मुंबई के लिये अच्छी बात यह रही कि पंजाब किंग्स के खिलाफ छह विकेट से मिली जीत में सौरभ तिवारी (45 ) और हार्दिक पंड्या (40) फॉर्म में नजर आये। कीरोन पोलार्ड ने सात गेंद में नाबाद 15 रन बनाकर फिनिशर की भूमिका निभाई। तिवारी अपनी शानदार पारी के दम पर टीम में बने रह सकते हैं और देखना यह है कि खराब फॉर्म में चल रहे ईशान किशन को एक और मौका मिलता है या नहीं। गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह ने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन स्पिनर फ्लॉप रहे हैं। राहुल चाहर और कृणाल पंड्या पर अच्छे प्रदर्शन का दबाव होगा।


टीमें :


मुंबई इंडियन्स: रोहित शर्मा (कप्तान) क्विंटन डिकॉक, ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव, आदित्य तारे, अनमोलप्रीत सिंह, क्रिस लिन, सौरभ तिवारी, अनुकुल रॉय, अर्जुन तेंदुलकर, हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या, जेम्स नीशाम, जयंत यादव, कीरोन पोलार्ड, मार्को जानसेन, युद्धवीर सिंह, एडम मिल्ने, धवल कुलकर्णी, जसप्रीत बुमराह, मोहसिन खान, नाथन कूल्टर-नाइल, पीयूष चावला, राहुल चाहर, ट्रेंट बोल्ट।


दिल्ली कैपिटल्स: ऋषभ पंत (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, पृथ्वी सॉव, रिपल पटेल, शिखर धवन, शिमरोन हेटमयार, श्रेयस अय्यर, स्टीव स्मिथ, अमित मिश्रा, एनरिक नॉर्जे, आवेश खान, बेन द्वारशुइस, इशांत शर्मा, कैगिसो रबाडा, कुलवंत खेजरोलिया, लुकमान मेरीवाला, प्रवीण दुबे, टॉम कुरेन, उमेश यादव, अक्षर पटेल, ललित यादव, मार्कस स्टोइनिस, रविचंद्रन अश्विन, सैम बिलिंग्स और विष्णु विनोद।


मैच का समय : दोपहर 3.30 से। 




...

आईपीएल 2021 : मैक्सवेल की विस्फोटक पारी के दम पर आरसीबी ने राजस्थान को 7 विकेट से हराया

दुबई :  ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल (नाबाद 50) की शानदार पारी के दम पर रॉयल चेलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने यहां दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2021 के 43वें मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स को सात विकेट से हराया।


आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में नौ विकेट पर 149 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी आरसीबी की टीम ने मैक्सवेल के 30 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 50 रन की पारी के दम पर 17.1 ओवर में तीन विकेट पर 153 रन बनाकर मैच जीता।


राजस्थान की ओर से मुस्ताफिजुर रहमान ने दो विकेट लिए। इस जीत के साथ ही आरसीबी 11 मैचों में सात मुकाबले जीत 14 अंक हासिल कर अंक तालिका में तीसरे स्थान पर है।


कोहली ने लक्ष्य का पीछा करते हुए देवदत्त पडीकल के साथ मिलकर टीम को बेहतर शुरुआत दिलाई और दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 48 रन जोड़े। लेकिन मुस्ताफिजुर ने पडीकल को बोल्ड कर राजस्थान को पहली सफलता दिलाई। पडीकल ने 17 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 22 रन बनाए।


पडीकल के आउट होने के कुछ समय बाद ही कोहली तेजी से रन चुराने के चक्कर में रन आउट हो गए। कोहली ने 20 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 25 रन बनाए। फिर मैक्सवेल और श्रीकर भरत ने आरसीबी की पारी को आगे बढ़ाया और दोनों बल्लेबाजों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए तीसरे विकेट के लिए 69 रन जोड़े।


हालांकि, भरत अर्धशतक पूरा नहीं कर सके और बाउंड्री के चक्कर में कैच थमा बैठे। भरत ने 35 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 44 रन बनाए।


इसके बाद मैक्सवेल ने विस्फोटक पारी खेल टीम को जीत दिलाई। आरसीबी की पारी में एबी डीविलियर्स एक गेंद पर एक चौके की मदद से चार रन बनाकर नाबाद रहे।


इससे पहले, सलामी बल्लेबाज एविन लुइस और यशस्वी जायसवाल ने राजस्थान को शानदार शुरुआत दिलाई और दोनों ने पहले विकेट के लिए 77 रनों की साझेदारी की। हालांकि, डेनियल क्रिस्टियन ने जायसवाल को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। जायसवाल ने 22 गेंदों में तीन चौकों और दो छक्को की मदद से 31 रन बनाए।


इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान संजू सैमसन ने लुइस का साथ दिया और दोनों के बीच 23 रनों की साझेदारी हुई। लेकिन आरसीबी के लिए डेब्यू कर रहे जॉर्ज गार्टन ने लुइस को आउट कर इस बढ़ते साझेदारी का अंत किया। लुइस ने 37 गेंदों में पांच चौकों और तीन छक्कों के सहारे 58 रन बनाए।


इसके बाद राजस्थान के विकेट लगातार गिरते रहे और महिपाल लोमरोर (3), सैमसन (19), राहुल तेवतिया (2) और रियान पराग (9) रन बनाकर आउट हुए।


इसके बाद क्रिस मॉरिस ने राजस्थान की पारी को संभालने की कोशिश की पर वह भी 11 गेंदों में दो चौकों की मदद से 14 रन बनाकर आउट हो गए। मॉरिस के आउट होने के तुरंत बाद चेतन साकरिया भी दो रन बनाकर आउट हुए, जबकि कार्तिक त्यागी एक रन बनाकर नाबाद रहे।


आरसीबी की ओर से हर्षल पटेल ने तीन तथा युजवेंद्र चहल और शहबाज अहमद ने दो-दो विकेट लिए, जबकि गार्टन और क्रिस्टियन को एक-एक विकेट मिला।






...

राजस्थान रॉयल्स ने टॉस जीत कर बल्लेबाजी का फैसला किया

दुबई :  राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन ने इंडियन प्रीमियर लीग मैच में सोमवार को यहां सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया।


राजस्थान ने अंतिम एकदश में तीन जबकि हैदराबाद ने चार बदलाव किये है।


राजस्थान की टीम में एविन लुईस और क्रिस मॉरिस की वापसी हुई है जबकि जयदेव उनादकट को भी मौका दिया गया है।


हैदराबाद ने जेसन रॉय, प्रियम गर्ग, अभिषेक शर्मा और सिद्धार्थ कौल को टीम में शामिल किया है। 




...

आईपीएल 2021: धोनी और रैना की जोड़ी ने चेन्नई को छह विकेट से जीताया

शारजाह : चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने यहां शारजाह क्रिकेट स्टेडियम खेले गए आईपीएल 2021 के 35वें मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को छह विकेट से हरा दिया। सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। आरसीबी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में छह विकेट पर 156 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी सीएसके की टीम ने धोनी के नाबाद नौ गेंदों में दौ चौकों की मदद से 11 और सुरेश रैना के नाबाद दस गेंदों में दो चौकों और एक छक्के के साहारे 11 रनों की पारी के दम पर 18.1 ओवर में चार विकेट पर 157 रन बना कर मैच जीत लिया। आरसीबी की ओर से हर्षल पटेल ने दो जबकि युजवेंद्र चहल और ग्लेन मैक्सवेल ने एक-एक विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी सीएसके की टीम ने शानदार शुरूआत की और सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ और फाफ डुपलेसी ने पहले विकेट के लिए 71 रनों की साझेदारी की। चहल ने गायकवाड़ को आउट कर सीएसके का पहला झटका दिया। गायकवाड़ ने 26 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के की मदद से 38 रन की पारी खेली।


पहला विकेट गिरने के बाद डुपलेसी भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और वह भी 26 गेंदो में दो चौकों और दो छक्को की मदद से 26 रन की पारी खेली। मोइन अली (23) और अंबती रायडू के ताबड़तोड़ 22 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के के सहारे 32 रन की पारी के बदौलत सीएसके जीत के और करीब पहुंच गई। इन दोनों बल्लेबाजों के आउट होने के बाद कप्तान धोनी और रैना की जोड़ी ने टीम को जीत के दहलीज पर पहुंचाया।


इससे पहले, कप्तान कोहली और पड्डिकल ने आरसीबी को अच्छी शुरूआत दिलाई और दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 111 रनों की साझेदारी की। इस साझेदारी को ब्रावो ने कप्तान कोहली को आउट कर तोड़ा, जिन्होंने 41 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से 53 रन बनाए। इसके कुछ देर बाद नए बल्लेबाज के रुप में उतरे एबी डिविलयर्स (12) को शार्दुल ने आउट कर पवेलियन भेजा। पड्डिकल भी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए और वह भी 50 गेंदों में पांच चौकों और तीन छक्के की मदद से 70 रन बनाए। पड्डिकल का विकेट भी शार्दुल ने ही लिया। 






...

सुरेश रैना का बड़ा फैसला, कहा-महेंद्र सिंह धौनी की वजह से छोड़ सकते हैं IPL में खेलना

नई दिल्ली :  भारतीय क्रिकेट टीम के दो धुरंधर पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना ने एक साथ इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा। पिछले साल 15 अगस्त को धौनी ने अचानक संन्यास की घोषणा कर सबको चौंकाया और इसके तुरंत बात ही रैना ने भी अपने पूर्व कप्तान की जमात में शामिल होने ऐलान कर दिया। अब रैना ने एक और बड़ा बयान दिया है। उन्होंने साफ कर दिया अगर धौनी अगले आइपीएल में नहीं खेलेंगे तो वह भी संन्यास ले लेंगे।

धौनी और रैना ने आइपीएल की शुरुआत में चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेलना शुरू किया था। इसके बाद जब टीम को दो साल के लिए निलंबित किया गया तो धौनी पुणे सुपर जाइंट्स की तरफ से खेले जबकि रैना को गुजरात लॉयन्स का कप्तान बनाया गया। सीएसके की टीम की जब आइपीएल में वापसी हुई तो दोनों ही धुरंधर ने खिताबी जीत के साथ जश्न मनाया।

रैना ने न्यूज 24 से बात करते हुए कहा, "मेरे अंदर अभी भी चार पांच साल का क्रिकेट बचा हुआ है। इस साल हमें आईपीएल में खेलना है और इसके बाद दो नई टीमें अगले साल टूर्नामेंट में शामिल होंगी। लेकिन मैं सोचता हूं कि जब तक मैं आइपीएल में खेलूंगा तो बस सीएसके (चेन्नई सुपर किंग्स) की तरफ से ही खेलूंगा। मैं उम्मीद करता हूं कि इस साल हम अच्छा करें।"

"अगर धौनी भाई आइपीएल का अगला सीजन नहीं खेलते हैं तो मैं भी नहीं खेलने वाला हूं। हम चेन्नई की टीम के लिए साल 2008 से ही खेलते आ रहे हैं। अगर हम इस साल खितााब को जीत लेते हैं तो मैं उनको अगले सीजन में भी खेलने के लिए मनाने की कोशिश करूंगा। मैं पूरी कोशिश करूंगा कि वह मान जाएं लेकिन जो वह नहीं खेलते हैं तो फिर मुझे नहीं लगता है कि मैं आइपीएल में किसी और टीम की तरफ से खेलने उतरूंगा।"

 

...

IPL 2021 के दूसरे हाफ में MS Dhoni क्यों करेंगे अच्छा प्रदर्शन, दीपक चाहर ने किया खुलासा

नई दिल्ली :   IPL 2021 में महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन काफी अच्छा हो रहा था और इस लीग के स्थगित होने तक ये टीम 7 में से 5 मैच जीतकर 10 अंक के साथ अंकतालिका में दूसरे नंबर पर थी। बतौर कप्तान धौनी ने इस लीग में अपनी टीम के 7 मैचों में गजब की कप्तानी की थी, लेकिन बल्लेबाज के तौर पर वो कुछ खास नहीं कर पाए थे। अब इस बात की उम्मीद जताई जा रही है कि, आइपीएल के बाकी बचे मैचों का आयोजन किया जा सकता है और इसे लेकर सीएसके के तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने कहा कि, माही बाकी के मैचों में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। 

एम एस धौनी ने साल 2020 में यानी आइपीएल के 13वें सीजन में ज्यादा अच्छी बल्लेबाजी नहीं की थी और 14 मैचों में सिर्फ 200 रन बनाए थे और इसके बाद 2021 में भी उनकी बल्लेबाजी खास नहीं दिख रही थी। दीपक चाहर ने स्पोर्ट्स कीड़ा से बात करते हुए कहा कि, एक बल्लेबाज एक ही तरीके से 15-20 साल तक बल्लेबाजी नहीं कर सकता और ना ही उसका फॉर्म एक तरह का रह सकता है। अगर कोई बल्लेबाजी रेगुलर क्रिकेट नहीं खेल रहा है तो उसके लिए आइपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में एकदम से आकर अच्छी बल्लेबाजी करना आसान नहीं होता। उसमें खुद को ढ़ालने के लिए थोड़ा समय देना ही पड़ता है। 

दीपक चाहर ने कहा कि, माही ने हमेशा टीम के लिए फिनिशर की भूमिका निभाई है, लेकिन जब आप रेगुलर क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं तो आपको लिए थोड़ा मुश्किल हो जाता है। धौनी भाई ने साल 2018-19 में भी थोड़ी धीमी शुरुआत की थी, लेकिन टूर्नामेंट के आगे बढ़ने के साथ-साथ वो लय में आते चले गए। इस वजह से मुझे लगता है कि, आइपीएल 2021 के दूसरी फेज में हमें उनकी शानदार बल्लेबाजी देखने को मिले। चाहर ने कहा कि, धौनी खेल को काफी अच्छे तरीके से समझ लेते हैं और इसकी वजह से ही वो एक सफल कप्तान हैं।  

...

कोविड मामलों के कारण आईपीएल स्थगित करना सही फैसला : विलियमसन

साउथम्पटन :  न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमस का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के जैव सुरक्षित वातावरण का स्पष्ट तौर पर उल्लंघन हुआ था और भारत में कोविड-19 के संकट को देखते हुए इस टी20 लीग को स्थगित करना सही फैसला था।


विलियमसन ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला से पूर्व साउथम्पटन में अपने पृथकवास प्रवास से पत्रकारों से कहा, ‘‘भारत में चीजें वास्तव में तेजी से बढ़ी और दुनिया के उस हिस्से में इस तरह की चुनौतियां देखना दिल दहला देने वाली थी। ’’


उन्होंने कहा, ‘‘हमारी जैव सुरक्षित वातावरण में बहुत अच्छी देखभाल की जा रही थी। टूर्नामेंट के पहले चरण में चीजें यथावत थी लेकिन बाद में स्पष्ट तौर पर इसका उल्लंघन हुआ।’’


विलियमसन ने कहा, ‘‘टूर्नामेंट को जारी नहीं रखा जा सकता था और सही निर्णय किया गया। मेरा मानना है कि आईपीएल में इस तरह से चीजें सामने आयीं। ’’


विलियमसन ने कहा कि पिछले कुछ सप्ताह दिलचस्प रहे जबकि आईपीएल में खेल रहे न्यूजीलैंड के क्रिकेटरों और आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को 13 दिन के पृथकवास पर मालदीव भेज दिया गया और उसके बाद ही उन्हें ब्रिटेन आने की अनुमति मिली।


न्यूजीलैंड अभी इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलेगा जिसके बाद उसे 18 से 22 जून के बीच एजिस बाउल में भारत के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना है।


विलियमसन ने कहा, ‘‘चीजें सही चल रही थी और अचानक कोविड-19 के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई। यह एक देश के रूप में उनके लिये वास्तव में चुनौतीपूर्ण समय था और क्रिकेट में जैव सुरक्षित वातावरण भंग हो गया और मुझे लगता है कि इसके बाद चीजें बहुत तेजी से बदलीं। ’’








...

