रेलवे सुरक्षा बल में निकली बंपर भर्ती, 4660 कॉन्स्टेबल एवं SI के पदों के लिए अधिसूचना जारी

रेलवे पुलिस फोर्स यानी कि RPF में सब-इंस्पेक्टर एवं कॉन्स्टेबल के रिक्त पदों पर बंपर भर्ती का एलान किया गया है। ऐसे अभ्यर्थी जो इस भर्ती का इंतजार कर रहे थे उनको बता दें कि इस वैकेंसी के लिए नोटिफिकेशन जारी कर आवेदन तिथियों को घोषित कर दिया गया है। रोजगार समाचार में प्रकाशित विज्ञापन के अनुसार इस भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 15 अप्रैल 2024 से शुरू की जानी है।

पात्रता एवं मापदंड

आरपीएफ कॉन्स्टेबल पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं कक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके अलावा सब इंस्पेक्टर (SI) पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है।

आयु सीमा

कॉन्स्टेबल पदों पर आवेदन के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 28 वर्ष तय की गयी है वहीं एसआई पदों पर फॉर्म भरने के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष एवं अधिकतम आयु 28 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। आरक्षित श्रेणी से आने वाले उम्मीदवारों को ऊपरी आयु सीमा में छूट प्रदान की जाएगी। आयु की गणना 1 जुलाई 2024 को ध्यान में रखकर की जाएगी।


...

ISC Board केमिस्ट्री का पेपर हुआ लीक, स्थगित की गई परीक्षा

सोमवार आज होने वाली आइएससी (Indian School of certificate) 12 वीं केमिस्ट्री परीक्षा रद्द हो गई है अब यह परीक्षा 21 मार्च को दोबारा कराई जाएगी केमिस्ट्री की है परीक्षा सोमवार को 2:00 बजे से होने वाली थी लेकिन उससे पहले पेपर रद्द करने की सूचना आई है। कुछ परीक्षा केंद्रो के प्रधानाध्यापकों ने यह कहा है कि पेपर लीक हो गया है लेकिन इसकी पुष्टि काउंसिल की तरफ से नहीं की गई है।

काउंसिल ने केवल सोमवार को होने वाली परीक्षा स्थगित करने की सूचना दी है और यह परीक्षा 21 मार्च को करने के लिए कहा है जबकि, लखनऊ के कई केंद्रों के प्रधानाचार्यों ने परीक्षा देने आए छात्रों से कहा है कि उनका पेपर लीक हो गया है, वह वापस घर जाएं। दोबारा से 21 मार्च को परीक्षा होगी।

आइएससी की सिटी कोऑर्डिनेटर माला मेहरा का कहना है कि काउंसिल से आज सोमवार को 12वीं केमिस्ट्री के पेपर स्थगित करने की सूचना आई है। पेपर लीक है या नहीं इसकी पुष्टि नहीं है। दिल्ली से परीक्षा स्थगित करने की सूचना आई है, स्थानीय स्तर पर कुछ नहीं हुआ है। काउंसिल ने अब यह पेपर 21 मार्च को कराने के लिए कहा है।

लखनऊ में 8400 हजार से अधिक विद्यार्थी आज 88 सेंटर पर परीक्षा देते। यह पहली बार नहीं है जब काउंसिल का कोई पेपर स्थगित हुआ है इससे पहले करीब 20 साल पहले पेपर टल चुका है। काल्विन कॉलेज के प्रिंसिपल सच्चिदानंद सिंह ने परीक्षा देने गए बच्चों को घर जाने के लिए कहा। 26 फरवरी को होने वाली यह परीक्षा 21 मार्च को होगी।

बैंक में रखा जाता है पेपर

इससे और आईएससी का प्रश्न पत्र बैंक में सुरक्षित रखा जाता है परीक्षा के दिन केंद्र व्यवस्थापक और अन्य शिक्षक की निगरानी में यह परीक्षा केंद्रों पर पहुंचाया जाता है। सोमवार का पेपर मित्रों पर पहुंच भी गया था कुछ जगह बताया जा रहा है कि पेपर खुल भी गए थे परीक्षा के 1 घंटे पहले काउंसिल से पेपर स्थगित करने की सूचना आने के बाद सभी परीक्षा केंद्र और विद्यार्थी स्तब्ध हैं। काउंसिल ने पेपर रद्द करने कोई कारण नहीं बताया है। इसे लेकर भी तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं।


...

