भारतीय आर्थिक और सांख्यिकी सेवा परीक्षाओं के लिए प्रवेश पत्र जारी, एग्जाम 21 जून को

UPSC IES/ISS परीक्षा 2024 की तैयारी में जुटे उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण अपडेट। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने भारतीय आर्थिक सेवा परीक्षा 2024 और भारतीय सांख्यिकी सेवा परीक्षा 2024 में सम्मिलित होने के लिए आवेदन किए उम्मीदवारों के प्रवेश पत्र (UPSC IES/ISS Admit Card 2024) जारी कर दिए हैं। आयोग द्वारा दोनों ही परीक्षाओं के लिए प्रवेश पत्र आज यानी शुक्रवार, 14 जून को जारी किए गए। इसके साथ ही UPSC ने IES/ISS एडमिट कार्ड 2024 डाउनलोड करने के लिए लिंक को अप्लीकेशन पोर्टल, upsconline.nic.in पर एक्टिव कर दिया है।

UPSC IES/ISS Admit Card 2024: इन स्टेप में डाउनलोड करें अपना प्रवेश पत्र

ऐसे में जिन उम्मीदवारों ने UPSC की IES/ISS परीक्षा 2024 के लिए आवेदन किया है, वे लिखित परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए अपना प्रवेश पत्र डाउनलोड करने हेतु अप्लीकेशन पोर्टल पर विजिट करें और होम पेज पर दिए गए विभिन्न परीक्षाओं के लिए ई-प्रवेश पत्र डाउनलोड के लिंक पर क्लिक करें। फिर नए पेज पर उम्मीदवारों को अपनी सम्बन्धित परीक्षा के प्रवेश पत्र (UPSC IES/ISS Admit Card 2024) डाउनलोड के लिंक पर क्लिक करके या नीचे दिए गए डायरेक्ट लिंक से सम्बन्धित पेज पर जा सकते हैं। इस पेज पर उम्मीदवार अपनी पंजीकरण संख्या और जन्म-तिथि के विवरणों को भरकर सबमिट करके प्रवेश पत्र (UPSC IES/ISS Admit Card 2024) डाउनलोड कर सकेंगे।

उम्मीदवारों को चाहिए कि वे अपने प्रवेश पत्र को डाउनलोड करने के बाद इस पर दिए गए अपने विवरणों की जांच कर लें और यदि इनमें कोई त्रुटि हो तो सुधार के लिए UPSC द्वारा जारी की गई आधिकारिक ईमेल आइडी uscms-upsc@nic.in पर ईमेल करके समय रहते सुधार करा लें।

UPSC IES/ISS Exam 2024: 21 जून को होनी है परीक्षा

UPSC द्वारा IES/ISS परीक्षा 2024 की तारीख का ऐलान पहले ही कर दिया गया था। आयोग के वार्षिक परीक्षा कार्यक्रम के अनुसार दोनों ही परीक्षाएं 21 जून को आयोजित की जाएंगी। इन परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए प्रवेश पत्र (UPSC IES/ISS Admit Card 2024) अब जारी कर दिए गए हैं।


...

रेलवे सुरक्षा बल कॉन्स्टेबल और SI भर्ती के लिए बड़ी खबर, RRB ने जारी किया ये नोटिस

एजुकेशन डेस्क, नई दिल्ली। आरपीएफ में कॉन्स्टेबल और एसआइ भर्ती के लिए आवेदन किए उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण अपडेट। रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) ने रेल मंत्रालय के अधीन रेलवे सुरक्षा बल (RPF) में कॉन्स्टेबल (एग्जीक्यूटिव) और सब-इंस्पेक्टर (एग्जीक्यूटिव) के कुल 4660 पदों पर भर्ती के लिए निर्धारित आवेदन तिथियों को आगे बढ़ा दिया है। बोर्ड द्वारा बुधवार, 14 मई को जारी नोटिस के अनुसार रेलवे सुरक्षा बल की इस भर्ती (Railway RPF Constable SI Recruitment 2024) के लिए आवेदन शुल्क का भुगतान 18 मई से 20 मई के बीच कर सकेंगे।