कोरोना के खिलाफ जंग में CSK ने बढ़ाए हाथ, तमिलनाडु के 450 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की व्यवस्था की

चेन्नई : इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर के खिलाफ लड़ाई में तमिलनाडु के लोगों के समर्थन के हाथ बढ़ाया है। राज्य के लिए चेन्नई सुपर किंग्स क्रिकेट लिमिटेड (CSKCL) ने 450 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की डिलीवरी की व्यवस्था की है। सीएसकेसीएल के निदेशक आर. श्रीनिवासन ने शनिवार को तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन की अध्यक्ष रूपा गुरुनाथ की उपस्थिति में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स सौंपी। कोविड राहत कार्यों में शामिल एक गैर सरकारी संगठन भूमिका ट्रस्ट ने इसकी आपूर्ति की व्यवस्था में सीएसकेसीएल की मदद की और वितरण का समन्वय भी करेगा। ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की पहली खेप आ गई है और शेष अगले सप्ताह के शुरू में पहुंचने की उम्मीद है। सीएसके के सीइओ केएस विश्वनाथन ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि चेन्नई और तमिलनाडु के लोग सुपरकिंग्स की दिल की धड़कन हैं और हम चाहते हैं कि उन्हें पता चले कि महामारी के खिलाफ इस लड़ाई में हम सब साथ हैं।सीएककेसीएल सरकारी अस्पतालों और ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन (GCC) द्वारा संचालित कोविड केयर सेंटर में इलाज करा रहे कोरोना संक्रमित रोगियों के लाभ के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स प्रदान कर रहा है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सीएसके बता दें कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का एक विकल्प है और इसका उपयोग अस्पतालों में और होम आइसोलेट रोगियों दोनों के लिए किया जाता है। सीएसके 'मास्क पोडु' (Wear Mask) अभियान और अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के माध्यम से से जागरूकता फैला रहा है। अप्रैल से ही सीएसके के खिलाड़ी कोविड से बचने के उपायों के महत्व पर प्रकाश डाल रहे हैं और जनता से जल्द से जल्द टीकाकरण कराने का आग्रह कर रहे हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच, तमिलनाडु सरकार ने शनिवार को बीमारी के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए 10 मई से दो सप्ताह के लिए पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की। ...

न्यूजीलैंड के सीफर्ट कोरोना पॉजिटिव, चेन्नई में करायेंगे उपचार

क्राइस्टचर्च : आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिये खेलने वाले न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सीफर्ट कोरोना पॉजिटिव पाये गए हैं और अन्य खिलाड़ियों तथा सहयोगी स्टाफ के साथ चार्टर्ड उड़ान से लौट नहीं सकेंगे । वह अहमदाबाद में पृथकवास में रहेंगे और फिर चेन्नई में निजी अस्पताल में उपचार करायेंगे । सीफर्ट का रवानगी से पहले दोनों आरटीपीसीआर पॉजिटिव आया है। न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी डेविड व्हाइट ने कहा कि सीफर्ट के पिछले दस दिन में सात टेस्ट नेगेटिव आये थे । उन्होंने यकीन जताया कि उनकी टीम उनका पूरा ख्याल रखेगी । उन्होंने कहा ,‘‘ टिम के लिये यह दुर्भाग्यपूर्ण है और हम अपनी ओर से उसकी पूरी मदद करेंगे ।उम्मीद है कि उसका टेस्ट जल्दी ही नेगेटिव आयेगा और उसे अस्पताल से छुट्टी मिल जायेगी ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ खबर मिलने के बाद से हम खिलाड़ियों के संघ के मार्फत उसके लिये मदद जुटा रहे हैं । हम उसके परिवार के संपर्क में हैं और उन्हें पूरी जानकारी दी जा रही है ।’’ पृथकवास पूरा होने और नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद वह न्यूजीलैंड रवाना होंगे जहां 14 दिन फिर पृथकवास में रहेंगे । न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों को लेकर एक चार्टर्ड उड़ान रवाना हो चुकी है और दूसरी आज शाम जायेगी । इन उड़ानों से जा रहे सभी व्यक्ति कोरोना प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करेंगे । उनकी आकलैंड पहुंचने के बाद फिर जांच की जायेगी । सीफर्ट को चेन्नई के उसी अस्पताल में रखा जायेगा जहां आस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर माइक हसी इलाज करा रहे हैं । ब्रिटेन जाने वाले न्यूजीलैंड के केन विलियमसन, मिशेल सेंटनेर, काइल जैमीसन और फिजियो टॉमी सिमसेक दिल्ली में रूकने की बजाय मालदीव चले गए हैं । न्यूजीलैंड के ट्रेनर क्रिस डोनाल्डसन भी मालदीव गए हैं जो पहले न्यूजीलैंड जाना चाहते थे । इस दल को मालदीव भेजने का फैसला इसलिये लिया गया कि उनकी ब्रिटेन रवानगी में एक हफ्ता विलंब हो सकता है।पहले लगा था कि वे 11 मई को ब्रिटेन रवाना हो जायेंगे । ...

सुनिश्चित कर रहे हैं कि सभी खिलाड़ी, स्टाफ सुरक्षित घर पहुंचें : आरसीबी

नई दिल्ली : रॉयल चेलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने कहा है कि वह यह सुनिश्ििचत कर रहा है कि टीम के सभी सदस्य सुरक्षित अपने घर पहुंच जाएं। कोरोना वायरस के कारण आईपीएल 2021 को बीच में ही स्थगित कर दिया गया था जिसके बाद टीम के खिलाड़ी अपने घर लौटने के इंतजार में हैं। आरसीबी ने बताया कि सभी घरेलू खिलाड़ी, स्टाफ और मैनेजमेंट को एक जगह ले जाया जाएगा जिसके बाद अहमदाबाद से उन्हें उनके शहरों में भेजा जाएगा। फ्रेंचाइजी ने कहा, ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी और स्टाफ मालदीव पहुंचने पर होटल में क्वारेंटीन में रहेंगे और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ एसओपी को लेकर संपर्क में रहेंगे। आरसीबी ने कहा, न्यूजीलैंड के खिलाड़ी और स्टाफ को विशेष चार्टर में ऑकलैंड भेजा गया है और वह एसओपी को लेकर न्यूजीलैंड क्रिकेट के संपर्क में रहेंगे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी मुंबई से जोहानबर्ग के लिए रवाना किए गए हैं। फ्रेंचाइजी ने कहा, हम लगातार इन खिलाड़ियों के संपर्क में रहेंगे जब तकये अपने घर नहीं पहुंच जाते और जरूरत पड़ने पर इनकी सहायता करेंगे। ...

आईपीएल में बने रहना चाहते हैं आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर : एसीए

मेलबर्न : आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स संघ (एसीए) के प्रमुख ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में दो खिलाड़ियों के कोविड-19 के लिये पॉजिटिव पाये जाने के बावजूद आस्ट्रेलिया के खिलाड़ी अपनी संबंधित फ्रेंचाइजी टीमों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता पूरी करने के लिये इस टी20 टूर्नामेंट में बने रहना चाहते हैं। कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर को इस खतरनाक वायरस के लिये पॉजिटिव पाया गया है। इससे उनका रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ सोमवार को होने वाला मैच स्थगित कर दिया गया। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के गेंदबाजी कोच एल बालाजी के पॉजिटिव आने के बाद सीएसके और राजस्थान रॉयल्स के बीच बुधवार को होने वाला मैच भी स्थगित कर दिया गया। लेकिन एसीए प्रमुख टॉड ग्रीनबर्ग ने कहा कि उनके देश के क्रिकेटरों की अभी आईपीएल छोड़ने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने हालांकि कहा कि टूर्नामेंट समाप्त होने के बाद उनकी स्वदेश वापसी को लेकर चिंता बढ़ गयी है। ग्रीनबर्ग ने रेडियो 2जीबी से कहा, ‘‘मुझे लगता है कि अधिकतर खिलाड़ी अपनी प्रतिबद्धता पूरी करने के लिये तैयार है। वे परिस्थितियों से अच्छी तरह वाकिफ होने के बाद वहां गये थे। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘वे टूर्नामेंट को समाप्त होते हुए देखना चाहते हैं, लेकिन वे इसके समाप्त होने के बाद स्वदेश लौटना चाहते हैं और यह चिंता का विषय है क्योंकि इसको लेकर कोई निश्चित योजना नहीं है कि तब यह कैसे होगा। ’’ ग्रीनबर्ग ने कहा कि केकेआर की टीम में शामिल आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी पैट कमिन्स और बेन कटिंग ठीक हैं और पृथकवास में अपेक्षाकृत सुरक्षित हैं। उन्होंने इसके साथ ही उम्मीद जतायी कि आईपीएल में आगे कोविड-19 के पॉजिटिव मामले नहीं आएंगे। ...

आईपीएल टेबल : पंजाब को हराने के बाद दिल्ली टॉप पर पहुंची

अहमदाबाद : दिल्ली कैपिटल्स ने पंजाब किंग्स पर शानदार जीत दर्ज करने के बाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14वें सीजन में अंकतालिका में शीर्ष पर अपनी जगह हासिल कर ली है। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (नाबाद 69 रन) की शानदार पारी के दम पर दिल्ली कैपिटल्स ने रविवार को यहां के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए आईपीएल के 14वें सीजन के 29वें मुकाबले में पंजाब किंग्स को सात विकेट से हराकर अंकालिका में टॉप स्थान हासिल कर लिया। दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए पंजाब को छह विकेट पर 166 रनों पर रोक दिया और फिर 17.4 ओवरों में तीन विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। दिल्ली की 8 मैचों में यह छठी जीत है और टीम अब 12 अंकों के साथ तालिका में टॉप पर पहुंच गई है। पंजाब को आठ मैचों में पांचवीं हार का सामना करना पड़ा है और टीम छह अंकों के साथ छठे नंबर पर है। दिल्ली, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और चेन्नई सुपर किंग्स के एकसमान 10.10 अंक है। लेकिन दिल्ली का नेट रन रेट बेंगलोर से बेहतर है। लेकिन चेन्नई से कम है। ...

टीम ने अब तक गेल या मलान से पारी का आगाज कराने के बारे में नहीं सोचा: अग्रवाल

अहमदाबाद : पंजाब किंग्स के कार्यवाहक कप्तान मयंक अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने लोकेश राहुल की गैरमौजूदगी में आक्रामक बल्लेबाज क्रिस गेल या डेविड मलान के उनके साथ पारी का आगाज करने की संभावना के बारे में अब तक चर्चा नहीं की है। नियमित कप्तान राहुल को आंत्रपुच्छ (अपेंडिसाइटिस) के उपचार के लिए सर्जरी की जरूरत है। उनके जल्द ही टीम से जुड़ने की संभावना कम है लेकिन टीम ने उम्मीद जताई कि मुंबई के अस्पताल में सर्जरी के बाद वह एक हफ्ते से 10 दिन के भीतर वापसी करेंगे। इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में हो रहा है और अगर राहुल को छूट नहीं मिलती है तो उन्हें पृथकवास से गुजरना होगा और ऐसी स्थिति में वह 30 मई को खत्म होने वाले टूर्नामेंट से संभवत: पूरी तरह बाहर हो सकते हैं। रविवार रात दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ हार के बाद अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘यह (गेल या मलान से पारी का आगाज कराना) ऐसी चीज है जिसके बारे में हमें बात करनी होगी लेकिन इस समय हम अपनी रणनीति पर चल रहे हैं और हमने ठीक ठाक स्कोर खड़ा किया। शायद हमने 10 रन कम बनाए।’’ अग्रवाल ने नाबाद 99 रन की पारी खेली लेकिन उनके साथी सलामी बल्लेबाज प्रभसिमरन सिंह सिर्फ 15 रन बना पाए। गेल (13) और मलान (26) ने क्रमश: तीसरे और चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की। पंजाब की टीम ने छह विकेट पर 166 रन बनाए लेकिन टीम को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। अंतिम एकादश में विदेशी खिलाड़ियों में बदलाव करके मोइजेस हैनरिक्स जैसे आलराउंडर को नियमित मौका देकर टीम को संतुलन देने के बारे में पूछने पर अग्रवाल ने कहा, ‘‘इस बारे में हम भविष्य में विचार करेंगे। दिल्ली की बल्लेबाजी को देखते हुए हमें विकेट हासिल करने के लिए बेहतर गेंदबाजी करनी थी जो हम नहीं कर पाए। हम गेंदबाजों का समर्थन करते हैं कि वे हमारे लिए ऐसा करेंगे।’’ अग्रवाल ने कहा कि कप्तान की भूमिका निभाना मुश्किल नहीं है लेकिन स्वीकार किया कि इस जिम्मेदारी से खेल के प्रति रवैया बदलता है। ...

रासी वान डर डुसेन का इस साल आईपीएल में खेलना संदिग्ध

नई दिल्ली : दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज रासी वान डर डुसेन के इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की अपनी टीम राजस्थान रॉयल्स से जुड़ने की संभावना नहीं है क्योंकि उन्हें अभी तक अपने देश के क्रिकेट बोर्ड से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) नहीं मिला है। ईएसपीएनक्रिकइन्फो की रिपोर्ट के अनुसार इस 32 वर्षीय खिलाड़ी को अज्ञात चोट के कारण एनओसी नहीं मिली है। वान डर डुसेन को इंग्लैंड के आलराउंडर बेन स्टोक्स की जगह टीम में लिया था। स्टोक्स चोटिल होने के कारण स्वदेश लौट गये हैं। रिपोर्ट में हालांकि कहा गया है कि वान डर डुसेन को भारत दौरे के लिये वीजा नहीं मिला है जो अभी कोविड-19 की दूसरी लहर से जूझ रहा है। दिलचस्प बात यह है कि वान डर डुसेन पिछले महीने पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे वनडे से पहले चोटिल होने के बाद अब पूरी तरह से फिट हो गये थे। उन्होंने 16 अप्रैल को पाकिस्तान के खिलाफ चौथे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय में 36 गेंदों पर 52 रन बनाये थे। इस बीच रॉयल्स ने इंग्लैंड के बल्लेबाज लियाम लिविंगस्टोन के स्थान पर दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज गेराल्ड कोएट्जी को अपनी टीम में शामिल किया है। लिविंगस्टोन बायो बबल संबंधी दिक्कतों के कारण हट गये थे। ...