ना घर के रहेंगे ना घाट के रहेंगे पेपर लीक माफिया को सीएम योगी की चेतावनी

उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग में बड़े स्तर पर निकली कॉन्स्टेबल पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक मामले में अभ्यर्थियों के जोरदार हंगामे के बाद योगी सरकार ने परीक्षा रद्द कर दी है। इसको लेकर सपा मुखिया अखिलेश यादव समेत तमाम विपक्षी दलों ने प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला था।

वहीं लोकसभा चुनाव से पहले इस विरोध को देखते हुए सरकार ने परीक्षा को निरस्त कर दिया है। वहीं रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले तत्वों को खुली चुनौती दे दी है। सीएम योगी ने कहा कि अब वे ना घर के रहेंगे ना घाट के। उनके खिलाफ नजीर पेश करने वाली कार्रवाई की जाएगी।

सीएम योगी ने कहा कि हम लोगों ने पहले दिन से संकल्प लिया है की नियुक्ति की प्रक्रिया अगर ईमानदारी पूर्वक आगे नहीं बढ़ पा रही है तो यह युवाओं के लिए खिलवाड़ है और अपनी प्रतिभा को पलायन करने के लिए मजबूर करता है। अगर युवा के साथ अन्याय होता है तो एक राष्ट्रीय पाप है।

विवार को लोकभवन में विभिन्न विभागों में करीब 18 सौ पदों पर निष्पक्ष और परदर्शी ढंग से चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सौंपने के दौरान सीएम योगी ने कहा कि हम लोगों ने पहले दिन से तय किया है कि युवाओं के जीवन और भविष्य के साथ जो खिलवाड़ करेगा, हम उसके खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपना कर उन तत्वों से उतनी ही सख्ती और कठोरतम तरीके से निपटने का काम करेंगे।

सीएम योगी ने कहा कि सरकार ने जो कार्रवाई शुरू की है वो कार्रवाई शुरुआत में भी की थी अब फिर एक बार हम लोग उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने जा रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम लोग तकनीक का प्रयोग करते हैं, वैसे ही वे तत्व भी तकनीक का प्रयोग गलत काम में करने लगते हैं। अगर वो लोग सकारात्मक सोच रखते तो संभवता कभी गलत काम नहीं करते, अच्छी दिशा में आगे बढ़ते और खुशहाल का जीवन व्यतीत करते। लेकिन अब वे तत्व ना घर के रहेंगे ना घाट के रहेंगे।


...

यूपी पुलिस के पेपर लीक पर भारी बवाल के बाद योगी सरकार का बड़ा फैसला, परीक्षा निरस्त

 उत्तर प्रदेश में पुलिस परीक्षा का पेपर लीक को लेकर भारी बवाल को देखते हुए प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सीएम योगी ने छात्रों की शिकायत के बाद यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को रद्द करने का एलान किया है. छह महीने के अंदर एक बार फिर से ये परीक्षा आयोजित की जाएगी. जल्द ही पुलिस भर्ती बोर्ड की ओर से इसकी घोषणा कर दी जाएगी. 

यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद सीएम योगी ने यूपी पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा-2023 को निरस्त कर दिया है. सीएम योगी ने साफ़ कहा है कि 6 माह के भीतर ही पूर्ण शुचिता के साथ इस परीक्षा को फिर से आयोजित किया जाएगा. सीएम ने परीक्षा में धांधली करने वालों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई का भी भरोसा दिलाया. उन्होंने कहा कि, युवाओं की मेहनत और परीक्षा की शुचिता से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई होगी. परीक्षा की गोपनीयता को भंग करने वाले एसटीएफ की रडार में हैं. इस मामले में अब तक कई बड़ी गिरफ्तारियां हो चुकी हैं.