उम्मीदवारों को ध्यान देना चाहिए कि RPF ने कॉन्स्टेबल और एसआइ भर्ती (RPF Constable SI Recruitment 2024) के लिए आवेदन की तिथियों में विस्तार सिर्फ उन्हीं उम्मीदवारों के लिए किया है, जिन्होंने निर्धारित आखिरी तारीख 14 मई 2024 तक अपना पंजीकरण कर लिया था और तकनीकी समस्याओं के चलते निर्धारित परीक्षा शुल्क का भुगतान ऑनलाइन माध्यमों से नहीं कर सके थे। इन उम्मीदवारों को RRB ने परीक्षा शुल्क भुगतान का एक और मौका दिया है।

ऐसे करें आवेदन शुल्क का भुगतान

ऐसे में जिन उम्मीदवारों ने आरपीएस कॉन्स्टेबल या एसआइ भर्ती के लिए अपना पंजीकरण 14 मई तक किया है, वे अपने परीक्षा शुल्क का भुगतान करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर अपनी डिटेल के माध्यम से लॉग-इन करें। इसके बाद शुल्क भुगतान के लिंक पर क्लिक करके निर्धारित प्रक्रिया से उम्मीदवार शुल्क भर सकेंगे।

बता दें कि रेलवे सुरक्षा बल कॉन्स्टेबल और एसआइ भर्ती के लिए अधिसूचना 15 अप्रैल को जारी की थी और इसके साथ ही आवेदन प्रक्रिया भी शुरू हो गई थी।


...

2 और 8 मई को घोषित होंगे पश्चिम बंगाल बोर्ड माध्यमिक और उच्च माध्यमिक के नतीजे

एजुकेशन डेस्क, नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल बोर्ड से माध्यमिक और उच्च माध्यमिक की वार्षिक परीक्षाओं में सम्मिलित हुए लाखों छात्र-छात्राओं के लिए बड़ी खबर। पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (WBBSE) की माध्यमिक (कक्षा 10) की बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम 2 मई 2024 को घोषित किए जाएंगे। इसी प्रकार, पश्चिम बंगाल उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद (WBCHSE) की उच्च माध्यमिक (कक्षा 12) की बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे 8 मई को जारी किए जाएंगे।

दोनों बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम जारी किए जाने की तारीख (WB 10th 12th Result 2024 Dates) की जानकारी राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु ने साझा की। WBBSE 10वीं और WBCHSE 12वीं की परीक्षाओं के परिणामों जारी किए जाने के सम्बन्ध में शिक्षा मंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड आगामी दो मई को माध्यमिक के नतीजे घोषित करेगा जबकि पश्चिम बंगाल उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद आठ मई को उच्च माध्यमिक के नतीजे की घोषणा करेगा।

बता दें कि कि इस साल माध्यमिक परीक्षा दो फरवरी को शुरू होकर 12 फरवरी को खत्म हुई थी। उच्च माध्यमिक परीक्षा 16 से 29 फरवरी तक चली थी। परीक्षा के तीन महीने के भीतर दोनों परीक्षाओं के नतीजे घोषित होने जा रहे हैं। अगले साल माध्यमिक परीक्षा 14 फरवरी को शुरू होगी व 24 फरवरी को खत्म होगी जबकि उच्च माध्यमिक परीक्षा तीन मार्च से शुरू होकर 18 मार्च तक चलेगी।

WB 10th 12th Result 2024: इन स्टेप में देखें परिणाम

ऐसे में पश्चिम बंगाल माध्यमिक और उच्च माध्यमिक परीक्षाओं के नतीजों की इंतजार जल्द ही समाप्त होने जा रहा है। दोनों की कक्षाओं के परिणाम निर्धारित तारीखों (West Bengal 10th 12th Result 2024 Dates) पर जारी किए जाने के बाद इन्हें चेक करने के लिए लिंक को आधिकारिक रिजल्ट पोर्टल, wbresults.nic.in पर एक्टिव किया जाएगा।