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आईपीएल की 10 फीसदी कमाई दान करेंगे जयदेव

नई दिल्ली : राजस्थान रॉयल्स के (आरआर) बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट ने कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में देश की मदद करने के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच के वेतन का 10 प्रतिशत हिस्सा दान देने का फैसला किया है। शनिवार को साझा किए गए एक वीडियो में, 29 वर्षीय गेंदबाज ने कहा, मैं अपने आईपीएल वेतन का 10 फीसदी दान कर रहा हूं, जो जरूरतमंद लोगों के लिए आवश्यक चिकित्सा संसाधन प्रदान करने की दिशा में काम आएगा। मेरा परिवार यह सुनिश्चित करेगा कि यह सही स्थानों तक पहुंचे। उनादकट, जिन्होंने न्यूजीलैंड में 2010 विश्व कप में भारत के अंडर-19 आक्रमण का नेतृत्व किया था और 2018 से आरआर के साथ हैं, ने कहा, मैं कुछ साझा करना चाहूंगा जो मैं पिछले कुछ हफ्तों से महसूस कर रहा हूं। हमारा देश मुश्किल समय से गुजर रहा है। मुझे यह भी पता है कि एक व्यक्तिगत नुकसान कितना दर्दनाक हो सकता है और अपने जीवन के लिए लड़ रहे अपने करीबी दोस्तों को देखना कितना चिंताजनक हो सकता है। ऐसे में मैं अपनी ओर से छोटा सा योगदान देना चाहता हूं। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली और भारयी दिग्गज सचिन तेंदुलकर ने भी इस कारण का समर्थन करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की है। ...

आईपीएल-14 : राजस्थान ने हैदराबाद को 55 रनों से हराया

नई दिल्ली : राजस्थान रॉयल्स ने रविवार को यहां के अरुण जेटली स्टेडियम में खेले गए आईपीएल के 14वें सीजन के 28वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को 55 रनों से हरा दिया। राजस्थान ने टॉस हारने के बाद पहले बैटिंग करते हुए तीन विकेट पर 220 रन बनाए थे। जवाब में खेलने उतरी हैदराबाद की टीम 20 ओवरों में 8 विके ट पर 165 रन ही बना सकी। उसकी ओर से मनीष पांडे ने सर्वाधिक 31 रन बनाए जबकि विकेटकीपर जॉनी बेयर्सटो ने 30 रन बनाए। राजस्थान की ओर से मुस्ताफिजुर रहमान और क्रिस मौरिस ने तीन-तीन विकेट लिए। इससे पहले, टॉस हारकर बैटिंग कर रही राजस्थान की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में तीन विकेट पर 220 रन बनाए। बटलर ने अपनी 64 गेंदों की पारी में 11 चौके और 8 छक्के लगाए। बटलर ने आईपीएल में अपना पहला शतक लगाया है। वह इस लीग में शतक लगाने वाले चौथे अंग्रेज बल्लेबाज हैं। उनके पहले केविन पीटरसन, बेन स्टोक्स (2 बार) और जॉनी बेयरस्टो शतक लगा चुके हैं। इसके अलावा कप्तान संजू सैमसन ने 33 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की मदद से 48 रनों की पारी खेली। रियान पराग 15 रनों पर नाबाद लौटे। नए कप्तान केन विलियमसन की देखरेख में खेल रही हैदराबाद की ओर से संदीप शर्मा, राशिद खान और विजय शंकर ने एक-एक सफलता हासिल की। राजस्थान की सात मैचों में यह तीसरी जीत थी। उसके खाते में छह अंक हो गए हैं और वह बेहतर नेट रन रेट के साथ पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। दूसरी ओर, नए कप्तान की देखरेख में भी हैदराबाद को जीत नहीं मिली। उसे सीजन में सात मैचों में छठी हार झेलनी पड़ी। वह एक जीत के साथ तालिका में सबसे नीचे है। ...

अंबाती रायुडू ने लगाया ऐसा छक्का, मुंबई इंडियंस के फ्रिज का टूटा कांच

नई दिल्ली : अंबाती रायुडू शुक्रवार को मुंबई इंडियंस के खिलाफ जबर्दस्त फॉर्म में थे। उन्होंने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 20 गेंद पर 50 रन बना दिए। उनकी पारी का भी चेन्नई को 218 के स्कोर तक पहुंचाने में बड़ा किरदार रहा। हालांकि अंत में कायरन पोलार्ड की धमाकेदार पारी की वजह से मुंबई ने चार विकेट से जीत हासिल कर ली। हालांकि रायुडू की पारी का धमाल भी कम नहीं था। रायुडू ने 27 गेंद की अपनी पारी में सात छक्के लगाए। और एक छ्क्का तो ऐसा था जिसने मुंबई इंडियंस के डग आउट में रखा रेफ्रिजरेटर का शीशा तोड़ा दिया। रायुडू ने एक्स्ट्रा कवर्स के ऊपर से शॉट लगाया और गेंद सीधा जाकर मुंबई के डग आउट में रखे फ्रिज के कांच पर लगी वह टुकड़े-टुकड़े हो गया। इससे पहले, रोहित शर्मा की टीम ने टॉस जीतकर चेन्नई को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। रुतुराज गायकवाड़ हालांकि सिर्फ चार रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद फाफ डु प्लेसिस ने 28 गेंद पर 50 और मोईन अली ने 36 गेंद पर ताबड़तोड़ 58 रन बनाए। हालांकि चेन्नई का पारी के हीरो रायुडू रहे जिन्होंने 27 गेंदों पर चार चौकों और सात छक्कों की मदद से 72 रन बनाए। हालांकि रविंद्र जडेजा ने उतनी रफ्तार से रन नहीं बनाए। उन्होंने 22 गेंद पर 22 रन की पारी खेली। जवाब में मुंबई को कायरन पोलार्ड की पारी ने जीत दिलाई। उन्होंने सिर्फ 34 गेंद पर 6 चौकों और 8 छक्कों की मदद से 87 रन बनाए। ...

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए कोष जुटाएगा आरसीबी

अहमदाबाद : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने कोविड-19 महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई में रविवार को ‘आक्सीजन से संबंधित’ बुनियादी ढांचे के लिए वित्तीय सहयोग का वादा किया और आगामी मैच में खिलाड़ियों की विशेष नीली जर्सी की नीलामी करके भी कोष जुटाएगी। आरसीबी की अगुआई करने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने फ्रेंचाइजी द्वारा ट्विटर पर डाले वीडियो में कहा है कि जमीनी स्तर पर मदद कैसे की जा सकती है इसे लेकर उन्होंने चर्चा की है। कोहली ने वीडियो में कहा, ‘‘आरसीबी ने बेंगलोर और अन्य शहरों में उन अहम हिस्सों की पहचान की है जहां आक्सीजन से संबंधित स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे में तुरंत मदद की जरूरत है।’’ कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर और अपर्याप्त स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे के कारण फैली तबाही से निपटने के लिए भी टीम कोष जुटाएगी। कोहली ने कहा, ‘‘आरसीबी एक मैच में विशेष नीली जर्सी पहनकर खेलेगी जिसमें हमारी मैच किट पर अहम संदेश देते हुए इस संक्रमण से जूझने में मदद करने वालों के प्रति सम्मान और एकजुटता दिखाएगी जिन्होंने पिछले एक साल में अधिकांश समय पीपीई किट पहनकर महामारी के खिलाफ लड़ाई में बिताया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आरसीबी की टीम इस मैच में खिलाड़ियों के हस्ताक्षर वाली जर्सी की नीलामी करके पैसे जुटाएगी और स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे के समर्थन के लिए हमारे पहले के वित्तीय योगदान में इजाफा करेगी।’’ आरसीबी सोमवार को यहां कोलकाता नाइट राइडर्स से भिड़ेगी। ...

टीम के तौर पर दिल्ली कैपिटल्स का प्रदर्शन अच्छा, किसी एक पर निर्भर नहीं: धवन

अहमदाबाद : अनुभवी सलामी बल्लेबाज शिखर धवन का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मौजूदा सत्र में दिल्ली कैपिटल्स की टीम अब तक की सफलता का लुत्फ उठा रही है क्योंकि वे एकजुट होकर सही तालमेल के साथ खेल रहे है और किसी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं हैं। विकेटकीपर ऋषभ पंत की अगुवाई में इस टीम ने अपने सात में से पांच मैचों में जीत दर्ज की है और वे तालिका में शीर्ष पर काबिज चेन्नई सुपर किंग्स के बाद दूसरे स्थान पर हैं। धवन ने फ्रेंचाइजी की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा, ‘‘इस सत्र में हम टीम के तौर पर बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहे है। हम सात में से पांच मैच जीतने में सफल रहे, ऐसे में हम इस समय अच्छी स्थिति में है।’’ शानदार लय में चल रहे इस वामहस्त बल्लेबाज ने कहा, ‘‘अच्छी बात यह है कि पूरी टीम बेहतर कर रही है, और हम किसी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं हैं। हमेशा कोई ऐसा सामने आया है जिसने हमें मैच जीतने की जिम्मेदारी ली है।’’ धवन ने कहा, ‘‘हमारी टीम मजबूत है और मुझे खुशी है कि हम इस समय अच्छी स्थिति में है।’’ दिल्ली कैपिटल्स ने अपने पिछले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को सात विकेट से करारी शिकस्त दी थी। इस मैच में पृथ्वी साव ने 41 गेंद में 82 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली थी। साव ने मैच के पहले ओवर में जब छह चौके लगाये तब धवन उनके साथ क्रीज के दूसरे छोर पर खड़े थे। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले मैच में पृथ्वी को एक ओवर में छह चौके लगाते देखना शानदार था। हमने उस ओवर से 25 रन बनाये थे और मैच वहीं से हमारी पकड़ में हो गया था। उसने मेरे लिये भी खेल को आसान बना दिया क्योंकि मुझे कोई जोखिम उठाने की जरूरत नहीं पड़ी। उनकी लगभग 80 रन की यह पारी कई शतकों के बराबर है क्योंकि जिस तरह उसने रन बनायेवह अपने आप में बिल्कुल अलग स्तर का था।’’ रविवार को टीम का सामना पंजाब किंग्स से है और धवन उन्हें कमतर अंकने की गलती नहीं करना चाहते है। उन्होंने कहा, ‘‘पंजाब किंग्स एक अच्छी टीम है। हम आईपीएल में किसी भी टीम को हल्के में नहीं ले सकते। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम मैदान पर कदम रखते समय हर बार अपना सर्वश्रेष्ठ दें और अपनी योजनाओं को ठीक से लागू करें।’’ धवन ने कहा, ‘‘वे इस समय अच्छा खेल रहे हैं और हम उसका सम्मान करते हैं। हम हालांकि उन्हें हराकर अपने अभियान में एक और मैच जीतने की उम्मीद कर रहे हैं।’’ ...

खिलाड़ी चयन में निष्ठा चाहते हैं, लेकिन उनका आक्रामक नहीं होना निराशाजनक : मैकुलम

अहमदाबाद : कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कोच ब्रैंडन मैकुलम ने अपने शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि वे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के वर्तमान सत्र में अपने इरादे नहीं दिखा रहे हैं और उनमें आक्रामकता की कमी है जबकि टीम चयन में वे उनसे निष्ठा चाहते हैं। मैकुलम ने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन भारत के उदीयमान बल्लेबाज शुभमन गिल उन खिलाड़ियों में शामिल हैं जो फार्म में नहीं है। इस सलामी बल्लेबाज ने अब तक सात मैचों में केवल 132 रन बनाये हैं। मैकुलम ने दिल्ली कैपिटल्स के हाथों की टीम की हार के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह बेहद निराशाजनक है। एक खिलाड़ी के तौर पर जब चयन की बात आती है तो आप स्वतंत्रता और आत्मविश्वास तथा निष्ठा की बात करते हो। आप जब मैदान पर उतरते हो तो आपको आक्रामक होकर खेलने और चीजों को टीम के पक्ष में मोड़ने की आवश्यकता होती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं और कप्तान (इयोन मोर्गन) खिलाड़ियों से इस तरह की क्रिकेट खेलने के लिये कहते रहे हैं लेकिन दुर्भाग्य से हम ऐसा नहीं कर पा रहे हैं। हम निश्चित तौर पर वह नहीं कर पा रहे हैं जिसकी हमें जरूरत है। ’’ केकेआर ने दिल्ली कैपिटल्स को 154 रन का लक्ष्य दिया जो उसने आसानी से हासिल कर दिया। पृथ्वी सॉव ने शिवम मावी के पहले ओवर में छह चौके लगाये। उनके 41 गेंदों पर 82 रन से टीम को आसान जीत दिलायी। मैकुलम ने कहा, ‘‘हमने आज पृथ्वी सॉव की जैसी बल्लेबाजी देखी वह इसका शानदार उदाहरण है कि हम कैसा खेलना चाहते हैं। आप हमेशा प्रत्येक गेंद पर चौका या छक्का नहीं जड़ सकते हो लेकिन आपके पास ऐसा करने के लिये इरादा होना चाहिए विशेषकर तब जबकि आपको स्वच्छंद होकर खेलने की छूट दी गयी हो। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘यदि आप रन बनाने के लिये शॉट नहीं खेलते हो तो मुश्किल होती है और दुर्भाग्य से आज रात हमने पर्याप्त शॉट नहीं खेले। ’’ ...

डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले कोहली के झांसे में नहीं आ रहे हैं जेमीसन

अहमदाबाद : विराट कोहली न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल की तैयारियों के लिये इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में नेट अभ्यास के दौरान अपनी तरफ से हर संभव प्रयास कर रहे हैं लेकिन उनके वर्तमान साथी और कीवी टीम के तेज गेंदबाज काइल जैमीसन उनके झांसे में नहीं आ रहे हैं। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के आलराउंडर डैन क्रिस्टियन ने खुलासा कि जैमीसन अपने साथ दो ड्यूक गेंदें भी लेकर आये है। साउथम्पटन में 18 जून से भारत और न्यूजीलैंड के बीच होने वाले डब्ल्यूटीसी फाइनल में ड्यूक गेंदों का ही उपयोग किया जाएगा। जैमीसन पहली बार आईपीएल में खेल रहे हैं और आरसीबी ने उन्हें 15 करोड़ रुपये में खरीदा था। आरसीबी के कप्तान कोहली जब भी जैमीसन से नेट अभ्यास के दौरान ड्यूक गेंदों से गेंदबाजी करने के लिये कहते हैं तो कीवी गेंदबाज उनके झांसे में नहीं आता है। क्रिस्टियन ने कहा, ‘‘हम पहले सप्ताह से यहां है। हम तीनों (कोहली, जैमीसन और क्रिस्टियन) नेट सत्र के बाद बैठे हुए थे और वे दोनों टेस्ट क्रिकेट के बारे में बात कर रहे थे। विराट ने कहा, ‘तो जैमी (काइल जैमीसन) तुमने ड्यूक गेंदों से बहुत गेंदबाजी की है।’ और वे इस पर बात कर रहे थे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘विराट के पूछने पर जैमी ने कहा, ‘हां, मेरे पास यहां भी दो ड्यूक गेंदे हैं। मेरे पास वहां जाने से पहले ऐसी गेंदों से गेंदबाजी करने का अनुभव होगा।’ इस पर विराट ने कहा, ‘अच्छा तो क्या तुम मुझे नेट्स पर उन गेंदों से गेंदबाजी करना चाहते हो। मुझे उनका सामना करने में खुशी होगी।’’ क्रिस्टियन ने द ग्रेड क्रिकेटर्स यूट्यूब चैनल से कहा, ‘‘इस पर जैमी ने कुछ इस तरह से कहा, ‘आपको गेंदबाजी करने का मतलब ही पैदा नहीं होता। ’ वह (कोहली) ड्यूक गेंदों से उसकी गेंदबाजी को परखना चाहते थे।’’ पिछले साल के शुरू में जब भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड का दौरा किया था तो जैमीसन ने कोहली सहित कई भारतीय बल्लेबाजों को परेशानी में डाला था। ...