सीएम योगी ने कही ये बात

सीएम योगी ने इस संबंध में एक्स पर जानकारी देते हुए कहा, यूपी पुलिस आरक्षी नागरिक पुलिस के पदों पर चयन के लिए आयोजित परीक्षा-2023 को निरस्त करने तथा आगामी 06 माह के भीतर ही पुन: परीक्षा कराने के आदेश दिए हैं. परीक्षाओं की शुचिता से कोई समझौता नहीं किया जा सकता. युवाओं की मेहनत के साथ खिलवाड़ करने वाले किसी भी दशा में बख्शे नहीं जाएंगे. ऐसे अराजक तत्वों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई होनी तय है.'

पुलिस भर्ती परीक्षा लीक मामले की जांच एसटीएफ़ को सौंप दी गई है. आपको बता दें कि परीक्षा के बाद से परीक्षार्थी लगातार पेपर लीक को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, जिसके बाद इस मुद्दे को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी उठाया था. मामला गरमाने के बाद भर्ती बोर्ड की ओर से इसकी जांच के लिए अंतरिम कमेटी भी बनाई गई थी और अब सीएम योगी ने इस परीक्षा को निरस्त कर दिया है. .



...

आज से बोर्ड की परिक्षा शुरू, शिक्षा मंत्री ने तिलक लगाकर किया छात्रों का स्वागत

स्कूलों के बाहर कतार लगाए हुए बच्चे, चैकिंग करते शिक्षक ये दृश्य हैं उत्तरप्रदेश के स्कूलों के। उत्तरप्रदेश में गुरूवार से से बोर्ड की परीक्षाएं शुरू हो गई हैं। परीक्षा में 55 लाख 25 हजार 308 छात्र बैठे हैं। नक़ल न हो इसे लेकर प्रशासन द्वारा कड़े इंतजाम किये गए हैं। उत्तरप्रदेश में 10 से अधिक अतिसंवेदनशील केंद्र बनाए गए हैं। दो पालियों में परीक्षा आयोजित हो रही है। पहली पाली 11:45 पर समाप्त होगी वहीँ दूसरी पाली दोपहर दो बजे से शुरू होगी। बता दें कि, जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष जिले के 133 परीक्षा केंद्रों की लाइव मॉनिटरिंग कर रहे हैं। इधर माध्यमिक शिक्षा मंत्री गुलाब देवी ने छात्रों का स्वागत तिलक और गुलाब का फूल देकर किया। कुछ केंद्रों पर छात्रों पर परीक्षा केंद्रों में प्रवेश के दौरान फूल भी बरसाए गए।

लखनऊ में जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि, जिले भर में 133 परीक्षा केंद्र हैं जहां हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं आज से शुरू हुईं। इन सभी केंद्रों की देखरेख और निगरानी के लिए जोनल मजिस्ट्रेट, 13 सेक्टर मजिस्ट्रेट और एक स्टेटिक तैनात किए गए हैं।" प्रत्येक केंद्र पर मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है। स्टैटिक मजिस्ट्रेट स्ट्रांग रूम के प्रभारी हैं। डबल लॉक अलमीरा की व्यवस्था की गई है और प्रश्नपत्र उसमें रखे गए हैं। सभी केंद्रों पर सीसीटीवी निगरानी जारी है। लाइव फीड यहां नियंत्रण कक्ष में देखी जा सकती है। छह उड़नदस्तों का गठन किया गया है। प्रशासन यह सुनिश्चित करने के लिए सतर्क हैं कि कोई अप्रिय घटना न हो।