स्टूडेंट्स इस वेबसाइट पर विजिट करना होगा और फिर अपनी सम्बन्धित कक्षा के परिणाम लिंक पर क्लिक करना होगा। फिर नये पेज पर स्टूडेंट्स को अपना रोल नंबर भरकर सबमिट करना होगा। इसके बाद छात्र-छात्राएं अपना परिणाम और विषयवार प्राप्तांक (Mark Sheet) स्क्रीन पर देख सकेंगे।


...

यूपी बोर्ड 10वीं, 12वीं का रिजल्ट, नतीजे आज दोपहर 2 बजे होंगे जारी

उत्तर प्रदेश हाई स्कूल एवं इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट आज दोपहर 2 बजे घोषित कर दिया जाएगा। रिजल्ट ऑनलाइन माध्यम से बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट upmsp.edu.in एवं upresults.nic.in पर जारी किया जायेगा। रिजल्ट जारी होते ही छात्र-छात्राएं इन वेबसाइट पर जाकर अपने परिणाम की जांच कर पायेंगे।

अगर आपको रिजल्ट चेक करने में किसी भी प्रकार की समस्या हो रही हो तो आपकी सहूलियत के लिए हम यहां पर रिजल्ट चेक करने के तरीके को बता रहे हैं, इसको फॉलो कर आप आसानी से अपने रिजल्ट की जांच कर सकते हैं।

वेबसाइट और एमएसएम से चेक किये जा सकेंगे नतीजे

आपको बता दें यूपी बोर्ड रिजल्ट जारी होने के बाद स्टूडेंट्स ऑनलाइन माध्यम से ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर नतीजे चेक कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त आप ऑफलाइन माध्यम से एसएमएस के माध्यम से भी रिजल्ट चेक कर सकेंगे।

ऑफिशियल वेबसाइट से रिजल्ट चेक करने की स्टेप्स

यूपी बोर्ड रिजल्ट 2024 चेक करने के लिए आपको सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in एवं upresults.nic.in पर विजिट करना होगा।

वेबसाइट के होम पेज पर आपको जिस भी कक्षा (10वीं या 12वीं) का रिजल्ट चेक करना है उस पर क्लिक करें।

अब आपको नए पेज पर रोल नंबर दर्ज करके सबमिट करना होगा।

इसके बाद आपका रिजल्ट स्क्रीन पर ओपन हो जायेगा जहां से आप इसे चेक करने के साथ ही मार्कशीट की प्रति भी डाउनलोड कर सकेंगे।

वैकल्पिक तौर पर स्टूडेंट्स अपना परिणाम जागरणजोश के 10वीं, 12वीं और 10वीं/12वीं रिजल्ट लिंक से भी चेक कर सकते हैं।

55 लाख स्टूडेंट्स का इंतजार बस कुछ घंटों में होगा खत्म

इस वर्ष यूपी बोर्ड मैट्रिक एवं इंटरमीडिएट कक्षाओं को मिलाकर 55 लाख से अधिक स्टूडेंट्स ने परीक्षाओं में भाग लिया था। बोर्ड परीक्षा का आयोजन 22 फरवरी से 9 मार्च 2024 तक किया गया था। इन सभी स्टूडेंट्स का परिणाम आज दोपहर 2 बजे समाप्त होने वाला है।


...

DSSB ने विभिन्न पदों निकली भर्ती 10वीं-12वीं पास इस सरकारी नौकरी के लिए अप्लाई

दिल्ली सबऑर्डिनेट सर्विसेस सेलेक्शन बोर्ड ने कुछ समय पहले 600 से ज्यादा विभिन्न पदों पर योग्य उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किए थे. इनके लिए नोटिस कुछ समय पहले जारी हुआ था और अब रजिस्ट्रेशन लिंक एक्टिव कर दिया गया है. वे कैंडिडेट्स जो डीएसएसएसबी के इन पदों के लिए आवेदन करना चाहते हों, वे ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर फॉर्म भर सकते हैं.