हमारी बल्लेबाजी और गेंदबाजी बहुत अच्छी रही : महेंद्र सिंह धोनी

नई दिल्ली : सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आईपीएल के 14वें सीजन के 23वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मिली सात विकेट की जीत का श्रेय टीम की गेंदबाजी और बल्लेबाजी को दी है। चेन्नई सुपर किंग्स ने ऋतुराज गायकवाड़ (75) और फॉफ डुप्लेसिस (56) के अर्धशतकों की मदद से बुधवार को यहां के अरुण जेटली स्टेडियम में खेले गए आईपीएल के 14वें सीजन के 23वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को सात विकेट से हरा दिया। धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘हमारी बैटिंग बहुत अच्छी थी, इसका मतलब यह नहीं की गेंदबाजों ने अच्छा काम नहीं किया। आज ओस बिल्कुल भी नहीं थी। मुझे लगता हैं कि हमनें टीम को सेटल किया है। हम 5-6 महीने क्रिकेट से दूर थे।’ हैदराबाद ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 171 रनों का स्कोर बनाया, जिसे चेन्नई ने 18.3 ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। चेन्नई के कप्तान ने कहा, ‘मुझे लगता है कि खिलाड़ियों ने जिम्मेदारी ली है। अगर आप देखो तो पिछले 10 सालों में हमने ज्यादा बदलाव नहीं किए हैं। हम बाहर बैठे खिलाड़ियों का खूब ध्यान रखते हैं। ड्रेसिंग रूम का माहौल सही रखना बेहद जरूरी है।’ चेन्नई की छह मैचों में यह लगातार पांचवीं जीत है और अब वह 10 अंकों के साथ फिर से टेबल में टॉप पर पहुंच गई है। हैदराबाद की छह मैचों में यह पांचवीं हार है और टीम दो अंकों के साथ तालिका में सबसे नीचे है। ...

आत्मविश्वास या संयम नहीं गंवाना महत्वपूर्ण : बेलिस

नई दिल्ली : सनराइजर्स हैदराबाद के मुख्य कोच ट्रेवर बेलिस ने कहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में लगातार पांच मैव गंवाने के बाद उनकी टीम के लिये यह महत्वपूर्ण है कि वह आत्मविश्वास या संयम नहीं खोये। बेलिस ने कहा कि ऐसा कोई कारण नजर नहीं आता जिससे यह कहा जा सके कि उनकी टीम वापसी नहीं कर सकती। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे कहने का मतलब है कि यदि आप पहले पांच मैचों में पर गौर कर रहे हो तो हमने पहले चार मैच लगभग 10 रन के अंतर से गंवाये। हमने एक या दो कैच छोड़े, एक या दो बार खराब क्षेत्ररक्षण किया या एक या दो खराब ओवर किये। निश्चित तौर पर चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने हमें आसानी से हराया।’’ बेलिस ने बुधवार को सीएसके हाथों सात विकेट से हार के बाद कहा, ‘‘महत्वपूर्ण चीज यह है कि हम अपना आत्मविश्वास या संयम नहीं गंवाये। हम मिलकर काम करें और कड़ी मेहतन करते रहें। टी20 इस तरह का खेल है जिसमें पासा पलटने में देर नहीं लगती। ऐसा कोई कारण नजर नहीं आता जो हम वैसा नहीं कर सकते जैसा हमने पिछली बार किया था। ’’ सनराइजर्स ने छह मैचों में केवल एक जीत दर्ज की है और वह अंकतालिका में अंतिम स्थान पर है। बेलिस ने कहा, ‘‘हमें बैठकर बात करनी होगी। टीम में बहुत अधिक बदलाव करने की जरूरत नहीं है। चेन्नई में हमें एक दो बदलाव करने पड़ रहे थे। हम अपनी टीम का सही संयोजन तैयार करने के लिये अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेंगे। ’’ ...

प्रीमियर लीग, बुंदेसलीगा ने लॉकडाउन के बीच खेल जारी रखने का खाका तैयार किया : मोर्गन

अहमदाबाद : इंग्लैंड और कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान इयोन मोर्गन भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने से दुखी हैं लेकिन उन्होंने संकेत दिये कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) जारी रह सकता है क्योंकि बुंदेसलीगा और प्रीमियर लीग ने लॉकडाउन के बीच खेल जारी रखने का अच्छा खाका तैयार किया है। आईपीएल की 2020 में यूएई में आयोजन के बाद छह महीने के अंदर भारत में वापसी हुई है लेकिन उस पर कोविड-19 की दूसरी लहर का साया मंडरा रहा है। आस्ट्रेलिया के कुछ खिलाड़ी और भारत के रविचंद्रन अश्विन टूर्नामेंट से हट गये हैं। भारत में स्वास्थ्य संकट गहरा गया है तथा कई राज्यों ने कड़े प्रतिबंध लगा दिये हैं जिनमें रात का कर्फ्यू और लॉकडाउन शामिल है। मोर्गन ने केकेआर की पंजाब किंग्स के खिलाफ पांच विकेट से जीत के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछले साल ब्रिटेन में हम लंबे समय तक कड़े लॉकडाउन से गुजरे थे और लग रहा था कि लंबे समय तक क्रिकेट नहीं खेला जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब हम पहली बार लॉकडाउन से बाहर आए तो मुझे याद है कि हमने टीवी पर पहला खेल शायद न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया में देखा था। यह रग्बी यूनियन लीग थी और इसके बाद धीरे धीरे बुंदेसलीगा और फिर प्रीमियर लीग शुरू हुई।’’ मोर्गन ने कहा, ‘‘इससे लगभग यह साबित हो गया कि देश में पूरे लॉकडाउन के बावजूद आप खेल जारी रख सकते हो। इसलिए निश्चित तौर पर इसके लिये उदाहरण हैं कि ऐसा हो सकता है। ’’ महामारी से मिलकर लड़ने का संदेश देते हुए मोर्गन ने कहा, ‘‘हम मिलकर इससे लड़ते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप दुनिया में कहां रहते हैं। आपको सामाजिक दूरी बनाये रखने, मास्क पहने जैसे नियमों का पालन करना है। ’’ केकेआर में मोर्गन के साथी आस्ट्रेलिया के पैट कमिन्स ने भारतीय अस्पतालों के लिये ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिये 50,000 डॉलर प्रधानमंत्री कोष में जमा किये और अन्य खिलाड़ियों से भी योगदान देने की अपील की। मोर्गन ने कहा, ‘‘हम जैव सुरक्षित वातावरण के बाहर की दुनिया के बारे में लगातार बात कर रहे हैं। ईमानदारी से कहूं तो यह देखकर अच्छा नहीं लग रहा है। निश्चित तौर पर हम भाग्यशाली हैं जो जैव सुरक्षित माहौल में रह रहे हैं और इससे बहुत अधिक प्रभावित नहीं हैं। हम बीमार लोगों और मुश्किल दौर से गुजर रहे लोगों के प्रति अपना समर्थन और संवेदना व्यक्त करते हैं।’’ ...

रविंद्र जडेजा अब बेहतर बल्लेबाज बन गए हैं : संजय बांगड़

मुंबई, (वेबवार्ता)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के बल्लेबाजी सलाहकार संजय बांगड़ ने रविवार को कहा कि रविंद्र जडेजा में एक बल्लेबाज के रूप में काफी सुधार हुआ है और उन्होंने यहां इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर के शानदार प्रदर्शन के बाद उन्हें मैच का रुख पलटने वाला करार दिया। जडेजा के नाबाद 62 रन के दम पर सीएसके ने चार विकेट पर 194 रन बनाए और फिर आरसीबी को नौ विकेट पर 122 रन पर रोक दिया। जडेजा ने 13 रन देकर तीन और इमरान ताहिर ने 16 रन देकर दो विकेट लिये। जडेजा ने तेज गेंदबाज हर्षल पटेल के आखिरी ओवर में 37 रन बनाए। बांगड़ ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हां, जब से वह (जडेजा) नियमित रूप से टेस्ट प्रारूप में खेल रहे हैं और उन्होंने काफी आत्मविश्वास हासिल किया है तथा वह यहां तक कि विदेशों में भी टीम में योगदान दे रहे हैं। अब वह बेहतर बल्लेबाज बन गए हैं।’ उन्होंने कहा, ‘और हम सभी जानते हैं कि उसमें काफी क्षमता है और वह ऐसा बल्लेबाज है जो घरेलू स्तर पर तीन तिहरे शतक लगा चुका है। इसलिए यह देखकर अच्छा लगा कि वह भारतीय टीम और सीएसके की तरफ से अपना योगदान दे रहा है।’ बांगड़ ने कहा, ‘आज उसने मैच का रुख पलटा और पूरा श्रेय सीएसके को जाता है। उसने खेल के हर विभाग में हमसे बेहतर प्रदर्शन किया।’ ...

अश्विन ने कोरोना वायरस से जूझ रहे परिवार की मदद के लिये आईपीएल से ब्रेक लिया

चेन्नई, (वेबवार्ता)। भारत के सीनियर आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कोरोना महामारी से जूझ रहे अपने परिवार की मदद के लिये आईपीएल से ब्रेक ले लिया है । दिल्ली कैपिटल्स के 34 वर्षीय इस खिलाड़ी ने उम्मीद जताई कि हालात सही दिशा में जाने पर वह वापसी करेंगे । उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच जीतने के बाद ट्वीट किया ,‘‘ मैं कल से इस सत्र के आईपीएल से ब्रेक ले रहा हूं । मेरा परिवार कोरोना महामारी से लड़ रहा है और इस कठिन समय में उसे मेरी मदद की जरूरत है।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ अगर हालात सही दिशा में जाते हैं तो मैं वापसी करूंगा । धन्यवाद दिल्ली कैपिटल्स ।’’ समझा जाता है कि उनके परिवार का कोई सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाया गया है । दिल्ली कैपिटल्स ने उनके फैसले का समर्थन करते हुए कहा ,‘‘ इस कठिन समय में हम अश्विन के साथ हैं । हम कामना करते हैं कि उनके परिवार को इस कठिन समय से निकलने के लिये शक्ति मिले ।’’ अश्विन कोरोना महामारी के कारण इस सत्र का आईपीएल छोड़ने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी हैं । आईपीएल बायो बबल में खेला जा रहा है और अगर अश्विन वापसी करते भी हैं तो उन्हें कुछ दिन पृथकवास में रहना होगा । अश्विन ने इससे पहले ट्वीट में कोरोना महामारी से पैदा हुए हालात को लेकर चिंता जताई थी । भारत में पिछले कुछ दिन से रोज तीन लाख से अधिक कोरोना मामले आ रहे हैं । आक्सीजन और कुछ जरूरी दवाओं की किल्लत से चिकित्सा तंत्र जूझ रहा है । ...

लड़कों ने वाकई विस्फोटक प्रदर्शन किया : क्रिस मौरिस

मुंबई, (वेबवार्ता)। राजस्थान रॉयल्स (आरआर) के ऑलराउंडर क्रिस मौरिस ने रविवार को कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ 10 विकेट की हार को पचाना मुश्किल था, लेकिन अब शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ जीत पूर्ण विस्फोक प्रदर्शन था। स्टार ऑलराउंडर क्रिस मौरिस (24-4) के नेतृत्व में अपने गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन और फिर कप्तान संजू सैमसन (नाबाद 42) के नेतृत्व में बल्लेबाजों के संयमित खेल के बूते राजस्थान रॉयल्स टीम ने यहां के वानखेड़े स्टेडियम में शनिवार को खेले गए आईपीएल के 14वें सीजन अपने पांचवें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को 6 विकेट से हरा दिया। मौरिस ने मैच के बाद कहा, अगले दिन, हमने एक टीम के रूप में अच्छी चर्चा की, हमारी प्रेरणा क्या है, इस बारे में अच्छी चर्चा हुई। और लड़कों ने इसे गंभीरता से लिया। यह कुछ समय के लिए क्रिकेट मैदान पर मेरे लिए सबसे मजेदार था। पहले सात ओवरों में, हम वहां विस्फोटक प्रदर्शन कर रहे थे। उन्होंने कहा, हमें पता था कि हम आरसीबी के खिलाफ 10 विकेट से हार रहे हैं। एक वजह थी कि हमने बाद में बल्लेबाजी करने का फैसला किया। यह (पिच) पर रात में गति मिलती है, जो मुझे लगता है कि यह था। हमारा प्लान आज काफी बेहतर था। यॉर्कर्स का प्लान और हमारी धीमी गेंदों को पूरा करना, हम उसमें काफी बेहतर थे। मौरिस को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन आफ द मैच का पुरस्कार मिला। आलराउंडर ने कहा, एक साफ सोच मेरे लिए कारगर रही आज। आज विकेट आसान नहीं थी पर चीजों को सरल रख मैनें अपना काम किया। स्टोक्स और जोफ्रा जैसे बड़े प्लेयर्स को खोना बहुत बड़ा नुकसान है। हमें चेहरे पर मुस्कान रख प्रदर्शन करते जाना है। मिलर को बल्लेबाजी करता देख मैं काफी हंस रहा था। परिस्थितियां बदलती रहेंगी और हमें बेहतर होते जाना है। ...

जडेजा के सामने फीके पड़े पटेल, सीएसके का मजबूत स्कोर

मुंबई, (वेबवार्ता)। रविंद्र जडेजा ने शुरू में मिले जीवनदान के बाद हर्षल पटेल के आखिरी ओवर में पांच छक्कों की मदद से 37 रन बटोरे जिससे चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) रविवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ चार विकेट पर 191 रन का मजबूत स्कोर बनाया। फाफ डुप्लेसिस (41 गेंदों पर 50 रन, पांच चौके, एक छक्का) और रुतुराज गायकवाड़ (25 गेंदों पर 33) के बीच पहले विकेट के लिये 74 रन की साझेदारी के बावजूद बीच में पटेल के झटकों के कारण लग रहा था कि सीएसके 170 रन के आसपास ही पहुंच पाएगा लेकिन जडेजा (28 गेंदों पर नाबाद 62, चार चौके, पांच छक्के) ने आखिरी ओवर में समीकरण बदल दिये। पटेल अब तक डेथ ओवरों में आरसीबी के लिये तुरुप का इक्का साबित हो रहे थे। उन्होंने आज भी पहले अपना कमाल दिखाया लेकिन जडेजा ने 20वें ओवर में उन पर पांच छक्के ओर एक चौका लगाया। इनमें एक नोबॉल भी थी। इस ओवर में कुल 37 रन बने और यह आईपीएल इतिहास का संयुक्त रूप से सबसे महंगा ओवर बन गया। पटेल ने पहले तीन ओवर में केवल 14 रन दिये थे लेकिन आखिर में उनका गेंदबाजी विश्लेषण 51 रन देकर तीन विकेट रहा। महेंद्र सिंह धोनी के टास जीतकर पहले बल्लेबाजी के फैसले के बाद डुप्लेसिस ने अपने आकर्षक ड्राइव का नमूना पेश किया जबकि गायकवाड़ ने उनका पूरा साथ दिया। इन दोनों की साझेदारी युजवेंद्र चहल (24 रन देकर एक) ने तोड़ी। गायकवाड़ उनकी लेग ब्रेक के टर्न को नहीं भांप पाये और गेंद बल्ले का किनारा लेकर हवा में लहरा गयी जिसे काइल जैमीसन ने दौड़ लगाकर बड़ी खूबसूरती से कैच में बदला। गायकवाड़ ने अपनी पारी में चार चौके और एक छक्का लगाया। सुरेश रैना (18 गेंदों पर 24) ने आते ही चहल पर लांग आन क्षेत्र में दर्शनीय छक्का लगाया और फिर वाशिंगटन सुंदर और नवदीप सैनी को भी लंबे शॉट खेलने के अपने कौशल का परिचय दिया। विराट कोहली ने गेंदबाजी में लगातार बदलाव किये तथा पटेल ने रैना और डुप्लेसिस को धीमी गेंदों पर गच्चा देकर सीएसके को बैकफुट पर भेजा। रैना ने लंबा शॉट खेलने के प्रयास में मिडविकेट पर जबकि डुप्लेसिस ने अगली गेंद पर सीमा रेखा पर कैच दिया। डैन क्रिस्टियन ने उनका कैच खूबसूरती से लपका लेकिन वह जडेजा का कैच लेने में नाकाम रहे। पटेल ने अंबाती रायुडु (सात गेंदों पर 14) के रूप में अपना तीसरा विकेट लिया। पटेल ने पारी के 18वें ओवर में पांच रन दिये जबकि मोहम्मद सिराज (चार ओवर 32 रन) ने अगले ओवर में कसी गेंदबाजी की लेकिन पारी का अंतिम ओवर आरसीबी को महंगा पड़ सकता है। ...