गुरुवार को प्रथम पाली में हाईस्कूल हिंदी एवं प्रारंभिक हिंदी की परीक्षा 8273 केंद्रों में आयोजित की गई। हाईस्कूल में 29,38,663 तथा इंटर में 5,123 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए। द्वितीय पाली में इंटर हिंदी एवं सामान्य हिन्दी की परीक्षा 8,232 केंद्रों पर होगी। हाईस्कूल में वाणिज्य की परीक्षा 1619 सेंटरों पर हो रही है। इंटर में 24,29,278 तथा हाईस्कूल में 38,437 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे। बोर्ड ने प्रश्नपत्र का पैकेट खोलने के लिए भी नई व्यवस्था बनाई है।


...

अब वर्ष में दो बार होंगी बोर्ड परीक्षाएं, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने की घोषणा, शैक्षणिक वर्ष 2025-26 से लागू

अगले वर्ष बोर्ड परीक्षाएं देने जा रहे देश भर के स्टूडेंट्स के लिए महत्वपूर्ण अपडेट। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि अब बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाएगा। यह व्यवस्था शैक्षणिक वर्ष 2025-26 से लागू होगी। ऐसे में केंद्रीय बोर्डों (CBSE, CISCE) के साथ-साथ विभिन्न राज्यों के शिक्षा बोर्डों से सम्बद्ध स्कूलों में वर्ष 2023-24 के दौरान कक्षा 8 और कक्षा 10 में पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राओं के लिए शैक्षणिक वर्ष 2025-26 में क्रमश: 10वीं और 12वीं के लिए बोर्ड परीक्षाएं वर्ष में दो बार आयोजित की जाएंगी।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति से प्रेरित है कदम

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार, 19 फरवरी 2024 को छत्तीसगढ़ में प्राइम मिनिस्टर स्कूल्स फॉर राइजिंग इंडिया (PM SHRI) योजना की शुरूआत करते हुए जानकारी दी कि वर्ष में दो बार बोर्ड परीक्षाएं आयोजित किए जाने का निर्णय राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 से प्रेरित है। राज्य के रायपुर स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में आयोजित समारोह में संबोधित करते हुए उन्होंने बताया कि NEP में स्टूडेंट्स के उपर शैक्षिक तनाव को कम करने की दिशा में कदम उठाए जाने के सुझाव दिए गए हैं।

बेस्ट स्कोर होगा फाइनल

इसके साथ ही शिक्षा मंत्री ने कहा कि केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा न्यू करिकुलम फ्रेमवर्क (NCF) की घोषणा पिछले वर्ष की गई थी। इसके अनुसार वर्ष में दो बार बोर्ड परीक्षाएं लागू किया जाएगा ताकि स्टूडेंट्स को तैयारी का पर्याप्त समय मिले और वे बेहतर प्रदर्शन कर सकें। दो बार बोर्ड परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले स्टूडेंट्स के दोनों में से बेस्ट स्कोर को फाइनल रखने की छूट होगी। शिक्षा मंत्री ने समारोह में उपस्थित छात्र-छात्राओं से पूछा कि क्या वे सरकार के इस फैसले से खुश हैं और उन्हें बताय कि वे बेस्ट मार्क्स को ही अंतिम मान सेकेंगे।


...

2.75 लाख टीचर्स की निगरानी में कल से शुरू होगी यूपी बोर्ड परीक्षा

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं कल, 22 फरवरी, 2024 से शुरू हो रही हैं। प्रदेश के 75 जिलों में आयोजित होने वाली हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं के लिए राज्य में 8265 एग्जाम सेंटर बनाए गए हैं। इन सेंटर्स पर करीब 2.75 लाख पर्यवेक्षकों की होगी ड्यूटी लगाई जाएगी। इसमें 137367 माध्यमिक और 125754 बेसिक टीचर्स शामिल हैं।