भरे जाएंगे इतने पद

इस रिक्रूटमेंट ड्राइव के माध्यम से कुल 650 पदों पर कैंडिडेट्स की भर्ती होगी. ये पद केयरटेकर, एकाउंट्स असिस्टेंट, कैंटीन अटेंडेंट, पीजीटी, स्टोर कीपर, असिस्टेंट आर्किटेक्ट, डेंटल मैकेनिक, पब्लिक हेल्थ नर्सिंग ऑफिसर, पर्सनल असिस्टेंट, सेल्समैन, पीजीटी, मेट्रन, प्रोग्रामर, जूनियर असिस्टेंट, मोटर वेहिकल इंस्पेक्टर आदि के हैं. आवेदन कल यानी 19 मार्च से शुरू हुए हैं.  

ये है लास्ट डेट

इन पदों पर आवेदन करने का लिंक कल खुला है और अप्लाई करने की आखिरी तारीख 17 अप्रैल 2024 है. इस तारीख के पहले बताए गए प्रारूप में फॉर्म भर दें. आवेदन केवल ऑनलाइन होंगे, इसके लिए आपको डीएसएसएसबी की आधिकारिक वेबसाइट – dsssb.delhi.gov.in पर जाना होगा.

ये करें अप्लाई

इन पदों पर आवेदन के लिए योग्यता पद के मुताबिक है और अलग-अलग है. मोटे तौर पर किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं-12वीं पास और किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किए उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं. एज लिमिट भी पद के मुताबिक अलग-अलग है.

देना होगा इतना शुल्क

इन पदों पर आवेदन करने के ले शुल्क 100 रुपये तय किया गया है. महिला, एससी, एसटी और पीएच श्रेणी के कैंडिडेट्स को शुल्क नहीं देना है. सैलरी भी पद के मुताबिक अलग-अलग है. कई पदों के लिए महीने के 1 लाख रुपये से भी ज्यादा वेतन दिया जाएगा.

सेलेक्शन कैसे होगा

इन पदों पर चयन के लिए आपको लिखित परीक्षा देनी होगी. इसे पास करने के बाद आगे के चरण आयोजित किए जाएंगे. जैसे डीवी राउंड और पद के मुताबिक स्किल टेस्ट या इंटरव्यू. सभी चरण पास करने पर चयन अंतिम होगा. परीक्षा तारीख से लेकर दूसरा कोई भी अपडेट जानने के लिए समय-समय पर वेबसाइट विजिट करते रहें.


...

दिल्ली हाईकोर्ट ने सुनाया फैसला एजुकेशनल सर्टिफिकेट और डिग्री पर केवल पिता का नहीं बल्कि माता का नाम भी होना चाहिए

दिल्ली हाईकोर्ट ने एक लॉ स्टूडेंट की सुनवाई के दौरान बड़ा फैसला सुनाया है. कोर्ट ने कहा है कि शैक्षिक प्रमाण-पत्रों और डिग्रियों पर जहां अभिभावक का नाम होता है वहां, माता और पिता दोनों का नाम हो. कोर्ट ने साफ कहा है कि केवल पिता के नाम का कोई मतलब नहीं है. एक लॉ स्टूडेंट की याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति सी हरिशंकर की पीठ ने कहा कि प्रमाण-पत्रों पर मुख्य भाग में माता-पिता दोनों का नाम अनिवार्य रूप से अंकित होना चाहिए. इसमें किसी प्रकार की बहस की जरूरत नहीं है.