गेंदबाज पिछले चार-पांच मैच से शानदार प्रदर्शन कर रहे है: सैमसन

मुंबई, (वेबवार्ता)। कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ छह विकेट की प्रभावशाली जीत दर्ज करने के बाद राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन ने शनिवार को यहां कहा कि उनकी टीम के गेंदबाज पिछले चार-पांच मैचों में शानदार प्रदर्शन कर रहे है। उन्होंने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में जीत का श्रेय गेंदबाजों को देते हुए कहा, ‘वे शानदार रहे, गेंदबाज पिछले चार - पांच मैचों से कमाल का प्रदर्शन कर रहे है। सीनियर गेंदबाजों के साथ युवा भी अच्छा कर रहे है। मुझे उनकी कप्तानी करने में मजा आ रहा है।’ मैच में 41 गेंद में 42 रन की नाबाद पारी खेलने वाले सैमसन ने कहा, ‘मैं बल्लेबाजी के बारे में कभी बाहर से कुछ सोचकर आता नहीं हूं, मैं परिस्थिति के अनुसार खुद को ढालने की कोशिश करता हूं। मैं बल्लेबाजी करना पसंद करता हूं।’ उन्होंने मैन ऑफ द मैच क्रिस मौरिस की तारीफ करते कहा कि वह बड़े बल्लेबाजों के विकेट लेना चाहते थे। उन्होंने कहा, ‘हम मौरिस की आंखों में देख सकते थे कि वह बड़े बल्लेबाजों को आउट करना चाहते थे।’ मैच में चार ओवर में 23 रन देकर चार विकेट लेने वाले मौरिस ने कहा, ‘इस पिच पर बल्लेबाजी आसान नहीं थी, हमने दोनों टीमों को जूझते हुए देखा।’ उन्होंने कहा, ‘बेन स्टोक्स और जोफ्रा आर्चर जैसे बड़े खिलाड़ियों के चोटिल होने से टीम को भारी नुकसान हुआ है लेकिन हमारे पास उनका विकल्प है।’ केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन ने हार के लिए लचर बल्लेबाजी को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘बल्लेबाजी ने हमें निराश किया। हम शुरुआत से पीछे थे और इस विकेट पर लगभग 40 रन कम बनाए। हम जब भी आक्रमण करना चाह रहे थे तब विकेट गंवा दे रहे थे।’ ...

आरसीबी और सीएसके में रोमांचक मुंकाबले की संभावना

मुंबई, (वेबवार्ता)। विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) और महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) रविवार को यहां जब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में आमने सामने होंगी तो उनकी निगाह न सिर्फ दो अंक हासिल करने बल्कि विजय अभियान जारी रखने पर भी टिकी रहेंगी। आरसीबी ने अब तक अपने चारों मैच जीते हैं और वह अंकतालिका में शीर्ष पर काबिज है। दूसरी तरफ सीएसके ने पहला मैच गंवाने के बाद अच्छी वापसी की और लगातार तीन मैच जीतकर वह दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। आरसीबी ने पिछले मैच में राजस्थान रॉयल्स को 10 विकेट से करारी शिकस्त दी थी और वह अपना यही प्रदर्शन जारी रखने के लिये प्रतिबद्ध है। सीएसके भी लगातार तीन जीत से उत्साह स ओतप्रोत है और ऐसे में आरसीबी के लिये काम आसान नहीं होगा। कोहली और प्रतिभाशाली देवदत्त पडिक्कल ने पिछले मैच में रॉयल्स के गेंदबाजों की एक नहीं चलने दी थी और ये दोनों सीएसके के विविधतापूर्ण आक्रमण के सामने फिर से टीम को अच्छी शुरुआत देने का प्रयास करेंगे। आरसीबी ने इस सत्र में अच्छी शुरुआत की है और कोहली लंबी अवधि की लीग में निरंतरता बनाये रखने के महत्व को समझते हैं। आरसीबी की बल्लेबाजी कोहली, दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज एबी डिविलियर्स और आस्ट्रेलियाई ग्लेन मैक्सवेल पर काफी निर्भर है। पडिक्कल की अच्छी फार्म से भी टीम को लाभ मिला है। आरसीबी के बल्लेबाजों का हालांकि अब दीपक चाहर से सामना होगा जो शुरू में विकेट हासिल करने में माहिर हैं। आरसीबी के गेंदबाजों ने भी अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है। मोहम्मद सिराज ने प्रभाव छोड़ा है लेकिन अब उनका सामना सीएसके से हैं जिसके पास निचले क्रम में भी अच्छे बल्लेबाज हैं और शुरू में विकेट गंवाने से वह दबाव में नहीं आती है। रुतुराज गायकवाड़ ने तीन मैचों में असफल रहने के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ प्रभावशाली पारी खेली तथा फाफ डु प्लेसिस के साथ मिलकर पहले विकेट के लिये बड़ी साझेदारी निभायी। सीएसके अच्छी शुरुआत का पूरा फायदा उठाने की कोशिश करेगा। उसके पास नंबर तीन पर मोईन अली और फिर सुरेश रैना जैसे बल्लेबाज हैं। कप्तान धोनी ने अब तक अपना जलवा नहीं दिखाया है लेकिन कोच स्टीफन फ्लेमिंग के अनुसार प्रत्येक मैच में वह बेहतर खेल दिखा रहे हैं। गेंदबाजी में चाहर ने अब तक सीएसके लिये बहुत अच्छी भूमिका निभायी है जबकि स्पिनर रविंद्र जडेजा और मोईन ने भी अच्छा योगदान दिया है। शार्दुल ठाकुर कुछ अवसरों पर महंगे साबित हुए हैं लेकिन वह सीएसके की गेंदबाजी विभाग के महत्वपूर्ण सदस्य हैं। टीमें इस प्रकार हैं : चेन्नई सुपर किंग्स: महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, केएम आसिफ, दीपक चाहर, ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्लेसिस, इमरान ताहिर, एन जगदीशन, कर्ण शर्मा, लुंगी एनगिडी, मिशेल सेंटनर, रविंद्र जडेजा, रुतुराज गायकवाड़, शार्दुल ठाकुर, सैम करेन, आर साई किशोर, मोईन अली, के गौतम, चेतेश्वर पुजारा, हरिशंकर रेड्डी, भगत वर्मा, सी हरि निशांत। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर: विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, एडम ज़म्पा, देवदत्त पडिक्कल, केन रिचर्डसन, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी, पवन देशपांडे, शाहबाज़ अहमद, एमएस वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, डैनियल सैम्स, हर्षल पटेल , ग्लेन मैक्सवेल, सचिन बेबी, रजत पाटीदार, मोहम्मद अजहरुद्दीन, काइल जैमीसन, डैन क्रिश्चियन, सुयश प्रभुदेसाई, केएस भरत, फिन एलन। मैच दोपहर बाद तीन बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा। ...

शीर्ष चार में से किसी एक को बड़ा स्कोर बनाना होगा : संगकारा

मुंबई, (वेबवार्ता)। राजस्थान रॉयल्स के टीम निदेशक कुमार संगकारा ने कहा कि यदि उनकी टीम को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में वापसी करनी है तो शीर्ष चार में से किसी एक खिलाड़ी को बड़ा स्कोर बनाना होगा। राजस्थान अभी तक चार मैचों में केवल एक जीत दर्ज कर पाया है। उसे गुरुवार की रात को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के हाथों 10 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा था। राजस्थान रॉयल्स ने बेंगलोर के सामने 178 रन का लक्ष्य रखा था। आरसीबी की टीम ने देवदत्त पडिक्कल (नाबाद 101) और विराट कोहली (नाबाद 72) की पारियों से 16.3 ओवर में लक्ष्य हासिल कर दिया। संगकारा ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमें बड़ी साझेदारियों की जरूरत है। शीर्ष चार बल्लेबाजों में से किसी एक को बड़ी पारी खेलनी होगी।’’ रॉयल्स के शीर्ष क्रम में जोस बटलर, कप्तान संजू सैमसन और डेविड मिलर जैसे बिग हिटर हैं। टीम हालांकि फिर से पावरप्ले में संघर्ष करती नजर आयी और पहले छह ओवर में उसका स्कोर तीन विकेट पर 32 रन था। शिवम दुबे (46) और राहुल तेवतिया (40) की पारियों से रॉयल्स सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचने में सफल रहा। संगकारा ने कहा, ‘‘हमें पावरप्ले में अच्छी तरह से बल्लेबाजी करने की जरूरत है। हमें साझेदारियां निभानी होंगी तथा एक या दो को बड़ी पारियां खेलनी होंगी। मध्यक्रम और निचले मध्यक्रम ने वास्तव में अच्छी वापसी की जिसे देखकर अच्छा लगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘शिवम दुबे ने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की तथा पहले तीन मैचों की तुलना में अधिक जागरूकता दिखायी। ’’ श्रीलंका के पूर्व कप्तान ने पडिक्कल की जमकर प्रशंसा की जिन्होंने अपना पहला शतक जमाया। संगकारा ने कहा, ‘‘यह बेजोड़ पारी थी। उन्होंने कुछ अच्छी गेंदों पर भी शॉट लगाये।’’ ...

आईपीएल से हटे लियाम लिविंगस्टोन

मुंबई, (वेबवार्ता)। राजस्थान रॉयल्स के इंग्लैंड के क्रिकेटर लियाम लिविंगस्टोन जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहने की थकान के कारण इंडियन प्रीमियर लीग से हट गए हैं। रॉयल्स की टीम ने मंगलवार को यह घोषणा की। पिछले एक साल से जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहने की थकान के कारण लिविंगस्टोन सोमवार देर रात स्वदेश लौट गए। फ्रेंचाइजी ने लिविंगस्टोन के जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि वह उनके फैसले का सम्मान करते हैं और इस क्रिकेटर का समर्थन करते रहेंगे। रॉयल्स ने ट्वीट किया, ‘‘लियाम लिविंगस्टोन कल देर रात स्वदेश लौट गए, पिछले एक साल में जैविक रूप से सुरक्षित माहौल की थकान के कारण उन्होंने ऐसा किया। हम समझ सकते हैं और उनके फैसले का सम्मान करते हैं और उनका समर्थन करते रहेंगे।’’ ...

बीच के ओवरों में बेहतर बल्लेबाजी कर सकते थे: रोहित

चेन्नई, (वेबवार्ता)। मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा ने इंडियन प्रीमियर लीग में मंगलवार को यहां दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ छह विकेट की हार के बाद कहा कि अच्छी शुरुआत के बाद उनकी टीम बीच के ओवरों में बेहतर बल्लेबाजी कर सकती थी लेकिन ऐसा करने में नाकाम रही। मुंबई के 138 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दिल्ली ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (45) और स्टीव स्मिथ (33) की पारियों की बदौलत 19.1 ओवर में चार विकेट पर 138 रन बनाकर जीत दर्ज की। ललित यादव ने भी नाबाद 22 रन की पारी खेली। मुंबई की टीम मिश्रा (24 रन देकर चार विकेट) की फिरकी के सामने नौ विकेट पर 137 रन ही बना सकी। आवेश खान ने मिश्रा का अच्छा साथ निभाते हुए 15 रन देकर दो विकेट हासिल किए जबकि आफ स्पिनर ललित यादव ने भी चार ओवर में 17 रन देकर एक विकेट चटकाया। मुंबई की ओर से कप्तान रोहित शर्मा ने सर्वाधिक 44 रन बनाए। रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘हमें जिस तरह की शुरुआत मिली थी, मुझे लगता है कि हम बीच के ओवरों में बेहतर बल्लेबाजी कर सकते थे जो हमने नहीं किया। हम पावर प्ले में मिली शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए, हम एक बार फिर ऐसा करने में नाकाम रहे। दिल्ली के गेंदबाजों को श्रेय जाता है, उन्होंने हमारे ऊपर दबाव बनाए रखा और विकेट चटकाते रहे।’’ रोहित ने चोट के कारण मैच में अधिकांश समय क्षेत्ररक्षण नहीं किया लेकिन उन्होंने कहा कि उनकी चोट गंभीर नहीं है। ...