इन टीचर्स की निगरानी में ही बोर्ड परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। परीक्षा में करीब 55 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स परीक्षा देने वाले हैं। इसी क्रम में बोर्ड एग्जाम में शामिल होने जा रहे परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे परीक्षा में शामिल होने से पहले नियमों को पढ़ लें, जिससे उन्हें एग्जाम के दौरान कोई समस्या न हो।

परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे एडमिट कार्ड पर दिए गए समय के अनुसार एग्जाम सेंटर पर रिपोर्ट करें। देरी से पहुंचने वाले सेंटर पर एंट्री नहीं पा सकेंगे।

- आंसरशीट में ओवरराइटिंग और कटिंग की अनुमति नहीं है। अगर कोई स्टूडेंट्स ऐसा करता हुआ पाया जाता है तो उसे प्रश्न के लिए कोई अंक नहीं दिये जायेंगे।

-छात्र-छात्राओं को सलाह दी जाती है कि वे प्रश्नों का उत्तर देने से पहले एक बार प्रश्न पत्र और उत्तर पुस्तिका पर दिए गए सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ लें।

- छात्रों को अपना एडमिट कार्ड ले जाना होगा। किसी भी छात्र को बिना हॉल टिकट के परीक्षा हॉल में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

-परीक्षा हॉल के अंदर केवल वहीं स्टेशनरी लेकर जाएं, जो एग्जाम सेंटर पर अलाउड है।

- परीक्षा समाप्त होने से पहले छात्र परीक्षा हॉल छोड़कर नहीं जा सकते हैं।

-परीक्षा केंद्र में इलेक्ट्रॉनिक आइटम,जैसे जीपीएस वाले मोबाइल फोन, कम्युनिकेशन डिवाइस, इलेक्ट्रॉनिक आइटम या अन्य चीजें बैन हैं। अगर कोई स्टूडेंट्स इन चीजों के साथ पकड़ा जाता है तो उसे एग्जाम सेंटर से बाहर कर दिया जाएगा। 



...

यूपी कांस्टेबल भर्ती का पेपर लीक

उत्तर प्रदेश पुलिस में 60244 कांस्टेबलों भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन कराया जा रहा है. यूपी एवं अन्य प्रदेश के तकरीबन 48 लाख उम्मीदवार कांस्टेबल बनने के लिए इस भर्ती परीक्षा में बैठ रहे हैं. परीक्षा को लेकर शरारती तत्व भी सक्रिय हो गए हैं, जो चीटिंग अथवा अनुचित माध्यम से युवाओं को ठगने का प्रयास कर रहे हैं. यूपी पुलिस ने ऐसे कई सॉल्वर गिरोह को पकड़ा है, जो फर्जीवाड़े में संलिप्त थे. वहीं अब यह भी खबर फैलाई जा रही है कि यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हो गया है.

सोशल मीडिया में शनिवार शाम से ही कई यूजर ये दावा करने लगे कि यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हो गया है. इसे लेकर कई स्क्रीनशॉट भी शेयर किए जा रहे हैं. लेकिन उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड ने इसे लेकर अहम जानकारी साझा करते हुए मामले की सच्चाई बताई है. यूपीपीआरपीबी ने एक्स पर पोस्ट कर कहा कि पेपर लीक के सभी दावे फर्जी हैं, एवं इसका भ्रम सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा है. बोर्ड का कहना है कि परीक्षा सुचारू रूप से जारी है, युवा ऐसी किसी भी गलत जानकारी पर ध्यान न दें.

यूपीपीआरपीबी ने अपनी पोस्ट में लिखा कि, ”प्रारंभिक जांच में पाया गया कि अराजक तत्वों द्वारा ठगी के लिए Telegram की Edit सुविधा का प्रयोग कर सोशल मीडिया पर पेपर लीक संबंधी भ्रम फैलाया जा रहा है. बोर्ड एवं @Uppolice इन प्रकरणों की निगरानी के साथ इनके सोर्स की गहन जांच कर रहा है. परीक्षा सुरक्षित एवं सुचारू रूप से जारी है.’ बोर्ड ने कहा है कि, ‘Twitter तथा Telegram इत्यादि पर ग्रुप बनाकर प्रश्न पत्र उपलब्ध कराने का झांसा देने वाले ठगों से सावधान रहें. ऐसे समूहों की निगरानी करते हुए UP STF तथा Cyber Cell द्वारा कठोर कार्यवाही हेतु निर्देशित किया जा चुका है.’