कहां का है मामला

ये मामला गुरू गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी का है. ये पिटिशन लॉ ग्रेजुएट रितिका प्रसाद ने दाखिल की थी. उनका कहना था कि उन्होंने पांच साल के बीए एलएलबी कोर्स में एडमिशन लिया था. जब कोर्स पूरा हो गया तो उन्हें जो डिग्री दी गई उसमें केवल पिता का नाम लिखा था माता का नहीं. रितिका का कहना था कि डिग्री पर मां और पिता दोनों का नाम होना चाहिए.

क्या कहना है कोर्ट का

कोर्ट का कहना है कि ये मामला देखने में सीधा लग सकता है पर इसके पूर्ण आयाम की चर्चा कि जाए तो ये एक बड़ा सामाजिक महत्व का मुद्दा है. इस संबंध में यूजीसी ने 6 जून 2014 को एक सर्कुलर जारी किया था लेकिन इसकी अनदेखी की गई. कोर्ट ने इस पर भी खेद जताया है.

यूनिवर्सिटी को दिया गया 15 दिन का समय

कोर्ट ने यूनिवर्सिटी को 15 दिन का समय दिया है. इस मोहतल के अंदर ही उन्हें दूसरा सर्टिफिकेट इश्यू करना है जिस पर मां और पिता दोनों का नाम हो. कोर्ट ने ये भी कहा कि यह गर्व की बात है कि आज बार में शामिल ज्यादातर युवाओं में लड़कियां हैं. और अच्छी बात ये है कि ग्रेजुएशन करने वाले स्टूडेंट्स में से 70 परसेंट लड़कियां हैं. कोर्ट ने आगे कहा कि मान्यता की समानता बहुत जरूरी है. इस पर सवाल उठाना अपमानजनक होगा. 


...

मनरेगा के नियमों में हुए कुछ बदलाव , निजी जमीन पर काम कराने के लिए कुछ दिशानिर्देशों का करना होगा पालन

महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) से निजी जमीन पर काम कराया जाता है। इसमें पौधारोपण, पोखर खोदाई जैसी योजनाएं शामिल हैं। लेकिन अब निजी जमीन पर काम कराने के लिए कुछ दिशानिर्देशों का पालन करना होगा। अब जमीन पर मालिकाना हक का पूरा ब्योरा देना होगा।

साथ ही उसमें जमीन मालिक का जाबकार्डधारी होना या उसके परिवार के किसी जाबकार्डधारी सदस्य का काम करना भी जरूरी होगा। हालांकि, यह नियम पहले से है कि जाबकार्ड रहने पर ही निजी जमीन पर मनरेगा का काम करा सकते हैं। लेकिन अब उसमें काम करने की अनिवार्यता भी रखी गई है।

लाभुक का जाबकार्डधारी होना अनिवार्य

मनरेगा आयुक्त सह मुख्य कार्यपालक इस संबंध में दिशानिर्देश जारी किया है। इसमें मनरेगा के तहत कराए जाने वाले कार्यों को लेकर कई बिंदु पर दिशानिर्देश दिए गए हैं। बिना जाबकार्ड के निजी जमीन पर मनरेगा की योजना नहीं दी जाएगी। इसमें कहा गया है कि निजी जमीन पर योजना के लिए लाभुक का जाबकार्ड धारी होना जरूरी है। योजना में लाभुक या उनके परिवार के किसी वयस्क सदस्य जिनके पास जाबकार्ड हो, उन्हें अनिवार्य रूप से काम करना होगा।

निजी जमीन पर योजना क्रियान्वित कराने के लिए विभाग में आवेदन देना होगा। जिस निजी जमीन पर मनरेगा का काम कराया जाना है, उसके दस्तावेज की जानकारी भी देनी होगी। निजी जमीन से संबंधित पूरा विवरण देना होगा। इसमें जमीन का खाता-खेसरा संख्या, जमीन की चौहद्दी आदि बतानी होगी।