जीत की तलाश में एक दूसरे का सामना करेंगे हैदराबाद और पंजाब

चेन्नई, (वेबवार्ता)। बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन के कारण अपने पहले तीनों मैच गंवाने वाली सनराइजर्स हैदराबाद और किसी एक विभाग की नाकामी से अपेक्षित शुरुआत नहीं कर पाने वाली पंजाब किंग्स की टीम बुधवार को जब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में आमने सामने होंगी तो उनकी निगाह केवल जीत पर टिकी रहेगी। डेविड वार्नर की अगुवाई वाले सनराइजर्स की शुरुआत इस सत्र में निराशाजनक रही है। उसकी टीम ने अब तक तीन मैचों में लक्ष्य का पीछा करते हुए मामूली अंतर से अपने मैच गंवाये हैं और उसने खाता नहीं खोला है। पंजाब की स्थिति भी कमोबेश ऐसी ही है। केएल राहुल के नेतृत्व में टीम को तीन में से दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। पंजाब ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ बड़े स्कोर वाले पहले मैच में बमुश्किल अपने स्कोर का बचाव किया था लेकिन इसके बाद चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ उसके बल्लेबाज तो दिल्ली कैपिटल्स के सामने उसके गेंदबाज अनुकूल प्रदर्शन नहीं कर पाये थे। चेन्नई के गेंदबाजों के सामने पंजाब किंग्स की टीम आठ विकेट पर 106 रन ही बना पायी थी और उसे करारी हार का सामना करना पड़ा था। दिल्ली के खिलाफ राहुल और उनके सलामी जोड़ीदार मयंक अग्रवाल ने पिछले साल वाली फार्म दिखायी लेकिन स्टार गेंदबाज मोहम्मद शमी इस मैच में नाकाम रहे और टीम 196 रन के लक्ष्य का बचाव नहीं कर पायी। ऐसा कम ही देखने को मिलता है जबकि शमी ने चार ओवर में 50 से अधिक रन लुटाये हों। यह तेज गेंदबाज सनराइजर्स के खिलाफ इसकी भरपायी करने की कोशिश करेंगा लेकिन वार्नर और जॉनी बेयरस्टॉ ने पिछले मैच में पूर्व की तरह अच्छी शुरुआत दिलायी थी और ये दोनों शमी और उनके साथियों पर शुरू से हावी होने का प्रयास करेंगे। अर्शदीप सिंह ने अब तक टीम के लिये अच्छी गेंदबाजी की है लेकिन आस्ट्रेलिया के झॉय रिचर्डसन और रिले मेरेडिथ प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं। इन दोनों ने तीन मैचों में 10 से अधिक की स्ट्राइक रेट से रन लुटाये हैं। पंजाब को चेपक की धीमी पिच पर एक अदद स्पिनर की कमी खल रही है। टीम स्पिन विभाग में मुरुगन अश्विन पर निर्भर रही है लेकिन पहले दो मैचों में उनकी नाकामी के बाद टीम को जलज सक्सेना को उतारना पड़ा। जलज की आलराउंड क्षमता को देखकर टीम उन्हें आगे भी अंतिम एकादश में बनाये रख सकती है। पंजाब के पास दीपक हुड्डा के रूप में एक और आलराउंडर है जिन्होंने बल्लेबाजी में अपनी भूमिका से न्याय किया है लेकिन गेंदबाजी में उन्हें केवल दो ओवर करने का मौका मिला है। पंजाब को बल्लेबाजी कैरेबियाई दिग्गजों क्रिस गेल और निकोलस पूरण से भी धमाकेदार पारियों का इंतजार है। इन दोनों का बल्ला अभी तक नहीं चल पाया है। सनराइजर्स के लिये यह मैच काफी महत्वपूर्ण बन गया है क्योंकि लगातार तीन पराजय के बाद मनोबल बढ़ाने के लिये उसे इसकी सख्त दरकार है। टीम मध्य और निचले क्रम के बल्लेबाजों की असफलता के कारण पिछले मैचों में अंतिम क्षणों में लक्ष्य से चूक गयी थी। तीनों मैच में टीम जीत की स्थिति में पहुंचने के बावजूद मैच गंवाये जो कि वार्नर के लिये निश्चित तौर पर चिंता का विषय होगा। मुंबई के खिलाफ वार्नर और बेयरस्टॉ ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी थी लेकिन इन दोनों के आउट होने के बाद उसका मध्यक्रम लड़खड़ा गया। भारतीय बल्लेबाजों में केवल मनीष पांडे ही अच्छा खेल दिखा पाये हैं। विराट सिंह, विजय शंकर, अभिषेक शर्मा और अब्दुल समद ने निराश किया है। ऐसे में टीम मध्यक्रम को मजबूती देने के लिये केन विलियमसन को अंतिम एकादश में शामिल कर सकती है। भुवनेश्वर कुमार के अपेक्षित प्रदर्शन नहीं करने के बावजूद स्टार लेग स्पिनर राशिद खान की प्रभावशाली गेंदबाजी से सनराइजर्स के गेंदबाजों ने बल्लेबाजों को हावी नहीं होने दिया। यदि भुवनेश्वर और राशिद दोनों चलते हैं तो फिर पंजाब के बल्लेबाजों के लिये बड़ा स्कोर बनाना मुश्किल होगा। टीमें इस प्रकार हैं : सनराइजर्स हैदराबाद : डेविड वार्नर (कप्तान), केन विलियमसन, विराट सिंह, मनीष पांडे, प्रियम गर्ग, रिद्धिमान साहा, जॉनी बेयरस्टॉ, जेसन रॉय, श्रीवत्स गोस्वामी, विजय शंकर, मोहम्मद नबी, केदार जाधव, जे सुचित, जेसन होल्डर, अभिषेक शर्मा अब्दुल समद, भुवनेश्वर कुमार, राशिद खान, टी नटराजन, संदीप शर्मा, खलील अहमद, सिद्धार्थ कौल, बासिल थम्पी, शाहबाज़ नदीम और मुजीब उर रहमान। पंजाब किंग्स: केएल राहुल (कप्तान), मयंक अग्रवाल, क्रिस गेल, मनदीप सिंह, प्रबीसिमरन सिंह, निकोलस पूरण (wk), सरफराज खान, दीपक हुड्डा, मुरुगन अश्विन, रवि बिश्नोई, हरप्रीत बराड़, मोहम्मद शमी, अर्शदीप सिंह, इशान पोरेल, दर्शन नल्कंडे, क्रिस जॉर्डन, डाविड मलान, झॉय रिचर्डसन, शाहरुख खान, रिले मेरेडिथ, मोइजेस हेनरिक्स, जलज सक्सेना, उत्कर्ष सिंह, फैबियन एलन, सौरभ कुमार। मैच दोपहर बाद 3:30 बजे से शुरू होगा। पंत ...

संघर्षरत केकेआर के सामने होगी अब सीएसके की कड़ी चुनौती

मुंबई, (वेबवार्ता)। लगातार दो जीत से उत्साह से भरी चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की टीम बुधवार को यहां होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में संघर्षरत कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ अपना विजय अभियान जारी रखने के लिये उतरेगी। पिछले साल यूएई में खराब प्रदर्शन के बाद सीएसके की इस साल की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही थी और उसे पहले मैच में ही दिल्ली कैपिटल्स से सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम ने अपने चिर परिचित अंदाज में वापसी की। कैप्टेन कूल ने बल्लेबाजों के लिये अनुकूल वानखेड़े स्टेडियम में अपने सभी संसाधनों का उपयोग किया। दीपक चाहर के शानदार प्रदर्शन से सीएसके ने पंजाब किंग्स के खिलाफ जीत दर्ज करके वर्तमान सत्र में अपना खाता खोला था। इसके अलावा उसकी पिछली दोनों जीत में इंग्लैंड के दो खिलाड़ियों मोईन अली और सैम करेन ने भी अहम भूमिका निभायी। आक्रामक आलराउंडर मोईन ने बल्लेबाजी क्रम में नंबर तीन के साथ पूरा न्याय किया है। उन्होंने दिल्ली के खिलाफ 24 गेंदों पर 36, पंजाब के खिलाफ 31 गेंदों पर 46 और सोमवार को राजस्थान रॉयल्स के खलिाफ 20 गेंदों पर 26 रन बनाये। उन्होंने अपनी आफ स्पिन से भी अच्छी भूमिका निभायी है और धोनी ने यहां की स्पिनरों के लिये विपरीत परिस्थितियों के बावजूद उनका और रविंद्र जडेजा अच्छा उपयोग किया है। यूएई में चेन्नई के लिये अच्छा प्रदर्शन करने वाले युवा सैम करेन ने भी बल्ले और गेंद दोनों से प्रभाव छोड़ा है। उनकी लंबे शॉट खेलने की क्षमता के साथ पावरप्ले में गेंदबाजी करने की योग्यता से धोनी को अधिक विकल्प मिल जाते हैं। केकेआर की टीम का वानखेड़े में यह इस सत्र का पहला मैच होगा। वह लगातार दो हार झेलने के बाद यहां पहुंची है और ऐसे में धोनी की अगुवाई वाली सीएसके का पलड़ा भारी लगता है। इयोन मोर्गन की कप्तानी वाला केकेआर अपने अभियान को पटरी पर लाने के लिये टीम में कुछ बदलाव कर सकता है। केकेआर ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत से शुरुआत की थी लेकिन मुंबई इंडियन्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के हाथों पराजय से वह पांचवें स्थान पर खिसक गया। इन दोनों मैचों में मोर्गन की टीम बेहतर स्थिति में थी लेकिन वह अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पायी। वानखेड़े की पिच से स्पिनरों को अधिक मदद नहीं मिल रही है और ऐसे में मोर्गन शाकिब अल हसन की जगह आस्ट्रेलियाई आलराउंडर बेन कटिंग को अंतिम एकादश में शामिल कर सकते हैं। मोर्गन ने अनुभवी स्पिनर हरभजन सिंह पर भी भरोसा दिखाया है और तीनों मैचों में उनसे गेंदबाजी का आगाज करवाया। बायें हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव बेहतर विकल्प हो सकते हैं। ...

कम स्कोर के बारे में ज्यादा चिंतित नहीं था, 2020 में जिससे फायदा मिला उसी पर डटा रहा: मयंक

मुंबई, (वेबवार्ता)। पंजाब किंग्स के बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने शानदार अर्धशतकीय पारी से फार्म में वापसी की और उन्होंने कहा कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दो मैचों में अच्छा नहीं खेल पाने की वजह से ज्यादा चिंतित नहीं थे और उन्होंने पिछले सत्र में कारगर रहने वाली चीजों पर ही अडिग रहने की कोशिश की। मयंक ने संयुक्त अरब अमीरात में हुए पिछले सत्र में 424 रन बनाये थे, उन्होंने मौजूदा सत्र में राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ क्रमश: 14 और शून्य रन बनाये। हालांकि बेंगलुरू के इस 30 साल के खिलाड़ी ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ रविवार को 36 गेंद में 69 रन की पारी खेलकर पंजाब किंग्स को चार विकेट पर 195 रन बनाने में मदद की। उन्होंने वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, ‘‘मैं ज्यादा कुछ नहीं सोच रहा था, मैंने वही करने की योजना बनायी जो मैंने पिछले साल किया था और जो मेरे लिये कारगर रहा था। मैंने पिछले मैच के बारे में सोचा तो मैं अच्छी गेंद पर आउट हुआ, मैं इसके बारे में खुद को ज्यादा तनाव में नहीं डालना चाहता था और मैं आगे अच्छा करना चाहता था इसलिये उसी पर अडिग रहा जो मेरे लिये कारगर रहा था।’’ मयंक ने कहा, ‘‘मैं नेट में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था, मैं अच्छे शॉट लगा रहा था, मैं पिछले मैचों के बारे में नहीं सोचना चाहता था और मैंने जैसी बल्लेबाजी की उससे खुश हूं।’’ हालांकि यह स्कोर काफी साबित नहीं हुआ क्योंकि पिछले साल की उप विजेता दिल्ली कैपिटल्स ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की 49 गेंद में 92 रन की पारी से 18.2 ओवर में जीत हासिल कर ली। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगा यह अच्छा स्कोर था। पहली पारी में यह इतना आसान नहीं था और मुझे लगा कि दूसरी पारी में ओस अहम भूमिका निभायेगी। लेकिन मुझे लगता है कि दिल्ली कैपिटल्स ने शानदार बल्लेबाजी की और ओस का भी असर हुआ। लेकिन श्रेय दिल्ली के गेंदबाजों को जाता है जिन्होंने 12 ओवर के बाद योजना का अनुसरण किया और डेथ ओवरों में शानदार गेंदबाजी की। ’’ ...

धवन के तूफान में उड़ा पंजाब, दिल्ली छह विकेट से जीता

मुंबई, (वेबवार्ता)। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के बड़े अर्धशतक से दिल्ली कैपिटल्स ने मयंक अग्रवाल और लोकेश राहुल के अर्धशतकों पर पानी फेरते हुए इंडियन प्रीमियर लीग में रविवार को यहां पंजाब किंग्स को छह विकेट से हरा दिया। अग्रवाल (36 गेंद, 69 रन, सात चौके, चार छक्के) और कप्तान लोकेश राहुल (51 गेंद, 61 रन, सात चौके, दो छक्के) के अर्धशतक और दोनों के बीच पहले विकेट की 122 रन की साझेदारी से पंजाब किंग्स ने चार विकेट पर 195 रन बनाए। दिल्ली की टीम ने इसके जवाब में धवन (92) के तूफानी अर्धशक से 18.2 ओवर में चार विकेट पर 198 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। मार्कस स्टोइनिस (13 गेंद में नाबाद 27, तीन चौके, एक छक्का) और सलामी बल्लेबाज पृथ्वी साव (32) ने भी उम्दा पारियां खेली। धवन ने 49 गेंद का सामना करते हुए 13 चौके और दो छक्के मारे। झाय रिचर्डसन पंजाब के सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 41 रन देकर दो विकेट चटकाए। मोहम्मद शमी काफी महंगे साबित हुए। उन्होंने 53 रन लुटाए जबकि उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। लक्ष्य का पीछा करने उतरे दिल्ली को पृथ्वी ने धवन के साथ मिलकर अच्छी शुरुआत दिलाई। पृथ्वी ने दूसरे ओवर में शमी पर चौका और छक्का जड़कर तेवर दिखाए और फिर झाय रिचर्डसन पर भी छक्का जड़ा। धवन ने भी पांचवें ओवर में शमी पर तीन चौके मारे। पृथ्वी हालांकि अर्शदीप की धीमी गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में गेंद को हवा में लहरा गए और क्रिस गेल ने आसान कैच लपका। उन्होंने 16 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और दो छक्के मारे। दिल्ली ने पावर प्ले में एक विकेट पर 62 रन बनाए। धवन ने रिचर्डसन की गेंद पर एक रन के साथ 31 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। दिल्ली के रनों का शतक 11वें ओवर में पूरा हुआ लेकिन स्टीव स्मिथ रिली मेरेडिथ के इसी ओवर में थर्ड मैन पर रिचर्डसन को कैच दे बैठे। स्मिथ ने 12 गेंद में नौ रन बनाए। धवन ने 14वें ओवर में मेरेडिथ पर लगातार तीन चौके मारे जबकि कप्तान ऋषभ पंत ने भी रिचर्डसन पर छक्का जड़ा। धवन हालांकि अगले ओवर में रिचर्डसन की सीधी गेंद को चूककर बोल्ड हो गए। दिल्ली को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 44 रन की दरकार थी। स्टोइनिस 17वें ओवर में भाग्यशाली रहे जब बैकवर्ड प्वाइंट पर वह कैच हो गए लेकिर कमर से ऊपर गेंद होने के कारण यह नोबाल हो गई। स्टोइनिस ने इस ओवर में फ्री हिट पर चौका और छक्का जड़ा। दिल्ली को अंतिम तीन ओवर में जीत के लिए सिर्फ 16 रन की दरकार थी लेकिन रिचर्डसन ने पंत को हुड्डा के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 15 रन बनाए। स्टोइनिस और ललित यादव (नाबाद 12) ने हालांकि टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। इससे पहले पंत ने टॉस जीतकर पंजाब किंग्स को बल्लेबाजी का न्योता दिया जिसके बाद अग्रवाल ने राहुल के साथ मिलकर टीम को तूफान शुरुआत दिलाई।राहुल ने क्रिस वोक्स के पहले ओवर में चौके से खाता खोला और फिर पदार्पण कर रहे लुकमान मेरिवाला पर भी चौका जड़ा। स्टीव स्मिथ ने प्वाइंट पर राहुल का कैच छोड़ा जबकि अग्रवाल ने इस तेज गेंदबाज की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ खाता खोला। अग्रवाल ने वोक्स के अगले ओवर में भी लगातार दो छक्के मारे। पंजाब किंग्स ने पावर प्ले में बिना विकेट खोए 58 रन बनाए। अग्रवाल ने रविचंद्रन अश्विन पर छक्का और चौका जड़ने के बाद आवेश खान पर चौके के साथ सिर्फ 25 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। अग्रवाल ने 11वें ओवर में कागिसो रबादा पर लगातार दो छक्कों के साथ टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। राहुल ने भी इस ओवर में छक्का जड़ा। पंत ने 13वें ओवर में मेरिवाला को गेंदबाजी में वापसी कराई और अग्रवाल उनकी गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में स्वीपर कवर बाउंड्री पर धवन को कैच दे बैठे। राहुल ने अश्विन की गेंद पर एक रन के साथ 45 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। आवेश के अगले ओवर में मार्कस स्टोइनिस ने एक्सट्रा कवर पर राहुल का कैच छोड़ा। राहुल ने इसका पूरा फायदा उठाते हुए अगली गेंद पर छक्का और फिर चौका जड़ दिया। वह हालांकि रबादा की गेंद पर स्टोइनिस को ही कैच देकर पवेलियन लौटे। दीपक हुड्डा (नाबाद 22) ने पहली ही गेंद पर छक्का मारा जबकि क्रिस गेल (11) ने भी वोक्स की फ्री हिट पर छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर रिपल पटेल को कैच दे बैठे। हुड्डा ने आवेश पर छक्का जड़ा लेकिन निकोलस पूरन ने नौ रन बनाने के बाद इसी तेज गेंदबाज की गेंद पर रबादा को कैच थमा दिया। शाहरूख खान (नाबाद 15) ने वोक्स के अंतिम ओवर में दो चौके और एक छक्का जड़कर टीम का स्कोर 190 रन के पार पहुंचाया। ...