इससे पहले भी बोर्ड ने परीक्षा शुरू होने से पहले उम्मीदवारों से अपील करते हुए पोस्ट किया था कि, ‘अपने माता-पिता की मेहनत की कमाई को, किसी ऐसे व्यक्ति पर विश्वास करने में बर्बाद न करें, जो आपसे कहता है कि वे आपको पास करने में मदद कर सकते हैं. केवल आप ही अपनी मदद कर सकते हैं. अनुचित साधन आपको जेल पहुंचा देंगे. क्या आप अपराधी बनना चाहते हैं और पकड़े जाना चाहते हैं या एक पुलिस अधिकारी बनना चाहते हैं जो अपराधियों को पकड़ता है? तय करना.’


...

UP Police कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए एग्जाम सिटी स्लिप जारी

यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का आयोजन 3 हजार से अधिक केंद्रों पर 17 और 18 फरवरी को किया जाएगा. एग्जाम सिटी स्लिप आज जारी कर दी गई है. कैंडिडेट यहां बताए जा रहे स्टेप्स के जरिए आसानी से सिटी स्लिप डाउनलोड कर सकते हैं.

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड (UPPRPB) ने कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए एग्जाम सिटी स्लिप यानी की प्री एमडिट कार्ड जारी कर दिया है. स्लिप UPPRPB की आधिकारिक वेबसाइट uppbpb.gov.in पर जारी की गई है. कैंडिडेट अपने एप्लीकेशन नंबर के जरिए सिटी स्लिप डाउनलोड कर सकते हैं. इस संबंध में बोर्ड ने नोटिस भी जारी किया है. कांस्टेबल पदों के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन 17 और 18 फरवरी को किया जाएगा. आइए जानते हैं कि एग्जाम के लिए एडमिट कार्ड कब तक जारी किया जाएगा.

कांस्टेबल भर्ती के लिए लगभग 50 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है. भर्ती परीक्षा का आयोजन दो पालियों में किया जाएगा. पहली पाली में परीक्षा सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक और दूसरी पाली में एग्जाम दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक होगा.

ऐसे डाउनलोड करें प्री एडमिट कार्ड

UPPRPB की आधिकारिक वेबसाइट uppbpb.gov.in पर जाएं.

होम पेज पर उपलब्ध परीक्षा शहर लिंक पर क्लिक करें.

एक नया पेज खुलेगा जहां ‘शहर सूचना’ लिंक पर क्लिक करना होगा.

आवेदन संख्या आदि मांगी गई जानकारी को दर्ज करें.

एग्जाम सिटी स्लिप आपकी स्क्रीन पर आ जाएगी.

कब जारी होगा एमडिट कार्ड?

यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड 13 फरवरी को जारी किया जाएगा. एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए अभ्यर्थियों को आवेदन संख्या और जन्म तिथि दर्ज करनी होगी. हाॅल टिकट पर कैंडिडेट का नाम, रोल नंबर, परीक्षा का दिन, शिफ्ट, समय और परीक्षा केंद्र का स्थान आदि कई महत्वपूर्ण चीजें लिखी होगी.