जमीन के मालिकाना हक का देना होगा सबूत

निजी जमीन के मालिकाना हक संबंधित कागजात की कापी भी काम कराने की स्वीकृति वाले आवेदन में लगाना होगा। निजी जमीन पर होनेवाली वैसी येाजनाएं जिनमें अधिसंख्य अकुशल मजदूर की आवश्यकता होगी, वहां पर मजदूर की सूची लाभुक की ओर से विभाग को दी जाएगी। मनरेगा से निजी जमीन पर पोखर खोदाई, पौधारोपण आदि कराया जाएगा।

विभाग की ओर से योजनाओं की निगरानी के लिए भी दिशानिर्देश दिए गए हैं। सभी पंचायतों में निगरानी समिति का गठन करना है। यह समिति मनरेगा की हर योजनाओं की निगरानी करेगी ताकि कार्यों में गुणवत्ता और पारदर्शिता बनी रहे। योजना का काम पूरा होने के बाद तकनीकी स्वीकृति देने वाले अधिकारी इसका प्रमाणपत्र भी जारी करेंगे।


...

रेलवे सुरक्षा बल में निकली बंपर भर्ती, 4660 कॉन्स्टेबल एवं SI के पदों के लिए अधिसूचना जारी

रेलवे पुलिस फोर्स यानी कि RPF में सब-इंस्पेक्टर एवं कॉन्स्टेबल के रिक्त पदों पर बंपर भर्ती का एलान किया गया है। ऐसे अभ्यर्थी जो इस भर्ती का इंतजार कर रहे थे उनको बता दें कि इस वैकेंसी के लिए नोटिफिकेशन जारी कर आवेदन तिथियों को घोषित कर दिया गया है। रोजगार समाचार में प्रकाशित विज्ञापन के अनुसार इस भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 15 अप्रैल 2024 से शुरू की जानी है।

पात्रता एवं मापदंड

आरपीएफ कॉन्स्टेबल पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं कक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके अलावा सब इंस्पेक्टर (SI) पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है।

आयु सीमा

कॉन्स्टेबल पदों पर आवेदन के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 28 वर्ष तय की गयी है वहीं एसआई पदों पर फॉर्म भरने के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष एवं अधिकतम आयु 28 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। आरक्षित श्रेणी से आने वाले उम्मीदवारों को ऊपरी आयु सीमा में छूट प्रदान की जाएगी। आयु की गणना 1 जुलाई 2024 को ध्यान में रखकर की जाएगी।


...

ISC Board केमिस्ट्री का पेपर हुआ लीक, स्थगित की गई परीक्षा

सोमवार आज होने वाली आइएससी (Indian School of certificate) 12 वीं केमिस्ट्री परीक्षा रद्द हो गई है अब यह परीक्षा 21 मार्च को दोबारा कराई जाएगी केमिस्ट्री की है परीक्षा सोमवार को 2:00 बजे से होने वाली थी लेकिन उससे पहले पेपर रद्द करने की सूचना आई है। कुछ परीक्षा केंद्रो के प्रधानाध्यापकों ने यह कहा है कि पेपर लीक हो गया है लेकिन इसकी पुष्टि काउंसिल की तरफ से नहीं की गई है।

काउंसिल ने केवल सोमवार को होने वाली परीक्षा स्थगित करने की सूचना दी है और यह परीक्षा 21 मार्च को करने के लिए कहा है जबकि, लखनऊ के कई केंद्रों के प्रधानाचार्यों ने परीक्षा देने आए छात्रों से कहा है कि उनका पेपर लीक हो गया है, वह वापस घर जाएं। दोबारा से 21 मार्च को परीक्षा होगी।

आइएससी की सिटी कोऑर्डिनेटर माला मेहरा का कहना है कि काउंसिल से आज सोमवार को 12वीं केमिस्ट्री के पेपर स्थगित करने की सूचना आई है। पेपर लीक है या नहीं इसकी पुष्टि नहीं है। दिल्ली से परीक्षा स्थगित करने की सूचना आई है, स्थानीय स्तर पर कुछ नहीं हुआ है। काउंसिल ने अब यह पेपर 21 मार्च को कराने के लिए कहा है।