बल्लेबाजी करते हुए 196 रन का अच्छा लक्ष्य लग रहा था: राहुल

मुंबई, (वेबवार्ता)। पंजाब किंग्स के कप्तान लोकेश राहुल ने इंडियन प्रीमियर लीग के बड़े स्कोर वाले मैच में रविवार को यहां दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ छह विकेट की हार के बाद कहा कि उन्हें बल्लेबाजी करते हुए लगा था कि 196 रन अच्छा लक्ष्य रहेगा लेकिन शायद उनकी टीम ने 10 से 15 रन कम बनाए। मयंक अग्रवाल (36 गेंद, 69 रन, सात चौके, चार छक्के) और राहुल (51 गेंद, 61 रन, सात चौके, दो छक्के) के अर्धशतक और दोनों के बीच पहले विकेट की 122 रन की साझेदारी से पंजाब किंग्स ने चार विकेट पर 195 रन बनाए। दिल्ली की टीम ने इसके जवाब में सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (92) के तूफानी अर्धशतक से 18.2 ओवर में चार विकेट पर 198 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। मार्कस स्टोइनिस (13 गेंद में नाबाद 27, तीन चौके, एक छक्का) और सलामी बल्लेबाज पृथ्वी साव (32) ने भी उम्दा पारियां खेली। धवन ने 49 गेंद का सामना करते हुए 13 चौके और दो छक्के मारे। राहुल ने मैच के बाद कहा, ‘‘बल्लेबाजी करते हुए लग रहा था कि 196 अच्छा लक्ष्य है। अंत में अगर आप इसे देखो तो लग रहा है कि हमने 10 से 15 रन कम बनाए। मयंक और मैं पहले हाफ में सोच रहे थे कि अगर हम 180-190 रन बना लेंगे तो यह अच्छा स्कोर रहेगा। लेकिन बेशक वानखेड़े स्टेडियम में ओस होती है और धवन को श्रेय जाता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ओस से चीजें मुश्किल हुईं, वानखेड़े में बाद में गेंदबाजी करना हमेशा चुनौती होती है। हम हमेशा इस तरह के हालात के लिए तैयार रहने का प्रयास करते हैं लेकिन हालात के अनुसार चीजें मुश्किल हो जाती हैं।’’ राहुल की टीम को उनके जन्मदिन के दिन हार का सामना करना पड़ा और पंजाब किंग्स के कप्तान ने कहा कि अगर उनकी टीम जीतती तो अच्छा रहता। दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत ने कहा कि वे शुरू में ही दबाव में आ गए थे लेकिन उनके गेंदबाजों ने पंजाब को इतने स्कोर पर रोककर अच्छा काम किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कप्तानी का लुत्फ उठाना शुरू कर दिया है लेकिन शुरू में हम दबाव में थे क्योंकि विकेट से मदद नहीं मिली रही थी और उन्होंने अच्छी शुरुआत की। उन्हें 190 रन (195 रन) पर रोककर हमारे गेंदबाजों ने अच्छा काम किया। आप शिखर से काफी चीजों पर बात कर सकते हो लेकिन टीम को उसने जो दिया है वह काबिलेतारीफ है।’’ ...

सनराइजर्स हैदराबाद की लगातार तीसरी हार, मुंबई इंडियंस ने 13 रन से हराया

चेन्नई, (वेबवार्ता)। 5 बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 2021 के 9वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को 13 रन से हराकर अपनी दूसरी जीत दर्ज की। हैदराबाद की लगातार यह तीसरी हार है। मुंबई की ओर से रखे गए 151 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम 2 गेंद बाकी रहते 137 रन पर ढेर हो गई। चेन्नै के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में हैदराबाद ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए। मुंबई की ओर से पेसर ट्रेंट बोल्ट और राहुल चाहर ने तीन तीन विकेट चटकाए जबकि बुमराह और क्रुणाल के खाते में एक एक विकेट गया। राहुल चाहर ने अपने चौथे ओवर में विराट सिंह और अभिषेक शर्मा को आउट किया। चाहर ने पहले विराट को 11 रन पर सूर्यकुमार यादव के हाथों कैच कराया जबकि अभिषेक का कैच मिल्ने ने लपका। अभिषेक 4 गेंदों पर 2 रन बनाकर आउट हुए। कप्तान डेविड वॉर्नर 36 रन बनाकर रनआउट हुए। वॉर्नर ने 34 गेंदों पर 2 छक्के और दो चौके लगाए। जॉनी बेयरस्टो क्रुणाल पंडया की गेंद पर हिटविकेट होकर पवेलियन लौट गए। बेयरस्टो 22 गेंदों पर 43 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने 3 चौके और 4 छक्के लगाए। डेविड वॉर्नर और बेयरस्टो ने पहले विकेट के लिए 67 रन जोड़े। सनराइजर्स हैदराबाद ने पांचवें ओवर में अपनी फिफ्टी पूरी की। डेविड वॉर्नर ने क्रुणाल पंडया के ओवर की पांचवीं गेंद पर 2 रन लेकर हैदराबाद को 50 के स्कोर तक पहुंचाया। मुंबई इंडियंस ने सनराइजर्स हैदराबाद के सामने 151 रन का लक्ष्य रखा है। रोहित शर्मा की टीम ने पहले बैटिंग करते हुए 5 विकेट पर 150 रन बनाए। मुंबई की ओर से डि कॉक 39 गेंदों पर 40 रन बनाकर आउट हुए वहीं पोलार्ड 22 गेंदों पर 35 रन बनाकर नाबाद रहे। क्रुणाल पंड्या तीन रन पर नॉटआउट लौटे। हैदराबाद की ओर से मुजीब और शंकर ने दो दो जबकि एक विकेट खलील अहमद ने झटका। हार्दिक पंड्या के रूप में मुंबई ने अपना पांचवां विकेट गंवाया। हार्दिक को खलील अहमद ने विराट सिंह के हाथों कैच कराया। पंडया 5 गेंदों पर सात रन बना सके। मुजीब उर रहमान ने ईशान किशन को विकेटकीपर जॉनी बेयरस्टो के हाथों कैच करा मुंबई को चौथा झटका दिया। ईशान 21 गेंदों पर 12 रन बनाकर आउट हुए। मुंबई इंडियंस के 100 रन 15वें ओवर में पूरे हुए। ईशान किशन ने 15वें ओवर की दूसरी गेंद पर सिंगल लेकर मुंबई के कुल स्कोर को 100 तक पहुंचाया। हैदराबाद की ओर से मुंबई की पारी का 15वां ओवर पेसर खलील अहमद कर रहे थे। मुजीब उर रहमान ने क्विंटन डि कॉक को स्थानापन्न खिलाड़ी जे सुचित के हाथों कैच कराया। डि कॉक ने 39 गेंदों पर 5 चौके लगाए। मुंबई को दूसरा झटका 71 रन के कुल स्कोर पर लगा। विजय शंकर ने अपनी ही गेंद पर सूर्यकुमार को कैच किया। सूर्यकुमार 6 गेंदों पर 10 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने एक चौका और एक छक्का लगाया। मुंबई को पहला झटका रोहित शर्मा के रूप में लगा। विजय शंकर ने रोहित को विराट सिंह के हाथों कैच कराया। रोहित 25 गेंदों पर 32 रन बनाकर आउट हुए। रोहित ने दो चौके और दो छक्के लगाए। पहले विकेट के लिए रोहित और डि कॉक के बीच 55 रन की साझेदारी हुई। मुंबई ने शुरुआती 6 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए 53 रन बनाए। पावरप्ले में रोहित के बल्ले से 31 रन जबकि क्विंटन डि कॉक के बल्ले से 16 रन निकले। मुंबई ने अपने प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव किया है। मार्को जानेसन की जगह एडम मिल्ने को मौका मिला है। वहीं हैदराबाद ने चार बदलाव किए हैं। रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डि कॉक (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, हार्दिक पंड्या, कायरन पोलार्ड, क्रुणाल पंड्या, राहुल चाहर, ट्रेंट बोल्ट, जसप्रीत बुमराह, एडम मिल्ने। डेविड वॉर्नर (कप्तान), जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), मनीष पांडे, विजय शंकर, विराट सिंह, अब्दुल समद, अभिषेक शर्मा, राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, मुजीब उर रहमान, खलील अहमद। ...

सिर्फ बाउंड्री पर ही निर्भर नहीं रह सकते, धीमे विकेट पर स्ट्राइक रोटेट करना भी अहम : लक्ष्मण

चेन्नई, (वेबवार्ता)। सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटोर वीवीएस लक्ष्मण ने माना कि चेपॉक के कठिन विकेट पर जब मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों के खिलाफ बाउंड्री लगाना मुश्किल हो रहा था तब उनके बल्लेबाज स्ट्राइक रोटेट नहीं कर सके। मुंबई इंडियंस द्वारा दिये गये 151 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद की टीम शनिवार को मध्य के ओवरों में रन जुटाने में जूझने के कारण 19.4 ओवर में केवल 137 रन ही बना सकी। लक्ष्मण ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘एक या दो रन लेने की कला बहुत अहम है, विशेषकर इस तरह की पिचों पर क्योंकि यहां हिट करना इतना आसान नहीं होता। आप सिर्फ बाउंड्री या छक्कों पर ही निर्भर नहीं हो सकते। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘डॉट गेंदों के प्रतिशत को कम रखना काफी महत्वपूर्ण है और आप स्ट्राइक रोटेट करके ही ऐसा कर सकते हो। यह खेल का एक पहलू है जो इस तरह के विकेटों पर काफी महत्वपूर्ण है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘दुर्भाग्य से हम ऐसा नहीं कर सके, विशेषकर तब जब राहुल चाहर गेंदबाजी कर रहा था और यहां तक कि जब अन्य तेज गेंदबाज भी मध्य ओवरों में गेंदबाजी कर रहे थे। ’’ लक्ष्मण ने कहा कि पारी के दूसरे हिस्से में जब गेंद पुरानी हो गयी थी तो आक्रामक खेलना चुनौतीपूर्ण था। उन्होंने पॉवरप्ले पाबंदियों का इस्तेमाल करने की अहमियत पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘स्पिनर भी भी उछाल के साथ टर्न हासिल कर रहे थे। यह निश्चित रूप से एक पहलू है जिस पर हमने निश्चित रूप से चर्चा की थी। ’’ लक्ष्मण ने साथ ही क्रीज पर जमे हुए बल्लेबाज के लंबी पारी खेलने की अहमियत पर बात की। उन्होंने कहा, ‘‘नये खिलाड़ी के लिये सीधे पिच पर आकर आदी होना काफी मुश्किल है, विशेषकर तब जब स्ट्राइक रेट बढ़ता ही जा रहा हो। पहले 10 ओवरों में आप जिस तरह से सकारात्मक और आक्रामक रवैया दिखाते हो, इससे दूसरे हाफ में मदद मिलती है। ’’ ...

राखी सावंत का आईपीएल पर फूटा गुस्सा, बोलीं- यहां लोग मर रहे हैं और क्रिकेट खेला जा रहा

मुंबई, (वेबवार्ता)। देश में हर तरफ कोरोना का कहर जारी है वहीं दूसरी तरफ एक के बाद एक सेलेब्स इस महामारी की चपेट में आते जा रहे हैं। लेकिन इन सब के बीच क्रिकेट का महाकुंभ आईपीएल का आयोजन को लेकर टीवी की ड्रामा क्वीन राखी सावंत काफी नाराज दिख रही हैं। हमेशा बिंदास और बेबाक दिखने वाली राखी सावंत इस बार काफी गुस्से में नजर आ रही हैं। राखी ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले जा रहे आईपीएल को लेकर खासा नाराज दिख रही हैं। हाल ही में राखी से एक इंटरव्यू के दौरान पूछा गया कि वह आईपीएल मैच को फॉलो कर रही हैं या नहीं तो इस पर वह खासा नाराज हो गईं और कहने लगी मुंबई में हर रोज इस बीमारी से लोग मर रहे हैं, हमारी जिंदगी बर्बाद हो गई और लोग यहां आईपीएल खेल रहे हैं। राखी सावंत आगे कहती हैं कि मुंबई में लोग कहां बचे हैं। कोरोना की वजह से मुंबई बंद है तो वहीं कुछ लोग छुट्टियां मनाने मालदीव चले गए हैं। मैं अकेली सिर्फ यहां हूं। सब लोग मुंबई छोड़कर चले गए हैं और मालदीव में इनजॉय कर रहे हैं। ...

कोहली बीते दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर, तेंदुलकर और कपिल को भी सम्मान

लंदन, (वेबवार्ता)। भारतीय कप्तान विराट कोहली को विजडन अलमैनाक ने 2010 वाले दशक का सर्वश्रेष्ठ एक दिवसीय क्रिकेट चुना है जबकि इंग्लैंड के हरफनमौला बेन स्टोक्स को लगातार दूसरे साल ‘ वर्ष का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर ’चुना गया। बत्तीस वर्ष के कोहली ने अगस्त 2008 में श्रीलंका के खिलाफ एक दिवसीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार कोहली ने 254 वनडे में 12169 रन बनाये हैं। विजडन ने कहा ,‘‘ पहले एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच की 50वीं सालगिरह पर हर दशक से पांच वनडे क्रिकेटरों को चुना गया है।’’ इसने अपनी वेबसाइट पर कहा ,‘‘ 1971 से 2021 के बीच हर दशक के लिये एक सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर चुना गया है।कोहली को 2010 वाले दशक के लिये चुना गया।’’ विश्व कप 2011 विजेता भारतीय टीम के सदस्य रहे कोहली ने दस साल में 11000 से ज्यादा रन बनाये हैं जिसमें 42 शतक शामिल हैं। सचिन तेंदुलकर को नब्बे के दशक का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर चुना गया। तेंदुलकर ने 1998 में नौ वनडे शतक जमाये थे। भारत के विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव को अस्सी के दशक का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर चुना गया। कपिल की कप्तानी में भारत ने 1983 विश्व कप जीता था। उन्होंने उस दशक में सर्वाधिक विकेट लिये और सबसे अधिक स्ट्राइक रेट से एक हजार से अधिक रन बनाये। स्टोक्स को लगातार दूसरे साल वर्ष का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर चुना गया। उन्होंने बीते साल 58 मैचों में 641 टेस्ट रन बनाये जबकि 19 विकेट लिये। ...