बता दें कि राज्य के 75 जिलों में आयोजित होने वाली इस परीक्षा में बड़ी संख्या में अभ्यर्थी शामिल होंगे, जिसके लिए राज्य में 3 हजार से ज्यादा परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. इसलिए किसी भी गड़बड़ी को रोकने के लिए हर परीक्षा केंद्र पर जैमर लगाए जाएंगे. साथ ही अधिकारी कंट्रोल रूम में बैठकर सीसीटीवी के जरिए पूरी परीक्षा की निगरानी करेंगे. इन सीसीटीवी का कंट्रोल रूम पुलिस कार्यालय में स्थापित किया जाएगा, जहां पुलिस टीम सभी परीक्षार्थियों पर पैनी नजर रखेगी.


...

रेलवे में टेक्नीशियन की 9 हजार वैकेंसी निकली; CUET PG रजिस्‍ट्रेशन डेट फिर बढ़ी

रेलवे में निकली टेक्नीशियंस और उत्तराखंड लोक सेवा आयोग में निकली पुलिस सब-इंस्पेक्टर समेत कई वैकेंसी के बारे में। करेंट अफेयर्स में भारत और UAE के साथ इंवेस्‍टमेंट ट्रीटी को मिली मंजूरी के बारे में बताएंगे। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की रजिस्ट्रेशन डेट के एक्सटेंशन के बारे में बताएंगे।

1. रेलवे में भर्ती निकली

रेलवे में टेक्नीशियन के 9 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती निकली है। ITI कर चुके कैंडिडेट्स indianrailways.gov.in पर जाकर अप्लाय कर सकते हैं।

इसके लिए एज लिमिट 18 से 33 साल तय की गई है। कैंडिडेट्स मार्च-अप्रैल 2024 तक अप्लाय कर सकते हैं।

2. UKPSC में वैकेंसी निकली

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने पुलिस सब-इंस्पेक्टर, फायर ऑफिसर और अन्य के 222 पदों पर वैकेंसी निकाली है। ग्रेजुएट कैंडिडेट्स इस भर्ती के लिए psc.uk.gov.in पर जाकर अप्लाय कर सकते हैं।

इसमें 21 से 28 साल एज लिमिट तय की गई है। अप्लाय करने की लास्ट डेट 20 फरवरी 2024 है।

1. UAE के साथ इंवेस्टमेंट ट्रीटी को मंजूरी

1 फरवरी को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने UAE के साथ एक इंवेस्‍टमेंट ट्रीटी को मंजूरी दे दी। इससे फॉरेन डायरेक्‍ट इंवेस्‍टमेंट समेत कई क्षेत्रों में द्विपक्षीय आर्थिक सहयोग को बढ़ावा दिया जाएगा।

दोनों देशों ने मई 2022 में एक फ्री ट्रेड समझौता भी लागू किया है। भारत को अप्रैल 2000 से सितंबर 2023 के बीच 16.7 बिलियन डॉलर का FDI मिला है।

2. ज्ञानवापी के व्यास जी तहखाने में पूजा हुई

वाराणसी की जिला अदालत ने ज्ञानवापी के व्यास जी तहखाने में पूजा करने की इजाजत दे दी है। इस तहखाने में 1992 तक नियमित तौर पर पूजा होती थी।

6 दिसंबर 1992 को हुए बाबरी मस्जिद विध्वंस के बाद व्यास जी तहखाने में नियमित पूजा को बंद करने का आदेश दिया गया था।

1. CUET PG की रजिस्ट्रेशन डेट बढ़ी

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी NTA ने CUET PG की रजिस्ट्रेशन डेट एक बार फिर एक्सटेंड कर दी है। कैंडिडेट्स अब 7 फरवरी तक pgcuet.samarth.ac.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। ये एंट्रेंस एग्जाम 11 से 28 मार्च तक होगा जिसका पूरा शेड्यूल जल्द ही जारी किया जाएगा।

2. IIMC डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया

मिनिस्ट्री ऑफ एजुकेशन ने IIMC यानी इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन को डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया है। यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन की सलाह पर ऐसा किया गया है। इसके बाद अब IIMC से न सिर्फ डिग्री बल्कि डॉक्टरेट डिग्री भी मिल सकेगी।


...