लखनऊ में 8400 हजार से अधिक विद्यार्थी आज 88 सेंटर पर परीक्षा देते। यह पहली बार नहीं है जब काउंसिल का कोई पेपर स्थगित हुआ है इससे पहले करीब 20 साल पहले पेपर टल चुका है। काल्विन कॉलेज के प्रिंसिपल सच्चिदानंद सिंह ने परीक्षा देने गए बच्चों को घर जाने के लिए कहा। 26 फरवरी को होने वाली यह परीक्षा 21 मार्च को होगी।

बैंक में रखा जाता है पेपर

इससे और आईएससी का प्रश्न पत्र बैंक में सुरक्षित रखा जाता है परीक्षा के दिन केंद्र व्यवस्थापक और अन्य शिक्षक की निगरानी में यह परीक्षा केंद्रों पर पहुंचाया जाता है। सोमवार का पेपर मित्रों पर पहुंच भी गया था कुछ जगह बताया जा रहा है कि पेपर खुल भी गए थे परीक्षा के 1 घंटे पहले काउंसिल से पेपर स्थगित करने की सूचना आने के बाद सभी परीक्षा केंद्र और विद्यार्थी स्तब्ध हैं। काउंसिल ने पेपर रद्द करने कोई कारण नहीं बताया है। इसे लेकर भी तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं।


...

ना घर के रहेंगे ना घाट के रहेंगे पेपर लीक माफिया को सीएम योगी की चेतावनी

उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग में बड़े स्तर पर निकली कॉन्स्टेबल पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक मामले में अभ्यर्थियों के जोरदार हंगामे के बाद योगी सरकार ने परीक्षा रद्द कर दी है। इसको लेकर सपा मुखिया अखिलेश यादव समेत तमाम विपक्षी दलों ने प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला था।

वहीं लोकसभा चुनाव से पहले इस विरोध को देखते हुए सरकार ने परीक्षा को निरस्त कर दिया है। वहीं रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले तत्वों को खुली चुनौती दे दी है। सीएम योगी ने कहा कि अब वे ना घर के रहेंगे ना घाट के। उनके खिलाफ नजीर पेश करने वाली कार्रवाई की जाएगी।

सीएम योगी ने कहा कि हम लोगों ने पहले दिन से संकल्प लिया है की नियुक्ति की प्रक्रिया अगर ईमानदारी पूर्वक आगे नहीं बढ़ पा रही है तो यह युवाओं के लिए खिलवाड़ है और अपनी प्रतिभा को पलायन करने के लिए मजबूर करता है। अगर युवा के साथ अन्याय होता है तो एक राष्ट्रीय पाप है।

विवार को लोकभवन में विभिन्न विभागों में करीब 18 सौ पदों पर निष्पक्ष और परदर्शी ढंग से चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सौंपने के दौरान सीएम योगी ने कहा कि हम लोगों ने पहले दिन से तय किया है कि युवाओं के जीवन और भविष्य के साथ जो खिलवाड़ करेगा, हम उसके खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपना कर उन तत्वों से उतनी ही सख्ती और कठोरतम तरीके से निपटने का काम करेंगे।

सीएम योगी ने कहा कि सरकार ने जो कार्रवाई शुरू की है वो कार्रवाई शुरुआत में भी की थी अब फिर एक बार हम लोग उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने जा रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम लोग तकनीक का प्रयोग करते हैं, वैसे ही वे तत्व भी तकनीक का प्रयोग गलत काम में करने लगते हैं। अगर वो लोग सकारात्मक सोच रखते तो संभवता कभी गलत काम नहीं करते, अच्छी दिशा में आगे बढ़ते और खुशहाल का जीवन व्यतीत करते। लेकिन अब वे तत्व ना घर के रहेंगे ना घाट के रहेंगे।


...