पंजाब किंग्स के खिलाफ जीत की राह पर लौटने के इरादे से उतरेंगे धोनी के धुरंधर

मुंबई, (वेबवार्ता)। महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स को आईपीएल में जीत की राह पर लौटने के लिये शुक्रवार को पंजाब किंग्स के मजबूत बल्लेबाजी क्रम के सामने गेंदबाजी में सुधार करके उतरना होगा। चेन्नई को पहले मैच में दिल्ली कैपिटल्स ने सात विकेट से हराया जबकि पंजाब किंग्स ने राजस्थान रॉयल्स को चार रन से मात दी। वानखेड़े स्टेडियम पर ओस की भूमिका को ध्यान में रखते हुए टॉस जीतने वाली टीम पहले गेंदबाजी करना चाहेगी। चेन्नई ने यहां पहले मैच में सात विकेट पर 188 रन बनाये थे जिसमें सुरेश रैना ने 54, मोईन अली ने 36 और सैम कुरेन ने 34 रन का योगदान दिया था। सलामी बल्लेबाज रितुराज गायकवाड़, फाफ डु प्लेसी और धोनी उस मैच में नहीं चल सके थे। उसके बाद चेन्नई के गेंदबाज बड़ा स्कोर भी नहीं बचा सके। शिखर धवन और पृथ्वी साव ने दिल्ली के लिये 138 रन की साझेदारी करके मैच आसानी से जीता। दीपक चाहर, सैम कुरेन, शारदुल ठाकुर, रविंद्र जडेजा और मोईन अली सभी ने रन लुटाये। अब कुशल रणनीतिकार धोनी पर दारोमदार होगा कि इस हार के सदमे से निकालकर टीम को अच्छे प्रदर्शन के लिये प्रेरित करें। उन्हें इसके लिये मोर्चे से अगुवाई करनी होगी। दूसरी ओर पंजाब किंग्स पहले मैच में छह विकेट पर 221 रन बनाने के बावजूद रॉयल्स के हाथों हार से बाल बाल बची। सलामी बल्लेबाज के तौर पर उतरे केएल राहुल ने 50 गेंद में 91 रन बनाये जबकि क्रिस गेल ने 28 गेंद में 40 और दीपक हुड्डा ने 28 गेंद में 64 रन का योगदान दिया। पंजाब के लिये चिंता का सबब उनकी बल्लेबाजी नहीं बल्कि गेंदबाजी है। रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन ने पहले मैच में 63 गेंद में 119 रन बनाकर अकेले दम पर ही जीत दिला दी थी लेकिन चार रन से चूक गए। युवा अर्शदीप सिंह ने आखिरी ओवर में उन्हें 13 रन नहीं बनाने दिये और महज आइ रन देकर टीम को जीत दिलाई। मोहम्मद शमी ने भी 33 रन देकर दो विकेट लिये लेकिन झाय रिचर्डसन और रिले मेरेडिथ महंगे साबित हुए। दोनों पर टीम ने कुल 22 करोड़ रूपये खर्च किये हैं। टीमें : चेन्नई सुपर किंग्स : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, केएम आसिफ, दीपक चाहर, ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्लेसी, इमरान ताहिर, एन जगदीशन, कर्ण शर्मा, लुंगी एनगिडि, मिशेल सेंटनेर, रविंद्र जडेजा, रूतुराज गायकवाड़, शारदुल ठाकुर, सैम कुरेन, आर साइ किशोर, मोईन अली, के गौतम, चेतेश्वर पुजारा, हरिशंकर रेड्डी, भागनाथ वर्मा, सी हरि निशांत। जाब किंग्स: लोकेश राहुल (कप्तान), मयंक अग्रवाल, क्रिस गेल, मनदीप सिंह, प्रभसिमरन सिंह, निकोलस पूरण, सरफराज खान, दीपक हुड्डा, मुरुगन अश्विन, रवि बिश्नोई, हरप्रीत बरार, मोहम्मद शमी, अर्शदीप सिंह, इशान पोरेल, दर्शन नालकंडे, क्रिस जोर्डन, डेविड मलान, झाय रिचर्डसन, शाहरुख खान, रिले मेरेडिथ, मोइजेस हेनरिक्स, जलज सक्सेना, उत्कर्ष सिंह, फैबियन एलेन और सौरभ कुमार। समय: मैच शाम साढ़े सात बजे से खेला जाएगा। ...

इस हार को पचाना मुश्किल है : वॉर्नर

चेन्नई, (वेबवार्ता)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ आसान जीत की ओर बढने के बाद छह रन से पराजय का सामना करने वाले सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर ने कहा कि इस हार को पचाना मुश्किल है। वॉर्नर ने मैच के बाद कहा ,‘‘ हमारे गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया हालांकि आरसीबी के लिये ग्लेन मैक्सवेल ने उम्दा बल्लेबाजी की। हम कोई साझेदारी नहीं बना सके। ’’ उन्होंने अपने बल्लेबाजों पर नाराजगी जताते हुए कहा ,‘‘ मैं बहुत निराश हूं कि बायें हाथ के स्पिनरों के खिलाफ बल्ला सीधा रखकर शॉट नहीं खेले। ’’ उन्होंने कहा ,‘‘हमें यहां तीन मैच और खेलने हैं और विकेट आगे अच्छी होने की उम्मीद है।हम पावरप्ले में विकेट लेने और बड़ी साझेदारी बनाने की कोशिश करेंगे।’’ ...

आउट होने पर नाराजगी जताने पर कोहली को फटकार

चेन्नई, (वेबवार्ता)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आईपीएल के मैच में आउट होने पर गुस्से में कुर्सी को लात मारने के कारण आईपीएल की आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर फटकार लगाई गई। कोहली ने 29 गेंद में 33 रन बनाये हालांकि वह अपने चिर परिचित फॉर्म में नहीं दिखे। उनकी टीम ने छह रन से मैच जीता। आईपीएल ने एक बयान में कहा ,‘‘ कोहली ने आईपीएल की आचार संहिता की धारा 2.2 के तहत लेवल एक का अपराध स्वीकार किया है।इसके लिये मैच रैफरी का फैसला अंतिम और सर्वमान्य होता है।’’ इस मैच में मैच रैफरी वी नारायण कुट्टी थे जबकि नितिन मेनन और उल्हास गंधे मैदानी अंपायर थे। कोहली को जैसन होल्डर ने शॉर्ट गेंद पर डीप में विजय शंकर के हाथों लपकवाया। इसके बाद टीवी रिप्ले में दिखाया गया कि कोहली हताशा में डगआउट में कुर्सी को पैर से मार रहे थे। ...

कुलदीप की गेंदबाजी में कोई समस्या नजर नहीं आती: हरभजन

चेन्नई, (वेबवार्ता)। बायें हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव भले की राष्ट्रीय टीम और कोलकाता नाइट राइडर्स की अंतिम एकादश में जगह बनाने के लिए जूझ रहे हों लेकिन अनुभवी आफ स्पिनर हरभजन सिंह को उनकी गेंदबाजी में कोई समस्या नजर नहीं आती और उन्होंने कहा कि वह मजबूत वापसी करेंगे। एक समय भारत और नाइट राइडर्स के आक्रमण के अहम सदस्य रहे इस चाइनामैन गेंदबाज को हाल में जूझना पड़ा है और अंतिम एकादश में उन्हें नियमित रूप से जगह नहीं मिल रही। हरभजन ने नाइट राइडर्स टीम के अपने साथी स्पिनर का समर्थन करते हुए कहा, ‘‘मुझे कुलदीप की गेंदबाजी में कोई समस्या नजर नहीं आती। वह टीम इंडिया और केकेआर के लिए मैच विजेता रहा है। मुझे यकीन है कि वह नाइट राइडर्स के लिए अच्छा प्रदर्शन करेगा और बाद में टीम इंडिया के लिए भी। ...

सैमसन के शतक बावजूद रॉयल्स हारा, पंजाब किंग्स चार रन से जीते

मुंबई, (वेबवार्ता)। संजू सैमसन के करियर के तीसरे और इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के पहले शतक के बावजूद राजस्थान रॉयल्स को बड़े स्कोर वाले रोमांचक मैच में सोमवार को यहां पंजाब किंग्स के हाथों चार रन से हार का सामना करना पड़ा। पंजाब किंग्स ने कप्तान लोकेश राहुल के 50 गेंद में पांच छक्कों और सात चौकों की मदद से 91 रन और दीपक हुड्डा (28 गेंद में 64 रन, छह छक्के, चार चौके) के साथ उनकी तीसरे विकेट के लिए 105 रन की तेजतर्रार साझेदारी की बदौलत छह विकेट पर 221 रन बनाए। राहुल ने क्रिस गेल (40) के साथ भी दूसरे विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी। राहुल और हुड्डा की पारियों की बदौलत पंजाब की टीम अंतिम आठ ओवर में 111 रन जोड़ने में सफल रही। इसके जवाब में राजस्थान रॉयल्स की टीम आईपीएल कप्तानी पदार्पण में शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने संजू सैमसन (119 रन, 63 गेंद, 12 चौके, सात छक्के) के ताबड़तोड़ शतक के बावजूद सात विकेट पर 217 रन ही बना सकी। सैमसन के अलावा रॉयल्स का कोई बल्लेबाज 30 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया। पंजाब की टीम की ओर से अर्शदीप सिंह सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 35 रन देकर तीन विकेट चटकाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरे रॉयल्स की शुरुआत खराब रही और टीम ने खाता खोले बिना ही बेन स्टोक्स का विकेट गंवा दिया जिन्होंने मोहम्मद शमी की गेंद को हवा में लहराकर उन्हीं को कैच थमा दिया। सैमसन ने शमी पर चौके जबकि मनन वोहरा ने झाय रिचर्डसन पर छक्के के साथ खाता खोला। रिचर्डसन के इस ओवर में मुरुगन अश्विन ने बाउंड्री पर वोहरा का कैच टपका दिया। वोहरा हालांकि जीवनदान का फायदा नहीं उठा सके और अर्शदीप सिंह को उन्हीं की गेंद पर कैच दे बैठे। इसी ओवर में सैमसन भाग्यशाली रहे जब विकेटकीपर राहुल ने उनका आसान कैच छोड़ दिया। जोस बटलर ने आईपीएल में पदार्पण कर रहे आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज रिली मेरेडिथ का स्वागत लगातार चार चौकों के साथ किया जबकि सैमसन ने अर्शदीप पर दो चौके मारे जिससे टीम पावर प्ले में दो विकेट पर 59 रन बनाने में सफल रही। रिचर्डसन ने आठवें ओवर में गेंदबाजी में वापसी करते हुए बटलर को बोल्ड करके रॉयल्स को बड़ा झटका दिया। बटलर ने 13 गेंद में 25 रन बनाए। सैमसन ने मेरेडिथ पर छक्का जड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज के इसी ओवर में मयंक अग्रवाल ने उन्हें दूसरा जीवनदान दिया। सैमसन ने मेरेडिथ पर छक्के के साथ 11वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया और फिर इसी ओवर में चौके के साथ 33 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। शिवम दुबे अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे और 15 गेंद में 23 रन बनाने के बाद अर्शदीप की गेंद पर हुड्डा को कैच दे बैठे। सैमसन ने रिचर्डसन की लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ 15वें ओवर में टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचाया। रॉयल्स को जीत के लिए अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 68 रन की दरकार थी। पराग ने 16वें ओवर में अश्विन पर दो और सैमसन ने एक छक्का जड़कर गेंद और रन के बीच के अंतर को कम किया। शमी ने हालांकि गेंदबाजी में वापसी करते हुए पराग को विकेटकीपर राहुल के हाथों कैच करा दिया। पराग ने 10 गेंद में 25 रन बनाए। रॉयल्स को अंतिम तीन ओवर में 40 रन की जरूरत थी। सैमसन ने रिचर्डसन की पहली तीन गेंद पर दो चौकों और एक छक्के के साथ 54 गेंद में शतक पूरा करते हुए रॉयल्स का पलड़ा भारी किया। पारी के 18वें ओवर में 19 रन बने। मेरेडिथ ने अगले ओवर में राहुल तेवतिया (02) को पवेलियन भेजा लेकिन सैमसन ने छक्का जड़कर रॉयल्स की उम्मीदों को जीवंत रखा। अर्शदीप को अंतिम ओवर में रॉयल्स को 13 रन का लक्ष्य हासिल करने से रोका था। पहली तीन गेंद पर सिर्फ दो रन बने लेकिन चौथी गेंद पर सैमसन ने छक्का जड़ दिया। पांचवीं गेंद खाली गई जबकि अंतिम गेंद पर सैमसन ने बाउंड्री पर कैच थमा दिया। इससे पहले सैमसन ने टॉस जीतकर पंजाब किंग्स को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया जिसके बाद आईपीएल में पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज चेतन सकारिया (31 रन पर तीन विकेट) ने तीसरे ओवर में ही मयंक अग्रवाल (14) को विकेटकीपर कप्तान के हाथों कैच करा दिया। राहुल ने आईपीएल खिलाड़ी नीलामी में सबसे महंगे बिके तेज गेंदबाज क्रिस मौरिस (41 रन पर दो विकेट) का स्वागत चौके के साथ किया। गेल ने भी सतर्क शुरुआत के बाद मुस्ताफिजुर रहमान और मौरिस पर चौके जड़े। पंजाब की टीम ने पावर प्ले में एक विकेट पर 46 रन बनाए। राहुल 15 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब श्रेयस गोपाल की गेंद पर स्टोक्स ने लांग आफ पर उनका कैच टपका दिया और गेंद चार रन के लिए चली गई। गेल ने भी इस ओवर में चौका जड़ा। राहुल ने इसके बाद स्टोक्स की पहली गेंद पर चौका मारा जबकि गेल ने इसी ओवर में पारी का पहला छक्का जड़ा। गेल ने राहुल तेवतिया पर भी चौका और छक्का जड़ा लेकिन रियान पराग की गेंद पर लांग आन पर स्टोक्स को कैच दे बैठे। राहुल ने तेवतिया और फिर शिवम दुबे पर छक्के के साथ 30 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। हुड्डा ने इसके बाद तूफानी तेवर दिखाए। उन्होंने दुबे पर दो छक्के जड़ने के बाद गोपाल के ओवर में तीन छक्के मारकर 14वें ओवर में टीम का स्कोर 150 के पार पहुंचाया। हुड्डा ने मौरिस पर छक्के और फिर एक रन के साथ सिर्फ 20 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। हुड्डा ने इसके बाद सकारिया पर भी लगातार तीन चौके मारे। राहुल ने 18वें ओवर में मौरिस पर दो छक्कों के साथ टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। मौरिस के इसी ओवर में हालांकि हुड्डा गेंद को हवा में लहराकर पराग को कैच दे बैठे जबकि सकारिया ने पहली ही गेंद पर निकोलस पूरण का शानदार कैच लपका। राहुल ने सकारिया के पारी के अंतिम ओवर की पहली गेंद पर चौका जड़ा लेकिन अगली गेंद जब छक्के के लिए जा रही थी तो तेवतिया ने शानदार कैच लपककर उनकी पारी का अंत किया। ...